Tuesday, 21 September 2021

आप की सरकार बनते ही नेताओं के रिश्तेदार नहीं आम जनता को मिलेगा रोजगारः संजय भट्ट

देहरादूना। आप प्रवक्ता संजय भट्ट ने केजरीवाल के रोजगार गारंटी योजना के बाद विपक्ष की अनर्गल बयानबाजी पर जमकर हमला बोलते हुए उत्तराखंड के युवाओं को रोजगार गारंटी देने के बाद विपक्ष की बौखलाहट को भी आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा कि अरविंद केजरीवाल की भ्रष्टाचार रहित विचारधारा से कांग्रेस और बीजेपी में बौखलाहट है। जब से उन्होंने उत्तराखंड के युवाओं को रोजगार गारंटी की बात कही तब से प्रदेश के विपक्षी दलों में खलबली मच गई है। अब विपक्ष अपनी राजनैतिक जमीन खिसकती देख युवाओं को गुमराह करने के लिए अनर्गल बयानबाजी पर उतर आई है। आप प्रवक्ता ने कहा,आप की सरकार बनते ही नौकरियों में चल रहे भ्रष्टाचार पर लगाम लगाकर बैक डोर एंट्री को बंद किया जाएगा ताकि नेताओं के रिश्तेदारों और करीबियों के बजाय आपके बच्चों को रोजगार मिलेगा।रोजगार में 80 फीसदी आरक्षण स्थानीय युवाओं को दिया जाएगा। इसके अलावा रिक्त पदों के अलावा और नौकरियों की व्यवस्था की जाएगी। रोजगार गारंटी का पूरा प्लान जल्द ही साझा किया जाएगा। आप प्रदेश कार्यालय में मीडिया से मुखातिब होते हुए आप प्रवक्ता संजय भट्ट ने कहा कि छह महीने के भीतर एक लाख सरकारी नौकरी, प्राइवेट और सरकार में 80 प्रतिशत कोटा स्थानीय बेरोजगारों के लिए आरक्षित, नौकरी न मिलने तक 5 हजार मासिक बेरोजगारी भत्ता हर परिवार से एक बेरोजगार को दिया जायेगा। इसके अलावा रोजगार व पलायन मंत्रालय अलग से बनेगा। प्रवासी भी अगर उत्तराखंड वापस आना चाहते तो उनके लिए भी रोजगार के पुख्ता इंतजाम किए जायेंगे। रोजगार देने और पाने के लिए जॉब पोर्टल आप की सरकार द्वारा संचालित होगा, जिससे प्रदेश के भीतर बेरोजगारों को रोजगार के अवसर बढ़ेंगे। आप प्रवक्ता संजय भट्ट ने उत्तराखंड के युवाओं को रोजगार गारंटी देने के बाद विपक्ष की बयानबाजी पर उनको आड़े हाथ लिया। उन्होंने कांग्रेस और बीजेपी पर तीखा वार करते हुए कहा दोनो पार्टियों ने युवाओं को धोखा दिया है। पूर्व स्पीकर कुंजवाल ने अपने कई लोगो को विधानसभा में नौकरी दी। उसी सरकार में शिक्षा मंत्री रहते हुए मंत्री प्रसाद नैथानी ने बैक डोर से अपने कई लोगों को सरकारी नौकरी पर रखा। वर्तमान स्पीकर भी अपने बेटे को सरकारी नौकरी दिला चुके हैं, वर्तमान देहरादून मेयर ने अपनी बेटी को मिलीभगत से नौकरी दिला दी है। उच्च शिक्षा मंत्री धन सिंह रावत ने अपने पीआरओ को अवैध तरीके से नौकरी दी।पूर्व मंत्री निशंक के रिश्तेदार को ओपन यूनिवर्सिटी में नौकरी मिली । हरबंस कपूर ने भी अपने कार्यकाल के दौरान नियमों को ताक पर रखकर बैक डोर एंट्री से अपने चहेतों को नौकरी दी। उन्होंने कहा ऐसी सरकारें आम जनता से सिर्फ खिलवाड़ कर सकती हैं जो पिछले 20 सालों में इन दोनों सरकारों द्वारा किया गया है।

Featured Post

व्यासी जल विद्युत परियोजना को ऊर्जाकृत करने के परियोजना के आवश्यक कार्य लगभग पूर्ण हुए

देहरादूना। महाप्रबन्धक (जनपद) व्यासी परियोजना डाकपत्थर सुनील कुमार जोशी ने अवगत कराया है कि व्यासी जल विद्युत परियोजना को ऊर्जाकृत करने हेतु...