Sunday, 18 July 2021

नीलधारा गंगा का बढ़ा जलस्तर, 20 गांवों में मंडरा रहा खतरा

लक्सर। पहाड़ी क्षेत्रों में लगातार हो रही बारिश का असर अब मैदानी क्षेत्र में दिखाई देने लगा है। लक्सर में भारी बारिश के कारण नीलधारा गंगा का जलस्तर बढ़ने लगा है। जिससे खानपुर विधानसभा क्षेत्र के करीब 20 गांव के ऊपर खतरा मंडराने लगा है। मौसम विभाग ने भी आने वाले 2 दिनों मे भारी बारिश की चेतावनी दी है। अगर मौसम विभाग की भविष्यवाणी सच साबित होती है तो खानपुर विधानसभा क्षेत्र के कुछ गांव में पानी घुसने की आशंका है। जिससे भारी नुकसान हो सकता है। जबकि नीलधारा गंगा से सटे इलाकों के खेतों में पानी घुस चुका है, जिससे किसान काफी परेशान हैं। ग्रामीणों का कहना है कि करीब 3 वर्ष पहले नीलधारा गंगा का तटबंध कलासिया गांव के पास टूट गया था। जिसमें खानपुर विधानसभा क्षेत्र की 5 हजार बीघा कृषि भूमि नीलधारा गंगा में समा गई थी, प्रशासन के द्वारा टूटे तटबंध की मरम्मत अभी तक नहीं कराई गई है। लक्सर प्रशासन की लापरवाही का खामियाजा खानपुर विधानसभा के लोगों को भुगतना पड़ सकता है। उन्होंने कहा कि सिंचाई मंत्री सतपाल महाराज को भी अवगत कराया गया था और मामले में कोई कार्रवाई नहीं हुई। ग्रामीणों ने कहा कि क्षतिग्रस्त बांध की मरम्मत आज तक नहीं हो पाई है। जिसके कारण आज क्षेत्रीय किसानों के सामने रोजी रोटी और चारे की समस्या खड़ी हो गई है। लक्सर प्रशासन की ओर से जो भी कार्रवाई की जा रही है। उनका अंश मात्र भी धरातल पर दिखाई नहीं दे रहा है। क्षेत्रीय किसानों का आरोप है कि लक्सर प्रशासन ने उन्हें भगवान भरोसे छोड़ दिया है। एसडीएम शैलेंद्र सिंह नेगी का कहना है पानी का जलस्तर अभी सामान्य है। चार बाढ़ राहत चैकियों को अलर्ट पर रखा गया है। किसी भी आपदा से निपटने के लिए तहसील प्रशासन पुरी तैयारी के साथ मुस्तैद है।

Featured Post

मन की बात में पीएम ने हैंडलूम एवं अन्य स्थानीय उत्पादों की खरीद पर दिया बल

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मन की बात कार्यक्रम को सुना। उन्होंने कहा कि मन की बात कार्यक्रम ...