Wednesday, 11 August 2021

आजाद स्वर भाषण प्रतियोगिता का ऑनलाइन आयोजन किया गया

देहरादून। राष्ट्रीय दृष्टि दिव्यांगजन सशक्तिकरण संस्थान (सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय, भारत सरकार) देहरादून में आजादी का अमृत महोत्सव/75 वर्ष के उपलक्ष में अनेक कार्यक्रम बड़ी धूमधाम से आयोजित किए जा रहे हैं। बुधवार को संस्थान में आजाद स्वर-भाषण कार्यक्रम का ऑनलाइन माध्यम से आयोजन किया गया। संस्थान के निदेशक डॉ हिमांग्शू दास के निर्देशन में कार्यक्रम का संचालन हुआ। कार्यक्रम की अध्यक्षता कमलवीर सिंह जग्गी प्रधानाचार्य, एन.आई.ई.पी.वी.डी. ने की। मुख्य अतिथि के रूप में डा0 राकेश जैन, एसोसिएट प्रोफेसर, नेशनल पीजी कॉलेज, लखनऊ ने अपने प्रेरणादायक शब्दों से सभी प्रतिभागियों का उत्साहवर्धन किया। निर्णायक मंडल के रूप में डॉ सुभाष चंद्र राजपूत, डॉ रचना कौर और धर्मेन्द्र सिंह राठौर ने अपनी भूमिका निभाई। कार्यक्रम में दृष्टि दिव्यांगजन छात्रों, वयस्क दिव्यांगजनों और अन्यों ने बड़े उत्साह के साथ प्रतिभाग किया। कार्यक्रम में गूगल मीट के माध्यम से देश के विभिन्न भागों से 150 दिव्यांगजन प्रतिभागियों ने भाग लिया और कार्यक्रम को यूट्यूब के माध्यम से लगभग 300 दर्शकों द्वारा देखा गया। पुरस्कार हेतु प्रतिभागियों को तीन श्रेणियों में विभाजित किया गया 15 वर्ष से कम व 15 वर्ष से अधिक दृष्टि दिव्यांगजन और वयस्क दिव्यांगजन। सभी श्रेणियों में प्रथम द्वितीय व तृतीय तीन पुरस्कार थे।

Featured Post

नेशनल एचीवर रिकॉग्नेशन फोरम ने विशिष्ट प्रतिभाओं को किया सम्मानित

नई दिल्ली, गढ़ संवेदना न्यूज: कांस्टीट्यूशन क्लब ऑफ़ इंडिया नई दिल्ली में नेशनल एचीवर रिकॉग्नेशन फोरम द्वारा आयोजित नेशनल सेमिनार में देश के...