Saturday, 17 July 2021

चार लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज

विकासनगर। रुद्रप्रयाग जिले के एक ग्रामीण को देहरादून जिले में जमीन खरीदने की चाहत महंगी पड़ गयी। ग्रामीण से जमीनों के सौदागरों ने चार बीघा जमीन बेचने के नाम पर अलग-अलग मदों में 27 लाख रुपये ले लिए। जिस जमीन का अनुबंध किया गया वह बाद में ग्राम समाज की निकली। जब ग्रामीण को इस धोखाधड़ी का पता चला तो वह पूरी तरह से लुट चुका था। ग्रामीण ने आरोपियों से अपना रुपया वापस मांगा तो उन्होंने जान से मारने की धमकी दे डाली। ग्रामीण ने इस मामले में सहसपुर थाने में महिला सहित चार लोगों के खिलाफ तहरीर दी। पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ धोखाधडी, जान से मारने की धमकी और गाली-गलौज का मुकदमा दर्ज कर दिया है। मोहम्मद उस्मान पुत्र फिदा हुसैन, निवासी नकोट अगस्त्यमुनि जिला रुद्रप्रयाग ने पुलिस को दी तहरीर में बताया कि नाजिम पुत्र नूर हसन, निवासी कल्याणपुर थाना सहसपुर जिला देहरादून ने उसे कल्याणपुर में जमीन दिखाई। जमीन मुख्य मार्ग से दो सौ मीटर दूर थी, जहां पक्की रोड जा रही थी। दोनों के बीच चार बीघा जमीन का सौदा हुआ। उक्त जमीन के लिए अलग-अलग मदों में समय-समय पर नगद, गूगल पे व चेक से करीब 27 लाख रुपये आरोपी नाजिम को दिए। जब इस मामले में उन्होंने अपने अधिवक्ता को नाजिम के साथ हुए अनुबंध पत्र दिखाए तब पता चला कि जिस जमीन का सौदा हुआ वह नाजिम पहले ही बेच चुका है। उसके बाद जब उसने नाजिम से बात की तो नाजिम ने कहा कि घर की बात है दूसरी जगह दे दूंगा। उसके बाद नाजिम ने दूसरी जगह का अनुबंध किया। लेकिन वह जमीन मात्र ढाई बीघा ही थी। उसके बाद नाजिम ने अपने दो अन्य भाइयों और पत्नी के नाम की जमीन देने की बात की। जिसमें उसकी पत्नी खतीजा, भाई आलिम व असलम पुत्र नूर हसन शामिल रहे। इस पर आरोपी व उसके भाई जमीन अन्य जमीन का अनुबंध कराने के नाम पर उसे टालते रहे और आजकल कहकर अनुबंध नहीं किया। अनुबंधित जमीन भी ग्राम समाज की निकली। जिन पर कई लोग पहले से बसे हैं। बताया कि अब आरोपी व उसके भाई उसे जान से मारने की धमकी दे रहे हैं। बताया कि अपने गांव की पैतृक जमीन को बेचकर उसने खून पसीने की कमाई से जमीन खरीदी थी। लेकिन आरोपियों ने उसके रुपये हड़प लिए। अब न जमीन दे रहे हैं और नहीं रुपये लौटा रहे हैं। एसओ नरेंद्र सिंह गहलावत ने बताया कि मामले में मुकदमा दर्ज कर दिया है। बताया की आरोपी नाजिम के खिलाफ जमीनों की खरीद फरोख्त के नाम पर थाने में छह मुकदमे दर्ज हैं। जिनमें वह जेल भी जा चुका है। कहा कि मामले की जांच की जा रही है।

Featured Post

डीएम ने मोटरमार्ग की स्थिति पर असंतोष जताया

देहरादून। जिलाधिकारी डाॅ आर राजेश कुमार ने अपने स्थलीय निरीक्षण के दौरान आज सर्वे चैक से चूना भट्टा रायपुर तक के मोटरमार्ग की स्थिति पर अस...