Thursday, 31 December 2020

शराब के विशेषज्ञ है हरीश रावतः बंशीधर भगत

देहरादूना। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत ने कहा कि कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव तथा पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत अपनी पुरानी शराब की मानसिकता से उबर नही पा रहे है। हरीश रावत ही बेहतर जान सकते है की कच्ची ठर्री का नशा कैसा होता है और स्कॉच कैसा होता है। श्री भगत ने कहा कि हरीश रावत की शायद ठर्री में विशेषज्ञता है। उनकी ठर्री और स्कॉच उनको ही मुबारक। उन्होंने कहा कि वैसे भी भाजपा एक अनुशासित दल है और उसके कार्यकर्ता अधिक अनुशासित है। वह नशे के सेवन से दूर रहते है। जंहा तक श्री रावत का सवाल है तो वह डेनिस के ब्रांड अम्बेसडर रह चुके है। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कांग्रेस कार्यकाल में हुए शराब घोटाले का उल्लेख करते हुए कहा कि उनके कार्यकाल के शराब घोटाले को कौन भूल सकता है। वह शराब के परचार प्रसार के लिए जाने जाते है। उन्होंने कहा कि किसान आंदोलन पर नसीहत देने के बजाए कांग्रेस को भड़काने की नीति त्याग कर स्वार्थ से दूर रहना चाहिए। देश में पहली बार कृषि में बदलाव हो रहे है और किसानो के हित में फैसले हो रहे है इसलिए कांग्रेस बौखला गयी है।

02 जनवरी को होगा आइआइएम संबलपुर के स्थायी परिसर का शिलान्यास

देहरादूना। देश में नई पीढ़ी के आइआइएम में सबसे आशाजनक और ऊर्जस्वी प्रबंधन संस्थानों में से एक आइआइएम सम्बलपुर के लिए वर्ष 2020 उपलब्धियों भरा साल रहा है। और अब यह संस्थान नए साल के आगमन के साथ एक और बड़ी उपलब्धि हासिल करने के लिए पूरी तरह से तैयार है। 2 जनवरी को वर्चुअल तरीके से आयोजित समारोह के दौरान भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आइआइएम सम्बलपुर के स्थायी परिसर का शिलान्यास करेंगे। इस समारोह में ओडिशा के राज्यपाल गणेशी लालय ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक शिक्षा मंत्री भारत सरकार रमेश पोखरियाल निशंक, पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस और इस्पात मंत्री, भारत सरकार धर्मेंद्र प्रधान, शिक्षा, संचार, इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री, भारत सरकार संजय धोत्रे, राज्य मंत्री एमओएएचडी एवं मत्स्य पालन और एमएसएमइ, भारत सरकार प्रताप चंद्र सारंगीय सांसद नितेश गंगा देब इस कार्यक्रम में उपस्थित रहेंगे। इस वर्चुअल समारोह में भारत सरकार के गणमान्य अतिथि, उड़ीसा सरकार के गणमान्य अतिथि, उद्योग जगत की जानी-मानी हस्तियां, सार्वजनिक उपक्रमों के अधिकारीगण, आइआइएम, आइआइटी, आइआइएसइआर के निदेशक, मीडिया के पत्रकार, बुनकर समुदाय के सदस्य, किसान समुदाय के सदस्य, छात्र, पूर्व-छात्र, प्राध्यापक और आइआइएम संबलपुर के कर्मचारियों सहित लगभग 5000 से अधिक आमंत्रित अतिथि शामिल होंगे।

विधायक निधि से 100 स्ट्रीट लाइट एवं 10 बैंच लगवाने की स्पीकर ने की घोषणा

ऋषिकेशा। ऋषिकेश विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत प्रतीत नगर, रायावाला में उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष प्रेम चंद अग्रवाल ने एक कार्यक्रम के दौरान क्षेत्र में 100 स्ट्रीट लाइट एवं 10 बैंच लगवाने की विधायक निधि से घोषणा की। क्षेत्र में जनता मिलन कार्यक्रम के दौरान स्थानीय लोगों द्वारा उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष का फूल मालाओं से जोरदार स्वागत किया गया।इस अवसर पर स्थानीय लोगों ने विधानसभा अध्यक्ष के समक्ष क्षेत्र की समस्याएं रखीं जिनमें कई समस्याओं का विधानसभा अध्यक्ष ने मौके पर ही निस्तारण किया। इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि केंद्र व राज्य सरकार द्वारा जनकल्याण को सर्वोपरी मानते हुए अभूतपूर्व कार्यों के माध्यम से विकास के नए प्रतिमान स्थापित किए गए हैं। आधारभूत विकास के साथ जन कल्याणकारी योजनाओं का समुचित लाभ पात्र व्यक्ति को सुनिश्चित किया गया है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार सभी वर्गों के कल्याण को संकल्पित होकर कार्यरत है। जिसके तहत आवास योजनाएं, उज्जवला योजना, सौभाग्य योजना, स्वच्छ भारत मिशन, अटल स्वास्थ्य बीमा योजना समेत विभिन्न लोक कल्याणकारी योजनाओं के माध्यम से जन-जन को लाभान्वित किया जा रहा है। इस अवसर पर जिला महामंत्री भाजपा सुदेश कंडवाल, श्यामपुर मंडल अध्यक्ष गणेश रावत, जगमोहन चैहान, हुकुम सिंह जगधारी, दीपक सुंद्रियाल, चंद्रमणि सेमवाल, चिंतामणि नौगाई, नत्थी सिंह, हरपाल, नरेंद्र रावत, सतपाल सैनी, प्रधान अनिल कुमार, विवेक रावत, राजेश जुगलान, बिना बंगवाल, उपप्रधान अंजना चैहान, क्षेत्र पंचायत सदस्य ज्योति जुगलान, लक्ष्मी गुरंग, कुंवर सिंह नेगी, नवीन चमोली, आशीष जोशी सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

शहीदी दिवस व नववर्ष के आगमन पर दूध, हलवा व लड्डू वितरित किए

देहरादून। शहीदी दिवस व अंग्रेजी नव वर्ष आगमन व 2020 समापन पर कैंट विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत शास्त्रीनगर में वरिष्ठ भाजपा नेता दिनेश रावत व डांग परिवार के द्वारा क्षेत्रवासियों को दूध, हलवा, लड्डू व कोरोना से बचाव के लिए होम्योपैथी दवाई एवं मास्क वितरण किया गया। इस अवसर पर डांग परिवार के सदस्य भाई अनूप रावत, रोमी डांग, प्रेमनगर कांवली मंडल अध्यक्ष विजेंद्र थपलियाल, सम्मानित जी.एम.एस मंडल अध्यक्ष बबलू बंसल, वार्ड 39 पार्षद शुभम नेगी, मंडल उपाध्यक्ष भगवान सिंह रावत, मंडल मंत्री रंजीत सेमवाल, वार्ड 40 अध्यक्ष विनोद रावत, मंडल किसान मोर्चा चयन कुमार, वार्ड अध्यक्ष धीरज गवाड़ी, बूथ अध्यक्ष किरन रावत, अरविंद पंत, हिम्मत भंडारी, मीडिया प्रभारी सुनील घिल्डियाल, सरोज भरतरी, ललिता गुसाईं, सतेंदर चैहान, सुनील श्रीवास्तव, सोहन जगूड़ी, राधेश्याम, रोहित, राहुल, दीपक, संजय, बम्मा, मंगली, एनके द्विवेदी आदि मौजूद रहे

टीएचडीसीआईएल ने 50 मेगावाट के सौर विद्युत सयंत्र की सफलतापूर्वक कमीशनिंग

ऋषिकेशा। टीएचडीसी इंडिया लिमिटेड (टीएचडीसीआईएल) ने कासरगॉड केरल में 50 मेगावाट के सौर विद्युत संयंत्र को ग्रिड के साथ सिक्रोनाइज कर दिया है। ऊर्जा का प्रवाह शुरु हो गया है और प्रोटोकोल के अनुसार विद्युत क्षमता में निरंतर वृद्धि हो रही है। यह लक्ष्य अपनी तय समय सीमा से एक माह पूर्व पूरा कर लिया गया है। उल्लेखनीय है कि 50 मेगावाट की इस सौर विद्युत सयंत्र के सफलतापूर्वक सिक्रोनाइजेशन के साथ ही टीएचडीसीआईएल की कुल संस्थापित क्षमता 1587 मेगावाट हो गयी है।

विधानसभा अध्यक्ष ने वरिष्ठ नागरिकों को किया सम्मानित

ऋषिकेशा। बैराज रोड स्थित कैंप कार्यालय पर आज विधानसभा अध्यक्ष प्रेम चंद अग्रवाल ने वरिष्ठ नागरिकों को सम्मानित कर आशीर्वाद प्राप्त किया और नए वर्ष की शुभकामनाएं दी। पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार विधानसभा अध्यक्ष प्रेम चंद अग्रवाल जी ने अपने कैंप कार्यालय पर लंबे समय से राष्ट्र विचारधाराओं से ओतप्रोत संगठन के अनेक वरिष्ठ नागरिकों का सम्मान किया स इस अवसर पर रामाकांत अग्रवाल, राम कुमार गुप्ता, रामकिशन अग्रवाल, रमेश चंद शर्मा, बीएन झा, एलएन शर्मा, प्रदुमन सिंह रावत, दिगंबर थापा, रघुबीर सिंह पुंडीर आदि सहित अनेक लोगों को सम्मानित किया गया। इस अवसर पर श्री अग्रवाल ने कहा है कि आज देश के अंदर राष्ट्रीयता का भाव जागृत करने वाली सरकार हर क्षेत्र में कीर्तिमान स्थापित कर रही है उन्होंने इस सब का श्रेय वरिष्ठ नागरिकों को दिया। श्री अग्रवाल ने कहा कि जो लोग देश में लगे आपातकाल से लेकर वर्तमान समय तक राष्ट्रीय विचारधारा के लिए काम कर रहे हैं उनका सम्मान सर्वोपरि है। श्री अग्रवाल ने कहा है कि ऐसे लोगों के बल पर ही यह देश खड़ा है। उन्होंने वरिष्ठ नागरिकों का सम्मान करते हुए कहा है कि भारतवर्ष की परंपरा रही है कि अपने पूर्वजों का सम्मान हर दृष्टि से किया जाना चाहिए। उन्होंने विगत 50 वर्षों से क्षेत्र में सामाजिक कार्यों में अपना योगदान देने वाले अनेक महानुभाव का सम्मान किया। इस अवसर पर श्री अग्रवाल ने वरिष्ठ नागरिकों का आशीर्वाद लेते हुए उनके दीर्घायु की कामना की। साथ ही कोरोना वायरस संक्रमण से सावधान रहने की अपील भी की। कार्यक्रम में भाजपा के मंडल अध्यक्ष वीरभद्र के अरविंद चैधरी, ऋषिकेश मंडल अध्यक्ष दिनेश सती, श्यामपुर मंडल अध्यक्ष गणेश रावत, नरेंद्र सिंह रावत, प्रदीप धसमाना, राकेश अग्रवाल, अरुण बड़ोनी, भूपेंद्र राणा, अनीता तिवारी, जयंत शर्मा आदि सहित अनेक लोग उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन वरिष्ठ पार्षद शिव कुमार गौतम ने किया।

प्रोजेक्ट एरिया को प्रतिबंधित क्षेत्र घोषित किए जाने की कार्यवाही शीघ्र करने के दिए निर्देश

देहरादूना। मुख्य सचिव ओमप्रकाश की अध्यक्षता में गुरुवार को सचिवालय में ऋषिकेश-कर्णप्रयाग नई रेल लाइन परियोजना के सम्बन्ध में रेल विकास निगम लिमिटेड और शासन के मध्य बैठक आयोजित की गई। बैठक के दौरान विभिन्न विषयों पर चर्चा की गई। मुख्य सचिव ओमप्रकाश ने चमोली एवं रूद्रप्रयाग जनपदों को प्रोजेक्ट एरिया को प्रतिबंधित क्षेत्र घोषित किए जाने हेतु शीघ्र कार्यवाही किए जाने के भी निर्देश दिए। उन्होंने इस सम्बन्ध में जिलाधिकारियों को प्रशासनिक व्यय की आवंटित धनराशि का उपयोगिता प्रमाण पत्र राजस्व विभाग को शीघ्र उपलब्ध कराये जाने के भी निर्देश दिए। मुख्य सचिव ओम प्रकाश ने जिलाधिकारियों को रेल विकास निगम लिमिटेड के साथ समन्वय बनाकर हर तरह की प्रशासनिक सहायता उपलब्ध कराए जाने के भी निर्देश दिए। उन्होंने सम्बन्धित विभागीय अधिकारियों को भी निर्देश दिये कि अवशेष कार्य को जल्द से जल्द टाईमलाईन सहित पूर्ण कर लिया जाए साथ ही कार्यों में गुणवत्ता, गति एवं पारदर्शिता का विशेष ध्यान रखा जाय। इस अवसर पर रेल विकास निगम लिमिटेड के अधिकारियों सहित सम्बन्धित जनपदों के जिलाधिकारी एवं सम्बन्धित विभागों से उच्चाधिकारी उपस्थित थे।

आप ने फल वितरण कर मनाया उत्तराखंड प्रभारी का जन्मदिन

देहरादून। आम आदमी पार्टी ने गरीबों एवं जरूरतमंदों को फल वितरण कर उत्तराखंड प्रभारी दिनेश मोहनिया का जन्मदिन मनाया। आम आदमी पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता रविन्द्र सिंह आनन्द ने कहा की प्रदेश के उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए पार्टी आम आदमी के साथ खड़ी है एवं उत्तराखंड के लोगों ने उत्तराखंड बनाने को लेकर जो सपने देखे थे उन्हें आम आदमी पार्टी पूरा करेगी। मौके पर उपस्थित विपिन खन्ना ने कहा कि आम आदमी पार्टी आम आदमी की विचारधारा को समझती है और आम जनता के हित में खड़ी है। इस अवसर पर मुकेश सिंह मोहित कुमार नवीन सिंह चैहान आदि उपस्थित थे।

किसानों में भय का वातावरण उतपन्न कर रही है कांग्रेसः भाजपा

देहरादूना। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत ने कहा कि कांग्रेस किसानों को गुमराह कर भय का वातावरण बना रही है और अपनी राजनैतिक रोटिया सेक रही है। श्री भगत ने कहा कि कांग्रेस को राजधर्म और लोकतंत्र की सीख देने की आवश्यकता नही है,क्योकि लोकतंत्र की हत्या का पाप इससे पहले वह कई बार कर चुकी है। उन्होंने कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह चैहान के आरोपो पर पलटवार करते हुए कहा कि उत्तराखंड में केन्द्र और राज्य सरकार की नीतियों से सभी किसानो को लाभ मिला है इसमें छोटे और मझोले किसानो को भी लाभ पंहुचा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में किसानों की आय बढ़ाने के लिए किसानो के 6400 समूह बनाकर प्रत्येक समूह को 10 लाख रुपये प्रोत्साहन के रूप दिए जारहे हैं, तो आईएमए विलेज योजना में प्रति गांव को 15 लाख रुपये रिवाल्विंग फण्ड के रूप में आवंटित किए गए है। उन्होंने कहा कि प्रदेश व केंद्र की सरकार ने इसके अलावा किसानों के कल्याण के लिए कृषि और उद्यान विभाग में कई योजनाये चल रही है जिसका लाभ किसानो को सीधे तौर पर मिल रहा है। श्री भगत ने कहा कि लक्सर में किसान सम्मान निधि में गड़बड़ी की जाँच सरकार खुद करवा रही है और आरोपी बख्शे नहीं जायेंगे। मामले की जाँच चल रही है। कांग्रेस को रचनात्मक विपक्ष की भूमिका में सामने आना चाहिए,क्योकि कांग्रेस के सामने विश्वास का संकट खड़ा हो गया है। राज्य हो या केंद्र घपले घोटालो ने कांग्रेस के अस्तित्व पर संकट खड़ा कर दिया है। भाजपा अध्यक्ष श्री भगत ने कहा कि कांग्रेस सिर्फ पुनर्जीवित होने के लिए आरोप प्रत्यारोप की राजनीति कर रही है।

उपभोक्ता संरक्षण को जागरूकता कार्यक्रम लगातार आयोजित किए जाएं

देहरादूना। मुख्य सचिव ओमप्रकाश की अध्यक्षता में गुरूवार को सचिवालय में भारतीय मानक ब्यूरो की राज्य स्तरीय समिति की द्वितीय बैठक सम्पन्न हुयी। बैठक में मुख्य सचिव ने उपभोक्ता संरक्षण हेतु जागरूकता कार्यक्रमों को लगातार आयोजित किए जाने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि समिति की बैठक को प्रत्येक वर्ष दिसम्बर माह के अन्तिम सप्ताह में आयोजित किया जाए। मुख्य सचिव ने कहा कि उत्तराखण्ड अर्थक्वेक प्रोन जोन 4 एवं 5 में शामिल है। भवनों के निर्माण में मानकीकरण हेतु लोक निर्माण विभाग, आवास विभाग एवं भारतीय मानक ब्यूरो के प्रतिनिधि की समिति बनायी जाए। यह समिति 03 माह में अपनी संस्तुतियां देगी। उन्होंने राज्य सरकार के अधिकारियों में क्षमता निर्माण हेतु प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किए जाने हेतु भी प्रत्येक वर्ष अप्रैल व मई माह में प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित किए जाने के भी निर्देश दिए। मुख्य सचिव ने पेयजल विभाग को निर्देश दिए कि पेयजल की गुणवत्ता के लिए मानक का कार्यान्वयन किया जाना सुनिश्चित किया जाए। जिन स्थानों पर पानी की सप्लाई व्यवस्था पुरानी होने के कारण ऐसी समस्याएं आ रही हैं। उन स्थानों पर सप्लाई व्यवस्था में सुधार होने तक जल प्यूरीफिकेशन की व्यवस्था की जाए। मुख्य सचिव ने कहा कि राज्य के ग्रोथ सेंटर बहुत अच्छा कार्य कर रहे हैं। उन्होंने ग्रोथ सेंटर एवं स्टार्ट-अप के उत्पादों को सर्टिफिकेशन की ओर ध्यान आकर्षित करते हुए कहा कि यदि ग्रोथ सेंटर आदि के उत्पादों को सर्टिफिकेशन मिल जाता है तो इससे उनकी मार्केटिंग के अवसर बढ़ेंगे। उनमें आत्म विश्वास भी जागृत होगा। इस अवसर पर सचिव आर.के. सुधांशु, एस.ए. मुरूगेशन एवं भारतीय मानक ब्यूरो से सुधीर बिश्नोई सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

आयोग के पदों पर प्रतिनियुक्ति का विरोध

-शिक्षकों को सूचना अधिकारी बना रही सरकार - सालों से भर्ती का इंतजार कर रहे युवाओं को झटका देहरादूना। पिछले कई सालों से प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी में जुटे युवाओं को सरकार ने तगड़ा झटका दिया है। लोक सेवा आयोग के पदों को प्रतिनियुक्ति से भरने की प्रक्रिया शुरू हो गई है। जिला सूचना अधिकारी के पदों की विज्ञप्ति भी जारी हो गई है। युवाओं ने सरकार के इस कदम का विरोध किया है और इसे बेरोजगारों के हितों पर कुठाराघात बताया है। सूचना अधिकारी, जिला सूचना अधिकारी का पद लोक सेवा आयोग के अंतर्गत आता है। इसके लिए पत्रकारिता में स्नातक या डिप्लोमा अनिवार्य अर्हता है। यही वजह है प्रदेश के विभिन्न सरकारी व प्राइवेट कॉलेजों से पत्रकारिता की पढ़ाई कर चुके हजारों छात्र इन पदों की तैयारी करते हैं। पिछले चार सालों से लोक सेवा आयोग द्वारा भर्ती न किए जाने से हजारों छात्र इन पदों का इंतजार कर रहे थे। लेकिन सरकार अब अस्थाई व्यवस्था के तहत सूचना अधिकारीध्जिला सूचना अधिकारी के 12 पदों पर शिक्षकों को प्रतिनियुक्ति पर तैनाती दे रही है। इसके लिए विज्ञापन प्रकाशित कर दिया गया है तथा 15 दिन के भीतर आवेदन मांगे गए हैं। देवभूमि बेरोजगार मंच के अध्यक्ष राम कंडवाल का कहना है कि सरकार को प्रतिनियुक्ति के बजाए सीधी भर्ती करनी चाहिए, ताकि प्रदेश के बेरोजगारों को रोजगार मिल सके।

