Thursday, 30 September 2021

जिलाधिकारी ने किया स्मार्ट सिटी के कार्यों का निरीक्षण

देहरादून। देहरादून के डीएम व स्मार्ट सिटी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ आर0 राजेश कुमार द्वारा देहरादून स्मार्ट सिटी के सिटी परियोजना के तहत ई0सी0 रोड, राजपुर रोड़, गांधी रोड़, तिलक रोड़ एवं जी0आई0सी0 खुडबुडा, बालिका जुनियर हाईस्कूल, खुडबुडा स्कूल का स्थलीय निरीक्षण किया गया। मुख्य कार्यकारी अधिकारी द्वारा यह निरीक्षण स्मार्ट सिटी लि0 के अन्तर्गत चाइल्ड फ्रेन्डली सिटी परियोजना के तहत किया गया एवं मौके पर अधिकारियों को निर्देशित भी किया गया। गांधी रोड पर दर्शन लाल चौक से प्रिंस चौक तक सभी इलेक्ट्रिक पोलों को एक सीध में शिफ्ट किया जाए जिससे कार्याे का निष्पादन करना आसान होगा तथा जनता को असुविधा नहीं होगी। शहर में पेडों की लोपिंग का कार्य वन विभाग के साथ समन्वय बनाकर शीघ्रातिशीघ्र करना सुनिश्चित किया जाए। चाइल्ड फेन्डली परियोजना की डी पी आर पर शासन स्तर से शीघ्र प्राप्त कर टाइम लाइन अनुसार कार्य किया जाये एवं परियोजना में जहाँ भी आवश्यक हो वहां आस पास के स्कूलों के साथ समन्वय स्थापित किया जाये। परियोजना के क्रियान्वयन को शीघ्र करने हेतु सभी संबधित विभागों एवं स्टेकहोल्डरों के साथ मिलकर कार्य किया जाये। पार्किंग में बाधक दीनदयाल पार्क के सामने लगे हुए सूचना बोर्ड को सड़क के एक्सट्रीम एज में शिफ्ट किये जाने के निर्देश दिए गए। परियोजना के क्रियान्वयन के दौरान सड़क में नियमनुसार वेंडिंग जोन भी स्थापित किया जाये। जिलाधिकारी ने यातायात में बाधक साइन बोर्ड एवं विद्युत पोल को संबंधित विभागों के साथ सामान्य कर स्थानांतरित करने के निर्देश दए। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि जो लोग फुटपाथ एवं रोड़ किनारे के लिए रेहड़ी लगाकर अपना रोजगार चला रहे हैं, ऐसे लोगों के लिए माननीय दृष्टिकोण अपनाते हुए नगर निगम से वार्ता कर अपने रोजगार के लिए व्यवस्था कराने के प्रयास किए जाए। उन्होंने कहा कि स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के अतिरिक्त सिटी प्रोजेक्ट भी संचालित किया जा रहा है जिसके फलस्वरूप स्मार्ट सिटी के पूर्व प्रस्तावित कार्यों से हट कर है शहर में 6 साइटों यथा ईसी रोड़, चकराता रोड़, तिलक रोड़, गांधी रोड़, हरिद्वार रोड़, पर कार्य प्रारंभ किया जा रहा है, जिसमें 14.6 किमी के स्टेज पर कार्य किया जाना है, इसके अंतर्गत चाइल्ड फ्रेडली सीनियर सिटीजन फ्रेंडली योजना बनाकर कार्य किया जाना है, इसकी डीपीआर तैयार है लगभग 58 करोड़ का प्रोजेक्ट है। मुख्य कार्यकारी अधिकारी द्वारा परियोजना के अंतर्गत विकसित स्मार्ट स्कूल के निरीक्षण में परियोजना में विकसित की गयी स्मार्ट क्लासेस का कार्य संतोष जनक पाया गया। सिटीज परियोजना (चाइल्ड फेन्डली सीटी)- देहरादून स्मार्ट सिटी लिमिटेड के अंतर्गत चाइल्ड फेन्डली सिटी परियोजना (सीटीस) का उद्देश्य शहर की योजना, रचना एवमं कार्यान्वन में बच्चों को प्राथमिकता देना है, जिससे शहर में बच्चों का आवागमन स्कूल से घर एवं दूसरे स्थानो हेतु आसान व सुरक्षित बनाया जा सके इस परियोजना को भारत सरकार के आवास और शहरी कार्य मंत्रालय तथा फ्रांसीसी विकास एजेंसी, यूरोपीयन यूनियन, तथा राष्ट्रीय नगर कार्य संस्थान द्वारा समर्थन प्राप्त है। इस कार्य हेतु देहरादून स्मार्ट सिटी लिमिटेड के ए०बी०डी० क्षेत्र में सड़क, फुटपाथ एवं स्कूल को बच्चों के अनुकूल डिजाइन किया जायेगा। इस परियोजना में अभी तक ए०बी०डी० क्षेत्र के अंतर्गत लगभग 34 स्कूलों के विद्यार्थियों (लगभग 22000), अभिभावकों, शिक्षकों, दुकानदारों एवं पैदल यात्रीयों के साथ मिलकर सर्वे करवाया गया जिसमे बच्चों के आवागमन सम्बंधित चुनौतियों का अध्ययन किया गया। देहरादून स्मार्ट सिटी लिमिटेड के अंतर्गत चाइल्ड फेन्डली सिटी परियोजना (सीटीस) के अन्तर्गत देहरादून शहर में स्मार्ट रोड के अतिरिक्त 6 कि0मी0 का स्ट्रेच को भी कवर किया जाएगा। चाइल्ड फेन्डली सिटी परियोजना (सीटीस) की डी0पी0आर0 तौयार कर ली गयी है तथा शीघ्र ही परियोजना धरातल पर आरम्भ कर दी जाएगी जिसकी पूर्ण होने की समय सीमा लगभग 18 माह है। इस दौरान देहरादून स्मार्ट सिटी लि0 के अपर मुख्य कार्यकारी अधिकारी के0के0 मिश्रा, वित्त नियंत्रक अभिषेक कुमार आनन्द, उत्तराखण्ड जल संस्थान, विद्युत विभाग, देहरादून स्मार्ट सिटी लि0 के अन्य अधिकारी एवं कार्यदायी संस्था ब्रिज एण्ड रूफ के प्रतिनिधी उपस्थित रहे।

एयरटेल ने ग्राहकों के लिए मेड-इन-इंडिया डीटीएच सेट टॉप बॉक्स किया लांच

देहरादून। भारती एयरटेल (एयरटेल) की डीटीएच शाखा, एयरटेल डिजिटल टीवी की ओर से ग्राहकों के लिए मेड-इन-इंडिया हाई डेफिनिशन सेट टॉप बॉक्स पेश किया गया है। सेट टॉप बॉक्स का निर्माण स्काईवर्थ इलेक्ट्रॉनिक्स द्वारा उत्तर प्रदेश के नोएडा में किया जा रहा है। एयरटेल ने 2021 के अंत तक हाई-एंड एयरटेल एक्सस्ट्रीम 4के एंड्रॉइड टीवी बॉक्स सहित मेड-इन-इंडिया सेट टॉप बॉक्स में पूरी तरह से परिवर्तन करने की योजना बनाई है। स्थानीय निर्माण को लेकर एयरटेल ने भारत सरकार के आत्मानिर्भर अभियान में भी भागीदारी दी है। भारती एयरटेल डीटीएच के सीईओ सुनील तलदार ने कहा कि “यह एयरटेल डिजिटल टीवी की विकास यात्रा में एक प्रमुख मील का पत्थर है। ये भारत की तेजी से बढ़ती विनिर्माण क्षमताओं का संकेत है। कोविड-19 की वजह से आपूर्ति श्रृंखला में पैदा हुई बाधाओं ने हमारी आपूर्ति श्रृंखला को आत्मनिर्भर बनाने के प्रयासों को और तेज कर दिया है। हम भारत के हर कोने में डिजिटल मनोरंजन ले जाने के लिए हमारे भागीदारों द्वारा प्रदान की गई उत्पाद गुणवत्ता से बहुत खुश हैं। जून 2021 के अंत में एयरटेल डिजिटल टीवी के 18 मिलियन ग्राहक थे। यह डॉल्बी सराउंड साउंड के साथ मानक और उच्च परिभाषा (एचडी) टीवी सेवाएं प्रदान करता है, जिसमें 86 एचडी चौनल, 60 एयरटेल इन-हाउस सेवाएं, 6 अंतर्राष्ट्रीय चौनल और 4 इंटरैक्टिव सेवाएं एडुटेक सहित 667 चौनल में शामिल हैं।

