Thursday, 30 September 2021

15 अक्टूबर तक फुल हुई केदारनाथ यात्रा के लिए ई-पास बुकिंग

रुद्रप्रयाग। 15 अक्टूबर तक फुल हुई केदारनाथ यात्रा के लिए ई-पास बुकिंग केदारनाथ यात्रा पर आने वाले तीर्थयात्री यदि ई-पास है तो तभी यात्रा पर आएं, अन्यथा यात्रा के दौरान उन्हें परेशानी हो सकती है। जिलाधिकारी मनुज गोयल ने प्रेस वार्ता कर बताया कि कुछ लोग तीर्थयात्रियों को भ्रमित कर रहे हैं, वह ऐसे किसी भी झांसे में न आएं। ई-पास होने पर ही वह यात्रा पर आएं। कलक्ट्रेट में वीडियो कॉफ्रेंसिंग हॉल में प्रेस वार्ता के दौरान जिलाधिकारी मनुज गोयल ने बताया कि 15 अक्तूबर तक ई-पास से केदारनाथ आने वाले यात्री फुल हैं इसलिए इस बीच जो भी केदारधाम आने की योजना बना रहा है वह फिलहाल रोक दें, रास्ते में बिना ई-पास के उसे दिक्कतें उठानी पड़ सकती है। जिलाधिकारी ने कहा कि कुछ लोग तीर्थयात्रियों को भ्रमित कर रहे हैं और उन्हें झूठी सूचनाएं दे रहे हैं। यात्री किसी भी दशा में ऐसे लोगों से दूर रहें। चारधाम देवस्थानम बोर्ड के पोर्टल पर ई-पास के बाद ही यात्रा करें। उन्होंने कहा कि केदारनाथ धाम के अलावा अन् पर्यटक स्थलों पर जाने के लिए ई-पास की जरूरत नहीं है। इस दौरान उन्होंने फिर दोहराया कि केदारनाथ में एक दिन में 800 श्रद्धालुओं को ही दर्शन की व्यवस्था है, यात्री कम होने की स्थिति में ही ई-पास से यहां पहुंचे यात्रियों को दर्शन हो सकते हैं, किंतु इसकी संभावनाएं काफी कम रहती है। उन्होंने देश-विदेश के तीर्थयात्रियों से भी अनुरोध करते हुए कहा कि ई-पास के साथ ही सही जानकारी लेकर ही यात्रा करें। इस बीच पुलिस अधीक्षक आयुष अग्रवाल ने बताया कि अभी तक करीब 2500 तीर्थयात्रियों को बिना ई-पास के लौटना पड़ा है। इसलिए सभी यात्री ई-पास के साथ ही पूरी जानकारी के साथ ही यात्रा पर आएं। एसपी ने बताया कि देवस्थानम के पोर्टल पर 15 अक्तूबर तक ई-पास की बुकिंग फुल है।

Featured Post

सुराज सेवा दल ने की ऊर्जा निगम के एमडी को बर्खास्त करने की मांग

देहरादूना। सुराज सेवा दल के प्रदेश अध्यक्ष रमेश जोशी ने एक बार फिर ऊर्जा निगम में भारी धांधली का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा है कि ऊर्जा न...