Wednesday, 8 September 2021

डीएम ने आईएसबीटी से तहसील चौक तक स्मार्ट सिटी की बस सेवा का सफर किया

देहरादून। जिलाधिकारी/मुख्य कार्यकारी अधिकारी स्मार्ट सिटी लिमिटेड डॉ0 आर राजेश कुमार ने आज आईएसबीटी से तहसील चौक तक स्मार्ट सिटी की बस सेवा का सफर किया। इस दौरान वे जनमानस से रूबरू हुए तथा बस सेवा मे और अधिक सुधार एवं बेहतर व्यवस्थाएं बनाए जाने के लिए जनमानस से सुझाव भी प्राप्त किए तथा बस सेवा के प्रति लोगों के विचार भी जाने। जिलाधिकारी/मुख्य कार्यकारी अधिकारी स्मार्ट सिटी लिमिटेड ने बस में सफर के दौरान विभिन्न व्यवस्थाओं का जायजा लिया तथा बस में सफर कर रहे यात्रियों के टिकट भुगतान के लिए मैन्यूवल व्यवस्था के साथ ही क्यूआर कोड के माध्यम से ऑनलाइन व्यवस्था बनाने, एलाउंसमैन्ट सिस्टम को और अधिक प्रभावी बनाये जाने के निर्देश दिए। उन्होंने साथ में चल रहे स्मार्ट सिटी लिमिटेड के अधिकारियों को बस में बेहतर फर्स्टएड की व्यवस्था के साथ -साथ मास्क भी रखें ताकि यदि किसी सवारी के पास मास्क न हो तो उसे मास्क दिया जाए। उन्होंने कहा कि बस में सफर के दौरान कोविड बिहेवियर का पालन सुनिश्चित करवाया जाएं। उन्होंने स्मार्ट सिटी की बसों पर राज्य सरकार द्वारा संचालित विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं का स्क्रीन के माध्यम से प्रचार-प्रसार किया जाए। उन्होंने बस में महिला एवं वरिष्ठ नागरिकों, दिव्यांगजनों के लिए कुछ सीटें आरक्षित करने के लिए भी निर्देश दिए। इस सफर के दौरान जिलाधिकारी द्वारा स्वंय एवं साथ में चल रहे स्टॉफ का टिकट क्रय किया। उन्होंने बस में सीटें भर जाने के कारण अपनी सीट सवारियों के लिए छोड़ते हुए खड़े होकर सफर किया। इस दौरान उन्होंने बस में सफर कर रहे यात्रियों, महिला यात्रियों से बस सेवा के प्रति उनके अनुभव प्राप्त किए तथा सेवा को और अधिक बेहतर बनाए जाने के लिए उनसे सुझाव भी मांगे। बस में सफर कर रहे यात्रियों द्वारा स्मार्ट सिटी लिमिटेड की बस सेवा को बेहतर बताया तथा जनपद में अन्य रूट पर भी बस सेवाएं प्रांरभ करने का सुझाव दिया। जिलाधिकारी ने आईएसबीटी क्षेत्र में स्मार्ट सिटी की इलैक्ट्रिक बसों के लिए पार्किंग सुविधा हेतु जमीन तलाशने के निर्देश स्मार्ट सिटी परियोजना के अधिकारियों को दिए। उन्होंने आईएसबीटी में स्मार्ट सिटी की ओर से लगाए गए टैªफिक सिग्नल एवं यातायात नियंत्रण/सुरक्षा हेतु लगाए गए स्मार्ट सीसीटीवी कैमरे भी देखे, जिनका नियंत्रण आईटी पार्क स्थित स्मार्ट सिटी के कंट्रोल रूम से हो रहा है। उन्होंने स्मार्ट सिटी द्वारा चलाई जा रही इलैक्ट्रिक बसों को डबल डेकर के रूप में उतारने तथा आवागमन में यात्रियों को और अधिक सुगम यातायात दिए जाने हेतु कार्ययोजना तैयार करने को कहा। उन्होंने आईएसबीटी में अत्यधिक वाहनों के यातायात के दबाव के दृष्टिगत यातायात सिग्नल को और अधिक सुदृढ़ करने को कहा ताकि आवागमन करने वाले पैदल यात्रियों को किसी प्रकार की असुविधा न हो। इस दौरान स्मार्ट सिटी परियोजना लिमिटेड के वित्त नियंत्रक अभिषेक आनंद, एजीएम जे. एस. चौहान सहित अधिकारी मौजूद रहे।

Featured Post

कोरोना काल के पश्चात राफ्टिंग का प्रारंभ होना बेहद सुखदः महाराज

ऋषिकेश। पर्यटन व्यवसाय से जुड़े 15 हजार लोगों को पर्यटन विभाग की ओर से अब तक 7 करोड़ की धनराशि वितरित की जा चुकी है। उक्त बात गंगा नदी राफ...