डीआईटी विश्वविद्यालय में सभी खेल आयोजनों के लिए आधिकारिक लोगो का अनावरण

देहरादून। डीआईटी यूनिवर्सिटी देहरादून ने ईएसआई स्पोर्ट्स के साथ साझेदारी में डीआईटी गुलदार्स का लोगो गुरुवार, 30 सितंबर को विश्वविद्यालय परिसर में लॉन्च किया। डीआईटी गुलदार्स अब विश्वविद्यालय की खेल टीम का प्रतिनिधित्व करने के लिए आधिकारिक बैनर होगा। डीआईटी विश्वविद्यालय का हमेशा मानना रहा है कि खेल और फिटनेस छात्रों के जीवन के महत्वपूर्ण घटक हैं। डीआईटी विश्वविद्यालय परिसर उत्कृष्ट खेल सुविधाओं की एक विस्तृत विविधता प्रदान करता है जो छात्रों को यहां रहने के दौरान फिट रहने में मदद करता है। विश्वविद्यालय का स्पोर्टिंग इवेंट स्फूर्ति छात्रों के बीच लोकप्रिय है और जुनून और मजबूत टीम भावना का प्रतीक है। डीआईटी संस्थान में गुलदार्स का अनावरण, इमेजिन, एस्पायर और एचीव के हमारे मूल मूल्यों का पूरक है। डीआईटी यूनिवर्सिटी और ईएसाआई ने इससे पहले 10 सितंबर को डॉ जबरिंदर सिंह, अध्यक्ष, स्पोर्ट्स काउंसिल, डीआईटी यूनिवर्सिटी की उपस्थिति में एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए थे। ईएसआई स्पोर्ट्स के साथ डीआईटी यूनिवर्सिटी की साझेदारी का उद्देश्य यूनिवर्सिटी में स्पोर्ट्स और एथलेटिक्स को बढ़ावा देने के लिए एक मजबूत और परिणाम आधारित उद्यम है। ईएसआई स्पोर्ट्स, डीआईटी विश्वविद्यालय में खेल प्रतिभाओं को सलाह और प्रशिक्षण देने और उन्हें क्षेत्रीय और राष्ट्रीय प्रतियोगिताओं में आगे बढ़ाने के लिए प्रतिबद्ध है। ईएसआई स्पोर्ट्स लाइव स्ट्रीमिंग और टेलीकास्टिंग के माध्यम से राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर खेल आयोजनों में विश्वविद्यालय के छात्रों को बढ़ावा देने के लिए मंच प्रदान करेगा और उन्हें इसके लिए तैयार करेगा। ईएसआई विश्वविद्यालय की टीम को तकनीकी जानकारी और प्रायोजन भी प्रदान करेगा। आगे होने वाली गतिविधियों के अंतर्गत खिलाड़ी जोनल और नेशनल स्तर के बाद दक्षिण एशियाई विश्वविद्यालय टीमों के लिए बड़े आयोजनों में भाग ले सकते हैं। ईएसआई स्पोर्ट्स खिलाड़ियों और विश्वविद्यालय के लिए रैंकिंग प्रणाली को बढ़ावा देगा ताकि पूरे भारत में शैक्षणिक संस्थानों में सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों की पहचान करने में मदद मिल सके। डीआईटी गुलदार्स के साथ विश्वविद्यालय के स्पोर्टिंग डिवीजन को भविष्य के खेल आयोजनों पर गहरी नजर रखने के साथ एक विस्तृत कायाकल्प तैयार करने में मदद मिलेगी।

वीर चन्द्र सिंह गढ़वाली को सीएम ने पुण्यतिथि पर याद किया

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने वीर चन्द्र सिंह गढ़वाली की पुण्यतिथि पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की है। वीर चन्द्र सिंह गढ़वाली की पुण्य तिथि की पूर्व संध्या पर जारी अपने संदेश में मुख्यमंत्री ने कहा कि देश की आजादी में उनका अविस्मरणीय योगदान रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि वीर चन्द्र सिंह गढ़वाली ने निहत्थे स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों पर गोली चलाने से इन्कार कर एक नई क्रान्ति का सूत्रपात किया था। वे साहस की प्रतिमूर्ति थे, तथा अपने मजबूत इरादों की वजह से किसी के आगे नहीं झुके। मुख्यमंत्री ने कहा कि वीर नायक वीर चंद्र सिंह गढ़वाली के क्रान्तिकारी व्यक्तित्व तथा देश को पराधीनता से मुक्त कराने में उनके योगदान को सदैव याद किया जायेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि वीर चन्द्र सिंह गढ़वाली के सपने के अनुरूप उत्तराखण्ड के समग्र विकास की दिशा में राज्य सरकार निरन्तर प्रयासरत है।

गांधी जयंती पर राजकीय भवनों पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया जाएगा

देहरादून। अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व कृष्ण कुमार मिश्रा ने अवगत कराया है कि 02 अक्टूबर को गांधी जयंती पर सभी राजकीय भवनों पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया जाएगा तथा प्रातः 8 बजे महात्मा गांधी जी के चित्र का अनावरण व माल्यार्पण करते हुए गांधी/शास्त्री जी के जीवन संघर्ष, उनकी देश सेवा एवं उनके जीवन मूल्यों पर प्रकाश डाला जाएगा।

