Friday, 16 December 2022

भाजपा का सत्य प्रेरणायुक्त, कांग्रेस का वर्तमान और अतीत संदेहास्पदः चौहान

देहरादून। भाजपा प्रदेश मीडिया प्रभारी मनवीर सिंह चौहान ने कहा कि भाजपा एक खुली किताब है और उसकी रीति, नीति तथा सिद्धांत मे संशय की गुंजाइस भी नही है। भाजपा का सत्य प्रेरणायुक्त है जबकि कांग्रेस का वर्तमान और अतीत संदेहास्पद रहा है। पूर्व सीएम और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता स्टीवहरीश रावत के बयान पर पलटवार करते हुए चौहान ने दावा किया कि अपनी राजनैतिक पारी के दौरान हरीश रावत हमेशा कंफ्यूज रहे है। रावत सहानुभूति का कार्ड भी खेलते रहे हैं और उसमे आधा सच ही बोलते है। भ्रष्टाचार के मुद्दे पर रावत कई बार कह चुके है कि वह अपनी भूमिका के साथ न्याय नही कर पाए और माफी मांग चुके है। उन्होंने खुली आँखों से भ्रष्टाचार की बेल उगते देखी और भेद खुला तो दुख जताने के साथ किनारा करने की कोशिश की। इससे वह आधा सच ही बोल पाए। विधान सभा मे हुई भर्तियों मे उन्होंने पूर्व विधानसभा अध्यक्ष गोविंद सिंह कुंजवाल को सतर्क करने की बात की, लेकिन फिर पूरा सच कहने से चूक गए। वहीं स्टिंग के बाद उन्होंने सहानुभूति कार्ड खेलने की कोशिश की। अति महत्वाकांक्षी और स्वार्थ परक राजनीति के चलते वह अपनो को एकजुट नही रख पाए तथा बिखराव के लिए भाजपा को दोष देते रहे है। कभी सन्यास तो कभी दिल्ली पुनर्वास की बात कर रावत नये शिगूफे छेड़ते रहे है। विभागों मे तमाम स्टिंग होने के बाद वह कुछ न देखने या सुनने का ढोंग करते रहे है, लेकिन सच उत्तराखण्ड ही नही देश ने देखा और हरीश रावत प्रलाप करते रहे। वह नाकामयाबियों को छिपाने के लिए अब विधान सभा की हार के लिए भाजपा पर तोहमत लगा रहे। हरिद्वार ग्रामीण मे चुनाव प्रभारी और कथित बयानबीर को जान बूझकर नजरंदाज कर फिर आधा सच बोलकर ईनाम घोषित करने की नौटंकी कर रहे है। उन्होंने कहा कि धामी सरकार ने जाँच एजेंसियों को खुली छूट दी है और जाँच एजेंसी हर अपराधी तक पहुँच रही है। बिना काल खंड देखे हर मामले की जाँच और कार्यवाही हो रही है जबकि पहले लीपापोथी होती रही। भाजपा का शासन अन्य दलों के लिए भी प्रेरणा का स्रोत है, क्योकि आज भाजपा के साथ जुड़ाव बढ़ता जा रहा है और वह देश दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी है। वहीं कांग्रेस लगातार सिमटती जा रही है।

Featured Post

कर्तव्य पथ पर गणतंत्र दिवस परेड में शामिल उत्तराखंड की झांकी ने पहली बार प्रथम स्थान पाकर बनाया इतिहास

देहरादून, गढ़ संवेदना न्यूज। गणतंत्र दिवस परेड को अभी तक राजपथ के नाम से जाना जाता था, किंतु इस वर्ष उसका नाम बदलकर कर्तव्य पथ रखा गया है। ...