बहुद्देशीय शिविर 02 जनवरी को न्याय पंचायत तिलवाड़ी में

देहरादून। मुख्य विकास अधिकारी नितिका खण्डेलवाल ने अवगत कराया है कि राज्य सरकार द्वारा संचालित जन कल्याणकारी योजनाओं का लाभ आम जनमानस तक पंहुचाने हेतु मुख्यमंत्री द्वारा मुख्यमंत्री त्वरित कार्यवाही टीम (क्यू0आर0टी0) का गठन किया गया है। विकासखण्ड स्तर पर प्रति सप्ताह न्याय पंचायत ग्राम पंचायत स्तर पर बहुद्देशीय शिविरों का आयोजन किया जाएगा, जिसमें विकासखण्ड एवं तहसील स्तर के सक्षम अधिकारियों द्वारा प्रतिभाग किया जाएगा एवं जनपद स्तरीय अधिकारियों द्वारा प्रति सप्ताह विकासखण्डवार निर्धारित कार्यक्रमों में प्रतिभाग करते हुए मौके पर ही जनसाधारण की समस्याओं का निस्तारण किया जाएगा। यदि किन्ही समस्याओं के समाधान में अतिरिक्त समय की आवश्यकता प्रतीत होती हो तो न्यूनतम अवधि का उल्लेख किया जाए एवं दी गयी अवधि के भीतर समस्याओं का निस्तारण सुनिश्चित किया जाए। आगामी बहुद्देशीय शिविर 02 जनवरी को न्याय पंचायत तिलवाड़ी, विकासखण्ड कालसी परिसर में आयोजित किया जाएगा। उन्होनें सम्बन्धित खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देशित किया कि शिविर के लिए समय-समय पर निर्गत कोविड-19 आपदा शमन प्रोटोकाॅल के अन्तर्गत आवश्यक व्यवस्थाएं करते हुए सम्बन्धित ग्राम पंचायतों व आसपास उपरोक्त शिविरों का प्रचार-प्रसार करना सुनिश्चित करें।

देहरादून जिले में 99 लोगों की रिपोर्ट कोरोना पाॅजिटिव निकली

देहरादूना। जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव ने जनपदवासियों को नववर्ष की शुभकामनाएं देते हुए सभी के उत्तम स्वास्थ्य की कामना की। उन्होंने जनपदवासियों से कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम हेतु जारी निर्देशों का पालन करने तथा सार्वजनिक स्थानों पर मास्क का उपयोग करने तथा सामाजिक दूरी के मानकों का पालन करने की अपेक्षा की है। जिलाधिकारी ने बताया है कि जनपद में कोरोना वायरस संक्रमण के दृष्टिगत प्राप्त हुई रिपोर्ट में 99 व्यक्तियों की रिपोर्ट पाॅजिटिव प्राप्त होने के फलस्वरूप जनपद में आतिथि तक कोरोना से संक्रमित व्यक्तियों की संख्या 27273 हो गयी है, जिनमें कुल 24559 व्यक्ति उपचार के उपरान्त स्वस्थ हो गये हैं। वर्तमान में जनपद में 1460 व्यक्ति उपचाररत हैं। इसके अतिरिक्त जनपद में आज जांच हेतु कुल 3648 सैम्पल भेजे गये। आज जनपद के विभिन्न स्थानों पर बनाए गए सैम्पल कलैक्शन केन्द्रों पर कुल 1365 सैम्पल लिए गए, जिनमें आशारोड़ी चैक पोस्ट पर 3 व्यक्ति की रिपोर्ट पाॅजिटिव प्राप्त हुई। इनमें आशारोड़ी चैक पोस्ट 1154 एन्टीजन, कुल्हाल चैक पोस्ट पर 25 एन्टीजन, जौलीग्रान्ट एयरपोर्ट 152 एन्टीजन टेस्ट, आइएसबीटी पर 24 एंटीजन तथा रेलेवे स्टेशन पर 10 एन्टीजन, सैम्पल लिए गए। जनपद में सार्वजनिक स्थानों पर मास्क का उपयोग न करने पर 22 व्यक्तियों के चालान किए गए।

न्यू ईयर के जश्न में पर्यटक अपना और अपने प्रियजनों ख्याल रखेंः सतपाल महाराज

देहरादून। न्यू ईयर के जश्न के लिए उत्तराखण्ड प्रदेश के होटल और कैंप पर्यटकों से पैक हो गये हैं। राज्य के विभिन्न स्थलों मसूरी, नैनीताल, रानीखेत, कौसानी, रामनगर, ऋषिकेश आदि जगहों पर पर्यटक अधिक संख्या में पहुंच रहे हैं। उत्तराखण्ड आकर पर्यटक पहाड़ी व्यंजनों का लुफ्त उठाने के साथ ही प्रदेश के लोकगीतों का भी आनंद ले रहे हैं। नये वर्ष का जश्न मनाने के लिए उत्तराखण्ड राज्य आगंतुकों की पहली पसंद रहा है। हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी पर्यटकों की काफी भीड़ है। उत्तराखण्ड आने वाले पर्यटकों को पर्यटन मंत्री उत्तराखंड सतपाल महाराज ने नये वर्ष के लिए बधाई दी। उन्होंने नये वर्ष के आगमन पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि मैं आगामी वर्ष 2021 में सभी के स्वास्थ्य एवं सुखी जीवन की कामना करता हूं। जैसा कि हम नए साल में प्रवेश कर रहे हैं यह महत्वपूर्ण है कि पर्यटक व हितधारक कोविड-19 के बीच राज्य सरकार द्वारा जारी सभी आवश्यक दिशा निर्देशों का सावधानी के साथ पालन करें। नए वर्ष की शुभकामनाएं देते हुए, पर्यटन सचिव दिलीप जावलकर ने कहा, “हमने प्रदेश के सभी जनपदों में पर्यटन से संबंधित हितधारकों के साथ आवश्यक दिशानिर्देश साझा किए हैं। यह बहुत महत्वपूर्ण है कि हम अपना और अपने प्रियजनों का बहुत ख्याल रखें।’’नय वर्ष 2021 का जश्न मनाने के लिए उत्तराखण्ड आने वाली राजस्थान की पर्यटक नंदिनी बंसल ने कहा कि मैं अपने दोस्तों के साथ नैनीताल घूमने आई हूं। उत्तराखंड में विशेष रूप से सर्दियों में आना हमेशा खुशनूमा रहा है। उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड सरकार द्वारा जारी कोविड-19 के दिशा निर्देशों का पालन करते हुए हम नए साल का जश्न मना रहे हैं। साल के आखरी दिन नैनीताल झील में नौकायन करना व माल रोड़ पर घूमना काफी आनंदित रहा है। दिल्ली से अपने परिवार के साथ मसूरी आने वाले अकिनो भट्ट ने कहा, “पहाडों की रानी मसूरी हमेशा से आगंतुकों के लिए आकर्षण का केंद्र रही है। कोरोना संक्रमण के कारण इस वर्ष नए साल का जश्न भले ही थोड़ा फीका है लेकिन हम मसूरी के सुरम्य स्थानों में फोटों क्लिक करने के साथ ही यहां खरीददारी कर रहे हैं और अपने परिवार के साथ उत्तराखण्ड राज्य की प्रकृति व सुंदरता का लुफ्त उठा रहे हैं।

मुख्य सचिव ने नववर्ष की बधाई व शुभकामनाएं दी

देहरादून। मुख्य सचिव ओमप्रकाश ने प्रदेशवासियों को नववर्ष की हार्दिक बधाई व शुभकामनाएं दी हैं। नववर्ष की पूर्व संध्या पर जारी अपने संदेश में मुख्य सचिव ने प्रदेशवासियों के सुख, समृद्ध एवं खुशहाल जीवन की कामना की है। मुख्य सचिव ने कहा कि राज्य के प्रत्येक नागरिक तक जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ पहुंचाना राज्य सरकार की प्राथमिकता है और समाज की अंतिम पंक्ति पर खड़े व्यक्ति तक जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ पहुंचाना सुनिश्चित किया जाएगा।

वर्ष 2020 को उत्तराखण्ड के इतिहास में बङे फैसलों के लिये जाना जाएगाः सीएम

देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने प्रदेशवासियों को नववर्ष 2021 की हार्दिक बधाई व शुभकामनाएं दी है। नव वर्ष की पूर्व संध्या पर जारी अपने संदेश में मुख्यमंत्री ने सभी प्रदेशवासियों के सुख, शांति व समृद्धि की कामना की है। मुख्यमंत्री ने कहा कि निश्चित तौर पर आने वाला वर्ष, हम सभी के जीवन में नई आशा और ऊर्जा का संचार करेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्ष 2020 में पूरी मानव सभ्यता, कोरोना से संघर्ष करने में लगी रही। प्रधानमंत्री के नेतृत्व में हम सभी देशवासियों ने भी कोरोना से जंग लड़ी है। यह लड़ाई अभी भी जारी है। प्रधानमंत्री जी के सही समय पर लिए गए सही निर्णयों से देश सम्भली हुई स्थिति में है। मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्ष 2020 को उत्तराखण्ड के इतिहास में बङे फैसलों के लिये जाना जाएगा। राज्य के लोगों की भावनाओं का सम्मान करते हुए हमने गैरसैण को न केवल ग्रीष्मकालीन राजधानी बनाया बल्कि राजधानी परिक्षेत्र में राजधानी के अनुरूप अवसंरचनात्मक विकास करने की योजना पर भी काम शुरू कर दिया गया है। अगले दस वर्षों में वहां 25 हजार करोड़ रूपए खर्च किए जाएंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस वर्ष चारधाम देवस्थानम बोर्ड का विधिवत गठन किया गया। यह हमारी सरकार का बहुत बङा निर्णय है। मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना, प्रदेश के युवाओं को स्वावलम्बी बनाने में मददगार हो रही है। तीन लाख रूपये तक ब्याजमुक्त ऋण, किसानों के जीवन में खुशहाली लाएगा। इस वर्ष वैश्विक महामारी कोरोना से हम जंग लङ रहे हैं। हमने हेल्थ सिस्टम को मजबूत किया है। अब हर जिले में आईसीयू स्थापित है। हम राज्य में आने के इच्छुक उत्तराखंड के प्रवासी भाईयों को लाए और उनके रोजगार की भी चिंता की है। पर्यटन, उद्योग, कृषि आदि सभी क्षेत्रों को राहत दी है। मुख्यमंत्री ने कहा कि गुड गर्वनेंस के लिए ई-गर्वनेंस को बढ़ावा दिया है। ई-केबिनेट और ई-आफिस को अमल में लाया गया है। राज्य के हर न्याय पंचायत से ई-पंचायत सेवा उपलब्ध कराने वाला उत्तराखण्ड देश का तीसरा राज्य बन गया है। काॅलेजों और विश्वविद्यालयों को वाई-फाई से जोड़े जाने की शुरूआत की है। ग्रामीण घरों को केवल 1 रूपए में पानी का कनेक्शन उपलब्ध कराया जा रहा है। पिथौरागढ़ में बी.आर.ओ द्वारा निर्मित 08 पुलों का लोकार्पण किया गया। इन सभी पुलों का सामरिक दृष्टि से तो महत्व है ही, स्थानीय लोगों को भी इसका बहुत लाभ मिलेगा। प्रधानमंत्री जी ने नमामि गंगे के अंतर्गत उत्तराखण्ड में 521 करोड़ रूपये की परियोजनाओं का वर्चुअल लोकार्पण किया। इस वर्ष न्यू-ऋषिकेश रेलवे स्टेशन, डोबरा चांठी पुल, जानकी सेतु, सूर्यधार झील का उद्घाटन किया गया। पिरूल से एनर्जी के काम को आगे बढ़ाया गया है। मुख्यमंत्री सौर ऊर्जा स्वरोजगार योजना भी महत्वपूर्ण सिद्ध होगी।

Tuesday, 29 December 2020

अंतराष्ट्रीय सीमावर्ती विकास प्रोग्राम से सम्बन्धित कार्ययोजना बनाकर केंद्र सरकार को भेजी जाएगी

देहरादून। प्रदेश के कृषि मंत्री सुबोध उनियाल ने विधान सभा स्थित सभागार कक्ष में प्रदेश के सीमावर्ती क्षेत्रों में पलायन रोकने के लिए अन्तराष्ट्रीय सीमावर्ती विकास प्रोग्राम के सम्बन्ध में बैठक की। उत्तराखण्ड के सीमावर्ती क्षेत्रों के निवासी के आजीविका और सीमावर्ती क्षेत्रों में सुरक्षा की दृष्टि से स्थायी आजीविका विकल्प के रूप में कार्य योजना बनाई जायेगी। इसमें उस क्षेत्र के उपलब्ध कृषि जलवायु के परिस्थितियों और विपणन, प्रसंस्करण से सम्बन्धित पहलू को भी घ्यान में रखा जायेगा। इस कार्य योजना में उत्तराखण्ड के सीमावर्ती क्षेत्रों में कृषि, बागवानी, फसलों को बढावा देने वाली संभावना का पता लगाया जायेगा। इसके अतिरिक्त अन्य आजिविका विकल्पों से सम्बन्धित रिपोर्ट भी तैयार की जायेगी। बैठक में निर्देश देते हुए कहा गया कि अन्तराष्ट्रीय सीमावर्ती विकास प्रोग्राम से सम्बन्धित कार्य योजना बनाकर भारत सरकार को भेजा जाय। इस सम्बन्ध में 11 ब्लाकों का चयन किया गया है। जिनमें पिथौरगढ जनपद में 04 ब्लाक, चमोली में 01, उत्तरकाशी में 03, उधमसिंह नगर में 01 चम्पावत में 02 ब्लाक है। इन क्षेत्रों में कृषि विकास का उददेश्य अन्तराष्ट्रीय सीमावर्ती क्षेत्र में समृद्धि लाकर पलायन को रोकना है। बैठक में कहा गया पलायन को रोकना सामरिक दृष्टि से भी महत्वपूर्ण है। अन्तराष्ट्रीय सीमावर्ती विकास प्रोग्राम से सम्बन्धित कार्य योजना के अन्तर्गत सम्बन्धित क्षेत्र में 01 से लेकर 10 किमी. के क्षेत्रफल को शामिल किया जायेगा। इस क्षेत्र में कृषि और कृषि से सम्बन्धित व्यवसायों का विकास किया जायेगा। इस योजना को एकीकृत आदर्श कृषि ग्राम योजना से जोडा जायेगा। इसमें मत्स्य पालन, पशु पालन, डेरी पालन, मधुमखी पालन योजना का अन्य उददेश्य कृषको के आय में वृद्धि लाना है। इस अवसर पर अपर सचिव राम बिलास यादव सहित अन्य विभागीय अधिकारी मौजूद थे।

सफाई कर्मचारी आयोग के अध्यक्ष 31 दिसंबर से दो दिवसीय भ्रमण पर

देहरादून। अध्यक्ष सफाई कर्मचारी आयोग उत्तराखण्ड सरकार अमिलाल सिंह वाल्मीकि 31 दिसम्बर से 01 जनवरी तक ऋषिकेश एवं डोईवाला में भ्रमण कार्यक्रम प्रस्तावित है, भ्रमण कार्यक्रम के दौरान वे सफाई कर्मियों की समस्याओं एवं उनके कल्याण के लिए संचालित विभिन्न योजनाओं की भी समीक्षा करेंगे। इस दौरान में 31 दिसम्बर को ऋषिकेश में उप जिलाधिकरी, तहसीलदार, नगर निगम कार्यालयों सहित विभिन्न विभागों में कार्यरत सफाई कर्मियों की समस्याओं के सम्बन्ध में प्रातः 11 बजे नगर निगम ऋषिकेश में सम्बन्धित समस्त विभागीय अधिकारियों के साथ बैठक करेंगे। इसके पश्चात दोपहर 03 बजे अध्यक्षध्प्रबन्ध, निदेशक टीएचडीसी इण्डिया लि0 ऋषिकेश के साथ सफाई कर्मचारियों की समस्याओं के सम्बन्ध में टीएचडीसी इंडिया लि0 काॅर्पोरेट आफिस प्रगतिपुरम बाईपास रोड़ ऋषिकेश में बैठक आयोजित की गई है। इसके पश्चात 01 जनवरी 2021 को प्रातः 11 बजे नगर पालिका परिषद डोईवाला में उप जिलाधिकारी, तहसीलदार डोईवाला, नगर पालिका परिषद सहित विभिन्न विभागों में कार्यरत सफाई कर्मियों की समस्याओं के सम्बन्ध में सम्बन्धित अधिकारियों के साथ बैठक करेंगे।

नववर्ष पर होटलों, बार, रेस्टोरेंटों व सार्वजनिक स्थलों पर सामुहिक पार्टी आयोजन नहीं होगा

देहरादून। प्रभारी जिला मजिस्टेªट नितिका खण्डेलवाल ने अवगत कराया है कि कोविड-19 की रोकथाम के दृष्टिगत जनपद क्षेत्रान्तर्गत स्थित होटलों एवं बार रेस्टोरेंटों तथा सार्वजनिक स्थलों पर सामुहिक पार्टी आयोजन को जन सुरक्षाहित में प्रतिबन्धित किया गया है। उन्होंने स्पष्ट किया है कि जिन होटलों में पर्यटकों, अतिथियों द्वारा नव वर्ष 2021 के दृष्टिगत पूर्व से कक्ष आरक्षित कराये गए हैं, केवल ऐसे पर्यटक नववर्ष कार्यक्रम कोविड-19 की एस.ओ.पी के अनुसार सामाजिक दूरी बनाए रखते हुए सादे समारोह (डी.जे. लगाकर सामूहिक नृत्य करना सख्त मना है) में ही मना सकेंगे। संक्रमण की रोकथाम हेतु समय-समय पर निर्गत दिशा-निर्देशों के उल्लंघन की स्थिति में सम्बन्धित होटल स्वामी की व्यक्तिगत जिम्मेदारी निर्धारित कर दी जाएगी।

घड़ी डिटर्जेंट का कोरोना वायरस लड़ाई में मास्क पहनने का प्रोत्साहन अभियान

देहरादून। कोविड-19 महामारी के दौरान सेहत और सुरक्षा को बढ़ावा देने के उद्देश्य से, देश के नंबर वन डिटर्जेंट पाउडर ‘घड़ी’ के निर्माता एवं विपणनकर्ता आर एस पी एल ग्रुप ने आज अपना नया अभियान बचाव में ही समझदारी है शुरू किया। घड़ी अपनी पैकेजिंग के माध्यम से ऐसी जागरूकता पैदा करने वाली भारत की पहली कंपनी है। पैकेजिंग के माध्यम से देश की अपनी तरह की पहली जागरूकता पहल का लक्ष्य 10 करोड़ भारतीय घरों तक पहुंचना है। उन्हें हमेशा फेस मास्क पहनने का याद दिलाई जाएगी ताकि वे अधिक जिम्मेदार बनें और सार्वजनिक सुरक्षा को लेकर प्रतिबद्ध रहें। जागरूकता की इस पहल को घड़ी डिटर्जेंट के पैकेट पर दिखाया जाएगा जिसमें वास्तविक लोगो को एक प्रिंटेड मास्क के साथ कवर किया गया है। पैक पर संदेश के अलावा, घड़ी डिटर्जेंट वितरण चैनलों के एक विशाल नेटवर्क को भी सक्रिय कर रहा है साथ ही अपने खुदरा भागीदारों को इस संदेश को फैलाने के लिए इस बड़े अभियान में शामिल होने के लिए आमंत्रित कर रहा है। घड़ी ने एक वीडियो के जरिए भी इस पहल को आगे बढ़ाया है जिसमें एक दुकान में एक बेटी अपने पिता को यह एहसास दिलाती है कि देखभाल के प्रति अपनी जागरूकता प्रदर्शित करने का सबसे अच्छा तरीका है मास्क पहनना दृ जैसा कि घड़ी के पैक पर दिखाया गया है। फिल्म में फेस मास्क को नियमित रूप से धोने के महत्व को भी दिखाया गया है।