स्वच्छता की अलख जगा रहा पर्यटन विभाग का स्वच्छता अभियान

देहरादून। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने अपने आसपास के लोगों को स्वच्छता बनाए रखने संबंधी शिक्षा प्रदान कर राष्ट्र को एक उत्कृष्ट संदेश दिया था। उन्होंने “स्वच्छ भारत” का सपना देखा था जिसके लिए वह चाहते थे कि भारत के सभी नागरिक एक साथ मिलकर देश को स्वच्छ बनाने के लिए कार्य करें। महात्मा गांधी के स्वच्छ भारत के स्वप्न को पूरा करने के लिए, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 2 अक्टूबर 2014 को स्वच्छ भारत अभियान शुरू किया और इसके सफल कार्यान्वयन हेतु भारत के सभी नागरिकों से इस अभियान से जुड़ने की अपील की। सतपाल महाराज पर्यटन मंत्री ने बताया कि स्वस्थ जीवन के लिए हमें स्वच्छता को संस्कार बनाना होगा। इसे अपने मनोभाव से जोड़ना होगा। यह मनोभाव अपने घर के साथ ही वार्ड, शहर और प्रदेश तक की स्वच्छता के प्रति होना चाहिए। यदि हम स्वच्छता के प्रति जागरूक रहेंगे तो बीमारियां दूर रहेंगी और बीमारियों पर होने वाला खर्च भी बचेगा। जिस तरह कोरोना काल में पर्यावरण मित्रों ने बेहतर काम किया, उसी प्रकार स्थानीय व वार्ड स्तर पर स्वच्छता समितियां बनाकर हर नागरिक को स्वच्छता अभियान से जुड़ना चाहिए। दिलीप जावलकर सचिव पर्यटन ने बताया कि पर्यटन उत्तराखंड के आर्थिक विकास का महत्वपूर्ण अंग है। पर्यटन प्रदेश भर के लाखों लोगों का रोजगार और अजीविका का साधन हैं। राज्य सरकार पर्यटन विकास के लिए प्रतिबद्ध है। इसके तहत हम प्रदेश में नए पर्यटन स्थलों को विकसित कर रहे हैं। यूटीडीबी की ओर से प्रदेश भर में चलाए जा रहे स्वच्छता पखवाड़े में पर्यटन स्थलों को भी चमकाने का काम किया जा रहा है। पूनम चंद अपर निदेशक उत्तराखण्ड पर्यटन ने बताया कि स्वच्छता पखवाड़े का उद्देश्य देश-विदेश से आने वाले पर्यटकों को उत्तराखंड में स्वच्छ और सुंदर वातावरण उपलब्ध कराना था। विभाग ने स्वयंसेवकों के साथ मिलकर स्वच्छता अभियान चलाया गया था। स्वच्छ भारत के सपने को पूरा करने के लिए हम सबको आगे आना होगा। इसके लिए बीते 15 दिनों से उत्तराखंड पर्यटन विभाग की ओर से प्रदेश भर में स्वच्छता पखवाड़ा चलाकर स्वच्छता की अलख जगाई गई। प्रदेश भर में चलाए गए स्वच्छता पखवाड़े का आज यानी 30 सितंबर को समापन हो गया। स्वच्छता पखवाड़ा के अंतर्गत 17 सितंबर से प्रदेश के सभी जनपदों में स्वच्छता पखवाड़ा चलाया गया जिसमें देहरादून के राजपुर से झड़ीपानी (मूसरी) ट्रेक, गुच्चूपानी, जॉर्ज एवरेस्ट, अल्मोड़ा के करबला से देयोली डाना मंदिर, बागेश्वर में कौसानी के आसपास, चमोली के अनुसुइया ट्रेक, चंपावत में सिलिंग्टन चाय बागान, रूद्रप्रयाग में देवरियाताल ट्रैक, मेहखाना देवी, टिहरी के जिलाधिकारी द्वारा 25 सदस्यीय ट्रेकिंग दल को बौराड़ी के गणेश चौराह से घूत्तू-गंगी-खतलिंग में सात दिन तक विशेष स्वच्छता अभियान के लिए रवाना किया। वहीं उत्तरकाशी में नतीन से दयारा बुग्याल, पौड़ी के मुख्य शहर, नैनीताल में तितली, तयार, क्यारी, रामनगर, ऊधमसिंह नगर में बौर्जलासाय, पिथौरागढ़ में नयाबाजार, निकट केमो स्टेशन और हरिद्वार में चंडीपुल, मनसा देवी में यह अभियान चलाया गया। विभाग की ओर से 30 सितंबर तक चलने वाले स्वच्छता पखवाड़े में स्वच्छता और ठोस अपशिष्ट निपटान से संबंधित सर्वाेत्तम तकनीकों के बारे में राज्य भर में होमस्टे मालिकों, होटल व्यवसायियों और स्थानी समुदायों को जागरूक किया गया।

समाज एवं राष्ट्र की उन्नति में उद्योगों की महत्वपूर्ण भूमिका होतीः सीएम

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गुरुवार को मुख्यमंत्री आवास से पीएचडी चौम्बर ऑफ कॉमर्स द्वारा आयोजित कार्यक्रम में वर्चुअल प्रतिभाग किया। मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि किसी समाज एवं राष्ट्र की उन्नति में उद्योगों की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड में उद्योगों से जुड़े लोगों की समस्याओं का सरलीकरण कर समाधान किया जा रहा है। उत्तराखंड में जितने भी उद्योग स्थापित हुए हैं, उनकी समस्याओं को दूर कर उनके विकास के लिए हर संभव प्रयास किये जायेंगे। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल बिहारी वाजपेयी द्वारा राज्य को दिये गये औद्योगिक पैकेज से प्रदेश में बड़ी संख्या में उद्योगों की स्थापना हुई है। भविष्य में राज्य में और अधिक उद्योग स्थापित हों इसके लिये हमारे उद्यमी ही हमारे ब्राण्ड एम्बेसडर हैं। राज्य में इन्वेस्टर समिट के आयोजन के बाद उद्योगपतियों का रूझान उत्तराखण्ड के प्रति तेजी से बढ़ा है। राज्य का वातावरण पूर्णतः उद्योगों के अनुकूल है। मुख्यमंत्री ने कहा कि सम्पूर्ण देश में भी यह संदेश जाना चाहिए कि उत्तराखंड उद्योगों के लिए एक श्रेष्ठ डेस्टिनेशन है। उन्होंने कहा कि सरकार और उद्योगपतियों के बीच लगातार संवाद किये जा रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का उत्तराखण्ड से विशेष लगाव है। राज्य में कनेक्टिविटी बढ़ाने के लिए केन्द्र सरकार से राज्य को पूरा सहयोग मिल रहा है। सड़क, रेल एवं हवाई कनेक्टिविटी राज्य में तेजी से बढ़ रही है। आने वाला समय उत्तराखण्ड में उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए बहुत अच्छा होगा। इस अवसर पर वर्चुअल माध्यम से पीएचडी चौम्बर ऑफ कॉमर्स के अध्यक्ष संजय अग्रवाल, सीएमडी आईटीसी लि. संजीव पुरी, उद्योग जगत से जुड़े आलोक किलोस्कर, मनीष भटनागर, प्रदीप मुल्तानी मौजूद थे।

इलाज के दौरान 3 साल के बच्चे की मौत, डॉक्टरों पर लापरवाही का आरोप

हल्द्वानी। सुशीला तिवारी अस्पताल में इलाज के दौरान लापरवाही की वजह से एक और बच्चे की मौत का मामला सामने आया है। पूरे मामले में परिजनों ने डॉक्टरों पर इलाज के दौरान लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है। किच्छा निवासी बच्चे के परिजनों का कहना है कि बच्चा चलकर अस्पताल तक पहुंचा था, लेकिन डॉक्टरों की लापरवाही के चलते बच्चे की मौत हुई है। पूरे मामले में परिजनों ने अस्पताल के प्राचार्य को पत्र देकर जांच की मांग की है। उधमसिंह नगर के किच्छा नई बस्ती निवासी मुकेश ने बताया कि उनके तीन साल के बेटे कपिल को पेशाब नहीं आ रही थी और दर्द की शिकायत थी। इलाज के लिए वह 24 सितंबर की शाम एसटीएच में इमरजेंसी में दिखाने के बाद 25 सितंबर को उन्होंने बच्चा वार्ड में कपिल को दिखाया। डाक्टरों ने भर्ती कराने की सलाह दी. 26 सितंबर को उन्होंने बच्चे को अस्पताल में भर्ती कराया, लेकिन इलाज के दौरान 30 सितंबर गुरुवार को उसकी मौत हो गई है। परिजनों का आरोप है कि बुधवार रात उसको तकलीफ बढ़ी तो बड़े डॉक्टर को बुलाने की गुहार लगाई लेकिन कोई बड़े डॉक्टर या बाल रोग डॉक्टर नहीं पहुंचा और ना ही किसी ने देखने तक की जहमत उठाई। इसके चलते बच्चे की आज मौत हुई है। परिजनों का आरोप है कि बच्चे के इलाज में लापरवाही बरती गई है। पूरे मामले में सुशीला तिवारी अस्पताल के प्राचार्य अरुण जोशी का कहना है कि बच्चे की हालत गंभीर थी। फिर भी पूरे मामले की जांच कराई जा रही है। अगर लापरवाही बरती गई होगी तो डॉक्टर के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

बुजुर्ग की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत, बेटी ने लगाया हत्या का आरोप

हल्द्वानी। मुखानी थाना क्षेत्र के ऊंचा पुल के रहने वाले एक 65 वर्षीय बुजुर्ग की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। मृतक की बेटी ने प्रॉपर्टी विवाद में हत्या का आरोप लगाते हुए पुलिस से कार्रवाई की मांग की है। बताया जा रहा है कि ऊंचापुल निवासी 65 वर्षीय हंसा दत्त जोशी के बीती देर रात मुंह और नाक से खून निकल रहा था। जिसके बाद उनको प्रॉपर्टी विवाद वाले व्यक्ति अस्पताल ले गए, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। पूरे मामले में हंसा दत्त जोशी की बेटी सौम्या जोशी ने प्रॉपर्टी विवाद में पिता की हत्या का आरोप लगाया है। सौम्या जोशी ने आरोप लगाया है कि प्रॉपर्टी के विवाद में कुछ लोगों ने उनके साथ मारपीट की। जिसके बाद उनको अस्पताल ले गए, जहां मौत होने के बाद वह लोग अस्पताल में ही उनको छोड़कर भाग गए। सूचना के बाद सीओ हल्द्वानी ने मौके पर पहुंचकर लोगों को शांत कराया। एसपी सिटी जगदीश चंद्र का कहना है कि अभी तक इस मामले में तहरीर नहीं आई है। तहरीर आते ही पूरे मामले की जांच की जाएगी। शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है। बताया जा रहा कि हंसा दत्त की दो बेटियां हैं।

