भाजपा वैचारिक जुड़ाव की पक्षधर, धन बल कांग्रेस को मुबारकः चौहान

देहरादूना। भाजपा के मीडिया प्रभारी मनवीर सिंह चौहान ने कहा कि भाजपा में शामिल होने वाले दूसरे दलों के लोग वैचारिक सहमति और विकास के लिए शामिल हो रहे हैं तो इसमें किसी को क्या आपत्ति हो सकती हैं। उन्होंने कहा कि धन बल की बात करने वाली कांग्रेस को इसका जवाब अपनी पिछली सरकार के कार्यकाल में मिल गया। तब कांग्रेस अपनी सरकार को बचाने के लिए सरकारी विभागों को भी वसूली के लिए दांव पर लगाने का खुला ऑफर देते हुई दिखी। श्री चौहान ने कहा कि बात 100 रुपए अथवा एक लाख रुपए की नहीं बल्कि नीयत की है और भाजपा का धन और ताकत उसके कार्यकर्ता और जनता है, जिसका उसके ऊपर विश्वास और आशीर्वाद है। कांग्रेस भ्रम की स्थिति में है और सिमट रहे आधार को धन बल से जोड़कर देख रही है, जबकि सच्चाई यह है कि जनता को कांग्रेस पर भरोसा नहीं है और कांग्रेस के नेता से लेकर कार्यकर्ता पार्टी छोड़ रहे हैं। गुटबाजी के कारण कांग्रेस में विभाजन की स्थिति है और कांग्रेस इसका दोष भाजपा पर मढ़ रही है। आरोप प्रत्यारोप के बजाय कांग्रेस को इस पर मंथन की जरूरत है कि उसे जनता ने हाशिये पर क्यों धकेला। बेरोजगारों के हको पर बैक डोर नियुक्ति से और चहेतांे को आश्रय देने की नीति से राज्य का युवा कांग्रेस से दूर हो गया तो हर बर्ग में असंतोष रहा। अपनी कमियों को ढकने और पार्टी में असंतोष को दबाने के लिए कांग्रेस को दूसरे दलों को दोष देने में संयम बरतने की जरूरत है। भाजपा कार्यकर्ता हर समय जनता के बीच सेवा कार्यों में लगे हैं और युवा मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी जनकल्याणकारी योजनाओं को आगे बढ़ा रहे हैं, ऐसे में धनबल कांग्रेस को ही मुबारक।

Popular posts from this blog

नेशनल एचीवर रिकॉग्नेशन फोरम ने विशिष्ट प्रतिभाओं को किया सम्मानित

व्यंजन प्रतियोगिता में पूजा, टाई एंड डाई में सोनाक्षी और रंगोली में काजल रहीं विजेता

शिक्षा अधिकारियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराने को एसएसपी को भेजा पत्र, DG शिक्षा से की विभागीय कार्रवाई की मांग