Monday, 16 August 2021

डंपिंग जोन में केरावन, शौचालय, रेस्टोरेंट व रेस्ट हाउस का कार्य प्रभावित मूलनिवासी को ही मिले

देहरादूना। उत्तराखंड में चारधाम परियोजना के अंतर्गत 889 किलोमीटर सड़कों के निर्माण के दौरान कुल 350 डंपिंग जोन बने हैं। उत्तराखंड सरकार के धर्मस्व, लोक निर्माण व सिंचाई मंत्री सतपाल महाराज द्वारा डंपिंग जोनों में केरावन, पार्किंग, सुलभ शौचालयों, रेस्टोरेंटों व रेस्ट हॉउस के निर्माण के लिए पर्यटन, लोक निर्माण व वन विभाग की बैठक के दौरान दिशा निर्देश दिये हैं। उत्तराखंड क्रांति दल के निवर्तमान केंद्रीय प्रवक्ता का कहना है कि दल का स्पष्ट मानना हैं कि डंपिंग जोनों में बनने वाले व्यवसायिक निर्माण व उनके संचालन के लिए चारधाम परियोजना सडक निर्माण के क्षेत्रों के मूलनिवासी कों ही दिया जाय। सरकार व मंत्री अगर बाहरी किसी कंपनी कों निर्माण व संचालन का जिम्मेदारी दी तो उक्रांद इसे कतई बर्दास्त नहीं करेगा। डंपिंग जोनों के बनने वाले सभी व्यवसायिक रेस्टोरेंट, सुलभ शौचालयों, पार्किंग व रेस्ट हाउस के संचालन स्थानीय बेरोजगार युवाओं व जरुरत मंदो कों ही दिया जाय। ऐसी दशा न होने पर उक्रांद घोर विरोध करेगा व बाहरी लोगों व कम्पनियों कों कतई बर्दास्त नहीं करेगा।

Featured Post

एसजेवीएन ने अखिल भारतीय कवि सम्‍मेलन का किया सफल आयोजन

देहरादून, गढ़ संवेदना न्यूज नेटवर्क। आजादी का अम...