6 टप्पेबाजों को पुलिस ने दबोचा, माल बरामद

रुड़की। गंगनहर कोतवाली पुलिस ने टप्पेबाजी की घटनाओं को अंजाम देने वाले 6 शातिरों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों के कब्जे से सोने-चांदी के आभूषण भी बरामद हुए हैं। घटना का खुलासा गंगनहर कोतवाली में एसपी देहात प्रमेन्द्र सिंह डोबाल ने किया। 28 सितंबर को सतीश कुमार निवासी अंबर तालाब, रुड़की ने गंगनहर कोतवाली पुलिस को तहरीर दी। उन्होंने बताया कि 26 सितंबर को वह पत्नी के साथ थ्री व्हीलर से बाजार जा रहे थे। तभी अज्ञात बदमाशों ने पत्नी के बैग से टप्पेबाजी की घटना को अंजाम दिया। पुलिस ने तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी। वहीं, टप्पेबाजी पर अंकुश लगाने के लिए पुलिस अधीक्षक ग्रामीण व पुलिस उपाधीक्षक के आदेश पर रुड़की गंगनहर कोतवाली प्रभारी अमरजीत सिंह के नेतृत्व में चार पुलिस टीमों का गठन किया गया। पुलिस टीम ने सीसीटीवी कैमरे और मुखबिर की मदद से रुड़की रेलवे स्टेशन के पास से 6 बदमाशों को धर दबोचा। जिनके पास से सोने-चांदी के जेवरात बरामद हुए हैं। एसपी देहात प्रमेन्द्र सिंह डोबाल ने बताया 6 टप्पेबाज मुजम्मिल, रिजवान, आस मोहम्मद, इकलाख अहमद, अमरेज निवासी लक्सर और पंकज निवासी जानसठ, जिला मुजफ्फरनगर को पुलिस ने गिरफ्तार किया। टप्पेबाजों से पूछताछ के बाद उन्हें जेल भेजने की तैयारी की जा रही है।

पुलिस ने तस्कर दबोचा, 1 किलो 900 ग्राम चरस बरामद

खटीमा। नशे के खिलाफ पुलिस लगातार अभियान चला रही है। ऑपरेशन क्रैकडाउन के तहत झनकइया पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। पुलिस ने एक किलो 900 ग्राम चरस के साथ भारत-नेपाल बॉर्डर से यूपी निवासी आरोपी चरस तस्कर कोा गिरफ्तार कियर है। आरोपी चरस तस्कर को पुलिस ने एनडीपीएस की धारा में मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया है। चरस तस्कर भारत-नेपाल सीमा के मेलाघाट क्षेत्र में बाइक से जाते हुए पुलिस व एसएसबी द्वारा गिरफ्तार किया गया है, जिसके पास से चेकिंग के दौरान 1 किलो 900 ग्राम चरस बरामद की गई है। झनकईया थाना प्रभारी दिनेश फर्त्याल के अनुसार आरोपी चरस तस्कर जुनैद यूपी के सम्पूर्णा नंद लखीमपुर खीरी उत्तर प्रदेश का निवासी है। आरोपी के खिलाफ झनकईया थाने में एनडीपीएस एक्ट के तहत मुकदमा पंजिकृत कर उसे जेल भेजा गया है। झनकइयां थाना प्रभारी दिनेश फर्त्याल ने बताया कि पुलिस का ऑपरेशन क्रैकडाउन आगे भी जारी रहेगा।

बलबीर गिरि बने नरेंद्र गिरि के उत्तराधिकारी, पांच अक्टूबर को होगी ताजपोशी

हरिद्वार। अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष ब्रह्मलीन श्रीमहंत नरेंद्र गिरि के कथित सुसाइड नोट की गुत्थीं हालांकि अभी नहीं सुलझी है। नरेंद्र गिरि के शिष्य आनंद गिरि को हरिद्वार लाकर सीबीआई ने 8 घंटे पूछताछ की है। इस पूरे घटनाक्रम के बीच अखाड़े के पंच परमेश्वरों ने संत बलबीर गिरि को बाघम्बरी पीठ और लेटे हनुमान की गद्दी सौंपने का फैसला सुना दिया है। श्रीमहंत नरेंद्र गिरि की षोडशी के बाद 5 अक्टूबर को बलबीर गिरि की ताजपोशी की जाएगी। हालांकि उनके ऊपर शर्तों की बेड़ियां भी होंगी। बैठक में फैसला लिया गया कि श्री निरंजनी अखाड़े के श्रीमहंत रविंद्रपुरी समेत पांच संतों का एक सुपरवाइजरी बोर्ड बनेगा। बोर्ड ही बाघम्बरी पीठ और प्रयागराज के लेटे हनुमान मंदिर की संपत्ति से लेकर 30 बीघा जमीन की देखरेख करेगा। बिना बोर्ड की अनुमति के बलबीर गिरि को संपत्ति बेचने का अधिकार नहीं होगा। संन्यास परंपरा का उल्लंघन या फिर किसी भी तरह का विवाद होने पर बोर्ड को बलबीर गिरि को गद्दी से हटाने की अधिकार होगा। 20 सितंबर को अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष श्रीमहंत नरेंद्र गिरि की प्रयागराज बाघंबरी पीठ में संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई थी। उनका शव कमरे में पंखे पर लटका मिला था। उसके बाद उनका कथित सुसाइड नोट सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था। कई पन्नों के कथित सुसाइड नोट में जहां उनकी मौत के लिए एक शिष्य आनंद गिरि को दोषी ठहराया गया था, वहीं दूसरे शिष्य संत बलबीर गिरि को ही उत्तराधिकारी बनाए जाने का जिक्र था। अखाड़े के पंच परमेश्वरों ने संत बलबीर गिरि को बाघम्बरी पीठ और लेटे हनुमान मंदिर की गद्दी सौंपने पर सहमति दे दी है। बलबीर गिरि की ताजपोशी की तैयारियां भी शुरू हो गई हैं। श्रीमहंत नरेंद्र गिरि की षोडशी के बाद पांच अक्टूबर को बलबीर गिरि की ताजपोशी होगी। इसमें सभी 13 अखाड़ों के संत प्रयागराज पहुंचेंगे। लेकिन इसमें बलबीर गिरि के ऊपर सुपरवाइजरी बोर्ड रहेगा। बोर्ड में श्री निरंजनी अखाड़े के सचिव श्रीमहंत रविंद्रपुरी के अलावा महंत रामरतन गिरि, महंत ओंकार गिरि, महंत हरगोविंद पुरी और महंत दिनेश गिरि शामिल होंगे। बोर्ड के पास ही विशेषाधिकार होंगे।

सहस्त्रधारा रोड पर मिला युवक का शव, हत्या की आशंका

देहरादून। प्रेमनगर क्षेत्र में डबल मर्डर का मामला अभी सुलझा ही नहीं था कि 36 घंटे के भीतर देहरादून में एक और मर्डर हो गया। सहस्त्रधारा के शेरा गांव में नदी से युवक का शव मिला है। प्रारंभिक जांच में मामला हत्‍या का लग रहा है। घटना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा। पुलिस इस मामले में हर स्तर पर छानबीन में जुट गयी है। मिली जानकारी के अनुसार सहस्त्रधारा रोड स्थित गांव शेरा में नदी से 20 साल के युवक का शव मिला। बताया जा रहा है कि युवक के सिर पर कई चोट के निशान पाए गए हैं। मृतक की पहचान परवीन भंडारी के रूप में हुई है। पुलिस के अनुसार परवीन ड्राइवर था। पोस्टमार्टम के किए शव को कोरोनेशन अस्पताल लाया गया, जिसके बाद हत्या के कारणों का पता लग सकेगा। इस मामले में पुलिस हर एंगल से विचार कर छानबीन में जुट गयी है। इससे पहले मंगलवार रात विकासनगर में एक युवक की हत्या और बुधवार सुबह प्रेमनगर के धौलास में महिला और नौकर की हत्या के मामले सामने आए हैं। लगातार हत्या की घटना से पुलिस अधिकारियों में हड़कंप मचा हुआ है।