सुुरक्षित, त्वरित और सुगम आवागमन के लिए जरूरी कदम उठाने के दिए निर्देश

-प्रभारी जिलाधिकारी ने ली जनपदीय सड़क सुरक्षा समिति की बैठक देहरादून। प्रभारी जिलाधिकारी व मुख्य विकास अधिकारी नितिका खण्डेलवाल की अध्यक्षता में कलेक्टेªट सभागार में जनपदीय सड़क सुरक्षा समिति की बैठक आयोजित की गई। मुख्य विकास अधिकारी ने सड़क सुरक्षा समिति से जुड़े अधिकारियों को सड़क दुर्घटनाओं की रोकथाम तथा सुरक्षित, त्वरित और सुगम आवागमन के लिए जरूरी कदम उठाने के निर्देश दिए। उन्होंने जनपद में सड़क दुर्घटनाओं की समुचित रोकथाम हेतु लोक निर्माण विभाग, राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण और अन्य सम्बन्धित विभागों को अपने-अपने स्तर पर किए जाने वाले विभिन्न सुरक्षात्मक और सुधारीकरण कार्यों को समय पर और तीव्र गति से पूरा करते हुए दुर्घटनाओं पर अंकुश लगाने को निर्देशित किया। उन्होंने लोक निर्माण विभाग और राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण की विभिन्न शाखाओं के प्रभारी अधिकारियों को निर्देशित किया कि उनके क्षेत्र में चिन्हित ब्लैक स्पाॅट के सुधारीकरण के कार्यों को तेजी से पूरा करें कहा कि सड़क सुधारीकरण के सम्बन्ध में भारत सरकार को मंजूरी हेतु प्रेषित किए जाने वाले प्रस्तावों को भी समय से प्रेषित करें तथा जिनकी अनुमति प्राप्त हो जाती है उन पर तेजी से कार्य पूरा करें। इस सम्बन्ध में वन विभाग से भी जिन प्रकरणों का समाधान किया जाना हैं उन मामलों में भी जरूरी पहल करें। मुख्य विकास अधिकारी ने कहा कि जिन क्षेत्रों में दुर्घटना का बहुत अधिक जोखिम रहता है तथा कार्य अनुमति में समय लगता है वहां पर अनुमति मिलने से पूर्व भी सड़क दुर्घटनाओं की त्वरित रोकथाम हेतु तत्काल एहतियाती कदम उठायें। उन्होंने निर्देशित किया कि जहां पर विभागीय स्तर पर अथवा समिति द्वारा निरीक्षण अथवा मौका मुआवना किया जाना है, वहां पर तत्काल निरीक्षण व मौका मुआवना कर लिया जाए तथा उसकी रिपोर्ट प्रस्तुत करते हुए दुर्घटना जोखिम से सम्बन्धित उठाए गए बिन्दुओं पर समय पर कार्य प्रारम्भ किया जाए ताकि जनपद में दुर्घटनाओं पर प्रभावी नियंत्रण पाया जा सके। उन्होंने कहा कि जहंा पर दुर्घटना घटित हो जाती है वहां पर जरूर मौका मुआवना किया जाए तथा दुर्घटनाओं की तह तक जाकर उसके कारण खोजे जायें ताकि दुर्घटना की पुनरावृत्ति ना हो सके। मुख्य विकास अधिकारी ने सम्बन्धित विभागों को निर्देशित किया कि सड़क मार्गों पर आवश्यकतानुसार रिफ्लेक्टर, पैराफिट, रम्बल स्ट्रीप, साइनबोर्ड, स्पीड ब्रेकर इत्यादि लगाया जाए। उन्होंने कहा कि शहरों में स्मार्ट सिटी, अमृत योजना अथवा अन्य योजनाओं के निर्माण कार्यों के दौरान जब सड़क की कहीं खुदाई की जाती है तो सम्बन्धित विभागों के समन्वय से उस सड़क को तत्काल ठीक किया जाए और सड़क पर किसी भी तरह के गड्डे अथवा पैच ना छोड़े जायं, जिससे यातायात सुगम और सुरक्षित बना रहे। उन्होंने लोक निर्माण विभाग ओर राष्ट्रीय राजमार्ग सुधारीकरण की विभिन्न शाखाओं से उनके विभागीय स्तर पर सुधारीकरण हेतु चिन्हित किए गए ब्लैक स्पाॅट के कार्यों की प्रगति का विवरण भी प्राप्त किया तथा अवशेष कार्यों को तेजी से पूर्ण करने के निर्देश दिए। मुख्य विकास अधिकारी ने पुलिस विभाग और परिवहन विभाग को भी विभिन्न क्षेत्रों में एन्फोर्समेंट की कार्यवाही में तेजी लाने के निर्देश दिए। उन्होंने हरहाल में ओवर स्पीडिंग, शराब पीकर वाहन चलाने की रोकथाम करने तथा वाहन चलाने के विभिन्न मानकों का पालन करवाने के निर्देश दिए। इस दौरान बैठक में सहायक परिवहन अधिकारी अरविन्द पाण्डेय ने अवगत कराया है कि विगत वर्ष के मुकाबले इस वर्ष सड़क दुर्घटनाओं में कमी आयी है और उन्होंने इसका कारण सड़क सुरक्षा समिति से जुड़े विभिन्न विभागों के स्तर पर विभिन्न सुरक्षात्मक कार्यों में तेजी से कार्य करना बताया। इस दौरान बैठक में पुलिस अधीक्षक यातायात प्रकाश चन्द्र आर्य, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व वीर सिंह बुदियाल व प्रशासन अरविन्द पाण्डेय सहित लोक निर्माण विभाग, राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण, शिक्षा विभाग, परिवहन विभाग सहित सम्बन्धित विभागीय अधिकारी व कार्मिक उपस्थित थे।

किसानों को समझना चाहिए कि मोदी जी ही उनके सच्चे हितेषीः भाजपा

-राहुल जैसे नेता किसानों को भड़का कर इटली भाग गए देहरादून। भारतीय जनता पार्टी उत्तराखंड ने उत्तराखंड के किसानों सहित सभी किसानों से अपील की है कि वे कांग्रेस व अन्य दलों के भड़कावे में न आए क्योंकि अब उन्होंने खुद ही देख लिया है कि अन्य दल उनका राजनीतिक प्रयोग कर रहे हैं और केवल मोदी जी ही उनके असली हितैषी है। भाजपा उत्तराखंड के प्रदेश उपाध्यक्ष डॉ देवेंद्र भसीन ने एक बयान में कहा कि जिस तरह कांग्रेस नेता राहुल गांधी किसानों को मोदी जी के खिलाफ भड़का कर अब इटली भाग गए हैं उससे साफ है कि वे किसानों के साथ न थे, न हैं और वे केवल अपने राजनीतिक लाभ के लिए किसानों का प्रयोग कर रहे हैं। यह बात सभी जानते हैं राहुल गांधी के नेतृत्व में ही कांग्रेस ने लोकसभा चुनाव में अपने घोषणा पत्र में इस बात को शामिल किया था कि यदि सत्ता में आए तो वे कृषि कानून लाएंगे। लेकिन देश की जनता ने उन्हें नकार दिया। किंतु गुजरात में मुख्यमंत्री के समय से किसानों के हितों के लिए सतत कार्य कर रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अब जब इन कृषि कानूनों को पारित कराकर लागू कर दिया, किसान विरोधी सोच के राहुल गांधी और उनकी पार्टी के नेता किसानों को इन कानूनों के लाभ से वंचित रखने और मोदी जी का विरोध करने के लिए किसानों को लगातार भड़का रहे हैं। लेकिन ये नेता किसानों के कभी हितैषी नहीं रहे। इसी के चलते अब राहुल गांधी इटली भाग गए हैं। इससे साफ है कि उनके लिए किसानों की कोई कीमत नहीं है। उन्होंने कहा कि किसान आंदोलन को समर्थन दे रही पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी का किसान विरोधी चेहरा उस समय बेनकाब हो गया जब उन्होंने पश्चिम बंगाल के 70 लाख किसानों को प्रधानमंत्री किसान निधि की राशि को उनके बैंकों में जाने से रोक दिया व उन्हें इस लाभ से वंचित कर दिया। इसी प्रकार किसान आंदोलन में लाल झंडे लेकर अपनी राजनीतिक रोटियां सेक रहे वामपंथी दलों के पास क्या इस बात का कोई जवाब होगा कि केरल जहां उनकी सरकार कई दशकों से है में उन्होंने आज तक मंडिया स्थापित नहीं की ।इससे साफ है कि इन सभी का चेहरा कुछ और है और करते कुछ और है ।इसी तरह दिल्ली की आम आदमी पार्टी जिसने कुछ सप्ताह पूर्व ही कृषि कानूनों को दिल्ली में लागू करने की अधिसूचना जारी कर दी थी ने अपने दोहरे चेहरे का फिर प्रमाण दिया है। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने राजनीतिक लाभ उठाने के लिए अपने कुछ दिन पहले के निर्णय को ही पलट दिया और मीडिया में सुर्खियां बटोरने के लिए उन्होंने किसान बिलों को फाड़ कर जो असंवैधानिक कार्य किया उससे उनकी पोल खुल गई है। डॉ भसीन ने कहा कि कांग्रेस और अन्य विरोधी दलों से जुड़े हुए कई असामाजिक तत्व भी आंदोलन में घुसकर कानून विरोधी गतिविधियां करने से भी बाज नहीं आ रहे। इस क्रम में दिल्ली सीमा पर कई प्रकार की वांछित और यहाँ तक कि देश विरोधी गतिविधियाँ चल रही हैं वहीं उत्तराखंड में किसानों के बीच मौजूद कांग्रेस के लोगों ने जिस प्रकार पुलिस पर हमला किया उससे साफ है कि वे किसानों की आड़ में अपना एजेंडा चला रहे हैं ,जो किसानों के हित में नहीं है। डॉ भसीन ने कहा कि अब किसानों को समझ में आ रहा होगा कि विरोधी दल केवल दिखाने के लिए उनके साथ हैं। दूसरी ओर जिस धैर्य के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ,कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, सरकार के मंत्री व भाजपा नेता कृषि कानूनों के बारे में पूरी जानकारी रख रहे हैं और हर बिंदु पर वार्ता के लिए तैयार हैं उससे साफ है कि मोदी जी और उनकी सरकार व भाजपा ही किसानों की हितैषी है।

Sunday, 27 December 2020

पुलिस से अभद्रता करने वाले सैकड़ों किसानों के खिलाफ मामला दर्ज

देहरादून। दिल्ली कूच के दौरान उत्तराखंड की सीमा पर किसानों द्वारा बैरिकेडिंग तोड़ने और पुलिस से अभद्रता करने के माामले में पुलिस ने शनिवार को कार्रवाई की। ऊधमसिंहनगर पुलिस ने करीब 1000-1500 किसानों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली कूच करने के लिए शुक्रवार को तड़के से ही ऊधमसिंह नगर जिले से किसान रवाना होने लगे, लेकिन जगह-जगह पुलिस भी किसानों को रोकने के लिए मुस्तैद रही। बैरियरों पर किसानों की पुलिस से तीखी झड़प हुई। सितारगंज में ट्रैक्टर चढ़ाकर बैरिकेडिंग तोड़ दिए, इस बीच झनकईया थानाध्यक्ष, एसएसआई और एक कांस्टेबल घायल हो गया। सिसईखेड़ा में बैरिकेडिंग तोड़कर आए ट्रैक्टर-ट्रॉली से नानकमत्ता के थानाध्यक्ष कमलेश भट्ट के दाहिने हाथ और बायें पैर पर चोट लगी। नानकमत्ता में झड़प के दौरान एसओ की वर्दी फट गई। बाजपुर में भी बैरिकेडिंग तोड़कर किसानों के 400 वाहनों का जत्था दिल्ली कूच कर गया। इसके अलावा कई जगहों पर पुलिस के रोके जाने पर किसान अपने वाहन छोड़कर पैदल ही चल दिए।

साइबर ठगी करने वाले दो शातिर पुलिस के हत्थे चढ़े

चंपावत। देशभर में साइबर ठगी करने वाले टटलू गैंग के 2 आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। यह लोग फेसबुक आईडी हैक कर देशभर में ठगी करते थे। लाखों रुपयों की ठगी करने वाले शातिर गैंग के 2 अन्तर्राज्यीय साइबर अपराधियों को मथुरा, अलवर, राजस्थान से चम्पावत पुलिस ने गिरफ्तार किया है। साल 2019 में लोहाघाट थाना क्षेत्र के अंतर्गत बसंतपुर सुखपुरा के रहने वाले श्यामेन्द्र प्रताप सिंह के रिश्तेदार की फेसबुक आईडी हैक कर एक लाख रुपये की धोखाधड़ी की गई। जिस मामले में थाना लोहाघाट में मुकदमा दर्ज किया गया। वहीं, दूसरा मामला साल 2020 में चम्पावत कोतवाली क्षेत्र का है। जहां भुवन चन्द्र पुनेठा की फेसबुक आईडी हैक कर उसके रिश्तेदारों से 20000 रुपये की धोखाधड़ी की गई। जिसके बाद मुकदमा दर्ज किया गया। मामलों के खुलासे को लेकर साइबर सेल ने फर्जी फोन-पे, गूगल-पे, पेटीएम व ऑनलाइन बैकों की डिटेल के माध्यम से अज्ञात आरोपियों की पहचान की गयी। अज्ञात आरोपी अलवर, राजस्थान एवं थाना गोवर्धन, मथुरा क्षेत्र से पाये गये। जिसके बाद पुलिस टीम को मथुरा अलवर, राजस्थान भेजा गया। जिसके बाद अभियुक्त साकिर (20), अभियुक्त तालिम खान (22) को गिरफ्तार किया गया। पूछताछ में पता चला कि अभियुक्त अलवर, राजस्थान, गोवर्धन, मुथरा, उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं। यह स्थानीय गिरोह टटलू गैंग नाम से विख्यात है, जो साइबर अपराध फेसबुक आईडी हैक कर मैसेन्जर के माध्यम से धोखाधड़ी करते हैं। यह लोग अपने गैंग को मथुरा, अलवर और राजस्थान से संचालित करते थे। ये लोग छोटे-छोटे गैंग बनाकर इस तरह की घटनाओं की अंजाम देते थे।

Thursday, 24 December 2020

निर्माण कार्यों को 31 जनवरी तक हर हाल में पूर्ण करें विभागः डीएम

देहरादून। जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव की अध्यक्षता में जिलाधिकारी शिविर कार्यालय में सड़क सुधारीकरण के सम्बन्ध में बैठक आयोजित की गई। बैठक में जिलाधिकारी ने सभी कार्यदायी संस्थाओं लो.नि.वि., जल संस्थान, जल निगम, यूपीसीएल, एमडीडीए, एडीबी, नगर निगम के अधिकारियों को निर्देशित किया कि जिस भी विभाग कार्यदायी संस्थाओं के निर्माण कार्य सम्पादित किए जाने हैं उनकी सूचना लो.नि.वि. के सर्किल कार्यालय में 31 दिसम्बर 2020 तक उपलब्ध करायें तथा उन निर्माण कार्यों को 31 जनवरी 2021 तक हरहाल में पूर्ण कर लिए जाएं। जिलाधिकारी ने समस्त कार्यदायी संस्थाओं को स्पष्ट निर्देश दिए कि एक बार सड़क बन जाने पर यदि किसी विभाग द्वारा सड़क खोदी जाती है तो सम्बन्धित विभागीय अधिकारियों की जिम्मेदारी तय करते हुए कार्यवाही अमल में लाई जाएगी। जिलाधिकारी ने सड़क सुधारीकरण कार्य हेतु लो.नि.वि को नोडल विभाग बनाते हुए लो.नि.वि को सड़क सुधारीकरण की बैठक प्रत्येक माह आयोजित करने के साथ ही एक वाट्सएप्प गु्रप बनाते हुए सभी कार्यदायी संस्थाओं के अधिकारियों सहित टेलीकाॅम कम्पनियों के अधिकारियों को भी ग्रुप में जोडे जाने हेतु निर्देशित किया। उन्होंने कहा कि सभी विभाग उनके द्वारा किए जाने वाले निर्माण कार्यों की सूचना वाट्सएप्प गु्रप में अद्यतन करेंगे, जिससे अन्य विभाग भी इन कार्यों से अवगत हो सके ताकि आपसी समन्वय से ऐसी कार्य योजना तैयार करें, जिससे निर्माण कार्यों के लिए बार-बार सड़क की खुदाई ना करनी पड़े। उन्होंने यूपीसीएल के अधिकारियों को सड़क के बीच में आने वाले बिजली के पोल को स्थानान्तरित करने के भी निर्देश दिए। उन्होनंे जल संस्थान एवं एडीबी के अधिकारियों को सीवर लाईन के मैनहाॅल की स्थान की लोकेशन देने को कहा ताकि सीवर मैनहाॅल को सड़क के लेवल तक किया जा सके। उन्होंने जल संस्थान के अधिकारियों को विभिन्न स्थानों पर पानी एवं सीवर रिसाव की समस्या को तत्काल ठीक करने के निर्देश दिए ताकि ऐसे स्थानों पर सड़क सुधारीकरण कार्य किया जा सके। उन्होंने नगर निगम मे अधिकारियों को निर्देशित किया कि राजपुर रोड़ में सड़क किनारे लगे होर्डिंग हटाते हुए भविष्य में यह ध्यान रखा जाए की होर्डिंग इस प्रकार से लगाए जाएं ताकि फूटपाथ पर चलने में किसी प्रकार का व्यवधान ना हो।

नाबालिग बच्ची के साथ हुई बलात्कार एवं हत्या की घटना के विरोध में कांग्रेस ने सरकार का पुतला फूंका

देहरादून। जनपद हरिद्वार के ऋषिकुल काॅलोनी में नाबालिग बच्ची के साथ हुई बलात्कार एवं जघन्य हत्या की घटना के विरोध में देहरादून महानगर के कांग्रेसजनों ने महानगर अध्यक्ष लालचन्द शर्मा के नेतृत्व में भाजपा सरकार का पुतला दहन किया। इस अवसर पर कांग्रेसजनों ने कहा कि भाजपा शासित प्रदेशों में महिलाओं पर बढ़ रहे अत्याचार से पूरा देश कलंकित हुआ है। बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओं का नारा देने वाली भाजपा शासित उत्तराखण्ड में बढ़ रही बलात्कार की घटनायें तथा महिलाओं पर हो रहे अत्याचार गम्भीर चिन्ता का विषय है जिसकी जितनी निन्दा की जाय कम है। उन्होंने कहा कि भाजपा के शासन में जितनी जोर-शोर से बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओं का नारा बुलंद किया जा रहा है उसी गति से महिलाओं के प्रति अपराध बढ़ रहे हैं तथा आज स्थिति यह है कि भाजपा शासित किसी भी प्रदेश में बेटियां सुरक्षित नहीं हैं जिसका ताजा उदाहरण हरिद्वार जनपद के ऋषिकुल में नाबालिग बच्ची के साथ हुई दुष्कर्म के बाद हत्या जैसे जघन्य अपराध की घटना हैं जो मानवजाति को कलंकित करने वाली हैं। कांग्रेसजनों ने कहा कि पिछले 6 साल मंे देशभर में तथा 4 साल में उत्तराखण्ड राज्य में जिस प्रकार की घटनायें घटित हुुई हैं उससे भाजपा सरकार की कथनी और करनी लोगों के सामने हैं। बेटियों और महिलाओं की सुरक्षा के प्रति भाजपा सरकारों की असंवेदनशीलता इससे भी झलकती है कि निर्भया फण्ड जो कांग्रेस सरकार में महिलाओं की सुरक्षा के लिए गठित किया गया परन्तु 7 साल बीतने के बावजूद भी इस फण्ड का 2 प्रतिशत से भी कम पैसा महिला सुरक्षा के कामों में खर्च किया गया है। इस फण्ड का मुख्य उद्देश्य था कि महिला सुरक्षा की दिशा में कदम उठाते हुए महिला थानों की स्थापना, सडकों पर सी.सी. टीवी, अंधेरी गलियों में उचित प्रकाश की व्यवस्था करना, शोषित और पीडित महिलाओं पुर्नवास करना तथा मुफ्त विधिक सलाह उपलब्ध कराना था परन्तु भाजपा सरकारों में महिलाओं के प्रति बढते अपराधों से स्पष्ट है कि भाजपा की मानसिकता और विचारधारा दोनों ही महिला विरोधी हैं। कंाग्रेसजनों ने सरकार से मांग की है कि हरिद्वार में घटी घटना के पीडित परिवार को उचित मुआबजा दिया जाय तथा दोषियों की शीघ्र गिरफ्तारी कर कडी कानूनी कार्रवाई की जाय। जनपद हरिद्वार के ऋषिकुल काॅलोनी में नाबालिग बच्ची के साथ हुई बलात्कार एवं जघन्य हत्या की घटना के विरोध में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह 25 दिसम्बर को प्रातः 1130 बजे से हरिद्वार सिटी मजिस्ट्रेट कार्यक्रम के बाहर धरना देंगे। पुतला दहन करने वालों में प्रदेश महामंत्री नवीन जोशी, गोदावरी थापली, महानगर अध्यक्ष लालचन्द शर्मा, नेताप्रतिपक्ष नगर निगम डाॅ0 विजेन्द्र पाल, डाॅ0 प्रतिमा सिंह, प्रदेश सचिव शांति रावत, मंजुला तोमर, सोमप्रकाश बाल्मीकि, पार्षद अर्जुन सोनकर, देविका रानी, शिवकुमार, कोमल बोरा, रीता रानी, मुकेश सोनकर, नागेश रतूड़ी, अमित भण्डारी, अनिल थापा, प्रकाश नेगी, शोभाराम, कैलाश अग्रवाल, शिवम गुप्ता, सुरेन्द्र सिंह रावत, रमेश कुमार मंगू, सोमेन्द्र बोरा, एहतात खान, सुभाष धस्माना, भरत शर्मा, सिद्धार्थ वर्मा, राजीव, भावन डोरा, जगदीश चैहान, मोहित ग्रोबर, दीवान बिष्ट, राजीव बहुगुणा, मो0 जहूर आलम, फरूख राव, मकसूद आलम, सद्दाम, पुनीत कुमार, रजनी राठौर, तरूण भारद्धाज, जया भारद्वाज, अनुराधा तिवारी, मंजू चैहान आदि शामिल थे।

