Monday, 21 November 2022

यूकेडी महिला प्रकोष्ठ की कार्यकारिणी घोषित, मधु उपाध्यक्ष व सविता कोषाध्यक्ष बनी

देहरादून। उत्तराखंड क्रांति दल महिला प्रकोष्ठ के अधिवेशन में प्रकोष्ठ की केंद्रीय कार्यकारिणी की घोषणा की गई। मधु सेमवाल को केंद्रीय महिला प्रकोष्ठ का उपाध्यक्ष बनाया गया तथा सविता श्रीवास्तव को कोषाध्यक्ष बनाया गया है। साथ ही सरोज रावत और मीना थपलियाल को केंद्रीय संगठन मंत्री का पद दिया गया है और नीलम लखेड़ा केंद्रीय मीडिया प्रभारी बनी हैं। इसके अलावा रेनू नवानी को विधि प्रकोष्ठ का जिलाध्यक्ष बनाया गया है तथा शोभा काला को शिक्षा प्रकोष्ठ का जिलाध्यक्ष तथा मेघा खंखरियाल को स्वास्थ्य प्रकोष्ठ का जिलाध्यक्ष का दायित्व दिया गया है। लाजवंती को मसूरी विधानसभा का प्रभारी बनाया गया है और सुनैना लखेड़ा को रायपुर विधानसभा का प्रभारी बनाया गया है। सरस्वती बडोला को चौबट्टाखाल तथा रंजना गैरोला को घनसाली विधानसभा का प्रभारी बनाया गया है। सुशीला पटवाल को जिला देहरादून राज्य आंदोलनकारी कल्याण समिति का जिलाध्यक्ष बनाया गया है। मंजू रावत को देहरादून का जिला प्रचार सचिव बनाया गया है। नीलम थपलियाल को बालावाला मंडल के अध्यक्ष का दायित्व दिया गया है। इसके साथ ही एक दर्जन महिलाओं को उत्तराखंड क्रांति दल की सदस्यता भी दिलाई गई इससे पहले सभी महिला प्रकोष्ठ की कार्यकर्ताओं ने उत्तराखंड क्रांति दल के केंद्रीय अध्यक्ष सुलोचना ईष्टवाल और उपाध्यक्ष उत्तरा पंत बहुगुणा का फूल मालाएं और बुके देकर स्वागत किया। अपने संबोधन में उत्तराखंड महिला मोर्चा की अध्यक्ष सुलोचना ईष्टवाल ने कहा कि यह राज्य मातृशक्ति के संघर्ष और बलिदान की बदौलत प्राप्त हुआ है और अब इस राज्य को संवारने का काम भी मातृशक्ति को अपने हाथों में लेना होगा। यूकेडी के केंद्रीय उपाध्यक्ष उत्तरा बहुगुणा ने कहा कि फिलहाल नगर पालिका और नगर निकायों में संगठन को मजबूत करने के साथ ही जल्दी ही कुछ महिलाओं को वार्ड में दायित्व दिए जाएंगे। कार्यक्रम का संचालन उत्तराखंड क्रांति दल की महामंत्री मीनाक्षी घिल्डियाल ने किया।  कार्यक्रम की अध्यक्षता उत्तराखंड क्रांति दल के कार्यकारी अध्यक्ष एपी जुयाल ने की। जुयाल ने कहा कि आने वाली सदी महिलाओं की है इसलिए आधी आबादी को सम्मान के साथ जीवन यापन करने के लिए उत्तराखंड क्रांति दल को ही संघर्ष करना होगा। इस अवसर पर उत्तराखंड क्रांति दल के शशि नौटियाल, सरिता रावत, मंजू बड़थ्वाल, मनीषा थपलियाल, रचना थपलियाल, पुष्पा ज़ख्मोला, आरती सती, कौशल्या रावत, कलावती नेगी, बसंती, भावना, योगिता, सुनीता, विमला भट्ट, गुड्डी देवी, रोशनी चंदेल, मीनाक्षी घिल्डियाल, रिंकी कुकरेती, पिंकी पुंडीर, आशा पुंडीर, रीना उनियाल, दिव्या चौहान, लक्ष्मी कपरुवान, उमा खंडूरी, शांति भट्ट दर्जनों पदाधिकारी तथा कार्यकर्ता मौजूद थे।

Featured Post

नेशनल एचीवर रिकॉग्नेशन फोरम ने विशिष्ट प्रतिभाओं को किया सम्मानित

नई दिल्ली, गढ़ संवेदना न्यूज: कांस्टीट्यूशन क्लब ऑफ़ इंडिया नई दिल्ली में नेशनल एचीवर रिकॉग्नेशन फोरम द्वारा आयोजित नेशनल सेमिनार में देश के...