भारतीय पेट्रोलियम संस्‍थान में हुआ हिंदी माह का आयोजन

देहरादून। सीएसआईआर-भारतीय पेट्रोलियम संस्‍थान देहरादून में प्रत्येक वर्ष की तरह इस वर्ष भी 1 से 30 सितंबर तक हिंदी माह का आयोजन किया गया। 30 सितंबर को हिंदी माह सम्पन्न हुआ। हिंदी माह समापन समारोह के मुख्य अतिथि डॉ जयंती प्रसाद नौटियाल प्रसिद्ध साहित्‍यकार तथा पूर्व उप-महाप्रबंधक, यूनियन बैंक ऑफ इडिया थे। संस्‍थान के निदेशक डॉ अंजन रे द्वारा मुख्य अतिथि व अन्य गणमान्य अतिथियों के स्वागत के साथ यह समारोह प्रारम्भ हुआ। डॉ अंजन रे, निदेशक ने अपने वक्तव्य में कहा कि हमें सरल और भावपूर्ण शब्दावली युक्त भाषा का प्रयोग करना चाहिए, जिससे कि हमारा कार्य दृव्यवहार सुगमता से तथा प्रभावपूर्ण ढंग से सम्पन्न हो सके। उन्‍होंने प्रसिद्ध कवि कुंवर नारायण की कविता का भी इस अवसर पर उल्‍लेख किया। इस समारोह के मुख्‍य अतिथि डॉ जयंती प्रसाद नौटियाल ने अपने व्याख्यान में ‘आजादी का अमृत महोत्सव और विश्व स्तर पर हिंदी की प्रगति’ पर बोलते हुए कहा कि जो व्‍यक्ति अपनी भाषा छोड़ देता है वह अपने गांव, अपनी संस्कृति, अपने राष्ट्र से दूर होता चला जाता है और जब किसी राष्ट्र के अधिकांश लोग ऐसा करते हैं तो वह राष्‍ट्र कमजोर हो जाता है। उन्‍होंने बदलते परिवेश पर व्यंग्य करती कविता की कुछ पंक्तियां भी प्रस्तुत कीं। उन्‍होंने बताया कि हिंदी विश्‍व के 150 देशों में पढ़ाई जाती है ही 137 करोड लोग हिंदी बोलते हैं। इस प्रकार हिंदी पूरे विश्‍व में सर्वाधिक बोली जाने वाली भाषा है। उदीयमान भारत का द्योतक हिंदी ही है। इस अवसर पर सोमेश्‍वर पांडेय, वरिष्ठ हिंदी अधिकारी ने हिंदी माह 2021 की रिपोर्ट प्रस्‍तुत करते हुए बताया कि कोविड सुरक्षा के मद्देनजर सभी प्रतियोगिताओं व कार्यक्रमों का आयोजन ऑनलाइन प्रारूप में किया गया। इसके अंतर्गत ‘आजादी का अमृत महोत्‍सव’ और ‘सीएसआईआर के 80 वर्ष’, पर्यावरण संरक्षण एवं ‘राजभाषा हिंदी’ इन प्रतियोगिताओं व कार्यक्रमों के मुख्य विषय रहे। इन प्रतियोगिताओं में ऑनलाइन दैनिक प्रश्नोत्तरी, सुलेख, आशुभाषण, चित्रवर्णन, निबंध लेखन एवं मोबाइल श्रुत लेख प्रतियोगिता मुख्य रही। संस्थान के 100 से भी अधिक स्थाई कर्मचारियों, अनुबंध कर्मियों और शोधछात्रों ने इन प्रतियोगिताओं में भाग लिया। हिंदी दिवस के अवसर पर हिंदी एवं अन्य भाषाओं से हिंदी में अनुदित काव्‍य एवं गद्य पाठ का आयोजन भी किया गया। कार्यक्रम के अंत में इन सभी प्रतियोगिताओं के पुरस्‍कार-विजेताओं का नाम घोषित किए गए। जसवंत राय, प्रशासन नियंत्रक द्वारा मुख्‍य अतिथि एवं सभी गणमान्‍य व्‍यक्तियों, प्रतिभागियों के प्रति धन्यवाद ज्ञापन के साथ हिंदी माह समापन समारोह सम्पन्न हुआ। डॉ जी डी ठाकरे, सूर्यदेव, देवेन्‍द्र राय, अंजली, रोशन और तिलक कुमार ने इस आयोजन में महत्‍वपूर्ण भूमिका निभाई।

एसएस कलेर के पुत्र के निधन पर यात्रा स्थगित की

देहरादून। आप के पूर्व अध्यक्ष एस एस कलेर के पुत्र की आकस्मिक मौत की सूचना पर कर्नल कोठियाल ने रोजगार गारंटी यात्रा स्थगित की। यात्रा के दौरान आप के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष एस एस कलेर के 24 वर्षीय पुत्र सिकंदर के आकस्मित निधन की सूचना उनको मिली। उन्होंने इस दुखद घटना पर शोक व्यक्त करते हुए दिवगंत आत्मा की शांति के लिए सभी ने 2 मिनट का मौन रखते हुए पार्टी द्वारा संचालित रोजगार गारंटी यात्रा को स्थगित कर दिया है।

महिला एवं बाल विकास मंत्री रेखा आर्य पर कर्नल ने साधा निशाना

देहरादून। आम आदमी पार्टी की रोजगार गारंटी यात्रा लगातार जारी है। आज यह रोजगार गारंटी यात्रा छठे दिन सोमेश्वर विधानसभा पहुंची, जहां स्थानीय लोगों ने इस यात्रा का स्वागत करते हुए कर्नल कोठियाल का अभिनंदन किया। सोमेश्वर पहुंची इस यात्रा की शुरुआत कर्नल कोठियाल ने कौसानी से की, जहां उन्होंने स्थानीय युवाओं से रोजगार के मुद्दों पर चर्चा की, और उन्हें जानकारी दी कि,सरकार बनते ही आप पार्टी प्रदेश के बेरोजगार युवाओं को कैसे रोजगार मुहैया कराएगी। उन्होंने युवाओं को विश्वाश दिलाया कि, आप पार्टी की सरकार बनते ही बेरोजगारी की समस्या को दूर किया जायेगा। इसके बाद वो गांधी आश्रम पहुंचे जहां पहुंचकर उन्होंने महात्मा गांधी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया और अनाशक्ति आश्रम में म्यूजियम का निरीक्षण किया, जिसमें मौजूद गांधीजी के जीवन से जुडी कई जानकारियां कर्नल कोठियाल को मिली। कर्नल कोठियाल चनोदा स्थित स्वतंत्रता संग्राम सेनानियों के स्मारक भी पहुंचे जहां उन्होंने सभी वीर सेनानियों को याद कर श्रद्धांजलि अर्पित की। इसके बाद कौसानी रोड से रोजगार गारंटी यात्रा की शुरुआत हुई और ताकुल में जाकर ये यात्रा संपन्न हुई, इस दौरान जनता ने कर्नल कोठियाल का जोरदार स्वागत किया। जनता अपने भावी मुख्यमंत्री की झलक पाने के लिए घर के बाहर इंतजार करती दिखी। कर्नल कोठियाल ने जनता का हाथ हिलाकर अभिवादन किया। उसके बाद कर्नल कोठियाल ने रामलीला मैदान पहुंचने से पहले सोमेश्वर महादेव का आशीर्वाद लिया। इसके बाद रोजगार गारंटी यात्रा का काफिला सोमेश्वर, ताकुला स्थित रामलीला मैदान पहुंचा। जहां पहले से मौजूद सैकड़ो समर्थकों ने कर्नल कोठियाल का फूल मालाओं से स्वागत किया। रामलीला मैदान में विशाल जनसमूह को संबोधित करते हुए कर्नल कोठियाल ने कहा कि आप सभी को जय हिंद। आज सुबह से अलग ही ऊर्जा महसूस हो रही है। उत्तराखंड, जहां से सेना की कुमाऊं व गढ़वाल की दो रेजीमेंट निकलती हैं। ऐसी भूमि के युवाओं से कौसानी में बातचीत का अवसर प्राप्त हुआ जो काफी अच्छा रहा। उन्होंने यहां के युवाओं की तारीफ करते हुए कहा कि उत्तराखंड का 17 साल का युवा भले ही बोलने में शर्माता हो लेकिन जब वो फौज में भर्ती होकर सरहद पर जाता है तो वही युवा दुश्मन के दांत खट्टे कर देता है। उन्होंने आगे कहा कि, मेरे अंदर नेताओं के लक्षण नहीं हैं। मुझे नेताओ जैसे हाथ जोड़ना तक नही आता, लेकिन मैं अच्छी तरह जानता हूं कि विपरीत हालातों में निर्णय कैसे लिए जाते हैं।

