Friday, 24 December 2021

राज्य के सबसे प्रभावशाली लोगों ने एक एक्शन प्लान को दिया आकार

देहरादून। अब बदलेगा भारत, बनेगा नवभारत के साथ नेतृत्व करता है ने आज देहरादून में अपने फ्लैगशिप कार्यक्रम, नवभारत नवनिर्माण मंच- उत्तराखंड का आयोजन किया। इस सम्मेलन में 10 से भी ज्यादा दमदार सत्रों जिसमें कई जानी-मानी हस्तियों ने भाग लिया। इनमें शामिल थे पुष्कर सिंह धामी, मुख्यमंत्री, उत्तराखंड, मनीष सिसोदिया, उप-मुख्यमंत्री, दिल्ली, हरक सिंह रावत, उद्योग मंत्री,उत्तराखंड, हरीश रावत,उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री, प्रेमचंद अग्रवाल, उत्तराखंड विधानसभा के स्पीकर, और कर्नल अजय कोठियाल, सीएम पद के उम्मीदवार, आप। उन्होंने राज्य के सबसे प्रासंगिक विषयों को संबोधित किया जैसे राज्य की अर्थव्यवस्था को दोबारा आकार देना, कोविड-19 के बाद पर्यटन को पुनर्जीवित करना, जलवायु संकट और आगामी राज्य चुनाव। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि “उत्तराखंड में फिर से बीजेपी की सरकार बनेगी। उन्होंने कहा, लोग फिर से कांग्रेस की सरकार नहीं चाहते हैं, राज्य की जनता स्वाभिमानी और राष्ट्रवादी है। लोग चाहते हैं कि फिर से बीजेपी की सरकार आए और इसी तरह से लोगों के लिए काम करे। उन्होंने कहा कि कोरोना काल में हमारी सरकार ने सभी स्तर के लोगों के लिए शानदार काम किया है। इस बार बीजेपी को कितनी सीटें मिलेगी..इस सवाल के जवाब पर सीएम धामी ने कहा कि आप बिल्कुल तय मानिए मैं पूरे उत्तराखंड में जा रहा हूं। और छोटे छोटे स्थानों पर जहां लोगों को कार्यक्रम करना भारी पड़ता था। वहां सब मुझे आशीर्वाद दे रहे हैं। इसलिए मैं आपके मंच कह सकता हूं राज्य की जनता पहले से ज्यादा बहुमत देने वाली है। क्योंकि लोगों ने करप्शन देखा है। काला पंजा देखा है। खूनी पंजा देखा है। सीएम धामी ने कहा कि...कांग्रेस पार्टी की रैली ही घिसी पिटी थी और रैली से पता चलता है कि पार्टी का विजन क्या है। कांग्रेस के पास कोई विजन नहीं है। मंच पर सैनिकों की तस्वीर क्यों लगी थी, ये राज्य की जनता भी जानती है। इस सवाल के जवाब पर कि..पीएम मोदी का विजन है उनका निर्देशन है तो फिर धामी कहां फिट बैठते हैं..सीएम धामी ने कहा कि..मैं एक सैनिक का बेटा हूं..बचपन से अनुशासन सीखा है। काम करना सीखा है..उस काम को सीखा है। उत्तराखंड की जनता हमें फिट करेगी जहां फिट करना होगा। अभी तो हम चूंकि आए थे..मैं ऐसा कह सकता हूं कि मुझे बार-बार आप लोगों के बीच से आवाज आती है कि कम समय मिला। मैं ऐसा नहीं कहता. कोई शिकायत नहीं। मुझे जितना समय मिला उसमें मैं खुलकर बैटिंग कर रहा हूं। उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने उत्तराखंड के लिए अपना मॉडल बताया। उन्होंने कहा, लोग कांग्रेस और बीजेपी से परेशान होकर आम आदमी पार्टी को मौका देना चाहते हैं, जैसे दिल्ली में दिया वैसे ही हमें मौका देना चाहते हैं। लोग चाहते हैं कि कोई तो ऐसी पार्टी आए जो लोगों के लिए काम करे। लोगों को रोजगार मिले, बिजली-पानी की व्यवस्था हो सके। उत्तराखंड में जितनी नौकरियां सरकार ने नहीं लगवाई होंगे उससे ज्यादा नौकरियां कर्नल कोठियाल ने खुद लगवाई है। हम बाहरी नहीं हैं, कर्नल कोठियाल वहीं के हैं। मनीष सिसोदिया ने चुनाव में अपने मुख्य प्रतिद्वंदी के तौर पर किसे देखते हैं, इसपर उनका जवाब सुनिए, हम जनता बी टीम है। जनता कहती है स्कूल बनाओ, हम बना देते हैं। जनता कहती है बिजली सस्ती करो, हम बिजली सस्ती कर देते हैं। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने अपने विचार व्यक्त किए। उन्होंने बुधवार को अपने किए गए ट्वीट में मगरमच्छ, मुंह फेर लेना और नकारात्मक भूमिका का जिक्र करते हुए कहा, ये तो मछली हैं बेचारे, इनको मगरमच्छ कब निगल जाएगा पता नहीं चलेगा। इनकी पार्टी के नेता मगमच्छों की ठ टीम के रूप में काम कर रहे हैं।

Featured Post

टिकट न मिलेन पर भाजपा नेताओं पर लगाया दगाबाजी का आरोप

देहरादून। उत्तराखंड विधानसभा चुनाव के लिए टिकट बंटवारे में भाजपा ने 10 नेताओं के टिकट काटे हैं। उनमें से कुछ ने बगावत कर दी है। कर्णप्रयाग व...