Wednesday, 18 August 2021

शो को मनु आहूजा ने होस्ट और मानस शर्मा ने कोरियोग्राफ किया

देहरादूना। एसबीआई लाइफ इंश्योरेंस, जो देश के सबसे भरोसेमंद प्राइवेट लाइफ इंश्योरर्स में से एक हैं, ने विशिष्ट किस्म का आधुनिक सुरक्षा समाधान-‘एसबीआई लाइफ ईशिल्ड नेक्स्ट’लॉन्च किया। यह समाधान बीमित व्यक्ति द्वारा जीवन के महत्वपूर्ण पड़ावों के पार करते जाने के साथ प्रोटेक्शन कवरेज को बढ़ाते (लेवल अप) जाता है। इस इंडिविजुअल, नॉन-लिंक्ड, नॉन-पार्टिसिपेटिंग, लाइफ इंश्योरेंस प्योर रिस्क प्रीमियम प्रोडक्ट को इस प्रकार से डिजाइन किया गया है, ताकि उपभोक्ता जीवन के महत्वपूर्ण ‘लेवल-अप’ माइलस्टोन्स जैसे कि शादी-विवाह, संतान-प्राप्ति या नये घर की खरीद से लिंक्ड बीमित राशि के वृद्धि के जरिए आवश्यक बीमा सुरक्षा के ’लेवलिंग अप’ के साथ जिंदगी के बेहतरीन पलों का आनंद ले सकें। आधुनिक सुरक्षा प्लान ईशिल्ड नेक्स्ट का विशिष्ट विक्रेता प्रस्ताव इसका ‘लेवल-अप’ फीचर है जिसे तीन प्लान विकल्पों में उपलब्ध कराया गया है। ये तीन प्लान विकल्प हैंः ‘लेवल कवर’,‘इन्क्रीजिंग कवर’ और ‘फ्यूचर प्रूफिंग बेनफिट के साथ लेवल कवर’। प्रत्येक कवर को उपभोक्ताओं की बदलती जरूरतों की पूर्ति को ध्यान में रखते हुए तैयार किया गया है। एसबीआई लाइफ ईशिल्ड नेक्स्ट के लॉन्च पर टिप्पणी करते हुए,एसबीआई लाइफ इंश्योरेंस, प्रेसिडेंट, रविकृष्णमूर्ति ने कहा,“हम काफी अनिश्चितता भरे समय में जी रहे हैं, हमारी जरूरतें और प्राथमिकताएं समय के साथ बदलती रहती हैं। इसलिए यह महत्वपूर्ण है कि हमारा बीमा हमारी निरंतर बदलती जरूरतों के अनुरूप चलता रहे। जैसे-जैसे हम जीवन में आगे बढ़ते हैं, वैसे-वैसे हमारा टर्म इन्शुरन्स हमारी जरूरतों को समझदारी से पूरा करने में सक्षम होना चाहिए क्योंकि हमारे जीवन में कई महत्वपूर्ण पड़ाव आते हैं। दूसरे शब्दों में, हमारा टर्म इन्शुरन्स हमारी तरह ही लेवल अप करने में सक्षम होना चाहिए। और एसबीआई लाइफ ई शील्ड नेक्स्ट ठीक यही करता है। यह एक वित्तीय सुरक्षा समाधान है जो तेजी से बदलते और अनिश्चितता भरे इस समय में वर्तमान और भविष्य की जरूरतों की पूर्ति करता है।

Featured Post

सीएम धामी ने पौध उपहार व जन्मदिन पर पौधे लगाने की सीख दीः वृक्षमित्र डॉ सोनी

देहरादून। पौधों को भावनाओं से जोड़कर कार्य कर रहे वृक्षमित्र डॉ त्रिलोक चंद्र सोनी ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को बहुत-बहुत बधाई दी। कह...