रिजर्व बैंक अनधिकृत डिजिटल ऋण देने वाले प्लेटफॉर्म मोबाइल ऐप्स के बारे में आगाह करता

देहरादून। मुख्य महाप्रबंधक रिजर्व बैंक योगेश दयाल ने जानकारी देते हुए बताया है कि व्यक्तियों छोटे व्यवसायों के बारे में ऐसी खबरें आई हैं कि वे अनधिकृत डिजिटल ऋण देने वाले प्लेटफॉर्म मोबाइल ऐप्स की बढ़ती संख्या के कारण त्वरित और परेशानी रहित तरीके से ऋण प्राप्त करने के वादों का शिकार हो रहें हैं। इन रिपोर्टों में ब्याज की अत्यधिक दरों और उधारकर्ताओं से मांगे जाने वाले अतिरिक्त छिपे हुए शुल्क, अस्वीकार्य और कठोर वसूली के तरीकों को अपनाना और उधारकर्ताओं के मोबाइल फोन पर डेटा तक पहुंचने के लिए करार का दुरुपयोग का भी उल्लेख है। उन्होंने बताया कि रिजर्व बैंक के साथ पंजीकृत बैंकों, गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों (एनबीएफसी) और अन्य संस्थाओं जो सांविधिक प्रावधानों के अंतर्गत राज्य सरकारों द्वारा विनियमित किये गए हों, द्वारा वैध सार्वजनिक ऋण देने की गतिविधियां जैसे कि संबंधित राज्यों के धन उधार कार्य कर सकते हैं। आम जनता को यह आगाह किया जाता है कि वे इस तरह की बेईमान गतिविधियों का शिकार न हों और ऑनलाइन मोबाइल ऐप के माध्यम से ऋण प्रदान करने वाली कंपनीध्फर्म के पूर्व मामलों को सत्यापित करें। इसके अलावा, उपभोक्ताओं को अज्ञात व्यक्तियों, असत्यापितध् अनधिकृत ऐप्स के साथ केवाईसी दस्तावेजों की प्रतियों को कभी भी साझा नहीं करना चाहिए और ऐसे ऐप्स से संबंधित ऐप्सध्बैंक खाते की जानकारी को संबंधित कानून प्रवर्तन एजेंसियों या सचेत पोर्टल का उपयोग कर ऑन लाइन शिकायत दर्ज करना चाहिए। मुख्य महाप्रबंधक योगेश दयाल ने बताया कि रिजर्व बैंक ने बैंकों और एनबीएफसी की ओर से उपयोग किए जाने वाले डिजिटल लेंडिंग प्लेटफॉर्म को बैंक (को) या एनबीएफसी (यों) के नाम का खुलासा ग्राहकों के सामने करना अनिवार्य किया है। रिजर्व बैंक में पंजीकृत एनबीएफसी के नाम और पते यहाँ से प्राप्त किए जा सकते हैं और रिजर्व बैंक द्वारा विनियमित संस्थाओं के खिलाफ शिकायत दर्ज करने के लिए पोर्टल के माध्यम से पहुँचा जा सकता है।

पहाड़ के गांधी की जयंती संस्कृति दिवस को सरकारी विभागों में न मनाने पर उक्रांद हुआ आगबबूला

देहरादून। पहाड़ के गांधी, जननायक स्व० इंद्रमणि बडोनी की जयंती जो संस्कृति दिवस के रूप में सरकारी विभागों में न मनाने पर उक्रांद आगबबूला हुआ। आज सरकारी विभागों से फोन के माध्यम से दल के महामंत्री जय प्रकाश उपाध्याय ने संपर्क किया। जहाँ किसी भी सरकारी अनविज्ञ जता रहा था। इसी परिपेक्ष में दोपहर उक्रांद का एक प्रतिनिधि मंडल मुख्य विकास अधिकारी देहरादून कार्यालय गया जहां मुख्य विकास अधिकारी उपस्थिति न होने पर जिला विकास अधिकारी से मिला। उन्होंने भी अनविज्ञता जतायी, जिस पर उक्रांद नेताओँ ने आक्रोश व्यक्त किया। आखिर में जिला विकास अधिकारी श्री डोभाल ने स्व०बड़ोनी जी की जयंती संस्कृति दिवस को खुद फोटो और फूलमाला मँगावाकर उक्रांद नेताओँ और स्टाफ के साथ स्व०बड़ोनी को नमन करते हुये श्रद्धांजलि दी। इस अवसर पर उक्रांद स्पष्ट चेतावनी सरकार को देते हुये स्पष्ट किया कि जब सरकारी कार्यक्रम स्व०बड़ोनी जी की जयंती संस्कृति दिवस सरकारी विभागों,स्कूलों,कॉलेजों में नही मनाया गया तो इसके गम्भीर परिणाम भुगतने होंगे। इस अवसर पर श्री लताफत हुसैन,जय प्रकाश उपाध्याय,सुनील ध्यानी, शकुंतला रावत, किरन रावत कश्यप, कमल कांत,अनिल डोभाल,विनीत सकलानी थे।

उक्रांद ने इंद्रमणि बड़ोनी की 95वीं जयंती को संकल्प दिवस के रूप में मनाया

देहरादून। उत्तराखंड क्रान्ति दल ने पार्टी कार्यालय 10 कचहरी रोड देहरादून में पहाड़ के गांधी स्व० इंद्रमणि बड़ोनी की 95 वीं जयंती पर भावभीनी श्रद्धांजलि देते हुए उनको याद किया। प्रातः 11 बजे घंटाघर स्तिथ स्व० बड़ोनी की प्रतिमा में दल के संरक्षक बीडी रतूडी जी नेतृत्व में श्रद्धांजलि दी गयी। पार्टी कार्यालय में श्रद्धांजलि देते हुये गोष्ठी का आयोजन किया। गोष्ठी को संबोधित करते हुये बड़ोनी के जीवन पर प्रकाश डाला। स्व०बड़ोनी के जीवन संघर्ष से हमे प्रेणा लेनी चाहिये। उत्तराखंड राज्य आंदोलन को की अगुवाही अहिंसक रूप में लेकर गये। आज के दिन सन 1925 को ग्राम अखोडी टिहरी गढ़वाल स्व० सुरेशा नंद के जेष्ठ पुत्र के रूप में जन्म लिया। सुनील ध्यानी ने कहा कि सब०बड़ोनी जी को पहाड़ का गांधी क्यो कहा गया था। उनमें नेतृत्व की क्षमता, सवांद के द्वारा लोगो को पक्ष में करना, राज्य आंदोलन को अहिंसक रूप से अगुवाही करना ही उनको पहाड़ के गांधी पुकारा गया। उनके जनदिवास को संस्कृति दिवस के रूप में सरकार मनाती है। संस्कृति दिवस का रूप मनाने का अर्थ है कि वे एक कुशल रंगकर्मी थे।पांडव नृत्य और माधो सिंह भंडारी का मंचन की शुरुआत स्व०बड़ोनी ने आरम्भ किया था। पहला मंचन उन्होंने मलेथा से शुरू किया था। इन नाटकों का मंचन व कुशल निर्देशन उन्होंने 26 जनवरी 1957 में दिल्ली में किया था। इस अवसर पर लताफत हुसैन,जय प्रकाश उपाध्याय,बहादुर सिंह रावत,देवेंद्र चमोली,रेखा मिंया,,शकुंतला रावत,जब्बर सिंह पावेल, राजेन्द्र बिष्ट,अशोक नेगी,किरन रावत कश्यप, शिव प्रसाद सेमवाल,सीमा रावत, अनिल डोभाल, ब्रजमोहन सजवाण,राकेश बिष्ट,सतीश नौटियाल,अंकेशभण्डारी,शैलेश खत्री, कमल कांत,अरबिंद बिष्ट,विनीत सकलानी,अरबिंद बिष्ट,विजेंदर रावत, आदि थे। इस अवसर पर स्व० बड़ोनी के जन्मदिवस से प्रेरणा लेते हुये विशन कंडारी पूर्व जिला सह संयोजक सहकारिता प्रकोष्ठ टिहरी भाजपा,अमर सिंह धुंता आर टी आई एक्टिविस्ट, युवा दिगंबर सिंह ने उत्तराखंड क्रान्ति दल में शामिल हुये।

जलभराव की समस्या का शीघ्र समाधान किए जाने के दिए निर्देश

देहरादून। मुख्य सचिव ओमप्रकाश ने भगवानपुर तहसील के अन्तर्गत इण्डस्ट्रियल एरिया में जलभराव की समस्या का शीघ्र समाधान किए जाने के निर्देश दिए हैं। गुरूवार को सचिवालय में विधायक भगवानपुर ममता राकेश ने मुख्य सचिव ओमप्रकाश से भेंट कर क्षेत्र में जल भराव की समस्या से अवगत कराया। मुख्य सचिव ने सिंचाई विभाग को ड्रेनेज प्रोजेक्ट को निर्धारित समय-सीमा के अंदर पूर्ण करने के निर्देश दिए। कहा कि क्षेत्र में जलभराव की समस्या को दूर करने हेतु 15 फरवरी, 2021 तक ड्रेनेज प्लान तैयार कर, 28 फरवरी तक डीपीआर तैयार कर ली जाए। अगले एक माह में टैण्डर प्रक्रिया पूर्ण करते हुए 1 अप्रैल, 2021 से काम शुरू कर लिया जाए। उन्होंने कहा कि प्री-कंस्ट्रक्शन एक्टिविटी 28, फरवरी तक पूर्ण करते हुए 31 मई, 2021 तक प्रत्येक स्थिति में कार्य पूर्ण किया जाना सुनिश्चित किया जाए। इस अवसर पर महाप्रबन्धक सिडकुल एस.ए. मुरूगेशन भी उपस्थित थे।

प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले युवाओं का पंजीकरण एप में किया जाना अनिवार्य

अल्मोड़ा। जिलाधिकारी नितिन सिंह भदौरिया ने बताया कि अपर मुख्य सचिव उत्तराखण्ड ग्राम्य विकास विभाग देहरादून से प्राप्त पत्र के क्रम में ग्रामीण विकास मंत्रालय भारत सरकार द्वारा बेरोजगार युवक-युवतियों को रोजगार, स्वरोजगार सम्बन्धी प्रशिक्षण दिये जाने हेतु कौशल पंजी एप विकसित किया गया है। उन्होंने बताया कि वर्तमान में डी0डी0यू0-जे0के0वाई0 तथा आरसेटी के तहत प्रशिक्षण प्राप्त करने वाले युवाओं को पंजीकरण उक्त एप में किया जाना अनिवार्य है। जिलाधिकारी ने बताया कि ग्रामीण युवाओं को स्वरोजगार, रोजगार उपलब्ध कराये जाने हेतु प्रशिक्षण उपलब्ध कराने तथा इन्टरप्राइज स्थापित करने हेतु इच्छुक युवाओं का पंजीकरण कौशल एप पर किया जाना नितान्त आवश्यक है ताकि उक्त डाटा के आधार पर युवाओं को उनकी इच्छानुसार प्रशिक्षण तथा रोजगार की व्यवस्था की जा सके। उन्होंने बताया कि इस हेतु नितान्त आवश्यक है कि राज्य के समस्त ग्रामीण क्षेत्रों के ऐसे बेरोजगार युवक-युवतियां जो 15-35 वर्ष की आयु की हों (महिलाओं, विकलागों पी0वी0टी0जी0 आदि मामले में अधिकतम आयु सीमा 45 वर्ष है ) का कौशल पंजी एप में पंजीकरण कराया जाय। उन्होंने आरसेटी निदेशक को निर्देश दिये है कि वे जनपद में एक अभियान के तहत सभी स्वरोजगार के इच्छुक पात्र लाभार्थियों का कौशल पंजी एप में पंजीकरण कराना सुनिश्चित करें। जिलाधिकारी ने बताया कि इच्छुक पात्र लाभार्थी कौशल पंजी एप पर पंजीकरण हेतु पर किया जा सकता है यह एप गूगल प्ले स्टोर से अभ्यर्थी स्वयं के मोबाइल से भी डाउनलोड कर स्वयं पंजीकरण कर सकते है। जिलाधिकारी ने बताया कि शासन द्वारा प्रत्येक विकास खण्ड में पात्र बेरोजगार युवाओं को कौशल पंजी में प्रत्येक गांव के बेरोजगार युवाओं को पंजीकरण किया जायेगा। उन्होंने समस्त खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देश दिये है कि वे अपने अधीनस्थ समस्त ग्राम विकास अधिकारियोंध्ग्राम पंचायत अधिकारियों के माध्यम से योजना का व्यापक प्रचार-प्रसार करवाना सुनिश्चित करेंगे साथ ही जनपद के प्रत्येक ग्राम सभा के समस्त अर्ह बेरोजगार युवक-युवतियों का पंजीकरण माह दिसम्बर के अन्त तक अनिवार्य रूप से कराना सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने यह भी निर्देश दिये है कि वे इस कार्य की प्रगति रिर्पोट जिलाधिकारी कार्यालय को भेजना सुनिश्चित करेंगे।

एसडीएम ने क्रिसमस व थर्टीफस्ट के कार्यक्रमों को लेकर ली बैठक

अल्मोड़ा। उपजिलाधिकारी सीमा विश्वकर्मा की अध्यक्षता में आज जिला कार्यालय में समस्त अधिकारियों एवं होटल एसोशिएशन के पदाधिकारियों के साथ क्रिसमस, थर्टीफस्ट व नव वर्ष के अवसर पर होने वाले सामुहिक कार्यक्रमों एवं पार्टी आयोजनों के सम्बन्ध में बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में निणर्य लिया गया कि वर्तमान में कोरोना महामारी के दृष्टिगत सभी व्यक्तियों द्वारा मास्क का अनिवार्य रूप से प्रयोग किया जायेगा साथ ही सामाजिक दूरी रखी जायेगी और समय-समय पर सेनेटाईजर का प्रयोग किया जायेगा। बैठक में उपजिलाधिकारी ने कहा कि कार्यक्रमों के दौरान कोविड-19 के सम्बन्ध में केन्द्रध्उत्तराखण्ड सरकारध्जिला प्रशासन एवं स्थानीय प्रशासन द्वारा जारी समस्त दिशा-निर्देशों एवं एस0ओ0पी0 का पूर्णतः पालन किया जायेगा। बैठक में निणर्य लिया गया कि उक्त दिनांक को होने कार्यक्रमों के दौरान आवश्यक पुलिस व्यवस्था सुनिश्चित करते हुये कसारदेवी में रात्रि गश्त कराये जाने, राात्रि 10ः00 बजे से प्रातः 6ः00 बजे तक ध्वनि विस्तारक यंत्र का प्रयोग वर्जित रहेगा शर्त के उल्लघंन किये जाने पर वैधानिक कार्यवाही अमल में लायी जायेगी। उक्त कार्यक्रमों के दौरान आयोजन स्थलों पर 100 से अधिक लोग एकत्रित नहीं होंगे तथा समस्त होटलध्रिसोट राात्रि 10ः00 बजे के बाद पूर्ण रूप से बन्द किये जायेंगे। निर्देशों का उल्लघंन किये जाने पर सम्बन्धित के विरूघ् वैधानिक कार्यवाही अमल में लायी जायेगी। इस अवसर पर प्रभारी निरीक्षक कोतवाली अल्मोड़ा धीरेन्द्र चैधरी, अध्यक्ष होटल एसोशिएशन राजेश बिष्ट, सचिव हरीश चन्द्र जोशी, उपाध्यक्ष मोहन सिंह रायल सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।

विश्व पटल पर भारतीय वनस्पति व आयुर्वेदिक औषधियों को मिली मान्यताः शास्त्री

हरिद्वार। गुरुकुल कांगड़ी (समविश्वविद्यालय) में स्वामी श्रद्धानन्द महाराज जी का 94वां बलिदान दिवस का आयोजन दयानन्द स्टेडियम में किया गया। बलिदान दिवस के उपलक्ष्य पर सर्वप्रथम विश्वविद्यालय के दयानन्द स्टेडियम में यज्ञ का आयोजन किया गया उसके उपरान्त श्रद्धानन्द सभा की अध्यक्षता करते हुए विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो0 रूपकिशोर शास्त्री ने कहा कि राष्ट्रीय फलक पर आर्य समाज की खुशबू फैलनी चाहिए। स्वामी श्रद्धानन्द महाराज जी ने गुरुकुल जैसे पौधे को लगाकर देश और समाज को एक नई दिशा दी थी। आज विश्वविद्यालय के प्रत्येक कर्मचारी को इस पौधे को पल्लवित और पोषित करने के लिए अपना अथक योगदान देना चाहिए। इस अवसर पर राष्ट्रीय औषधीय पादक बोर्ड के सी.ई.ओ. जे.एल.एन. शास्त्री ने कहा कि कोविड-19 के चलते देश दुनिया में भारतीय वनस्पतियों के औषधीय गुणों को स्वीकार कर जहां स्वास्थ्य लाभ प्राप्त किया है वहीं विश्व पटल पर भारतीय वनस्पति व आयुर्वेदिक औषधियों को मान्यता मिली है। उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय औषधीय पादप बोर्ड द्वारा ट्रेनिंग प्रोग्राम भी चलाए जायेंगे, जिसका व्यय बोर्ड द्वारा किया जाएगा। उत्तराखण्ड आयुर्वेदिक विश्वविद्यालय के कुलपति डा0 सुनील जोशी ने कहा कि कोविड-19 के चलते जहां विश्व के अन्य देशों में मृत्यु दर बहुत अधिक रही है वहीं हमारे देश में अभी तक इस बीमारी से लगभग 1 लाख 50 हजार लोग इस बीमारी के चलते लोगों की मृत्यु हुई है। उन्होंने कहा कि स्वामी श्रद्धानन्द के बलिदान दिवस के अवसर पर उत्तराखण्ड आयुर्वेदिक विश्वविद्यालय व गुरुकुल आयुर्वेदिक विश्वविद्यालय सहित प्रदेश के अन्य विश्वविद्यालयों में भी आयुर्वेद पद्धति को बढ़ावा देने के लिए औषधीय वाटिकाओं का निर्माण किया जाएगा, जिसमें प्रदेश व देश की विभिन्न दुर्लभ वनस्पतियों को संरक्षित किया जाएगा। दिल्ली आर्य प्रतिनिधि सभा के सदस्य सतीश चड्ढ़ा ने कहा कि स्वामी जी मैकाले शिक्षा के विरोध में वैदिक संस्कृति को पल्लवित करने का काम किया है। स्वामी श्रद्धानन्द ने गुरुकुल को स्थापित करने के लिए अपनी जमीन, घर त्याग दिया था, जिसके चलते गुरुकुल की पहचान यूरोपीय देशों तक पहुंची। आज गुरुकुल जिन ऊँचाईयों तक पहुंचा है उसमें सबसे अधिक योगदान सभी आर्यो का है। भेषज्ञ विज्ञान के विभागाध्यक्ष प्रो0 सतेन्द्र राजपूत ने कहा कि आज राष्ट्रीय औषधीय पादप बोर्ड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी जे.एल.एन.शास्त्री ने फीता काटकर औषधीय पादप वाटिका का उद्घाटन किया। इस वाटिका में औषधीय, धार्मिक और अन्य पौधे रोपित किए गए है। वर्तमान में वाटिका में एक हजार पौधे रोपित हुए है। इस अवसर पर कुलपति प्रो0 रूपकिशोर शास्त्री, डा0 सुनील जोशी, जे.एल.एन. शास्त्री, कुलसचिव प्रो0 दिनेश चन्द्र भट्ट ने भी वनस्पतीय पौधों को रोपित किया। इस अवसर पर प्रो0 जयदेव वेदालंकार, प्रो0 श्रवण कुमार शर्मा, प्रो0 सोमदेव शतांशु, प्रो0 मनुदेव बन्धु, प्रो0 पंकज मदान, प्रो0 वी0के0 सिंह, डा0 सुचित्रा मलिक, डा0 मृदुला जोशी, प्रो0 आर0के0एस0 डागर, डा0 शिव कुमार चैहान, डा0 पंकज कौशिक, रमेश चन्द, अमित धीमान, चन्द्रप्रकाश, प्रमोद कुमार, गन्धर्व सेन, धर्मेन्द्र बालियान, कुलभूषण शर्मा, हेमन्त सिंह नेगी, विरेन्द्र पटवाल, कुलदीप, नवीन, अमित, धर्मेन्द्र बिष्ट, ललित नेगी, सत्यदेव इत्यादि शिक्षक एवं शिक्षकेत्तर कर्मचारी उपस्थित थे। बलिदान दिवस का संयुक्त रूप से प्रो0 एम0आर0 वर्मा एवं डा0 अजय मलिक द्वारा किया गया।