भवनों का ध्वस्तीकरण प्रक्रिया के तहत किया गया

ऋषिकेश। टीएचडीसी इंडिया द्वारा उत्तराखंड के चमोली जिले में राष्ट्रीय महत्व की जन कल्याणकारी 444 मेगावाट की विष्णुगाड-पीपलकोटी जल विद्युत परियोजना का निर्माण किया जा रहा है। इस निर्माणाधीन परियोजना हेतु चमोली जिले के हाट ग्राम की भूमि अधिग्रहित की गयी है। इसी क्रम में, हाट गाँव में अवैधानिक रूप से स्थित अवशेष 16 भवनों (जो परियोजना के निमार्ण कार्य में बाधक बन रहे थे) का ध्वस्तीकरण 22 सितम्बर को किया गया। उक्त भवनों का ध्वस्तीकरण एक प्रकिया के तहत ही किया गया। परंतु हाट गाँव में ध्वस्तीकरण के उपरान्त कुछ समाचार पत्रों द्वारा भ्रामक प्रचार किया जा रहा है। इन समाचार पत्रों में गलत सूचना दी जा रही है कि 22 सितम्बर 2021 को ध्वस्तीकरण के दौरान हाट गाँव के पौराणिक मंदिरों को भी तोड़ा गया, जो कि पूर्णतः तथ्यहीन एवं वास्तविकता से परे है। इस घटना पर टीएचडीसी की विष्णुगाड-पीपलकोटी जल विद्युत परियोजना के उप महाप्रबन्धक (मा.सं. एवं प्रशा.), एस. के. शर्मा ने ज़ोर देकर कहा कि ऐसी खबरें सच्चाई से परे हैं क्योंकि हाट गाँव के सभी मंदिर पूर्णतः सुरक्षित हैं एवं परियोजना प्रबंधन उन मंदिरों के संरक्षण एवं संर्वधन हेतु पूर्णतः कृतसंकल्प एवं प्रतिबद्ध है। इसी दिशा में टीएचडीसी परियोजना प्रबंधन द्वारा पुरातत्व सर्वेक्षण संस्थान को पत्र लिखकर उक्त मंदिरों के सौंदर्यीकरण और जीर्णाेद्धार हेतु सुझाव मांग गया है जिसको शीघ्र ही अमल में लाया जाएगा। साथ ही निगम परियोजना के निर्माण एवं निष्पादन में सन्निहित पर्यावरणीय एवं सामाजिक मुल्यों के प्रति प्रतिबद्ध है द्य साथ ही परियोजना प्रभावित परिवारों की सामाजिक-आर्थिक स्थिति के उत्थान के लिये सदैव प्रयासरत रहना ही निगम का उद्देश्य है। इसके अतिरिक्त परियोजना प्रबंधन परियोजना प्रभावित क्षेत्रों में विकास एवं जनकल्याणकारी योजनाओं को लागू करने के लिये प्रतिबद्ध है। इसलिए परियोजना प्रबंधन राष्ट्रीय महत्व की इस परियोजना के निमार्ण में परियोजना प्रभावित क्षेत्रों के जनमानस से सहयोग की अपेक्षा करता है।

आंदोलनकारी चिन्हीकरण मानकों में ढील को सीएम से लगाई मोर्चा ने गुहार

देहरादून। जन संघर्ष मोर्चा प्रतिनिधिमंडल ने मोर्चा अध्यक्ष एवं जीएमवीएन के पूर्व उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह नेगी के नेतृत्व में मा. मुख्यमंत्री श्री पुष्कर धामी से मुलाकात कर राज्य आंदोलनकारी चिन्हिकरण मानकों में ढील एवं श्रमिकों पर दर्ज हुए मुकदमे वापसी को लेकर ज्ञापन सौंपा। मुख्यमंत्री ने अपर मुख्य सचिव, गृह को तत्काल कार्रवाई के निर्देश दिए। नेगी ने कहा कि प्रदेश में आज भी हजारों आंदोलनकारी चिन्हित होने से वंचित हैं, जिसका मुख्य कारण पुष्ट दस्तावेजों का अभाव है। कई वंचित आंदोलनकारियों ने दिन-रात एक कर आंदोलन में प्रतिभाग किया था तथा गिरफ्तारियां भी दी थी, जिनको गिरफ्तारी के पश्चात शाम को रिहा कर दिया गया था, लेकिन उनके पास इसका कोई पुष्ट प्रमाण नहीं है। नेगी ने कहा कि सरकार द्वारा हाल ही में चिन्हिकरण की प्रक्रिया 31 दिसंबर तक निर्धारित की है, लेकिन इसका फायदा आंदोलनकारियों को तभी मिल सकता है, जब मानकों में ढील होगी। इसके अतिरिक्त मोर्चा ने श्रमिकों पर वर्ष 2006 में दर्ज हुआ मुकदमा वापसी को लेकर भी मुख्यमंत्री को अवगत कराया। मोर्चा को उम्मीद है कि शीघ्र ही वंचित राज्य आंदोलनकारियों का चिन्हीकरण हो सकेगा। प्रतिनिधिमंडल में भीम सिंह बिष्ट मौजूद रहे।

नरेंद्रनगर कॉलेज में पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम का पोषण प्रबंधन पर व्याख्यान आयोजित

देहरादून/नरेंद्रनगर। धर्मानंद उनियाल राजकीय महाविद्यालय नरेंद्र नगर के बीएससी गृह विज्ञान विभाग द्वारा राष्ट्रीय पोषण माह के तहत पॉलीसिस्टिक ओवरी सिंड्रोम का पोषण प्रबंधन विषय पर जागरुकता व्याख्यान का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की रिसोर्स पर्सन भावना बिष्ट कंसलटेंट डायटीशियन द्वारा महिलाओं में पी सी ओ एस से संबंधित समस्याएं, उनका निदान एवं इसके पोषण प्रबंधन पर विस्तृत जानकारी दी गई। महाविद्यालय की प्राचार्य डॉ सपना कश्यप के द्वारा प्रतिभागियों का स्वागत किया गया तथा उनके द्वारा रिप्रोडक्टिव हैल्थ के आंकड़ों को भी साझा किया गया।कार्यक्रम में प्रो प्रीति कुमारी, विभागाध्यक्ष ग्रह विज्ञान विभाग, एस डीएसयू विविश्वविद्यालय ने प्रतिभागियों को पोषण एवं व्यायाम के बीच संतुलन की महत्ता पर प्रकाश डालते हुए इस पर ध्यान देने की बात कही। कार्यक्रम का संचालन कार्यक्रम आयोजक डॉ सोनी तिलारा द्वारा किया गया। व्याख्यान में विभिन्न संस्थानों से प्रतिभागियों ने प्रतिभाग किया। इसके साथ ही महाविद्यालय के समस्त प्राध्यापक कार्यक्रम में उपस्थित रहे।

