टिहरी के रोहित भट्ट करेंगे किलिमंजारो को फतह

टिहरी। टिहरी के युवा रोहित भट्ट विश्व के सबसे ऊंचे पर्वत में शामिल तंजानिया के किलिमंजारो को फतह करेंगे। इस पर्वत को फतह करने के लिए छह दिन लगते हैं लेकिन रोहित का इसे तीन दिन में फतह करने का सपना है। 23 जनवरी को रोहित भारत से तंजानिया के लिए रवाना होंगे। रोहित अक्तूबर 2022 में उत्तरकाशी स्थित द्रोपदी का डांडा (डीकेडी-2) में आए एवलांच से सकुशल लौटे थे। 5895 मीटर पर स्थित अफ्रीकी देश तंजानिया की सबसे ऊंची चोटी में किलिमंजारो शामिल है। यह पर्वत फतह करने का टिहरी के रोहित का सपना है। टिहरी विधायक किशोर उपाध्याय ने पर्वतारोही रोहित भट्ट को तिरंगा सौंपते हुए दिल्ली के लिए रवाना किया। कहा कि रोहित युवाओं के लिए रोल मॉडल है। रोहित ने बताया कि 4 अक्तूबर 2022 को डीकेडी में आए एवलांच के दौरान नेहरू पर्वतारोहण संस्थान के 29 लोगों की मौत हो गई थी। इस दौरान चले ऑपरेशन में एक इंस्ट्रक्टर सहित 4 लोगों की जान बचाई गई थी। बीते कुछ माह बेड रेस्ट के बाद वह पर्वतारोहण के लिए तैयार हैं। 23 को दिल्ली से उनकी फ्लाइट है। सामान्यता पर्वतारोही इसके लिए 6 दिन का समय लगाते हैं लेकिन वह इस कार्य को 3 दिन में पूरा कर विश्व रिकॉर्ड और गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड में नाम दर्ज करना चाहते हैं। इस मौके पर पूर्व नगर पालिकाध्यक्ष उमेश चरण गुसाईं, राकेश भट्ट, जगदंबा भट्ट, कुशलानंद भट्ट, सतीश चमोली, पदम सिंह कुमाईं, महादेव मैठाणी, प्रभात उनियाल, उत्तम नेगी और मुनिंद्र भट्ट मौजूद थे।

Popular posts from this blog

नेशनल एचीवर रिकॉग्नेशन फोरम ने विशिष्ट प्रतिभाओं को किया सम्मानित

व्यंजन प्रतियोगिता में पूजा, टाई एंड डाई में सोनाक्षी और रंगोली में काजल रहीं विजेता

घरों के आस-पास चहचहाने वाली गौरैया विलुप्ति के कगार पर