वार्षिक प्रणाली वाले छात्रों को विश्वविद्यालय ने दिया परीक्षा उत्तीर्ण करने का एक और अवसर

हरिद्वार। एस.एम.जे.एन. पी.जी. काॅलेज के प्राचार्य डाॅ. सुनील कुमार बत्रा ने बताया कि ऐसे समस्त छात्र-छात्रा जो हेमवती नंदन बहुगुणा गढ़वाल केन्द्रीय विश्वविद्यालय, श्रीनगर की स्नातक तृतीय वर्ष वार्षिक प्रणाली की परीक्षाध्अंक सुधार परीक्षा में उत्तीर्ण नहीं हुए हैं तथा जिनके नामांकन को 06 वर्ष पूर्ण नहीं हुए हैं, (नामांकन वर्ष 2014-15 तक के समस्त छात्रा-छात्रा), ऐसे छात्र-छात्रा को विश्वविद्यालय द्वारा अन्तिम अवसर प्रदान किया जाता है वे दिनांक 30 दिसम्बर, 2020 तक विश्वविद्यालय की वेबसाईट से आवेदन पत्र निकालकर सम्बन्धित महाविद्यालय में निर्धारित शुल्क के साथ आफलाईन जमा करा सकते हैं। अन्तिम तिथि के पश्चात आवेदन पत्र विश्वविद्यालय द्वारा निर्धारित विलम्ब शुल्क के साथ जमा किया जायेगा। प्राचार्य डाॅ. सुनील कुमार बत्रा ने बताया कि जिनकी बी.ए. अथवा बी.काॅम. द्वितीय अथवा तृतीय वर्ष में पर्यावरण विज्ञान तथा बी.काॅम. द्वितीय, तृतीय वर्ष में एलीमेंट्री बुक कीपिंग की परीक्षा उत्तीर्ण नहीं हुई है, ऐसे छात्र पर्यावरण विज्ञान अथवा एलीमेंट्री की परीक्षा देने हेतु आवेदन पत्रा के साथ निर्धारित शुल्क के साथ महाविद्यालय में दिनांक 30 दिसम्बर, 2020 तक जमा करा सकते हैं। डाॅ. बत्रा ने बताया कि पर्यावरण विज्ञान अथवा एलीमेंट्री बुक कीपिंग की परीक्षा उत्तीर्ण करने के पश्चात् ही सम्बन्धित छात्र-छात्रा को उक्त कक्षा की उपाधि प्राप्त हो सकेगी। अतः जिनकी उक्त परीक्षा किसी कारणवश अभी तक उत्तीर्ण नहीं हुई है वो तुरन्त पर्यावरण विज्ञान अथवा एलीमेंट्री बुक कीपिंग की परीक्षा देने हेतु महाविद्यालय में अपना आवेदन-पत्र जमा करा दे। निर्धारित तिथि तक आवेदन पत्र जमा न करने पर समस्त उत्तरदायित्व सम्बन्धित छात्र-छात्रा का होगा। उन्होंने बताया कि ऐसे समस्त छात्र-छात्राओं की परीक्षा गत वर्ष की भांति बिड़ला परिसर, श्रीनगर में ही आयोजित की जायेगी। प्राचार्य डाॅ. सुनील कुमार बत्रा ने विश्वविद्यालय को धन्यवाद प्रेषित करते हुए बताया कि छात्र-छात्राओं को अब अपनी प्रोविजनल डिग्री प्रमाण-पत्र हेतु परेशान नहीं होना पड़ेगा, जिन छात्र-छात्राओं ने सत्र 2015-16 के पश्चात् सीबीसीएस प्रणाली के अन्तर्गत स्नातक अथवा स्नातकोत्तर कक्षाओं में अपना नामांकन करवाया है तथा उनकी परीक्षा उत्तीर्ण हो चुकी है, ऐसे छात्र विश्वविद्यालय की बेबसाईट पर जाकर निर्धारित शुल्क जमा करके अपना प्रोविजनल प्रमाण-पत्र आॅनलाईन निकाल सकते हैं।

महिलाओं से संबंधित योजनाओं को लेकर ली बैठक

हरिद्वार। डाॅ0 राजूल एल. देसाई, सदस्य, नेशनल कमीशन फाॅर वुमेन, नई दिल्ली की अध्यक्षता में डाम कोठी, हरिद्वार में महिलाओं के विकास के सम्बन्ध में चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं और उनसे जुड़े विभिन्न मामलों के सम्बन्ध में एक बैठक आयोजित हुई। बैठक में डाॅ0 राजूल एल. देसाई, सदस्य, नेशनल कमीशन फाॅर वुमेन, नई दिल्ली ने अधिकारियों के सम्मुख वन स्टाॅप सेण्टर(सखी सेण्टर), बहादराबाद, हरिद्वार के सम्बन्ध में चर्चा की। उन्होंने कहा कि मैंने बहादराबाद, हरिद्वार स्थित वन स्टाॅप सेण्टर(सखी सेण्टर), का निरीक्षण किया, जिसके दौरान मुझे सेण्टर की व्यवस्थायें सन्तोषजनक नहीं लगीं तथा वहां ट्रेंड स्टाफ नहीं है, फाइलों का उचित रखरखाव नहीं है। उन्होंने वन स्टाॅप सेण्टर(सखी सेण्टर) के बारे में बताते हुये कहा कि इसकी यह अवधारणा है कि सेण्टर में सभी प्रकार की सुविधायें-पुलिस को रिपोर्टिंग, वीडियो कांफ्रेंसिंग की सुविधा, रहने, खाने-पीने की उचित व्यवस्था, जो सभी निःशुल्क हैं, उनकी समुचित व्यवस्था होनी चाहिये तथा कोई भी पीड़िता संकट के समय बेझिझक वन स्टाॅप सेण्टर(सखी सेण्टर) में जा सके। मा0 सदस्य ने कहा कि सखी सेण्टर की लोकेशन शहर के मध्य में होनी चाहिये तथा विद्यालयों में पढ़ने वाली छात्राओं, कामकाजी महिलाओं व अन्य को यह भी जानकारी होनी चाहिये कि इस सेण्टर में सभी सुविधायें निःशुल्क हैं। उन्होंने कहा कि इस सम्बन्ध में व्यापक प्रचार-प्रसार तथा जन-जागरूकता लाने की आवश्यकता है। उन्होंने अधिकारियों से महीने में एक बार सेण्टर का निरीक्षण, समीक्षा करने तथा सेण्टर की व्यवस्थाओं में क्या-क्या सुधार लाये, के सम्बन्ध में रिपोर्ट प्रस्तुत करने की अपेक्षा की। मुख्य विकास अधिकारी श्री विनीत तोमर ने मा0 सदस्य को बताया कि पहले यह वन स्टाॅप सेण्टर(सखी सेण्टर) सी.सी.आर. में चलता था, जिसे कुम्भ की वजह से बहादराबाद में स्थानान्तरित करना पड़ा तथा वहां स्टाॅफ की व्यवस्था बाह्य सोर्स से होती है। स्टाॅफ स्थानीय ही होना चाहिये, के नियम के तहत, कुशल स्टाॅफ नहीं मिल पाता है। सोशल वर्क में यहां इतनी स्किल नहीं है। वन स्टाॅप सेण्टर(सखी सेण्टर) के लिये भूमि का विवरण भारत सरकार को भेजा गया है। उन्होंने बताया कि बहादराबाद स्थित सेण्टर शहर के अलावा ग्रामीण क्षेत्र को भी आच्छादित करता है। श्री तोमर ने मा0 सदस्य को बताया कि जनपद में बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ अभियान ब्लाॅक व गांव स्तर तक चलाया जा रहा है, जिसमें विभिन्न प्रकार की प्रतियोगितायें आयोजित की जाती हैं, जिसमें हर उम्र की बच्चियां भाग लेती हैं तथा उन्हें आगे बढ़ने के लिये हर स्तर पर प्रोत्साहित किया जाता है। गांवों में बच्चियों के हीमोग्लोबिन की जांच की जाती है, बच्चियों को स्कूल आने के लिये प्रोत्साहित किया जाता है। इसके अलावा उचित स्थानों में सेनेटरी मशीन भी लगाई जा रही हैं। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सैंथिल अबुदई कृष्णराज एस. ने मा0 सदस्य को बताया कि उत्तराखण्ड पुलिस में महिलायें काफी बड़ी संख्या में हैं, जिससे महिलाओं से जुड़े मामलों के निस्तारण में महिला पुलिस का विशेष योगदान है। उन्होेंने कहा कि विभिन्न आयु वर्ग की बच्चियों को सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिंग भी दी जा रही है। इस पर मा0 सदस्य ने उत्तराखण्ड पुलिस की सराहना की तथा कहा कि इस माॅडल को अन्य जगह भी अपनाने के लिये मैं चर्चा करूंगी। उन्होंने पुलिस अधिकारियों से कहा कि वे काॅलेजों में छात्राओं से मुखातिब हों, उन्हें विभिन्न आई.पी.सी. की धाराओं की जानकारी दें। बैठक में जिला कार्यक्रम अधिकारी भारती तिवारी, धर्मवीर सिंह, सी0डी0पी0ओ0 सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारीगण उपस्थित थे।

कोविड टीकाकरण के लिए दुगड्डा में बनेंगे 21 केंद्र

पौड़ी। दुगड्डा ब्लाक में कोरोना वैक्सीन लगाने की तैयारी शुरू हो गई है। इसको लेकर एसडीएम ने दुगड्डा ब्लाक की कोविड टास्क फोर्स की बैठक ली, जिसमें संबंधित विभाग के अधिकारियों को जनवरी तक कोरोना वैक्सीन लगाने की सभी व्यवस्थाएं बनाने के निर्देश दिए। गुरुवार को तहसील सभागार में आयोजित बैठक में एसडीएम योगेश मेहरा ने कहा कि दुगड्डा ब्लाक में 21 कोराना टीकाकरण केंद्र बनाए गए हैं। एक कमरे में कोरोना के टीका लगाए जाने से पहले लोगों को बैठाया जाएगा, दूसरे कमरे में टीकाकरण होगा और तीसरे कमरे में टीका लगाने के बाद लोगों को बैठाया जाएगा।

श्रद्धानंद मैमोरियल प्रथम नेशनल टेनिस बाल क्रिकेट चैम्पियनशीप में 26 टीमें प्रतिभाग कर रही

हरिद्वार। श्रद्धानंद स्वामी श्रद्धानंद के 94वें बलिदान पर्व पर उत्तराखण्ड टेनिश बाल क्रिकेट ऐशोशिएसन के तत्वावधान में आयोजित श्रद्धानंद मैमोरियल प्रथम नेशनल टेनिस बाल क्रिकेट चैम्पियनशीप प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है। फैडरेशन के अध्यक्ष डा0 नवनीत परमार ने बताया कि इस नेशनल चैम्पियनशीप में सम्पूर्ण देश से विभिन्न प्रदेशों की बालक एवं बालिका वर्ग की 26 टीमें प्रतिभाग कर रही है। प्रतियोगिता का शुभारम्भ बृहद यज्ञ, शोभायात्रा गुरुकुल परिसर तथा ओम ध्वज के पताका के अरोहण द्वारा किया गया। उन्होंने बताया कि इस प्रतियोगिता में भारत वर्ष के टेनिश बाल क्रिकेट ऐशोशिएसन के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं सभी प्रदेशों के पदाध्किारी भाग ले रहें है। मैचों के निर्णय हेतु सम्पूर्ण देश से अनुभवी एम्पायरों को आमंत्रित किया गया है। उन्होंने प्रतियोगिता का परिचय देते हुए बताया कि इस प्रतियोगिता में महाराष्ट्र, विदर्भ, पूर्वाचंल, उत्तराखण्ड (कुमाऊं) , उत्तराखण्ड (गढवाल), हरियाणा, तमिलनाडु, उत्तर प्रदेश, राजस्थान आदि टीमे प्रतिभाग कर रही है कल दिनांक 23 दिसम्बर 2020 को पुरुष टीमों के हुए मुकाबलों में महाराष्ट्र बनाम पूर्वांचल में महाराष्ट्र विजयी रहा। तमिलनाडु बनाम महाराष्ट्र में महाराष्ट्र विजयी रहा उत्तर प्रदेश बनाम उत्तराखण्ड (गढवाल) में उत्तर प्रदेश ने बाजी मारी, उत्तराखण्ड बनाम विदर्भ में उत्तराखण्ड ने विजय प्राप्त की उत्तर प्रदेश बनाम महाराष्ट्र में उत्तर प्रदेश ने बाजी मारी बालिका वर्ग में महाराष्ट्र बनाम उत्तर प्रदेश में उत्तर प्रदेश की बालिकाओं ने अपनी विजयी पताका पहरायी। आज दिनांक 24 दिसम्बर को हुये मुकाबलों में हरियाणा 11 बनाम यू0पी0 (पश्चिमी) में हरियाणा विजयी रही, राजस्थान बनाम तमिलनाडु में तमिलनाडु ने बाजी मारी, हरियाणा बनाम विदर्भ में विदर्भ विजयी रहा।

प्रदेश में 436 नए कोरोना संक्रमित मिले, 11 मरीजों की मौत

देहरादून। उत्तराखंड में बीते 24 घंटे में 436 नए संक्रमित मिले हैं और 11 मरीजों की मौत हुई। देहरादून व नैनीताल जिले में रोजाना सबसे ज्यादा संक्रमित मामले सामने आ रहे हैं। कुल संक्रमितों की संख्या 88376 हो गई है। वहीं, 5331 सक्रिय मरीजों का उपचार चल रहा है। स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार, गुरुवार को 13772 सैंपलों की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। वहीं, देहरादून जिले में सबसे अधिक 143 और नैनीताल में 103 संक्रमित मिले। हरिद्वार में 61, ऊधमसिंह नगर में 12, पिथौरागढ़ में 31, रुद्रप्रयाग में दो, अल्मोड़ा में 38, चमोली में दो, पौड़ी में 17, टिहरी में सात, चंपावत में 12, उत्तरकाशी में आठ संक्रमित मिले हैं। बागेश्वर जिले में गुरुवार को एक भी संक्रमित नहीं मिला। प्रदेश में अब तक 1458 संक्रमित मरीजों की मौत हो चुकी है। वहीं, गुरुवार को 579 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया। इन्हें मिला कर 80467 मरीज कोरोना को मात दे चुके हैं।

स्पीकर अग्रवाल ने ऋषिकेश विस क्षेत्र के निर्माणाधीन कार्यों की समीक्षा की

ऋषिकेशा। ऋषिकेश विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत सिंचाई विभाग द्वारा प्रस्तावित योजनाओं एवं निर्माणाधीन कार्यों की समीक्षा के संबंध में आज उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने सिंचाई विभाग के अधिकारियों के संग बैठक की। इस अवसर पर श्री अग्रवाल ने 1157.65 लाख की लागत से आस्था पथ पर चल रहे पुनरोद्धार एवं बाढ़ सुरक्षा निर्माण कार्यों की समीक्षा की एवं सिंचाई विभाग द्वारा नाबार्ड को प्रस्तावित 27 करोड़ की योजना के संबंध में चर्चा की। इस अवसर पर विधानसभाध्यक्ष ने सिंचाई विभाग के अधिकारियों से ऋषिकेश विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत कुंभ निधी से 1157.65 लाख की लागत से आस्था पथ का पुनरोद्धार एवं बाढ़ सुरक्षा निर्माण कार्यों के बारे में जानकारी ली। इस अवसर पर श्री अग्रवाल ने कार्य की गुणवत्ता एवं तय समय सीमा के अंतर्गत इसे पूरा करने के अधिकारियों को निर्देश दिए।इस अवसर पर श्री अग्रवाल ने क्षेत्र के विकास के लिए विस्तृत कार्ययोजना बनाने की बात अधिकारियों से कही। श्री अग्रवाल ने रायवाला, हरिपुर कला, ठाकुरपुर, चक जोगी, गौहरीमाफी सहित अन्य क्षेत्रों में सिंचाई नहरें एवं बाढ़ योजना के कार्य के लिए कार्य योजना बनाने की बात कही। श्री अग्रवाल ने कहा कि आने वाली बरसात से पहले कार्य योजना बनाकर नहरों की मरम्मत एवं बाढ़ सुरक्षा दीवार का कार्य प्रभावित क्षेत्र में प्रारंभ किए जाएं। इस अवसर पर सिंचाई विभाग के अधिशासी अभियंता डीके सिंह ने विधानसभा अध्यक्ष के पूछने पर जानकारी दी कि ऋषिकेश विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत नाबार्ड मद में 27 करोड़ रुपये की योजना प्रस्तावित है जिसमें 8 करोड रुपये की लागत से रायवाला क्षेत्र में सॉन्ग नदी के दाएं तट पर स्थित ग्राम गौहरीमाफी में बाढ़ योजना का कार्य, लगभग 9 करोड रुपए की लागत से साहबनगर में बाढ़ सुरक्षा का कार्य, लगभग 2 करोड 60 लाख रुपए की लागत से रायवाला नहर का पुनरुद्धार एवं मरमत्त निर्माण कार्य, लगभग एक करोड़ 32 लाख रुपए की लागत से गौहरीमाफी नहर पुनरुद्धार एवं मरमत्त निर्माण कार्य, लगभग 94 लाख रुपए की लागत से हरिपुर नहर का पुनरुद्धार व मरम्मत एवं 5 करोड़ 70 लाख रुपए की लागत से लक्कड़ घाट सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट से ट्रीटमेंट के उपरांत निकले पानी से लक्कड़ घाट क्षेत्र हेतु सिंचाई नहर की योजना का कार्य प्रस्तावित है।जिस पर नाबार्ड के द्वारा धनराशि स्वीकृत होने के तत्पश्चात कार्य प्रारंभ होगा। इस अवसर पर सिंचाई विभाग के अधीक्षण अभियंता आरके तिवारी, अधिशासी अभियंता डीके सिंह, सहायक अभियंता अनुभव नौटियाल, अपर सहायक अभियंता आशीष बिष्ट, अपर सहायक अभियंता कुलदीप सिंह मौजूद थे।

इकबालपुर चीनी मिल से संबद्ध गन्ना किसानों के बकाया भुगतान पर श्वेत पत्र जारी करे सरकारः मोर्चा

