Sunday, 17 April 2022

ग्रामीण आर्थिकी को मजबूती प्रदान के लिए के लिए स्वयंसेवी संस्थाएं आगे आएंः गणेश जोशी

देहरादून। गांवों की बेहतरी और ग्रामीण आर्थिकी को मजबूती प्रदान के लिए के लिए स्वयंसेवी संस्थाएं आगे आएं। ताकि रोजगार और पलायन की समस्या का भी हल निकल सकें। ये कहना है प्रदेश के कृषि मंत्री गणेश जोशी का। कृषि मंत्री रविवार को एप्रोप्रियेट टैक्नोलॉजी इण्डिया (ए0 टी0 इण्डिया) द्वारा संचालित विभिन्न आजीविका कार्यक्रमों की वीडियो फिल्म विमोचन एवं एक दिवसीय कार्याशाला के शुभारंभ के मौके पर बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे। उन्होंने ग्रामीण विकास व महिला सशक्तिकरण के क्षेत्र में ए0 टी0 इण्डिया संस्था द्वारा किये जा रहे प्रयासों की सराहना करते हुये कहा कि संस्था विभिन्न गतिविधियों मुख्यतः मौनपालन के क्षेत्र में सराहनीय कार्य कर रही है। उन्हांेने भरोसा दिलाया कि संस्था के ग्रामीण विकास की दिशा में किये जा रहे सरानीय कार्याे में उत्तराखंड सरकार सदैव संस्था व पर्वतीय समुदाय के साथ है। इसके उपरांत उन्होंने संस्था द्वारा सिराना व देवभूमिब्रांड के माध्यम से बाजारीकरण हेतु क्षेत्र में उत्पादित उत्पादों काभी अवलोकन किया गया। एटी इण्डिया के अध्यक्ष एवं पूर्व कुलपति प्रो. एसपी सिंह द्वारा संस्था केउद्देश्यों की प्रप्ति हेतु क्षेत्र में ग्रामीण हितभागियों के लिये किये जा रहे कार्याे व संस्था की भावी रणनिति के विषय में विस्तार से जानकारी दी गई। बताया कि कैसे संस्था विभिन्नि गतिविधियों के माध्यम से महिला आधारित ग्रामीण उद्यमों को विकसित किया जाता है, और इसका उद्देश्य हिमालयी क्षेत्र से हो रहे पलायन कोकम करना तथा ग्रामीण व वंचित लोगो, विशेष रूप से युवाओं औरमहिलाओं का क्षमता व कौशल विकास करना है जिससे वह क्षेत्र में स्वरोजगार के माध्यम से आत्मनिर्भर हो सके। इसका दीर्घकालिक लक्ष्यपर्वतीय परिदृश्यों की अखंडता को बनाये रखना है जिसमें ग्रामीणसमाज, जैव विविधता संरक्षण और महिलाओं के माध्यम से ग्रामीण उद्यमविकसित करना शामिल है इसी क्रम में माननीय मंत्री जी के माध्यम सेउत्तराखंड सरकार से पर्वतीय महिलाओं के उत्थान हेतु सहयोग की अपील की गई। दून विश्वविद्यालय की कुलपति प्रो. सुरेखा डंगवाल ने संस्था के कार्याे की सराहना करते हुये ग्रामीण पर्वतीय महिलाओं के आर्थिक व सामाजिक विकास में किशोर युवतियों को भी शामिल करने पर जोर दिया। डॉ राजेश नैथानी, द्वारा संस्था के द्वारा किये गये कार्याे का उल्लेख करते हुये सरकार व संस्थाओं को कंधे से कंधा मिलाकर कार्य करने की संभावनाओं पर जोर दिया। कार्यक्रम का संचालन सुरभि गुम्बर, ए0 टी0 इण्ड़िया द्वारा किया। कार्यक्रम में डॉ0 एस0पी0 सती, डॉ0 राजेश नैथानी, डॉ0 सुरेश खंडुरी,डॉ आर0सी0 ड़गवाल, अर्निका रावत, एच0डी0एफ0सी0 ए0 के यादव, निदेशक रेशम विभाग, डॉ प्रदीप मेहता, स्टेट हैड यू0एन0डी0पी0, विजय डंगवाल, ए0जी0एम0 रेल विकास निगम, सौरभ भट्ट, देवभूमि, संजय बिष्ट, अधिशाषी निदेशक, मानवाधिकार एवम सामाजिक न्याय संगठन की प्रदेश अध्यक्ष मधु सचिन जैन आदि उपस्थित रहे।

Featured Post

A viable alternative to joint replacement: Dr. Gaurav Sanjay

Dehradun. India and International book records holder Dr. Gaurav Sanjay is well known young orthopaedic surgeon has presented a clinical s...