कांग्रेस समेत पूर्ववृति सरकारों ने कभी वनभूलपुरा रेलवे विवाद के हल का प्रयास नहीं कियाः जोशी

देहरादून। भाजपा ने हल्द्वानी के वनभूलपुरा रेलवे विवाद को कॉंग्रेस पार्टी और उनकी सरकारों की देन बताया, जिन्होंने समय रहते कोई प्रयास नहीं किया और मामला कोर्ट में जाने दिया। भाजपा प्रदेश प्रवक्ता सुरेश जोशी ने स्पष्ट किया कि पार्टी और सरकार इस पूरे मामले को राजनैतिक चश्मे से नहीं देखती है, मामला न्यायालय में विचाराधीन है इसलिए सभी पक्षों को उच्चतम न्यायालय के फैसले का इंतजार करना चाहिए। भाजपा प्रवक्ता श्री जोशी ने आरोप लगाते हुए कहा कि यह विवाद लंबे समय से चल रहा है लेकिन कांग्रेस समेत पूर्ववृति सरकारों ने कभी विवाद के हल का प्रयास नहीं किया। आज इस प्रकरण में राजनैतिक बयानबाजी करने वाले कॉंग्रेस के तमाम नेता किसी न किसी रूप में तत्कालीन सरकारों का प्रतिनिधित्व कर रहे थे। ऐसे में उनके अनुशार यदि कुछ गलत हो रहा था तो उन लोगों कोई बीच का रास्ता क्यूँ नहीं निकाला, क्यों मामले को इतने लंबे समय तक अटकाए लटकाये रखा। उन्होंने कहा कि भाजपा इस पूरे विवाद को राजनैतिक चश्मे से नहीं देखती है और हमारी सरकार की नीति नियत एकदम स्पष्ट है। यह समूचा प्रकरण न्यायालय में विचाराधीन है और 5 तारीख को सुप्रीम कोर्ट में भी इस प्रकरण से संबन्धित याचिका पर सुनवाई होनी है। लिहाजा सभी पक्षों को राजनीति करने के बजाय न्यायालय के फैसले का इंतजार करना चाहिए।

Popular posts from this blog

नेशनल एचीवर रिकॉग्नेशन फोरम ने विशिष्ट प्रतिभाओं को किया सम्मानित

व्यंजन प्रतियोगिता में पूजा, टाई एंड डाई में सोनाक्षी और रंगोली में काजल रहीं विजेता

घरों के आस-पास चहचहाने वाली गौरैया विलुप्ति के कगार पर