देहरादून। जन संघर्ष मोर्चा अध्यक्ष एवं जीएमवीएन के पूर्व उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह नेगी ने कहा कि प्रदेशभर की सहकारी सार्वजनिक तथा निजी क्षेत्र की चीनी मिलों ने पेराई सत्र 2019-20 तक के सभी किसानों के गन्ने का भुगतान कर दिया गया है, लेकिन जनपद हरिद्वार की इकबालपुर चीनी मिल से संबद्ध किसानों का पेराई सत्र वर्ष 2017-18 का 74.5 6 करोड़, 2018-19 का 104.74 तथा 2019- 20 का 15.55 करोड़ रूपया रुपए का भुगतान आज तक नहीं किया गया, जिससे किसानों के सामने आर्थिक संकट खड़ा हो गया है। नेगी ने हैरानी जताई कि सदन में संसदीय कार्य मंत्री मदन कौशिक ने वक्तव्य जारी किया कि सभी गन्ना किसानों का भुगतान हो चुका है तथा उनके वक्तव्य के पश्चात विपक्ष भी बगले झांकने लगा, यानी विपक्ष आधी-अधूरी तैयारी के साथ सदन में पहुंचा था, जो कि दुर्भाग्यपूर्ण है। सभी चीनी मिलों यथा बाजपुर कोऑपरेटिव शुगर फैक्ट्री, दि किसान सहकारी चीनी मिल्स, नादेही, किच्छा शुगर कंपनी, डोईवाला शुगर कंपनी, उत्तम शुगर मिल्स, आरबीएनएस शुगर मिल्स आदि सभी मिलो पर किसानों का कुछ भी बकाया नहीं है, जोकि बहुत अच्छी बात है। नेगी ने कहा कि कई-कई वर्षों तक गन्ना किसानों के भुगतान के मामले में सरकार की उदासीनता निश्चित तौर पर किसानों के साथ बहुत बड़ा छलावा है। चीनी मिल द्वारा किसानों का बकाया भुगतान नहीं किया गया, लेकिन सरकार हाथ पर हाथ धरे बैठी रही। नेगी ने कहा कि सत्तापक्ष व विपक्ष द्वारा भी बकाया भुगतान की धनराशि के मामले में सही आंकड़े पेश नहीं किए गए हैं। मोर्चा सरकार से किसानों के बकाया भुगतान के मामले श्वेत पत्र जारी करने की मांग करता है। ------------------------------------------------

ब्रह्मानंद सुनकर मन भर सकता है, लेकिन परमानंद खुद को नष्ट कर लेता

देहरादूना। परम पावन-तरण तारिणी में गंगा के तट पर बहने वाली कहानी में, चैथे दिन, एक बहुत ही शांत धारा में, मोरारी बापू ने कहा कि शुकदेवजी अपनी माता के गर्भ से पैदा हुए थे और कई रूपों में, उपनयन या किसी भी अन्य संस्कार से पहले छोड़ दिए गए थे। जिसे ममता-मोहवश हैयायन व्यास टूटे हुए दिल के साथ खोजने के लिए दौड़े। शुकदेवजी से वृक्ष और लताएँ जवाब देती हैं, कोई कहता है कि वृक्ष क्यों प्रतिक्रिया करता है? जैसे ही वक्ता के होंठ हिलते हैं, वैसे ही गुरबानी-गुरुकृपा। शुक भी हर निर्जीव के दिल में निहित है, इसलिए शुक जवाब देते है। पाँच प्रकार के सुख हैं जैसे कि विश्वानंद, भोगानंद आदि लेकिन साधक के लिए दो प्रकार के सुख हैं-ब्रह्मानंद और परमानंद दोनों के बीच क्या अंतर है? ब्रह्मानंद तब होता है जब कोई साधक ब्रह्म को याद करता है या ब्रह्म उसकी याददाश्त खोलता है और साधु-साधक उसे अनुभव करता है। लेकिन साधु अपने गुरु को याद करता है और अहसास आनंदित होता है। आनंद में गद-गीर नीरा बहै नीरा-ए की स्थिति है। विद्यानंद क्षणिक सुख है। शुकदेवजी अपनी माता के गर्भ में बारह वर्षों से हैं। यह मानव या वैज्ञानिक तर्क से नहीं मापा जाता है बल्कि बारह वर्ष एक युग माना जाता है। कोई भी जानकार, विद्वान अपने जीवन के अंतिम वर्षों में 12-12 साल के टुकड़ों को देखकर समझ सकता है कि कितना बदल गया है। रामचरित मानस में, मंत्री-सचिव पात्र बहुत पुराने हैं। रावण आदि के स्वांग में माल्यवंत, जामवंत, सुमंत, जटायु, संपति, ब्रह्मा आदि। शुक का निर्णय गर्भ से बाहर नहीं आने का था जब तक कि परम सही पक्ष पर नहीं था। बापू ने कहा कि भगवद गीता में लोगों के बीच आध्यात्मिक संचार होता है। शारीरिक या मानसिक रूप से आपका बुद्धपुरुष के साथ जुड़ाव, यह वही भावना देगा। गीताजी कहती हैं कि संघ काम पैदा करता है और काम क्रोध पैदा करता है लेकिन फकीरों की संगति से राम चमकते हैं। एक सत्संग में, समय स्थिर हो जाता है, समय सारणी नहीं। समय रुक जाता है। लक्ष्मण धर्म है, शत्रुघ्न का अर्थ है। यह समझने के लिए कि रामतो स्वयं मोक्ष हैं लेकिन भरत काम करते हैं, थोड़ा गुरु की कृपा चाहिए। जहाँ हृदय ब्रह्म का अनुसरण करता है वही ब्रह्मानन्द है जो थोड़ा कठोर है लेकिन परमानन्द तीसरा प्रेम है। वास्तव में वैष्णववाद हमें आनंद देना चाहता है। हम प्यार के शिकार हैं। ब्रह्मानंद को योगियों को दे दो। ब्रह्मानंद संघ से मुक्त है लेकिन आनंद में संबंध है। सूफियों ने उसे मरहम लगाने वाला कहा। ब्रह्मानंद सुनकर मन भर सकता है, लेकिन परमानंद खुद को नष्ट कर लेता है।

राष्ट्र बदलाव का साक्षी बन रहा, जन-जन तक सही पक्ष पहुंचाना हमारी जिम्मेदारीः गोयल

-भाजपा के मीडिया एवं सोशल मीडिया प्रभारियों की कार्यशाला आयोजित देहरादूना। भाजपा प्रदेश प्रवक्ता एवं महानगर मीडिया समन्वयक विनय गोयल ने भाजपा महानगर कार्यालय पर आयोजित देहरादून महानगर के विधानसभा एवं मंडलों के मीडिया एवं सोशल मीडिया प्रभारियों की कार्यशाला में पार्टी के मूल विचार को आगे बढ़ाने की प्रेरणा देते हुए कहा कि आज हमारा देश राजनीतिक, शैक्षिक, सामाजिक एवं आर्थिक रूप से बदलाव का साक्षी बन रहा है हम आत्मनिर्भर भी बने हैं और विश्व में देश की छवि भी निखरी है। पार्टी के मीडिया एवं सोशल मीडिया से जुड़े कार्यकर्ताओं का कर्तव्य है कि इस विचार को विभिन्न संचार माध्यमों इलेक्ट्रॉनिक चैनल, समाचार पत्रों, फेसबुक, व्हाट्सएप, ट्विटर, इंस्टाग्राम आदि के माध्यम से समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाएं ताकि आजादी के बाद से चली आ रही उस व्यवस्था में परिवर्तन लाया जा सके जिसमें बहुसंख्यक होने के बावजूद भी एक डर में यह देश जिया है और जिसमें हमें ऐसी शिक्षा दी गई थी जहां आतताईयों को नायक और राष्ट्र के लिए संघर्ष करने वालों को खलनायक बताया गया ऐसे परिदृश्य को बदला जाना आवश्यक है इसकी शुरुआत हो चुकी है अब इसे और आगे बढ़ाना है। मेयर सुनील उनियाल गामा ने प्रभारियों को सोशल मीडिया की महत्व बताते हुए देश एवं पार्टी हित में सकारात्मक कार्य करने को प्रेरित किया। महानगर अध्यक्ष सीताराम भट्ट ने कहा की 2022 का चुनाव सर पर है हमें अभी से इसकी तैयारी करनी है और केंद्र मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व एवं राज्य मैं मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के नेतृत्व में चल रही सरकारों द्वारा समाज एवं देश हित में किए गए कार्यों को विभिन्न समाचार माध्यमों के द्वारा लोगों में प्रचारित करना है। मीडिया प्रभारी राजीव उनियाल ने इस अवसर पर सकारात्मक समाचारों को कैसे फैलाना है और नकारात्मक समाचारों को कैसे साइडलाइन करना है के बारे में सभी मीडिया एवं सोशल मीडिया प्रभारियों को टिप्स दिए। उनियाल ने प्रभारियों को निरंतर अध्ययन करने का परामर्श दिया ताकि अपनी बात तर्क एवं तथ्यों के साथ समाचार माध्यमों में रखी जा सके। कार्यशाला में कमली भट्ट नीलू साहनी अंकिता शर्मा सूरज बिष्ट पुष्प राज ध्यानी रोहित कुमार आईसी पांडे भुवनेश कुकरेती ममता अग्रवाल देवरानी वत्सल कुमार भगत सिंह भंडारी श्यामसुंदर चैहान विनोद देवली संजय थापा पीआर भट्ट सहित सभी विधानसभा व मंडलों के मीडिया एवं सोशल मीडिया प्रभारी ने अपनी उपस्थिति दर्ज की।

Monday, 21 December 2020

रिस्पना नदी के पुनर्जीवन के लिए लाभदायक कार्ययोजना बनाई जाएः डीएम

देहरादून। रिस्पना नदी क पुनर्जीवन के सम्बन्ध में जिलाधिकारी डाॅ आशीष कुमार श्रीवास्तव की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट स्थित ऋषिपर्णा सभागार में बैठक आयोजित की गई। बैठक में जिलाधिकारी ने एमडीडीए एवं जल निगम के अधिकारियों को रीवर फ्रन्ट डेवलपमेन्ट के तहत् सीवर परियोजनाओं का सर्वे करते हुए, उचित कार्य योजना तैयार करने हेतु संयुक्त निरीक्षण करने के निर्देश दिए। उन्होंने रिस्पना नदी के पुनर्जीवन एवं नमामि गंगें परियोजना की बैठक एक साथ कराए जाने पर बल दिया। उन्होनें कहा नमामि गंगे की तर्ज पर अब हर पन्द्रहवें दिन रिस्पना नदी के पुनर्जीवन के सम्बन्ध में बैठक आयोजित की जाएगी। उन्होंने रिस्पना नदी में बढ रही गंन्दगी से निजात दिलाने हेतु जगह-जगह डस्टबीन लगायें ताकि कूड़ा नदी-नाले में न जाए। जिलाधिकारी ने नगर निगम, एमडीडीए, जल संस्थान, सिंचाई विभाग, पेयजल निगम, दून डिवीजन विभाग के अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि रिस्पना नदी को पुनर्जीवित किये जाने के सम्बन्ध में अपने-अपने विभाग द्वारा एक एक्शन प्लान तैयार करें तथा रिस्पना नदी के समीप आने वाले क्षेत्रों हेतु रिस्पना नदी के पुनर्जीवन के लिए लाभदायक कार्य योजना बनाई जाए जो तथ्यपूर्ण एवं परिणाम आधारित हो। उन्होने बैठक में मसूरी स्थित विद्यालय को हो रही जलापूर्ति एवं लिक्विड वेस्ड गन्दगी को रोके जाने हेतु जल संस्थान के अधिकारियों को आवश्यक निर्देश दिए। उन्होंने नगर निगम के अधिकारियों को काठबंगला, बालासुन्दरी आदि स्थानों पर जहां गन्दगी कम रहती है, इन क्षेत्रों का सेक्शन बनाकर कूड़े का निस्तारण करने हेतु आवश्यक कदम उठाने के निर्देश दिए। उन्होंने रिस्पना नदी के पुनरद्धार हेतु सोसायटी बनाए जाने तथा गन्दगी को रोके जाने में सहयोग लिए जाने की बात कही इस अवसर पर उन्होंने वाटर रिर्टेशन हेतु रिस्पना में अपस्ट्रीट एवं राजपुर में रबर डैम बनाए जाने पर जोर दिया। उन्होंने रिस्पना के पुनर्जीवन हेतु इस वर्ष रोपित 3 लाख पौधोें में से कितने पौधे वर्तमान मेें सर्वाइव कर रहे हैं की जानकारी प्राप्त करने को कहा। इस अवसर पर उन्होने ऋषिकेश स्थित लक्कड़घाट में वन विभाग द्वारा पशुलोक को लीज पर दिए गए खाली तालाबों में मत्स्य पालन की कार्ययोजना तैयार कर लोगों को स्वरोजगार उपलबध कराएं। बैठक में मुख्य विकास अधिकार नितिका खण्डेलवाल, प्रभागीय वनाधिकारी राजीव धीमान, कहकशां खान, अपर आयुक्त नगर निगम मोहन बर्निया, जिला विकास अधिकारी सुशील मोहन डोभाल समेत जल निगम, जल संस्थान, एमडीडीए तथा अन्य सम्बन्धित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

अमेजन को झटका, फ्यूचर-रिलायंस रिटेल डील पर रेगुलेटर्स लें फैसलाः कोर्ट

देहरादून। देश की सबसे बड़ी रिटेल डील का रास्ता साफ होता जा रहा है। सोमवार को दिल्ली उच्च न्यायालय ने फ्यूचर ग्रुप और अमेजन विवाद मामले में एक महत्वपूर्ण फैसला सुनाते हुए, रेगुलेटर्स को निर्देश दिया है कि वे फ्यूचर ग्रुप के आवेदन और आपत्तियों पर कानून के अनुसार निर्णय करें। हलांकि कोर्ट ने फ्यूचर रिटेल लिमिटेड की उस याचिका को खारिज कर दिया जिसमें उसने कोर्ट से गुहार लगाई थी कि अमेजन को रेगुलेटर्स से बातचीकर करने से रोका जाए। अक्तूबर में सिंगापुर की एक मध्यस्थता अदालत ने रिलायंस और फ्यूचर ग्रुप की डील पर अंतरिम रोक लगा दी थी। दिल्ली हाई कोर्ट ने रेगुलेटर्स को इस विवाद पर निर्णय करने का आदेश दे कर संकेत दिया है कि मामले को भारतीय कानून व्यवस्था के तहत ही सुलझाया जाएगा। दिल्ली हाईकोर्ट ने माना कि रिलायंस को सौदे की मंजूरी देने वाला बोर्ड रिजॉल्यूशन मान्य है और पहली नजर में वैधानिक प्रावधानों के अनुसार लगता है। अमेजन ने इसे अमान्य करार दिया था। 132 पेज के अपने आदेश में हाईकोर्ट ने यह भी कहा कि अमेजन ने फेमा और एफडीआई के नियमों का उल्लधंन किया है। अमेजन ने विभिन्न समझौते करके पर नियंत्रण करने की कोशिश की जिसे सही नही ठहराया जा सकता। कोर्ट ने कहा कि अगर फ्यूचर और रिलायंस को अमेजन की हरकतों के कारण नुकसान उठाना पड़ा है तो उस पर सिविल कार्यवाही हो सकती है।

एंबुलेंस को रास्ता न दिया तो होगी कड़ी कार्रवाई

देहरादून। राज्य में यातायात व्यवस्था को सुचारु रुप से चलाने एवं सड़क दुर्घटनाओं पर प्रभावी अंकुश लगाने के लिएयातायात निदेशालय द्वारा कई महत्वपूर्ण बिंदुओं पर निर्देश दिए गए हैं। निदेशक यातायात केवल खुराना ने कहा कि प्रायः यह देखने में आ रहा है कि कुछ लोगों द्वारा यातायात में एम्बुलेंस को रास्ता नहीं दिया जाता है जो कि किसी के जीवन के लिए काफी घातक हो सकता है उक्त मामलों को जनपदों में काफी गम्भीरता से लेने की आवश्यकता है। एम्बुलेंस का रास्ता रोकने वालों के लिए एम.वी. एक्ट में धारा 194 म के अन्तर्गत 10000 रु0 जुर्माने या छ माह तक के कारावास या दोनों का प्रावधान भी है। ऐसे मामलों को काफी गम्भीरता से लेते हुए उक्त वाहन चालकों के विरूद्व कठोर कार्यवाही की जाए। यातायात निदेशालय द्वारा एम्बुलेंस का रास्ता रोकने वालों के खिलाफ भी प्रचार प्रसार किया जा रहा है अगर सोशल मीडिया या अन्य माध्यमों से एम्बुलेंस का रास्ता रोकने की सूचना मिलती है तो ऐसे वाहन चालकों के विरूद्व कठोर कार्यवाही की जाये। चैराहों तिराहों पर यातायात व्यवस्था हेतु नियुक्त पुलिस कर्मियों को निर्देशित किया जाए कि प्रत्येक परिस्थिति में एम्बुलेंस वाहनों को सर्वोच्च प्राथमिकता देते हुए उनका मार्ग प्रशस्त किया जाए।

भारतीय स्मॉल एंड मीडियम बिजनेस की सफलता को दर्शाया

देहरादून। आज अमेजन डॉट इन ने 2020 स्मॉल एंड मीडियम बिजनेस (एसएमबी) इम्पैक्ट रिपोर्ट प्रकाशित की,जिसमें बताया गया है कि सेलर्स, डिलीवरी और लॉजिस्टिक्स पार्टनर्स, नेबरहुड स्टोर्स, एंटरप्राइजेज, डेवलपर्स, कन्टेंट क्रिएटर्स और भारत के लेखकों सहित कंपनी 10 लाख से अधिक एसएमबी को लाभ कैसे पहुंचाती है बदले में ये एसएमबी लाखों लोगों को आजीविका प्रदान करते हैं रिपोर्ट में अमेजन के साथ काम करने वाले एसएमबी द्वारा हासिल की गई कुछ प्रमुख उपलब्धियों के बारे में बताती है और सभी सेक्टर्स में एन्टरप्रेन्योर्स और बिजनेस पर डिजिटलीकरण के प्रभाव को विशेष रूप से दर्शाती है। अमित अग्रवाल, सीनियर वीपी और कंट्री हेड अमेजन इंडिया ने कहा कि “भारत में अमेजन से जुड़े 10 लाख से अधिक छोटे बिजनेस को देखना हमें विनम्र बनाता है यह वर्ष अभूतपूर्व रहा है और इसने हमारे काम करने और जीवन जीने के तरीके पर असर डाला है फिर भी हम चुनौतियों से उबरने और विकसित होने के लिए बिजनेस, क्रिएटर्स, लेखकों आदि की उद्यमशीलता की भावना, रचनात्मकता, संकल्प और हम पर किया गया भरोसा हमें हमेशा प्रेरित करता है एसएमबी को विस्तारित पहुंच प्रदान करने और अवसरों की पेशकश करने में टेक्नोलॉजी और डिजिटलीकरण की भूमिका बनी रहेगी और हम एसएमबी में निवेश करने और उनकी सफलता में साझेदारी करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

मोतीलाल बोरा के निधन पर कांग्रेस ने तीन दिन का शोक घोषित किया

देहरादून। उत्तराखण्ड प्रदेश कांग्रेस कमेटी ने पार्टी के वरिष्ठ नेता मोतीलाल वोरा के आकस्मिक निधन के मद्देनजर 21 एवं 22 दिसम्बर को आयोजित सभी कार्यक्रम स्थगित करते हुए तीन दिन का शोक घोषित किया गया है। 22 दिसम्बर को आयोजित पत्रकार वार्ता भी स्थगित कर दी गई है।

