Tuesday, 13 July 2021

जावा ने खाकी और मिडनाइट ग्रे रंग पेश किए

देहरादूना। यह कैलेंडर पर दिखने वाली महज कोई संख्या या एक वर्ष नहीं है। 1971 एक गौरवशाली मील का पत्थर है, जो हमारे सशस्त्र बलों की बहादुरी और वीरता से सुसज्जित है, जिसकी बदौलत एक राष्ट्र के रूप में भारत को इतिहास की सबसे उल्लेखनीय जीत मिली। इस साल 1971 की युद्ध जीत की 50वीं वर्षगांठ है और जावा मोटरसाइकिलें हमारे फॉरएवर हीरोज की वीरता को सम्मान देने के लिए सामने आई हैं। अपनी हैज टेग फॉरएवर हीरोज पहल को जारी रखते हुए, ब्रांड ने 1971 के युद्ध में मिली जीत की 50वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में अपने आधुनिक क्लासिक जावा के दो नए रंग पेश किए हैं। वर्ष भर चलने वाले स्वर्णिम विजय वर्ष समारोह को और बेहतर बनाने के लिए, जावा मोटरसाइकिल्स, जावा खाकी और मिडनाइट ग्रे के साथ भारतीय सेना के साथ विभिन्न ऐतिहासिक उत्सवों जैसे, कारगिल विजय दिवस, टुरटुक की लड़ाई और लोंगेवाला की लड़ाई की सवारी का हिस्सा होगी। 1971 की जीत के प्रति सम्मािन के रूप में जावा के दो नए रंगों को पेश करते हुए, क्लासिक लेजेंड्स के सीईओ आशीष सिंह जोशी ने कहा, “हमारे दिल में अपने देश की रक्षा करने वाले पुरुषों और महिलाओं के लिए एक खास स्थान है। हम उन्हें फॉरएवर हीरोज कहते हैं और यह जावा के अस्तित्व की बुनियाद है। 1971 की युद्ध जीत की 50वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में जावा खाकी और जावा मिडनाइट ग्रे को समर्पित करते हुए हमें बहुत गर्व हो रहा है। एक कंपनी के रूप में हम भारतीय सेना के प्रतीक चिन्ह को अपनी मोटरसाइकिलों पर ले जाने के लिए सम्मानित महसूस कर रहे हैं, जो हमारे सैनिकों द्वारा अपनी मातृभूमि की रक्षा के लिए दिखाई गई बहादुरी और बलिदान की हमेशा याद दिलाएगा।

Featured Post

A viable alternative to joint replacement: Dr. Gaurav Sanjay

Dehradun. India and International book records holder Dr. Gaurav Sanjay is well known young orthopaedic surgeon has presented a clinical s...