Saturday, 10 July 2021

हरेला पर दून में 4 लाख पौधे रोपित किए जाएंगे

देहरादून। जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव की अध्यक्षता में वर्चुअल माध्यम से ‘हरेला पर्व’ की तैयारियों के सम्बन्ध में बैठक आयोजित की गई। इस दौरान बताया गया कि इस वर्ष जनपद में गत वर्ष से अधिक लगभग 4 लाख पौधे रोपित किये जायेंगे। 16 जुलाई हरेला पर्व पर जनपद के शहरी क्षेत्र में 09 बजे तथा अन्य स्थानों पर 09ः05 बजे से वृक्षारोपण कार्यक्रम शुरू किया जायेगा, जिसका सजीव प्रसारण करते हुए कन्ट्रोलरूम के माध्यम से रिर्पार्टिंग भी की जायेगी। उन्होंने विभिन्न स्थानों पर ड्रोन के माध्यम से सजीव प्रसारण के लिए स्थान चिन्हित करने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने ग्राम्य विकास, उद्यान, पंचायतीराज, वन तथा एमडीडीए जैसे फ्रन्टलाईन विभागों तथा नगर निगम, नगर पालिका परिषद, शिक्षा, राजस्व विभाग, बाल विकास, कृषि जैसे अन्य सभी विभागों को हरेला पर्व (16 जुलाई) के लिए पौधारोपण हेतु दिये गये लक्ष्य के अनुसार पौध की व्यवस्था करने, नर्सरी से समय पर पौध वृक्षारोपण वालो स्थानों पर पंहुचाने के निर्देश दिये। उन्होंने सभी विभागों को लक्ष्य के अनुरूप पौध की उपलब्धता पूर्व में ही सुनिश्चित करने को कहा। जिलाधिकारी ने विकासखण्ड स्तर पर किये जाने वाले वृक्षारोपण की तैयारियों के सम्बन्ध में विकासखण्डवार खण्ड विकास अधिकारियों से जानकारी प्राप्त की। उन्होंने विकासखण्ड अधिकारियों को निर्देश दिये अपने क्षेत्र में मा0 सांसद, मा0 विधायक, जिला पंचायत अध्यक्ष, ब्लाक प्रमुख, ग्राम प्रधानों व अन्यजनप्रतिनिधियों को वृक्षारोपण की सूचना देते हुए उनके द्वारा किस स्थान पर वृक्षारोपण किया जायेगा की भी जानकारी प्राप्त प्राप्त कर ली जाय। उन्होंने नगर निगम देहरादून एवं ऋषिकेश सहित नगर पालिका परिषदों को अपने सभी वार्डो मेें वृक्षारोपण हेतु सौन्दर्यीकरण वाली पौध रोपित करने को कहा। साथ ही एमडीडीए, नगर निगम, नगर पालिका परिषदों को अपने क्षेत्रान्तर्गत एनएच, एनएचआई की सड़क के दोनों ओर खाली स्थानों पर वृक्षारोपण करने के निर्देश दिये। उन्होंने नगर निगम एवं एमडीडीए को आपस में समन्वय करते हुए पौध निर्धारित स्थानों पर समय से पंहुचाये जाय। उन्होंने कहा कि गत वर्ष रोपित किये गये पौधें की सरवाईव स्थिति के साथ इस वर्ष बहुत छोटे पौधों के स्थान पर ऐसी पौध रोपित की जाय जिनकी सरवाईव करने की क्षमता अधिक हो। उन्होंने बताया कि वृक्षारोपण के तहत् फलदार एवं सौन्दर्यीकरण वाली पौध रोपित की जाय। जिलाधिकारी ने जिला विकास अधिकारी को निर्देशित किया कि गांवों में वृक्षारोपण हेतु अनिवार्य रूप से 13 जुलाई तक गड्डे खुदान का कार्य पूर्ण कर लिया जाए तथा स्थानीय ग्राम प्रधानों को भी वृक्षारोपण के समय की जानकारी देते हुए कोविड-19 गाईडलाइन का भी अनिवार्य रूप से ध्यान रखते हुए सोशल डिस्टेंसिंग के साथ अधिकाधिक लोगों की भागीदारी करायें।

Featured Post

व्यासी जल विद्युत परियोजना को ऊर्जाकृत करने के परियोजना के आवश्यक कार्य लगभग पूर्ण हुए

देहरादूना। महाप्रबन्धक (जनपद) व्यासी परियोजना डाकपत्थर सुनील कुमार जोशी ने अवगत कराया है कि व्यासी जल विद्युत परियोजना को ऊर्जाकृत करने हेतु...