प्रदेश में 448 नए कोरोना संक्रमित मिले, 13 मरीजों की मौत

देहरादून। उत्तराखंड में बीते 24 घंटों में 13 संक्रमित मरीजों की मौत हुई। 448 नए संक्रमित मरीज मिले हैं। कुल संक्रमितों की संख्या 86765 हो गई है। वर्तमान में 5584 सक्रिय मरीजों का इलाज चल रहा है। स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार, सोमवार को 15749 सैंपलों की जांच रिपोर्ट निगेटिव आई है। वहीं, देहरादून जिले में सबसे अधिक 157 संक्रमित मरीज मिले हैं। नैनीताल में 113, उत्तरकाशी में 39, हरिद्वार में 31, टिहरी में 23, पिथौरागढ़ में 19, रुद्रप्रयाग में 14, अल्मोड़ा में 12, पौड़ी में 11, चंपावत में 10, ऊधमसिंह नगर में 10, बागेश्वर में सात और चमोली जिले में दो संक्रमित मिले हैं। बीते 24 घंटे में प्रदेश में 13 मरीजों की मौत हुई है। इसमें दून मेडिकल कॉलेज में तीन, एम्स ऋषिकेश में दो, श्री महंत इन्दिरेश हॉस्पिटल में एक, हिमालयन हॉस्पिटल में दो, मैक्स हॉस्पिटल में एक, वेलमेड हॉस्पिटल में एक, सुशीला तिवारी मेडिकल कॉलेज हल्द्वानी में दो, नीलकंठ हॉस्पिटल हल्द्वानी में एक मरीज ने इलाज के दौरान दम तोड़ा है। प्रदेश में अब तक 1426 संक्रमित मरीजों की मौत हो चुकी है। वहीं, 1013 मरीजों को ठीक होने के बाद डिस्चार्ज किया गया। इन्हें मिला कर अब तक 78686 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं। कोटद्वार के गबर सिंह कैंप में आयोजित सेना भर्ती रैली के दूसरे दिन दस कोरोना संक्रमित युवक वहां पहुंच गए। लेकिन रुद्रप्रयाग जिला प्रशासन, सेना और स्वास्थ्य कर्मियों की त्वरित कार्रवाई ने हजारों युवकों को संक्रमित होने से बचा लिया। स्वास्थ्य विभाग ने संक्रमित युवकों की पहचान कर उन्हें युवकों की भीड़ से अलग कर आइसोलेट कर दिया। जिसके बाद सेना के अधिकारियों ने चैन की सांस ली। सोमवार सुबह सेना भर्ती अधिकारी सहित कोरोना चिकित्साधिकारी को रुद्रप्रयाग जिला प्रशासन की ओर से कोटद्वार भर्ती होने के लिए पहुंचे दस युवओं के कोरोना संक्रमित होने की नाम सहित कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट भेजी गई। युवकों के संक्रमित होने की सूचना मिलते ही आर्मी और स्वास्थ्य विभाग तत्काल अलर्ट हो गए। उन्होंने भर्ती प्रक्रिया शुरू होने से पहले ही पीपीई किट पहनकर युवकों को भीड़ से अलग कर दिया। ------------------------------------------------

Sunday, 20 December 2020

अतिक्रमण हटाने के दौरान नोकझोंक

कोटद्वार। क्षेत्र में इन दिनों हाईकोर्ट के आदेश पर अतिक्रमण हटाए जा रहे हैं। इस दौरान नगरवासियों और व्यापारियों ने नगर निगम पर आरोप लगाया कि वह सरकारी भवनों से हुए अतिक्रमण को नहीं हटा रहे हैं। जबकि नगर आयुक्त ने साफ शब्दों में कहा कि सरकारी जमीन पर कोई सरकारी बिल्डिंग अगर बनी हुई है तो वह अतिक्रमण नहीं है। उच्च न्यायालय के ओर से जारी निर्देशों के आधार पर प्रशासन ने कोटद्वार नगर क्षेत्र में अतिक्रमण हटाया जा रहा हैं। इस दौरान व्यापारी और नगर निगम के अधिकारियों के बीच झड़प भी हुई। व्यापारियों ने नगर निगम पर आरोप लगाया कि नगर निगम का कार्यालय, मालवीय उद्यान के दोनों पार्क, कोटद्वार कोतवाली के बाउंड्री वाल, तहसील प्रशासन की बाउंड्री वाल एवं उप जिलाधिकारी का आवास अतिक्रमण की जद में है। लेकिन नगर निगम ने यह अतिक्रमण नहीं हटाया। व्यापारियों और नगर वासियों को जबरन अतिक्रमण के नाम पर सताया जा रहा है। वहीं, नगर आयुक्त पीएल शाह ने बताया कि कई जगह से शिकायत आ रही है कि नगर निगम थाना तहसील की जो बिल्डिंग है वह भी अतिक्रमण की जद में है। अगर नगर निगम राष्ट्रीय राजमार्ग या अन्य मार्गों की चैड़ाई को कम नहीं करता है तो वह अतिक्रमण की श्रेणी में नहीं है। अगर सरकारी भवन राष्ट्रीय राजमार्ग या अन्य मार्गों की चैड़ाई को कम करते हैं या उनके मानकों के तहत नहीं बने हैं तो वह अतिक्रमण की श्रेणी में होगा, उसको हटाया जायेगा।

पुजारी का शव मिलने के मामले की दोबारा होगी जांच

पौड़ी। कांसदेव महादेव मंदिर के पुजारी का शव मिलने के मामले में दोबारा से जांच करवाई जाएगी। जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल ने कहा कि यदि पुजारी की मृत्यु जंगली जानवर के हमले से हुई है तो उन्हें मुआवजा दिलवाया जाएगा। बता दें कि पौड़ी के कल्जीखाल ब्लॉक में बीते सितंबर माह में कांसदेव महादेव मंदिर के पुजारी का शव झाड़ियों में मिला था। ग्रामीणों की ओर से जंगली जानवर के हमले की आशंका जताई गई है। पोस्टमॉर्टम के दौरान भी मृतक के शरीर में जंगली जानवर के घाव भी पाए गए। मृतक पुजारी के परिवार ने जंगली जानवार या गुलदार के हमले से मौत होने के आसार जताए हैं। लेकिन अब तक वन विभाग और प्रशासन मौत की वजह साफ नहीं कर पाया है। मौत की वजह साफ ना होने के चलते मुआवजे की कार्रवाई भी आगे नहीं बढ़ पाई है। अब तक मृतक का परिवार जिला मुख्यालय के कई चक्कर काट चुका है। लेकिन ये मामला अब तक नहीं सुलझ सका है। ऐसे में जिलाधिकारी धीराज सिंह गर्ब्याल ने कहा कि मामले में दोबारा से अब उचित जांच करवाई जाएगी।

पूर्णागिरि धाम में उपलब्ध होगी नेट कनेक्टिविटी, तैयारियां तेज

खटीमा। शहर के सीमांत क्षेत्र स्थित माता पूर्णागिरी धाम तक नेटवर्क कनेक्टिविटी पहुंचाने की तैयारी की जा रही है। इसके लिए बीएसएनएल की टीम ने क्षेत्र का सर्वे पूरा कर लिया है। सीमांत जनपद चंपावत के नेपाल सीमा से लगा पूर्णागिरि धाम में माता के दर्शन के लिए हर साल लाखों की संख्या में भक्त आते हैं। जिन्हें क्षेत्र में नेट कनेक्टिविटी न होने के चलते काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। इसी को लेकर अब यहां जल्द नेटवर्क कनेक्टिविटी पहुंचाने की तैयारी हो रही है। स्थानीय निवासियों और व्यापारियों को भी अपने सभी ऑनलाइन कार्यों को करने के लिए लगभग 15 किमी दूर टनकपुर क्षेत्र में जाना पड़ता है। ऐसे में स्थानीय प्रशासन की पहल के चलते अब जल्द ही पूर्णागिरि क्षेत्र में स्थानीय लोगों और श्रद्धालुओं को नेट कनेक्टिविटी आसानी से मिलने लगेगा।

बाइक चोरी मामले में दो आरोपी गिरफ्तार

लक्सर। कोतवाली पुलिस ने बाइक चोरी के मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों के खिलाफ संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर उन्हें जेल भेज दिया गया है। लक्सर कोतवाली के एसएसआई नितेश शर्मा ने बताया कि लक्सर के भोजपुर गांव में कुछ दिन पहले मोटरसाइकिल चोरी की सूचना दी गई थी। उन्होंने बताया कि सूचना के बाद पुलिस ने जगह-जगह चेकिंग अभियान चलाया। चेकिंग के दौरान धर्म सिंह पुत्र जयपाल गांव फतवा कोतवाली लक्सर और छोटू पुत्र मांगेराम गांव भोगपुर को रोका गया। दोनों आरोपियों के पास से चोरी की मोटरसाइकिल बरामद की गई है। उन्होंने कहा कि आरोपियों के खिलाफ संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर उन्हें जेल भेज दिया गया।

जल्द तैयार होगा परेड ग्राउंड, तेजी से चल रहा स्मार्ट सिटी का कार्य

देहरादून। राजधानी में स्मार्ट सिटी का काम तेजी से चल रहा है। इस प्रोजेक्ट के तहत 2021 तक स्मार्ट सिटी के ज्यादातर काम को धरातल पर लाने का लक्ष्य रखा गया है। वहीं परेड ग्राउंड में स्मार्ट सिटी का काम चल रहा है और स्मार्ट सिटी की कार्यदायी संस्था का प्रयास है कि 26 जनवरी तक परेड ग्राउंड को तैयार कर लिया जाएगा, जिससे गणतंत्र दिवस के सभी कार्यक्रम आयोजित किए जा सकें। जिलाधिकारी आशीष श्रीवास्तव ने कहा कि 26 जनवरी को परेड होनी है और हमारा पूरा प्रयास है कि वह परेड परेड ग्राउंड में हो। परेड ग्राउंड में ओल्ड सर्वे रोड की ओर पूरी तैयारी की जा रही है। 26 जनवरी तक वहां पर कार्य पूरा कर लिया जाएगा। इस बार की जो परेड है वह सड़क की तरफ से ही होगी और जो झांकियां भी निकलेंगी वह भी सड़क पर ही निकाली जाएंगी। जिलाधिकारी आशीष श्रीवास्तव ने कहा कि स्मार्ट सिटी के तहत अलग-अलग प्रोजेक्ट में करीब 30 प्रतिशत काम पूरा हो गया है। जो स्मार्ट सिटी का कमांड एंड कंट्रोल सेंटर 25 दिसंबर को शुरू हो जाएगा। 25 दिसम्बर को मुख्यमंत्री इसका शुभारंभ करेंगे। स्मार्ट सिटी का काम 1407 करोड़ की लागत से पूरा होगा। जिसके लिए अब तक स्मार्ट सिटी को 300 करोड़ रुपये की धनराशि मिल चुकी है, जिसमें 190 करोड़ रुपये स्मार्ट सिटी के काम में खर्च हो गए हैं। स्मार्ट सिटी के तहत 30 इलेक्ट्रिक बसें राजधानी में दौड़ेंगी। 187 करोड़ की लागत से कलेक्ट्रट परिसर में एक दिसंबर 2021 तक ग्रीन बिल्डिंग बनाने का प्रस्ताव है। यह छह मंजिला इमारत होगी, जिसमें सभी जिला स्तरीय दफ्तर होंगे। दिलाराम चैक पर 100 फीट का तिरंगा दून की शान बढ़ाएगा। रेस कोर्स चैक से बन्नू स्कूल चैक तक और सहारनपुर चैक से भंडारीबाग नाले तक ड्रेनेज कार्य किया जाएगा। अगले साल एक अक्टूबर तक यह निर्माण कार्य पूरा कर लिया जाएगा. शहर में पांच प्रमुख जगहों पर सीवर का काम होगा।

खेत की बाउंड्री पर लगाए गए क्लच वायर में फंसा गुलदार

खटीमा। टनकपुर में खेत की बाउंड्री पर लगाए गए क्लच वायर में गुलदार फंस गया। खेत में गुलदार के फंसने की सूचना पर स्थानीय लोगों में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में वन विभाग की टीम मौके पर पहुंची। टीम ने गुलदार को रेस्क्यू किया और खेत स्वामी को हिरासत में ले लिया है। मिली जानकारी के अनुसार, टनकपुर के छीनी गोट इलाके में खेत की बाउंड्री पर लगाए क्लच वायर के फंदे में गुलदार फंस गया। सूचना पर खटीमा वन विभाग की टीम चिकित्सकों के साथ गुलदार को रेस्क्यू करने पहुंची। गुलदार को बेहोश कर पिंजरे में डालकर ले जाया गया। साथ ही खेत की बाउंड्री में क्लच वायर लगाने के आरोप में खेत स्वामी को गिरफ्तार किया गया। रेंजर राजेन्द्र मनराल ने बताया कि खेत में गुलदार फंसने की सूचना पर एसडीओ खटीमा उप वन प्रभाग बाबू लाल और उनकी टीम ने गुलदार को फंदे से बाहर निकाला। उसे ट्रैंकुलाइज कर लिया गया है। साथ ही खेत स्वामी को गिरफ्तार किया है। उससे पूछताछ की जा रही है। ये पता लगाने की कोशिश की जा रही है कि खेत में क्लच वायर किसने लगाया? इस संबंध में अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।

जीरो टाॅलरेंस का दवा करने वाली सरकार में विकास प्राधिकरण भ्रष्टाचार के अड्डे बन गएः इंदिरा

देहरादून। विधानसभा सत्र के लिए विपक्ष ने कमर कस ली है। नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश का कहना है भले ही मुख्यमंत्री कोरोना संक्रमित हो गए हों लेकिन हाउस में जवाब तो देना ही होगा। जवाब चाहे पार्लियामेंट्री अफेयर्स मिनिस्टर दें या विभागों के मंत्री। इसके साथ ही इंदिरा हृदयेश ने सीएम के जल्द स्वस्थ होने की कामना की है। नेता प्रतिपक्ष ने कहा है कि इस बार विपक्ष के पास कई मुद्दे हैं, जिनसे सरकार से जवाब लेना है। खासकर किसानों की फसल को खरीदने के बाद भी उन्हें उनका मूल्य नहीं दिया गया है। इसके अलावा जीरो टॉलरेंस का खोखला दावा करने वाली सरकार में विकास प्राधिकरण भ्रष्टाचार के अड्डे बन गए हैं। खुद मुख्यमंत्री स्टिंग में फंसे हैं। बेरोजगारी, महंगाई सहित तमाम ऐसे मुद्दे हैं, जिनको लेकर सरकार से सवाल पूछे जाएंगे। उन्होंने कहा कि एससी, एसटी छात्रों की छात्रवृत्ति घोटाले में भी एसआईटी जांच की गई है। अभी तक दोषियों को सजा नहीं हुई है। इसके साथ ही सरकार को छात्रवृत्ति घोटाले का भी जवाब देना होगा। इंदिरा हृदयेश ने मुख्यमंत्री के जल्द स्वस्थ होने की कामना की है।

हवन यज्ञ कर सीएम की दीर्घायु की कामना की

ऋषिकेश। ऋषिकेश विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत श्यामपुर मंडल में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के जन्मदिवस पर सत्यनारायण मंदिर में आज हवन यज्ञ कर उनके दीर्घायु की कामना की गई। इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष प्रेम चंद अग्रवाल ने पहुंचकर यज्ञ में आहुति डालकर यशस्वी मुख्यमंत्री के स्वस्थ होने की कामना की। विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत जिस तरह से प्रदेश में प्रगति, महिला सशक्तिकरण, जनभागीदारी के सपनों को हकीकत में बदल कर प्रदेश को गौरवान्वित कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जी ने गैरसैंण को ग्रीष्मकालीन राजधानी घोषित कर उत्तराखण्ड राज्य आंदोलनकारियों के सपनों को पूरा किया है,यह हम सब के लिए गर्व की बात है। श्री अग्रवाल ने कहा कि उत्तराखण्ड राज्य में कोरोना को नियंत्रित करने के लिए भी मुख्यमंत्री जी के नेतृत्व में यथा संभव प्रयास किए गये है। जिससे हमारे राज्य में कोरोना का प्रभाव अन्य राज्यों की अपेक्षा कम है। श्री अग्रवाल ने उनके उत्तम स्वास्थ्य एवं दीर्घायु होने की कामना की है। इस अवसर पर मण्डल अध्यक्ष गणेश रावत, जिला महामंत्री सुदेश कंडवाल,ब्लॉक प्रमुख भगवान सिंह पोखरियाल, जिला अध्यक्ष नरेन्द्र रावत, सतपाल सैनी, राम रतन रतूड़ी, विनोद भट्ट, राजेश जुगलान, हरपाल राणा, बिना बंगवाल, कमला नेगी, अंजना चैहान सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

उत्तराखंड फिल्म शूटिंग के लिए पसंदीदा जगह के रूप में विकसित हो रहा

देहरादून। अभिनेता मिथुन चक्रवर्ती और अनुपम खेर इन दिनों अपनी आगामी फिल्म की शूटिंग के लिए मसूरी पहुंचे हैं। पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने इस बारे में बात करते हुए कहा कि बाॅलीवुड निर्देशकों और निर्माताओं व अभिनेताओं द्वारा राज्य में फिल्म शूटिंग के लिए आने से हम बहुत खुश हैं जो लगातार बढ़ रहे हैं। हम इसमें लगातार सुधार के लिए प्रयासरत हैं। उत्तराखण्ड में लगातार फिल्म की शूटिंग होने से यहां के सुन्दर वादियों को देखकर पर्यटक यहां की ओर आकर्षित होंगे। जिसके परिणामस्वरूप हमारे कुशल युवाओं को रोजगार भी मिलेगा।” पर्यटन सचिव दिलीप जावलकर ने कहा, “उत्तराखंड फिल्म शूटिंग के लिए पसंदीदा जगह के रूप में विकसित हो रहा है। इस क्षेत्र में सर्वश्रेष्ठ फिल्म गंतव्य के रूप में राज्य को बढ़ावा देने के लिए अधिक से अधिक प्रयास किए जाएंगे।” फिल्म के लाइन निर्माता और द बज मेकर कंपनी के मालिक गौरव गौतम ने कहा, ‘प्रसिद्ध निर्देशक विवेक अग्निहोत्री जो इस फिल्म के निर्माता भी हैं, वो अपनी शूटिंग के लिए मसूरी पहुंचे हैं। अभिनेता मिथुन चक्रवर्ती, अनुपम खेर, अतुल श्रीवास्तव और अभिनेत्री पल्लवी जोशी फिल्म में मुख्य भूमिका में नजर आयेंगे। इस फिल्म की शूटिंग 30 दिनों तक उत्तराखण्ड के विभिन्न स्थलों पर चलेगी। जिसमें मिथुन दा के साथ उत्तराखण्ड के कलाकार भी अपना हुनर दिखा रहे हैं। फिल्म की शूटिंग देहरादून में होने के बाद मसूरी में चल रही है जिसके बाद ऋषिकेश में कुछ सीन फिल्माए जाएंगे। उन्होंने कहा कि फिल्म के ज्यादातर भाग उत्तराखण्ड की वादियों में ही फिल्माया जाना है। इसमें बाॅलीवुड सितारों के साथ उत्तराखण्ड के कलाकारों को भी हुनर दिखाने का मौका मिल रहा है। इससे उत्तराखण्ड में रोजगार भी बढ़ा है। उत्तराखंड में फिल्म निर्माण के अपने अनुभव के बारे में बताते हुए गौरव गौतम ने कहा, “राज्य सरकार हमेशा से बहुत सहायक रही है। बाॅलीवुड निर्देशकों की उत्तराखंड में शूटिंग करने की जिज्ञासा दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। हमने प्रसिद्ध बॉलीवुड फिल्म निर्देशक संजय लीला भंसाली की मेजबानी की, जो अपनी आगामी फिल्म ‘इंशाल्लाह’ के लिए स्थान चुनने के लिए यहां आए थे।

राष्ट्रीय अध्यक्ष के प्रवास के दौरान व्यवस्था में लगे कार्यकर्ताओं का पटका पहनाकर किया स्वागत

