Friday, 8 April 2022

गढ़वाल सभा ने डा. निधि उनियाल प्रकरण की जांच अधिकारी के छुट्टी पर चले जाने पर उठाया सवाल

देहरादून। अखिल गढ़वाल सभा देहरादून द्वारा डॉ निधि उनियाल प्रकरण के संबंध में उत्तरांचल प्रेस क्लब देहरादून में एक प्रेस वार्ता की जिसमें सभा के अध्यक्ष रोशन धस्माना एवं महासचिव गजेंद्र भंडारी ने कहा कि आज लगभग 10 दिन बीत जाने के बावजूद डॉ निधि उनियाल प्रकरण में सरकार द्वारा एक समिति का गठन करना और समिति के अध्यक्ष मनीषा पंवार का छुट्टी पर चले जाना क्या दिखाता है। यह हम सभी भली-भांति जानते हैं, हमें बड़ा अफसोस होता है कि जिन डॉक्टरों ने कोरोना काल में विशेषकर डॉ निधि उनियाल जैसे डॉक्टरों ने दिन रात एक कर के जनमानस की मदद की आज उन्हीं देव तुल्य डॉक्टर के साथ ऐसा अशोभनीय बर्ताव किया जाना अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण है, जहां उत्तराखंड जैसे पहाड़ी राज्य में पहाड़ों में डॉक्टरों की भारी कमी है जिससे स्वास्थ्य सेवाएं प्रभावित हो रही है वहीं दूसरी ओर देहरादून में डॉक्टर, प्रशासनिक अधिकारियों के गलत व्यवहार से क्षुब्ध होकर नौकरी छोड़ने पर विवश हो रहे हैं यह उत्तराखंड जैसे नवोदित राज्य के लिए शुभ संकेत नहीं है। सभा के अध्यक्ष रोशन धस्माना एवं महासचिव गजेंद्र भंडारी ने प्रेस वार्ता के माध्यम से प्रदेश के मुखिया मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से निवेदन किया है कि डॉ निधि उनियाल प्रकरण का तुरंत संज्ञान लेते हुए स्वास्थ्य सचिव डॉक्टर पंकज पांडे एवं दून मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉक्टर सयाना को अविलंब हटा दें जिससे प्रदेश की जनता एवं ईमानदारी से कार्य करने वाले कर्मचारियों में अच्छा संदेश जाए। सभा के उपाध्यक्ष एवं आंदोलनकारी निर्मला बिष्ट ने कहा कि उत्तराखंड राज्य बनाने में महिलाओं की अग्रणी भूमिका रही है लेकिन आज जिस तरह से डॉ निधि उनियाल से स्वास्थ्य सचिव के घर में उनकी धर्मपत्नी द्वारा अशोभनीय बर्ताव किया जाना और दून मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य द्वारा डॉ निधि उनियाल को माफी मांगने के लिए मजबूर किया जाना यह उत्तराखंड की महिलाओं का अपमान है जिसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा, सभा मांग करती है की स्वास्थ्य सचिव की धर्मपत्नी लिखित रूप से डॉ निधि उनियाल से माफी मांगे। सभा के अध्यक्ष रोशन धस्माना एवं महासचिव गजेंद्र भंडारी ने कहा कि हम डॉक्टर निधि उनियाल प्रकरण में सभी सामाजिक संगठनों एवं प्रदेश के संभ्रांत एवं जागरूक लोगों से इस विषय पर विचार विमर्श करेंगे और बहुत जल्द ही मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से एक शिष्टमंडल मिलेगा। इस अवसर पर सभा के अध्यक्ष रोशन धस्माना उपाध्यक्ष निर्मला बिष्ट महासचिव गजेंद्र भंडारी सह सचिव दिनेश बौड़ाई, कोषाध्यक्ष संतोष गैरोला, संगठन सचिव डॉ सूर्य प्रकाश भट्ट, कार्यकारिणी सदस्य कुसुम लता शर्मा, उदवीर सिंह पंवार, नरेश उनियाल, वीरेंद्र सिंह रावत, अनुज भट्ट, आदि उपस्थित थे।

Featured Post

A viable alternative to joint replacement: Dr. Gaurav Sanjay

Dehradun. India and International book records holder Dr. Gaurav Sanjay is well known young orthopaedic surgeon has presented a clinical s...