Wednesday, 6 October 2021

पौष्टिक संतुलन आहार से स्वस्थ रहेंगे बच्चेः डॉ. सोनी

देहरादूना। राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य दिवस पर सरस्वती शिशु मंदिर मजगांव में पर्यावरणविद् वृक्षमित्र डॉ त्रिलोक चंद्र सोनी के नेतृत्व में तथा प्रधानाचार्य महावीर सिंह धनोला के अध्यक्षता में बच्चों के अच्छा स्वास्थ्य वृद्धि के लिए राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य दिवस मनाया गया। इसका उद्देश्य स्वस्थ विकास को बढ़ावा देना और बाल मृत्यु को समाप्त करना है। पर्यावरणविद् वृक्षमित्र डॉ त्रिलोक चंद्र सोनी ने कहा संतुलन पौष्टिक आहार से बच्चे स्वस्थ होंगे जिसके लिए हमें उन्हें फल, पौष्टिक आहार देना चाहिए पौष्टिक आहार ना मिलनव से कई बच्चे कुपोषण के शिकार हो जाते हैं कुपोषण के कारण कई बच्चों को अपनी जांन तक गवानी पड़ती हैं। बच्चे स्वस्थ रहे जिसके लिए सरकार ने कई योजनाएं चलाई हैं जिसमे प्रधानमंत्री पौष्टिक आहार योजना, आंगनवाड़ी केन्द्र व स्वास्थ्य केंद्रों द्वारा संचालित किए जाते हैं ताकि बच्चों को संतुलित आहार मिल सके और वे स्वथ्य रह सके। कहा स्वस्थ शरीर में स्वस्थ मस्तिष्क तभी हो सकता हैं जब हम अपने बच्चों को पौष्टिक संतुलन आहार देंगे। प्रधानाचार्य महावीर सिंह धनोला ने बच्चों को स्वच्छ रहने के लिए कहा। कहा गंदगी हमारे शरीर को बीमार करती हैं हमें अपने आसपास स्वच्छता बनाये रखना चाहिए। कार्यक्रम में अनिल हटवाल, रोहित, विजेंद्र, हुकुम सिंह कण्डारी, सुमति डबरियाल, सुनीता कण्डारी, सीमा उनियाल, अंशिका, अंकिता, आयुष धनोला, अभिषेक, दीपक हटवाल, राजपाल आदि सम्मलित हुए।पौष्टिक संतुलन आहार से स्वस्थ रहेंगे बच्चेरू डॉ सोनी। देहरादूनरू राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य दिवस पर सरस्वती शिशु मंदिर मजगांव में पर्यावरणविद् वृक्षमित्र डॉ त्रिलोक चंद्र सोनी के नेतृत्व में तथा प्रधानाचार्य महावीर सिंह धनोला के अध्यक्षता में बच्चों के अच्छा स्वास्थ्य वृद्धि के लिए राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य दिवस मनाया गया। यह दिवस अक्टूबर माह के पहले सोमवार को मनाया जाता हैं जिसका उद्देश्य स्वस्थ विकास को बढ़ावा देना और बाल मृत्यु को समाप्त करना है। पर्यावरणविद् वृक्षमित्र डॉ त्रिलोक चंद्र सोनी ने कहा संतुलन पौष्टिक आहार से बच्चे स्वस्थ होंगे जिसके लिए हमें उन्हें फल, पौष्टिक आहार देना चाहिए पौष्टिक आहार ना मिलनव से कई बच्चे कुपोषण के शिकार हो जाते हैं कुपोषण के कारण कई बच्चों को अपनी जांन तक गवानी पड़ती हैं। बच्चे स्वस्थ रहे जिसके लिए सरकार ने कई योजनाएं चलाई हैं जिसमे प्रधानमंत्री पौष्टिक आहार योजना, आंगनवाड़ी केन्द्र व स्वास्थ्य केंद्रों द्वारा संचालित किए जाते हैं ताकि बच्चों को संतुलित आहार मिल सके और वे स्वथ्य रह सके। कहा स्वस्थ शरीर में स्वस्थ मस्तिष्क तभी हो सकता हैं जब हम अपने बच्चों को पौष्टिक संतुलन आहार देंगे। प्रधानाचार्य महावीर सिंह धनोला ने बच्चों को स्वच्छ रहने के लिए कहा। कहा गंदगी हमारे शरीर को बीमार करती हैं हमें अपने आसपास स्वच्छता बनाये रखना चाहिए। कार्यक्रम में अनिल हटवाल, रोहित, विजेंद्र, हुकुम सिंह कण्डारी, सुमति डबरियाल, सुनीता कण्डारी, सीमा उनियाल, अंशिका, अंकिता, आयुष धनोला, अभिषेक, दीपक हटवाल, राजपाल आदि सम्मलित हुए।

Featured Post

शारदीय नवरात्र की नवमी पर सीएम धामी ने किया कन्या पूजन

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गुरुवार को शारदीय नवरात्र की नवमी के पावन अवसर पर मुख्यमंत्री आवास में विधि-विधान से कन्या-पूजन ...