देहरादून। भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा के 4 दिवसीय उत्तराखंड प्रवास के आयोजित कार्यक्रमों की व्यवस्था में लगे कार्यकर्ताओं का भाजपा मुख्यालय में आज प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत व प्रदेश महामंत्री संगठन अजेय ने उनके कार्यों की सराहना करते हुए पटका पहनाकर स्वागत किया। इस अवसर पर श्री भगत ने कहा कि सभी कार्यकर्ताओं की मेहनत से भाजपा राष्ट्रीय स्तर पर उत्तराखंड भाजपा का मान बढ़ा है। प्रदेश अध्यक्ष श्री भगत ने भाजपा मुख्यालय में राष्ट्रीय अध्यक्ष के स्वागत समारोह व्यवस्था में लगे सभी कार्यकर्ताओं की सराहना करते हुए कहा कि सभी ने बहुत जिम्मेदारी पूर्वक अपने दायित्व का निर्वहन किया है और राष्ट्रीय अध्यक्ष का प्रवास कार्यक्रम सभी कार्यकर्ताओं की मेहनत के बदौलत सफल रहा है। उत्तराखण्ड के कार्यकर्ताओं के अनुशासन व सुव्यवस्थित कार्य की भाजपा राष्ट्रीय कार्यालय में भी सराहना की गई है। इस अवसर पर प्रदेश महामंन्त्री संगठन अजेय ने कहा कि भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष के देश व्यापी 120 दिवसीय प्रवास का शुभारंभ उत्तराखंड से होना उत्तराखंड भाजपा के लिए बहुत महत्वपूर्ण था जिसको संस्कार और अनुशासन में रहकर अभूतपूर्व सफल बनाने का कार्य सभी कार्यकर्ताओं ने किया है। उन्होंने सभी कार्यकर्ताओं के कार्यों की सराहना करते हुए कहा कि भाजपा के विचार और संस्कार हमारी पहिचान है इसका परिचय हमारे कार्यकर्ताओं द्वारा राष्ट्रीय अध्यक्ष के चार दिवसीय प्रवास में दिया गया। उन्होंने बूथ व मंडल की बैठक से लेकर राष्ट्रीय अध्यक्ष के स्वागत के लिए कोविड 19 गाइड लाइन के अंतर्गत बनाई गई ऐतिहासिक मानव शृंखला की भी प्रशंसा करते हुए कहा भाजपा कार्यकर्ताओं ने अपने अनुशासन व संस्कार का परिचय दिया है। इस अवसर पर आयोजित कार्यक्रम व्यवस्था में लगाये गए सभी कार्यकर्ताओं का पटके पहनाकार स्वागत किया गया। इस मौके पर उच्च शिक्षा राज्यमंत्री डॉ धन सिंह रावत, राज्यसभा सांसद नरेश बंसल, प्रदेश उपाध्यक्ष खजान दास, अनिल गोयल, ज्योति गैरोला, नीरू देवी, आदित्य चैहान, मधु भट्ट, कार्यालय सचिव कौस्तुभा नंद जोशी, विनय गोयल, रविन्द्र कटारिया, डॉ आदित्य कुमार अजेंद्र अजय प्रदेश मीडिया प्रभारी मनवीर सिंह चैहान, सुनील सैनी, कमलेश उनियाल, संचालन प्रदेश महामंत्री कुलदीप कुमार द्वारा किया गया।

पीसीसी अध्यक्ष ने नुंग्शी और ताशी के देहरादून आगमन पर उनका स्वागत एवं सम्मान किया

देहरादून। उत्तराखण्ड प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने दुनियां के 7 महाद्वीपों की प्रमुख चोटियों पर चढ़ाई का गौरव हासिल करने वाली जुड़वां बहनों नुंग्शी मलिक और ताशी मलिक के देहरादून आगमन पर उनका स्वागत एवं सम्मान किया। प्रीतम सिंह ने कहा कि नुंग्शी मलिक और ताशी मलिक दुनिया की सबसे पहली जुड़वां बहने हैं, जिन्होंने 7 महाद्वीपों की प्रमुख चोटियों पर चढ़ाई का गौरव हासिल किया है ऐसी महान विभूतियों जिन्होंने पूरे विश्व में देश का गौरव बढ़ाया है उनका सम्मान करते हुए हम स्वयं गौरवान्वित हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि हरियाणा की बेटियों के जज्बे को हम सलाम करते हैं। उन्होंने कहा कि हरियाणा की एक और बेटी गीता फोगाट ने भी महिला कुश्ती में गोल्ड मैडिल हांसिल कर साबित कर दिया कि महिलाएं पुरूषों से किसी भी क्षेत्र में कम नहीं हैं। इस अवसर पर प्रदेश महामंत्री गोदावरी थापली, महानगर अध्यक्ष लालचन्द शर्मा, सागर लाम्बा आदि कांग्रेसजन उपस्थित थे।

राजाजी नेशनल पार्क मोतीचूर रेंज में बन रहे बाघ बाड़े का निरीक्षण किया

रायवाला। उत्तराखंड विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने आज राजाजी नेशनल पार्क मोतीचूर रेंज में बन रहे बाघ बाड़े का निरीक्षण किया। इस दौरान श्री अग्रवाल ने वन अधिकारियों से बाघ बाडे़ की प्रगति के बारे में जानकारी ली। अवगत करा दें कि राजाजी नेशनल पार्क का 550 वर्ग किमी का मोतीचूर-धौलखंड क्षेत्र वीरान सा है। वहां पिछले सात साल से सिर्फ दो बाघिनें ही हैं। दरअसल, पार्क से गुजर रहे हाइवे और रेल लाइन के कारण बाघों की आवाजाही एक से दूसरे क्षेत्र में नहीं हो पाती। यही वजह है कि गंगा के दूसरी तरफ के चीला, गौहरी और रवासन से बाघ मोतीचूर-धौलखंड क्षेत्र में नहीं आ पाते। इस सबको देखते हुए कॉर्बेट या दूसरे क्षेत्रों से मोतीचूर- धौलखंड क्षेत्र में बाघ शिफ्ट करने की योजना बनी। जिसके मद्देनजर मोतीचूर रेज में बाघ बाड़ा बनाया जा रहा है। विधानसभा अध्यक्ष के द्वारा निरीक्षण के दौरान पूछने पर रेंजर महेंद्र गिरी ने बताया कि बाघ शिफ्टिंग के मद्देनजर सभी तैयारियां पूरी हो चुकी हैं। बाघों को यहां लाकर मोतीचूर में बनाए गए बाड़े में रखा जाएगा। वहां इनके व्यवहार पर नजर रखी जाएगी और फिर इन्हें मोतीचूर-धौलखंड क्षेत्र में छोड़ा जाएगा। रेडियो कॉलर से इन पर निरंतर नजर रखी जाएगी। बताया कि बाघ बाड़े की हाथियों से सुरक्षा के दृष्टिगत इसके चारों तरफ सोलर पावर फेंसिंग भी की जा रही है।रेंजर ने बताया कि बाड़े में पाँच बाघों को लाने की योजना बनायी गई है जिन्हें चरणबद्ध तरीके से बाड़े में लाया जाएगा। इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष ने जंगल सफारी का लुप्त भी उठाया।वहीं विधानसभा अध्यक्ष ने वन अधिकारियों से राजाजी नेशनल पार्क में आने वाले सैलानियों एवं पर्यटक की संख्या के बारे में जानकारी ली। इस अवसर पर मोतीचूर रेंज के रेंजर महेंद्र गिरी, वन दरोगा देवी प्रसाद, वन दरोगा उदय सिंह, वन दरोगा नरेंद्र सिंह, वन आरक्षी नवीन ध्यानी सहित अन्य लोग उपस्थित थे।

गंगा का दुग्धाभिषेक कर सीएम के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ एवं दीर्घायु की कामना की

ऋषिकेश। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के जन्म दिवस पर ऋषिकेश विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत वीर भद्र मंडल में वीरभद्र मंदिर के निकट विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल सहित कार्यकर्ताओं द्वारा गंगा का दुग्ध अभिषेक कर मुख्यमंत्री के शीघ्र स्वास्थ्य एवं दीर्घायु की कामना की गई। इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष ने कहा कि गंगा माँ मुख्यमंत्री जी को कोरोना संक्रमण से जल्द बाहर निकाल कर नई उर्जा प्रदान करें जिससे वह प्रदेश के विकास कार्य में जुट जाएं। श्री अग्रवाल ने मुख्यमंत्री को जन्मदिन की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि उनके मार्गदर्शन में उत्तराखंड विकास के पथ पर अग्रसर होकर नये आयाम स्थापित कर रहा है। आम जनता, गरीब, पिछड़े और दलित समाज के सर्वांगीण विकास एवं पहाड़ के अंतिम छोर पर खड़े व्यक्ति तक विकास की किरण पहुंचाने के लिए मुख्यमंत्री का कार्य सराहनीय हैं। इस अवसर पर प्रदेश उपाध्यक्ष भाजपा कुसुम कंडवाल, जिला महामंत्री सुदेश कंडवाल, मण्डल अध्यक्ष अरविन्द चैधरी, मण्डल महामंत्री सुंदरी कंडवाल, रविंदर प्रधान,रविंदर कश्यप सहित अन्य कार्यकर्ता लोग मौजूद थे।

संत निरंकारी चैरिटेबल फाउंडेशन के रक्तदान शिविर में 58 लोगों ने किया रक्तदान

देहरादून। सतगुरु माता सुदीक्षा महाराज की कृपा से संत निरंकारी चैरिटेबल फाउंडेशन ने स्वैच्छिक रक्तदान शिविर का आयोजन निरंकारी सत्संग भवन रेस्ट कैंप देहरादून में किया। जिसका उदघाटन स्थानीय ज्ञान प्रचारक ज्ञानेश्वर ने किया। रक्तदान महादान मानवता के लिए की गई सेवा सदा सुखदाई होती है। परोपकार के लिए की गई सेवा सदा महान होती है। निरंकारी मिशन की ओर से रक्तदान शिविर पिछले 35 सालों से 1986 में बाबा हरदेव सिंह जी महाराज ने स्वयं रक्तदान करके किया था। यह सिलसिला लगातार चला आ रहा है आज सतगुरु माता सुदीक्षा जी महाराज के मार्गदर्शन में हो रहा है। दून हॉस्पिटल की ओर से ब्लड बैंक देहरादून के द्वारा रक्तदान शिविर में सहयोग करके 58 यूनिट रक्त एकत्रित की गई। इस अवसर पर संत निरंकारी चैरिटेबल फाउंडेशन के द्वारा आयोजित रक्तदान शिविर का निस्वार्थ सेवा भाव का प्रमाण है भक्त चाहते हैं, कि उनका रक्त मानवता की सेवा में लग सके बाबा हरदेव सिंह जी ने अपने विचारों में कहा था कि रक्त नालियों में नहीं नाडियों में बहना चाहिए जो कि मानवता को स्वयं के लिए बहुत ही सुंदर उदाहरण है विश्व में निरंकारी मिशन रक्तदान करने वाली एक अग्रणी संस्था है। इस रक्तदान को सफल बनाने में मसूरी जोन के जोनल इंचार्ज हरभजन सिंह के दिशा निर्देश में यहां पर आयोजित किया गया सेवादल के संचालक एवं कमेटी मेंबर मनजीत सिंह जी एवं कमेटी मेंबर अकाउंटेंट नरेश विरमानी ने सफल मार्गदर्शन किया। निरंकारी मिशन के के वॉलिंटियर ने रक्तदान शिविर को सफल बनाने में भरपूर योगदान दिया।

विपक्ष ने स्पीकर को दिया सदन के सुचारू रूप से संचालन में सहयोग का आश्वासन

-विधानसभा के शीतकालीन सत्र को लेकर कार्यमंत्रणा समिति की बैठक आयोजित देहरादून। 21 दिसंबर से आहुत होने वाले शीतकालीन सत्र को लेकर विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल की अध्यक्षता में विधानसभा भवन देहरादून में विधानमंडल दल के नेताओं एवं कार्य मंत्रणा समिति की बैठक आहूत की गई। दलीय नेताओं की बैठक के दौरान विपक्ष ने सदन को सुचारू रूप से सहयोग करने का आश्वासन दिया। इस मौके पर सदन के कार्य संचालन के संबंध में चर्चा की गई। इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष ने कोरोना प्रभाव के चलते पक्ष एवं विपक्ष से सदन को चलाने में सहयोग प्रदान करने की अपेक्षा की। वहीं कार्य मंत्रणा समिति की बैठक के दौरान 21 एवं 22 दिसंबर को सत्र के दौरान सदन कार्यवाही के संबंध में चर्चा की गयी। विधानसभा अध्यक्ष ने अवगत किया कि 21 दिसंबर को दिवंगत हुए विधायकों को श्रद्धांजलि अर्पित की जाएगी जिसमें सल्ट विधानसभा से बीजेपी के वर्तमान विधायक सुरेंद्र सिंह जीना, उत्तराखंड विधानसभा के पूर्व उपाध्यक्ष एवं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता डॉ अनुसूया प्रसाद मैखुरी, कांग्रेस से पौड़ी के पूर्व विधायक सुंदरलाल मंद्रवाल एवं अविभाजित उत्तर प्रदेश में पिथौरागढ़ विधानसभा सीट से दो बार बीजेपी के विधायक रहे कृष्ण चंद्र पुनेठा, पूर्व विधायक तेजपाल सिंह पंवार को सदन में श्रद्धांजलि अर्पित की जाएगी। वहीं 21 को अनुदान वार अनुपूरक मांगों का प्रस्तुतीकरण भी सदन के पटल पर होगा। विधानसभा अध्यक्ष ने बताया कि 22 दिसंबर को अनुदान वार अनुपूरक मांगों पर चर्चा होगी साथ ही प्रश्नकाल चलेगा एवं पटल पर विधेयको को रखा जाएगा। श्री अग्रवाल ने बताया कि आगे के दिवसों के कार्य संचालन के लिए 22 तारीख को पुनः कार्य मंत्रणा की बैठक आयोजित की जाएगी। इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष ने बताया कि सदन के पटल पर उत्तराखंड लोक सेवा (आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के लिए आरक्षण)( संशोधन )विधेयक 2020, उत्तराखंड (उत्तर प्रदेश भू राजस्व अधिनियम 1901)( संशोधन) विधेयक 2020, उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (संशोधन) विधेयक 2020, उत्तराखंड शहीद आश्रित अनुग्रह अनुदान विधेयक 2020, उत्तराखंड विनियोग (2020-21)अनुपूरक विधेयक 2020 को रखा जाएगा। वहीं विधानसभा अध्यक्ष ने जानकारी दी है कि विधायकों द्वारा 484 प्रश्न विधानसभा को प्राप्त हो चुके हैं। दलीय नेताओं एवं कार्यमंत्रणा की बैठक के दौरान संसदीय कार्यमंत्री मदन कौशिक, विधानसभा उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह चैहान, नेता प्रतिपक्ष इंदिरा हृदयेश, विधायक प्रीतम सिंह, विधायक खजान दास, विधानसभा के प्रभारी सचिव मुकेश सिंघल, विधायी के सचिव प्रेम सिंह खीमपाल, अनुसचिव नरेंद्र रावत सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

टिहरीनगर चाणक्यपुरी में सीएम के जन्मदिवस पर राष्ट्रभृत यज्ञ आयोजित

देहरादून। धर्मपुर विधानसभा क्षेत्र अंतर्गत टिहरीनगर चाणक्य पुरी में सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत के जन्मदिवस पर भाजपा के वरिष्ठ नेता वीर सिंह पंवार के द्वारा राष्ट्रभृत यज्ञ का आयोजन किया गया। जिसमें सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने भाग लिया। यहां महापौर सुनील उनियाल गामा भी मौजूद रहे। महापौर नेघ् मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के उत्तम स्वास्थ्य एवं दीर्घायु की कामना की। इस अवसर पर राज्यमंत्री खेम सिंह पाल, राज्य मंत्री चैधरी अजीत सिंह, राज्य मंत्री जगबीर सिंह भंडारी, महानगर सह मीडिया प्रभारी गिरिराज उनियाल, पार्षद दर्शन लाल बिंजोला, पार्षद नीलम उनियाल, पहाड़ी प्रजामंडल के महासचिव अनुराग पंत, किसान मोर्चा के अध्यक्ष राजेंद्र सिंह चैहान, जगदंबा नौटियाल, विनोद रावत, गणेश उनियाल, गुड्डी थपलियाल, उर्मिला पंत आदि मौजूद रहे। सीएम के जन्मदिन पर अन्य मंडलों में भी विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए गयेघ्। भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा की ओर से रक्तदान शिविर, युवा मोर्चा द्वारा खेल सामग्री वितरण औरघ् महिला मोर्चा द्वारा फल वितरण का कार्यक्रम किया गया।

महाराज ने हैण्डपैन म्यूजिक फैस्टिवल की वेबसाइट का किया शुभारंभ

देहरादून। प्रदेश के प्रदेश के पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री सतपाल महाराज ने आज संगीत की नई विधा के प्रशिक्षण के लिए बनी हैण्डपैन ऐकेडमी द्वारा 17-18 जनवरी को ऋषिकेश में होने वाले म्यूजिक फैस्टिवलष्की वेबसाइट का शुभारंभ किया। श्रीनगर गढ़वाल में जन्मे हैण्डपैन ऐकेडेमी के संचालक उत्तराखंड मूल के सुमित कुटानी जो कि बाबा कुटानी के नाम से जाने जाते हैं, एक नवीन तकनीक वाद्य यंत्र हैण्डपैन जिसका आविष्कार न्यूजीलैण्ड हुआ है के ज्ञाता होने के साथ-साथ ऋषिकेश स्थित लक्ष्मण झूला में हैण्डपैन ऐकेडेमी के संचालक भी हैं। सुमित कुटानी देश-विदेश में अपनी हैण्डपैन संगीत कला का प्रदर्शन करने के अलावा 17-18 जनवरी 2021 में एक म्यूजिक फैस्टिवल का आयोजन करने जा रहे हैं।सतपाल महाराज ने उत्तराखंड मूल के सुमित कुटानी को उनके इस हुनर के लिए उन्हें शुभकामनाएं देते हुए हर सम्भव मदद का आश्वासन भी दिया है।

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कोरोना के दृष्टिगत की एहतियात बरतने की अपील

-अपने जन्मदिवस के अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में किया वर्चुअली प्रतिभाग देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत जी के जन्म दिवस पर देहरादून के बालावाला में आयोजित कार्यकम में वीडियो कांफ्रेसिंग के जरिए मुख्यमंत्री ने कोविड से बचाव के नियमों का अनुपालन करने की अपील की। उन्होंने कहा कि मेरा स्वास्थ्य पूरी तरह से ठीक है। आप भी अपना ध्यान रखें। बता दें कि गत दिवस मुख्यमंत्री त्रिवेद्र सिंह रावत जी कोरोना पाजिटिव आ गए थे, और अब होम आइसोलेशन में हैं। आवास से ही उन्होंने अपने शुभचिंतकों को संबोधित किया। अपने वर्चुअल संबोधन में मुख्यमंत्री ने कहा कि चुनाव में हमने जो वादे किए थे हम उन पर खरे उतरे हैं। प्रदेश में भ्रष्टाचार मिटाने का जो हमने संकल्प लिया था उस पर पूरी ताकत के साथ काम किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि महिला सशक्तिकरण की दिशा में राज्य सरकार ने उल्लेखनीय प्रयास किए हैं। प्रदेश में महिलाओं की आर्थिकी मजबूत करने के लिए उन्हें स्वरोजगार की दिशा में अवसर उपलब्ध कराए जा रहे हैं। प्रदेश में कई ग्रोथ सेंटरों में महिलाएं बहुत अच्छा काम कर रही हैं। ग्रोथ सेंटर में बेहतर कार्य करने वाली लोहाघाट की महिलाओं का सीएम ने उदाहरण दिया तो पहाड़ी रसोई के जरिए पचास लोगों को रोजगार देने वाली पूजा तोमर की भी बात कही। वहीं प्रदेश की उर्गम घाटी में संचालित महिला समूह का भी मुख्यमंत्री ने जिक्र किया। कहा कि लीसा और प्लास्टिक के बेहतर उपयोग पर भी काम हो रहा है। सरकार का लक्ष्य शहर से लेकर दूरस्थ गांवों का भी विकास करना है। मुख्यमंत्री ने कहा कि मां बहनों का आर्थिक रूप से स्वावलंबी बनाना जरूरी है। सरकार ने स्वामित्व योजना के जरिए महिलाओें को पति की सम्पत्ति में सहभागी बनाया है। कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रसोई गैस कनेक्शन देकर महिलाओं के सिर से लकड़ी की गठरी हटा दी है। हमने प्रदेश में महिलाओं की सिर से घास की गठरी हटाने की दिशा में प्रयास शुरू कर दिए हैं। स्वरोजगार अपनाकर महिलाएं आत्मनिर्भर होंगी। तो घास इकट्ठा करने के सभी जोखिम खत्म हो जायेगे। कहा कि राज्य में 40 फीसद बजट स्वरोजगार के क्षेत्र में खर्च किया जा रहा है। कोरोना से बचाव का संदेश देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड-19 से बचाव के नियमों का पालन अनिवार्य रूप से करें। अगर किसी को लक्षण महसूस होते हैं तो डाक्टर का परामर्श लें। और नियमों का पालन करें। तभी जाकर हम कोरोना को हरा पायेंगे।

Featured Post

कोरोना काल के पश्चात राफ्टिंग का प्रारंभ होना बेहद सुखदः महाराज

ऋषिकेश। पर्यटन व्यवसाय से जुड़े 15 हजार लोगों को पर्यटन विभाग की ओर से अब तक 7 करोड़ की धनराशि वितरित की जा चुकी है। उक्त बात गंगा नदी राफ...