Friday, 16 December 2022

प्रस्तावित बिजली दर बढ़ोत्तरी के विरोध में कांग्रेस ने प्रदेशभर में किया विरोध प्रदर्शन

देहरादून। उत्तराखंड में एक बार फिर बिजली के दाम बढ़ाए जाने को लेकर कांग्रेस ने राज्य सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने प्रदेश भर में जगह-जगह धरना प्रदर्शन कर राज्य सरकार का पुतला फूंका है। देहरादून में भी कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने महानगर अध्यक्ष जसविंदर सिंह गोगी के नेतृत्व में बल्लीवाला चौक स्थित ऊर्जा निगम दफ्तर का घेराव करते हुए विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने ऊर्जा भवन के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए अपना आक्रोश प्रकट किया। इस दौरान गोगी ने कहा कि यूपीसीएल ने बिजली की दरें बढ़ाने को लेकर सिफारिश शासन को भेजी है, जिसमें घरेलू बिजली दर में 5 प्रतिशत और औद्योगिक बिजली दरों में 7 से 8 प्रतिशत बढ़ोतरी की सिफारिश की गई है, कांग्रेस पार्टी इसका घोर विरोध करती है। उन्होंने कहा कि इस साल सरकार ने तीन बार बिजली के दामों में बढ़ोतरी की है। अब एक बार फिर सरकार जनता के ऊपर बिजली के दाम बढ़ाकर उनके ऊपर आर्थिक बोझ डालने जा रही है।हल्द्वानी में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने बिजली के दामों में बढ़ोतरी को लेकर सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। बुध पार्क में प्रदर्शन में विधायक सुमित हृदयेश और जिला अध्यक्ष राहुल छिमवाल के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने राज्य सरकार के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन किया। इस दौरान कांग्रेस नेताओं ने सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि ऊर्जा प्रदेश में ही आम नागरिक सबसे महंगी बिजली खरीद रहे हैं। एक ही साल में तीन से चार बार बिजली के दाम बढ़ाए जा रहे हैं।कांग्रेस नेताओं ने सरकार से बिजली के बढ़े हुए दामों को तत्काल वापस लेने की मांग की है। इस मौके पर विधायक सुमित हृदयेश ने कहा कि यह सरकार आम जनता के ऊपर बोझ पर बोझ डाले जा रही है। बिजली पानी स्वास्थ्य जैसी मूलभूत समस्याओं पर भी लगातार महंगाई बढ़ाना यह आम जनता के हित में नहीं है। इसलिए सरकार को तत्कालीन बढ़ी हुई कीमतों को वापस लेना चाहिए। तो वहीं, रुद्रपुर में भी बिजली की दरें बढ़ाए जाने के प्रस्ताव का विरोध करते हुए कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने उत्तराखंड पावर कारपोरेशन कार्यालय के सामने राज्य सरकार का पुतला फूंका। कांग्रेस ने सरकार पर आम जनता के ऊपर वित्तीय बोझ डालने का आरोप लगाया है। प्रदेश नेतृत्व के आह्वान पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने सड़कों में उतर कर विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने सरकार का पुतला दहन किया गया। कांग्रेस जिलाध्यक्ष हिमांशु गावा ने कहा कि भाजपा राज में महंगाई चरम सीमा पर है और अब सरकार पांच से आठ प्रतिशत बिजली के दाम बढ़ाकर आम जनता की कमर तोड़ने का प्रयास कर रही है, जबकि दूसरे राज्यों के मुख्यमंत्री बिजली फ्री कर रहे है। उन्होंने राज्य सरकार साल में दूसरी बार बिजली के दामों में वृद्धि करने जा रही है। बागेश्वर में भी बिजली के दामों में हुई बढ़ोत्तरी को लेकर कांग्रेस कार्यकर्ताओ ने जोरदार प्रदर्शन कर राज्य सरकार का पुतला फूंका है। कांग्रेस ने इसे जनता पर आर्थिक बोझ की संज्ञा देते हुए मूल्यवृद्धि वापस लेने की मांग की है। एसबीआई तिराहे पर आयोजित सभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस जिलाध्यक्ष भगवत डसीला ने कहा कि केंद्र सरकार का महंगाई पर कोई नियंत्रण नहीं रह गया है। बिजली के दामों में लगातार हो रही बढ़ोत्तरी के कारण महंगाई बढ़ रही है। उन्होंने कहा की अगर जल्द इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं की गई तो उग्र आंदोलन किया जाएगा।

Featured Post

A viable alternative to joint replacement: Dr. Gaurav Sanjay

Dehradun. India and International book records holder Dr. Gaurav Sanjay is well known young orthopaedic surgeon has presented a clinical s...