कैंट बोर्ड की दुकानों में यथास्थिति बनाए रखने के आदेश

हल्द्वानी। हाईकोर्ट ने भवाली रोड स्थित कैंट की दुकानों को 48 घंटे के भीतर खाली करने के कैंट बोर्ड के नोटिस को चुनौती देती याचिकाओं पर सुनवाई की। कोर्ट ने दोनों पक्षों को यथास्थिति बनाए रखने के आदेश दिए हैं। याचिकाकर्ताओं से चार लाख रुपये हाईकोर्ट के रजिस्ट्री कार्यालय में जमा करने व कैंट के बकाया किराए का भुगतान करने के आदेश दिए हैं। मामले की सुनवाई न्यायमूर्ति मनोज कुमार तिवारी की एकलपीठ में हुई। मामले के अनुसार कैंट की भवाली रोड स्थित दुकानों का किरायेदारी को लेकर दुकानदारों व कैंट बोर्ड में लंबे समय से विवाद जिला अदालत में चल रहा था। 18 सितम्बर को जिला अदालत ने कैंट बोर्ड के पक्ष में फैसला दिया था। जिसके बाद बोर्ड ने 13 दुकानदारों को नोटिस देकर 48 घंटे के भीतर दुकानें खाली करने को कहा। जिसके खिलाफ लीला बिष्ट ने 23 सितम्बर को हाईकोर्ट में अपील की। उनकी याचिका पर सुनवाई करते हुए हाईकोर्ट ने मामले में यथास्थिति के आदेश देते हुए याचिकाकर्ता को तीन हफ्ते के भीतर 4 लाख रुपये हाईकोर्ट के रजिस्ट्री कार्यालय में जमा करने व आठ हफ्ते के भीतर बकाया किराए का भुगतान करने के निर्देश दिए थे। इधर गुरुवार को पांच अन्य दुकानदारों श्रीराम छावड़ा, अशोक कुमार, राकेश लांबा, पूरन मेहरा व कमल नारंग की याचिकाएं भी कोर्ट में सुनवाई को पेश हुई। जिसमें कोर्ट ने 23 सितम्बर के आदेश को ही बरकरार रखा। किन्तु याचिकाकर्ताओं की ओर से 4 लाख रुपये हाईकोर्ट में जमा करने के लिए अतिरिक्त समय मांगा गया। जिस पर कोर्ट ने उन्हें तीन हफ्ते के बजाय आठ हफ्ते का समय दिया है। अगली सुनवाई अब नवम्बर माह के दूसरे हफ्ते में होगी।

चोरी की बाइक के साथ युवक गिरफ्तार

हल्द्वानी। काठगोदाम थाना पुलिस ने एक युवक को चोरी की बाइक के साथ गिरफ्तार किया है। गुरुवार को आरोपी को कोर्ट में पेशी के बाद जेल भेज दिया गया है। एसओ विमल मिश्रा ने बताया बीते 10 सितम्बर को शीशमहल काठगोदाम निवासी निर्मल सती ने बाइक चोरी की तहरीर दी थी। मामले में बीते बुधवार रात मूल ग्राम मगर मझरिया जिला बेतिया बिहार और हाल राजपुरा रेलवे स्टेशन के पास निवासी गुड्डन रावत को गिरफ्तार कर लिया है। पूछताछ में आरोपी ने इंदिरा नगर नूरी मस्जिद के पास छोटी रोड निवासी वफाती का भी चोरी में साथ होना बताया है। पुलिस आरोपी की तलाश में जुट गई है।

केदारनाथ हाईवे पर कुंड में तीर्थयात्रियों ने दिया धरना

रुद्रप्रयाग। केदारनाथ हाइवे पर कुंड में केदारनाथ जाने वाले श्रद्धालु सड़क पर धरने में बैठ गए। तीर्थयात्री बिना पास के केदारनाथ जाने की मांग कर रहे थे। केदारनाथ जाने के लिए प्रतिदिन बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहुंच रहे हैं किंतु ई पास नहीं होने के चलते पुलिस द्वारा उन्हें रोक दिया जा रहा है। गुरुवार को सैकड़ों यात्री बिना पास के कुंड में पहुंचे,जहां पर कुंड में पुलिस के बैरियर में उन्हें रोक दिया गया। जिसके बाद यात्री धरने पर बैठ गए। यात्रियों के धरने पर बैठने से पास के साथ केदारनाथ जाने वाले और स्थानीय लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। पुलिस प्रशासन द्वारा यात्रियों को ओंकारेश्वर,तुंगनाथ,मध्यमहेश्वर आदि अन्य मंदिरों के दर्शन करने की राय दी गयी लेकिन सभी यात्री सड़क पर बैठ गए। करीब डेढ़ घण्टे बाद बमुश्किल से पुलिस प्रशासन द्वारा समझाने पर यात्री माने। राजस्थान, गुजरात, महाराष्ट्र, आंध्रप्रदेश, तमिलनाडु, कर्नाटक आदि राज्यों से सैकड़ों की संख्या में यात्री पहुंच रहे हैं। किंतु बिना पास के रोके जाने पर मायूस हो रहे हैं। एसओ रविन्द्र कौशल ने बताया कि सघन चेकिंग अभियान चलाकर यात्रियों के ई पास चेक किए जा रहे हैं। जिनके पास ई पास नहीं हैं उन्हें अन्य मंदिरों के दर्शन करने की सलाह दी जा रही है। इधर, मौके पर केदारनाथ विधायक मनोज रावत भी पहुंचे। उन्होंने भी यात्रियों के साथ बातचीत की। उन्होंने कहा कि दूर दूर से यात्री पहुंच रहे हैं और प्रशासन उन्हें वापस भेज रहा है।

नाबालिग से दुष्कर्म के आरोपी को 20 साल की सजा

पौड़ी। विशेष सत्र न्यायाधीश की अदालत ने नाबालिग से दुष्कर्म के आरोपी को 20 साल की सजा सुनाने के साथ ही 40 हजार का अर्थदंड भी लगाया है। अर्थदंड जमा नहीं किए जाने पर आरोपी को छह माह के अतिरिक्त कारावास की सजा भी भुगतनी पड़ेगी। अदालत ने नाबालिग पीड़िता को प्रतिकर दिए जाने के लिए जिला विधिक सेवा प्राधिकरण को आदेश दिए हैं। जाखणीखाल तहसील के एक राजस्व क्षेत्र में अप्रैल-मई 2020 को एक गांव की एक नाबालिग के पेट में दर्द की शिकायत पर उसके परिजन उसे अस्पताल ले गए। जहां उपचार के दौरान डाक्टरों ने नाबालिग को 7 महीने से अधिक की गर्भवती होना बताया। घटना के बाद नाबालिग ने परिजनों को बताया कि उसके साथ गांव के ही चार युवकों द्वारा दुष्कर्म किया गया। जिसके बाद परिजनों की तहरीर पर राजस्व पुलिस ने पोक्सो सहित अन्य धाराओं में चारों युवकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया। कुछ समय बाद मामला रैगुलर पुलिस को हस्तांतरित किया गया। पुलिस ने चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर मामले की जांच शुरू की। इस दौरान नाबालिग किशोरी ने एक नवजात बच्ची को जन्म भी दिया। पुलिस ने पीड़िता, उसकी बच्चीं व चारों आरोपियों के डीएनए सैंपल विधि विज्ञान प्रयोगशाला देहरादून भेजे। जहां प्रयोगशाला की रिपोर्ट में एक आरोपी का डीएनए नवजात शिशु से मैच हो गया। जिसके बाद पुलिस ने आरोपी के खिलाफ कोर्ट में आरोप पत्र दाखिल किए। विशेष सत्र न्यायाधीश पौड़ी सिकंद कुमार त्यागी की अदालत ने दोनों पक्षों को सुनने के बाद आरोपी पंकज रावत को नाबालिग से दुष्कर्म का दोषी पाते हुए उसे 20 वर्ष के कारावास की सजा सुनाई। अदालत ने आरोपी पर 40 हजार का अर्थदंड भी लगाया। साथ ही अर्थदंड जमा न किए जाने पर छह माह के अतिरिक्त कारावास की सजा सुनाई। विशेष लोक अभियोजक पोक्सो विजेंद्र सिंह रावत ने बताया कि अदालत ने पीड़िता को विशेष प्रतिकर दिए जाने के लिए जिला विधिक सेवा प्राधिकरण पौड़ी को आदेश दिए हैं। बताया कि मामले में अभियोजन पक्ष की ओर से कुल 10 गवाह प्रस्तुत किए गए थे।

