Friday, 23 July 2021

जोमैटो बोला थैक्यू जियो

देहरादून। जोमैटो के आईपीओ को मिले जबर्दस्त रिस्पॉन्स के बाद शुक्रवार को कंपनी के शेयरों की भारतीय शेयर बाजरों में बंपर लिस्टिंग हुई। शेयरधारकों को लिखे एक लेटर के जरिए जोमैटो के संस्थापक और सीईओ दीपिंदर गोयल ने इसे एक ऐतिहासिक दिन बताते हुए रिलायंस जियो को धन्यवाद कहा। जोमैटो की बुलंदी का श्रेय रिलायंस जियो को देते हुए दीपिंदर ने कहा कि भारत में जियो ने अविश्वसनीय प्रगति की है और इस वजह से विकसित वेब इको-सिस्टम की वजह से आज हम यहां हैं। जोमैटो भारत का पहला इंटरनेट यूनिकॉर्न है जिसने शेयर बाजार में लिस्टिंग की है। बैंक ऑफ अमेरिका ग्लोबल रिसर्च ने वर्ष की शुरूआत में कहा था कि मुकेश अंबानी की रिलायंस जियो के दूरसंचार क्षेत्र में उतरने के बाद से ही देश में यूनिकॉर्न कंपनियों की बाढ़ सी आ गई है। जियो का 4जी रोलआउट भारत के इंटरनेट क्षेत्र और यूनिकॉर्न कंपनियों के लिए ष्गेम चेंजरष् साबित हुआ है। भारत में यूनिकॉर्न कंपनियों की संख्या में तेजी से इजाफा हुआ है। बैंक ऑफ अमेरिका की ग्लोबल रिसर्च की रिपोर्ट के मुताबिक साल 2020 में 11 नई भारतीय कंपनियों ने यूनिकॉर्न का तमगा हासिल किया। एक अरब डॉलर से अधिक के बाजार मूल्यांकन वाली स्टार्टअप कंपनियों को यूनिकॉर्न कंपनी कहा जाता है। अब तक कुल 37 भारतीय स्टार्टअप कंपनियां यूनिकॉर्न बन चुकी हैं और इनमें से ज्यादातर कंपनियां जियो के लॉन्च के बाद ही अस्तित्व में आई हैं। रिपोर्ट के मुताबिक 2025 तक इन कंपनियों की संख्या 100 के करीब पहुंच सकती है।

Featured Post

एसजेवीएन ने अखिल भारतीय कवि सम्‍मेलन का किया सफल आयोजन

देहरादून, गढ़ संवेदना न्यूज नेटवर्क। आजादी का अम...