Wednesday, 22 December 2021

कांग्रेस व बीजेपी न 21 साल उत्तराखंड को लूटा, अब प्रदेश को लुटने नहीं देंगेः दिनेश मोहनिया

देहरादून। आप पार्टी के प्रदेश प्रभारी दिनेश मोहनिया ने देहरादून की कैंट विधानसभा में तीन जनसभाएं की। आप की इस जनसभा में सुबह कैंट विधानसभा में पहुंचते ही उनका आप कार्यकर्ताओं ने सैंकडों की संख्या में एकत्रित होकर भव्य और जोरदार स्वागत किया। सबसे पहले कैंट विधानसभा के प्रेमनगर पहुंचे आप प्रभारी,जनसभा को किया संबोधित सबसे पहले वो प्रेमनगर पहुंचे। जहां नवीन बिष्ट समेत सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने उनका भव्य स्वागत किया। इस दौरान मौजूद विशाल जनसभा को संबोधित किया उन्होंने कहा कि आज हर नेता और पार्टी वोट मांगती हैं लेकिन हमें यह समझना अति आवश्यक है कि हमें वोट देना क्यों है। सब लोग वोट मांगने आते हैं लेकिन कोई भी दल और नेता यह नहीं कहता कि वोट देना क्यों है। उन्होंने कहा कि हर पांचवे साल यही नजारा पूरे देश में देखने को मिलता है। उन्होंने कहा कि अगर ऐसा ही करना है तो फिर अन्य पार्टियों और आप पार्टी में फर्क क्या रह जाएगा। उन्होंने वहां मौजूद लोगों को कहा कि हमें आप पार्टी को वोट क्यों देना है यह मैं समझाने आया हूं और नहीं देना वोट तो क्यों नहीं इसका फर्क बताने आया हूं। उन्होंने कहा कि आप पार्टी की सत्यता जानने के लिए आप लोग अपने रिश्तेदारों को दिल्ली में फोन करके पूछो कि आप पार्टी ने दिल्ली में काम किया है या नहीं। उन्होंने कहा कि हमने शिक्षा,स्वास्थ,बिजली,पानी हर चीज पर काम किया है और आपके रिश्तेदार आपको इन सभी बातों से वाकिफ करा देंगे। और आप पार्टी को आप लोग तभी वोट दें जब आपके रिश्तेदार इन सभी बातों पर अपनी हामी भर दें। उन्होंने कहा कि आप पार्टी का यह मानना है कि हमने काम करके दिखाए हैं और हमें अपने काम पर भरोसा है। दिल्ली के लोग हमारे कामों की तारीफ करते हैं। इसी वजह से तीसरी बार हमने सरकार बनाई है। उन्होंने आगे कहा कि अगर काम के आधार पर वोट दना है तो आप पार्टी को अपना वोट दीजिए क्योंकि दिल्ली में हमारी सरकार है और जनता ने तीसरी बार हमें चुना है। उन्होंने कहा कि आज तक धर्म के नाम पर वोट मांगे जाते हैं लेकिन हम विधायकों को चुनते क्यो हैं हमे यह समझना होगा । अबकी बार जनता धर्म जाति के नाम पर वोट ना दे बल्कि काम के आधार पर वोट दें। उन्होंने कहा कि हमारी पार्टी ऐसी पार्टी है जो कहती है कि हमारा काम अच्छा लगा हो तो वोट दे दो। अगर काम सही नहीं लगा तो हमें वोट ना दें। आज तक किसी भी विधायक ने ऐसा नहीं कहा होगा जब वो आपके पास वोट मांगने आया होगा। उन्होंने कहा कि ऐसे नेता आपको हर साल झूठ बोलने आपके घर पर आते हैं जिस नेता ने आपके 5 साल खराब किए तो उसको जनता को सजा देनी चाहिए। उन्होंने कहा कि ऐसे नेताओं को जनता सजा दे। उन्होंने कहा कि मैं राजनीतिक परिवार से नहीं हूं लेकिन 2013 में मुझे आप पार्टी ने मौका दिया और मैं 700 वोटों से जीतकर विधायक बन गया। इसके बाद 2015 में मैं दोबारा चुनाव लडा और जनता से काम करने का वादा किया और 42 हजार वोटों से चुनाव जीता। तीसरी बार मैंने अपना काम जनता को दिखाया और जनता ने मेरे काम के आधार पर 48 हजार वोटों से चुनाव जिताकर विधायक बनाया। और मैंने स्कूल,मोहल्ला क्लीनिक से लेकर सब काम किए। जनता ने मेरा रिपोर्ट कार्ड देखा और फिर हमें मौका दिया।

Featured Post

चारधाम यात्राः एक माह में 16 लाख से अधिक तीर्थयात्री उत्तराखंड पहुंच चुके

देहरादून,गढ़ संवेदना न्यूज। अन्य सालों के मुकाबले इस साल भारी संख्या में यात्री एवं श्रद्धालु चार धाम यात्रा पर आ रहे हैं। 1 माह में यात्रि...