Sunday, 11 July 2021

गाइडलाइन का पालन करने वाले ही कर सकेंगे कांवड़ यात्रा

देहरादून। उत्तराखंड सरकार ने पहले कांवड़ यात्रा को स्थगित करने का मन बना लिया था। लेकिन उत्तर प्रदेश में कांवड़ यात्रा को संचालित किए जाने के फैसले से उत्तराखंड राज्य सरकार पर दबाव बढ़ गया है। अब उत्तराखंड सरकार भी कांवड़ यात्रा संचालित करना चाहती है, जिसको लेकर अन्य राज्यों के मुख्यमंत्रियों से भी बातचीत करने जा रही है, ताकि सही ढंग से कांवड़ यात्रा को संचालित किया जा सके। वहीं, पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि पर्यटन गतिविधियों के साथ ही कांवड़ यात्रा भी संचालित होना चाहिए। हालांकि, मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी अभी दिल्ली में मौजूद हैं और अन्य राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बातचीत कर रहे हैं। ऐसे में राज्य सरकार की कोशिश है कि कांवड़ यात्रा को संचालित किया जाए। महाराज ने कहा कि अन्य राज्यों की सरकारों को भी सहयोग करने की जरूरत है। उत्तराखंड आने वाले पर्यटकों को 72 घंटे के भीतर की आरटी-पीसीआर की निगेटिव रिपोर्ट लानी अनिवार्य है। इसके साथ ही राज्य सरकार की कोशिश रहेगी कि एक जगह पर अधिक लोग एकत्र ना हो, लोग मास्क पहने। महाराज ने स्पष्ट कर दिया है कि कोरोना गाइडलाइन का जो भी पालन करेगा, वही कांवड़ यात्रा कर सकेगा।

Featured Post

मुनस्यारी: उत्तराखंड का मिनी कश्मीर

मुनस्‍यारी: मुनस्‍यारी विशाल हिमालय की तलहटी पर स्थित उत्तराखंड का खूबसूरत हिल स्टेशन है। राज्य के पिथौरागढ़ जिले के अंतर्गत यह पहाड़ी गंतव...