एडेलगिव ग्रो फिलांथ्रोपिक फंड के शुभारंभ की घोषणा

देहरादून। पिछला साल अपने साथ कोविड-19 महामारी और अत्यधिक प्रतिकूलता लेकर आया जिसने देश भर में अनेक लोगों के जीवन और आजीविका को प्रभावित किया सबसे गंभीर रूप से प्रभावित होने वालों में ग्रासरूट संगठन थे जो बचाव और राहत कार्यों में तो आगे थे लेकिन स्वयं अपने अस्तित्व को बनाए रखना उनके लिए मुश्किल हो गया था परिणामस्वरूप आज उनमें से कई एनजीओस फंड की कमी और काम के अत्यधिक बोझ से जूझ रहे हैं और बंद हो जाने के कगार पर हैं क्योंकि समुदाय की जरूरतें और कमजोरियां जटिल और गहरी होती जा रही हैं इस चुनौतीपूर्ण समय में एडेलगिव ने सुधार सुनिश्चित करने के लिए साख निपुणता और संसाधन वापस हासिल करने में सहयोग और सामूहिक प्रयास में अपना भरोसा बनाए रखा है जो कि समय के अनुकूल और सम्पूर्ण है। इस संदर्भ में एडेलगिव फाउंडेशन ने ग्रासरूट रेसिलिएन्स ओनरशिप एंड वेलनेस ग्रो फंड का उद्घाटन किया जो ग्रासरूट्स एनजीओस की क्षमताओं सहनशीलता और भविष्य की तैयारी के निर्माण में सहायक होगा ग्रो फंड मूल रूप से परिवर्तन को प्रभावी करने के एनजीओस के प्रयासों को सुगम बनाने के उद्देश्य से किया जाने वाला अपनी तरह का पहला प्रयास है। आर्थिक रूप से सहायता करने वाले कुछ प्रतिष्ठित व्यक्तियों एवं एनजीओस और एडेलगिव फाउंडेशन द्वारा संयुक्त रूप से संचालित ग्रो फंड का लक्ष्य क्षमता निर्माण और प्रमुख संगठनात्मक कार्यों में सहायता के माध्यम से 24 महीनों में 100 उच्च प्रभाव वाले ग्रासरूट्स एनजीओस को मजबूत करना है।

Popular posts from this blog

नेशनल एचीवर रिकॉग्नेशन फोरम ने विशिष्ट प्रतिभाओं को किया सम्मानित

व्यंजन प्रतियोगिता में पूजा, टाई एंड डाई में सोनाक्षी और रंगोली में काजल रहीं विजेता

घरों के आस-पास चहचहाने वाली गौरैया विलुप्ति के कगार पर