बीएड प्रवेश परीक्षा को आनलाइन पंजीकरण 2 से

टिहरी। श्रीदेव सुमन उत्तराखण्ड विश्वविद्यालय बादशाही थौल ने बीएड प्रवेश परीक्षा (2021-23) के लिए ऑनलाइन पंजीकरण 2 अक्टूबर 2021 से शुरू किये जायेंगे। यह जानकारी देते हुये कुलपति डा पीपी ध्यानी ने बताया कि विश्वविद्यालय से सम्बद्ध विभिन्न राजकीय महाविद्यालयों, निजी स्ववित्तपोषित संस्थानों के बीएड द्विवर्षीय सत्र 2021-23 में शासकीय व प्रबन्धकीय कोटे की सीटों में प्रवेश के लिए प्रवेश परीक्षा आगामी 14 नवंबर को आयोजित की जायेगी। ऑनलाइन आवेदन पंजीयन की अंतिम तिथि 25 अक्टूबर रहेगी। प्रवेश परीक्षा शुल्क 28 अक्टूबर तक जमा किया जायेगा। बीएड प्रवेश परीक्षा 2021-23 के लिए न्यूनतम शैक्षणिक अर्हता, आवेदन शुल्क, आरक्षण संस्थानों की सूची, प्रवेश के नियम एवं आवेदन से संबंधित विस्तृत दिशा-निर्देश विश्वविद्यालय की वेबसाइट ूूू.ेकेनअ.ंब.पद पर उपलब्ध कराये जायेंगे।

अस्कोट-आराकोट से लौटे यात्री दल का किया स्वागत

टिहरी। बीज बचाओ आंदोलन और सर्वाेदय मंडल टिहरी गढ़वाल के बैनर तले अस्कोट से आराकोट तक उत्तराखंड की यात्रा कर लौटे यात्री दल का चंबा के व्यापारियों व वरिष्ठ नागरिकों ने फूल मालाओं से स्वागत किया। इस मौके पर यात्री दल के सदस्यों ने यात्रा के अनुभव साझा करते हुये कहा कि राज्य के किसानों की समस्याओं को लेकर जो ज्ञापन मुख्यमंत्री को दिया गया है, उस पर कार्यवाही होनी चाहिए। गुरुवार को नगर क्षेत्र चंबा के व्यापारियों और वरिष्ठ नागरिकों ने अस्कोट से लेकर आराकोट तक की यात्रा कर लौटे यात्री दल का शहीद श्रीदेव सुमन स्मारक में फूल मालाओं से स्वागत किया। सबसे पहले यात्री दल व व्यापारियों ने शहीद स्मारक पर पुष्प अर्पित किए और उसके बाद व्यापारियों व नागरिकों ने यात्री दल के सभी सदस्यों का फूल मालाओं से स्वागत किया। इस मौके पर व्यापार मंडल के अध्यक्ष बिशन सिंह भंडारी ने कहा कि यात्री दल ने उत्तराखंड का भ्रमण कर लोगों की समस्याओं को जाना और फ़िर उसको सरकार तक पहुंचाने का काम किया है, जो कि अच्छा प्रयास है। इस मौके पर आंदोलन के प्रवक्ता रघुभाई जड़धारी ने कहा कि यात्रा दल ने खेती किसानी, पर्यावरण, पशुपालन, पलायन, स्वरोजगार आदि को लेकर जानकारी प्राप्त की और यह जाने का प्रयास किया कि राज्य बनने के बाद उत्तराखंड में किस तरह का बदलाव हुआ है लोगों की क्या-क्या समस्याएं हैं उन्होंने कहा कि समस्याओं को चिह्नित कर यात्रा करने के बाद देहरादून में प्रदेश के मुख्यमंत्री को ज्ञापन भी दिया गया, जिस पर राज्य सरकार को कार्यवाही करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि प्रदेश के किसान खेती से इसलिए विमुख हो रहे हैं कि जंगली जानवर बंदर और सूअर फसलों को नष्ट कर रहे हैं सरकार की ओर से रोकथाम के उपाय नहीं किए जा रहे हैं। इसलिए यात्रा के दौरान जो समस्याएं लोगों ने बताई हैं, राज्य सरकार को उन पर कार्रवाई करनी चाहिए। इस मौके पर पर्यावरणविद विजय जड़धारी, शशि भूषण भट्ट, रघुभाई जड़धारी, प्रगतिशील जन विकास संगठन के अध्यक्ष दिनेश प्रसाद उनियाल, व्यापार मंडल के जिला मंत्री संजय बहुगुणा, राजेश्वर बडोनी, गजपाल परमार, सुभाष सकलानी, महेश लखेड़ा, दिनपाल सिंह आदि मौजूद थे।

केन्द्रीय रक्षामंत्री राजनाथ सिंह पीठसैंण दौरा 1 अक्टूबर को

पौड़। केंद्रीय रक्षामंत्री राजनाथ सिंह के पौड़ी जिले दौरे को लेकर पीठसैंण में गुरुवार को तैयारियां की गई। तैयारियों का जाजया खुद प्रदेश के उच्च शिक्षामंत्री डा. धन सिंह रावत ले रहे हैं। केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह का पीठसैंण का दौरा शुक्रवार यानी 1 अक्टूबर को प्रस्तावित है। पीठसैंण पेशावर कांड के नायक एवं स्वाधीनता संग्राम सैनानी वीर चंद्र सिंह गढ़वाली का पैतृक गांव है। रक्षामंत्री गढ़वाली की पुण्य तिथि पर आयोजित स्मृति कार्यक्रम में मूर्ति का अनावरण करने के साथ ही यहां बने स्मारक का लोकार्पण कर श्रद्धासुमन अर्पित करेंगे। कार्यक्रम में शहीद सैनिकों के परिजनों एवं वीर चंद्र गढ़वाली के परिजनों को भी रक्षा मंत्री सम्मानित करेंगे। रक्षामंत्री के दौरे को लेकर जिला प्रशासन ने भी व्यस्वस्थाएं चाकचौबंद की है। पुलिस प्रशासन भी पीठसैंण पहुंच गया है। कैबिनेट मंत्री डा. धन सिंह रावत ने बताया कि रक्षा मंत्री के स्वागत की तैयारियां पूरी कर ली गई है। समारोह को भव्य रूप से आयोजित किया जा रहा है। कार्यक्रम को लेकर निमंत्रण पत्र दिए गए है। इसके लिए वह भी स्वयं गांवों में गए है।

15 अक्टूबर तक फुल हुई केदारनाथ यात्रा के लिए ई-पास बुकिंग

रुद्रप्रयाग। 15 अक्टूबर तक फुल हुई केदारनाथ यात्रा के लिए ई-पास बुकिंग केदारनाथ यात्रा पर आने वाले तीर्थयात्री यदि ई-पास है तो तभी यात्रा पर आएं, अन्यथा यात्रा के दौरान उन्हें परेशानी हो सकती है। जिलाधिकारी मनुज गोयल ने प्रेस वार्ता कर बताया कि कुछ लोग तीर्थयात्रियों को भ्रमित कर रहे हैं, वह ऐसे किसी भी झांसे में न आएं। ई-पास होने पर ही वह यात्रा पर आएं। कलक्ट्रेट में वीडियो कॉफ्रेंसिंग हॉल में प्रेस वार्ता के दौरान जिलाधिकारी मनुज गोयल ने बताया कि 15 अक्तूबर तक ई-पास से केदारनाथ आने वाले यात्री फुल हैं इसलिए इस बीच जो भी केदारधाम आने की योजना बना रहा है वह फिलहाल रोक दें, रास्ते में बिना ई-पास के उसे दिक्कतें उठानी पड़ सकती है। जिलाधिकारी ने कहा कि कुछ लोग तीर्थयात्रियों को भ्रमित कर रहे हैं और उन्हें झूठी सूचनाएं दे रहे हैं। यात्री किसी भी दशा में ऐसे लोगों से दूर रहें। चारधाम देवस्थानम बोर्ड के पोर्टल पर ई-पास के बाद ही यात्रा करें। उन्होंने कहा कि केदारनाथ धाम के अलावा अन् पर्यटक स्थलों पर जाने के लिए ई-पास की जरूरत नहीं है। इस दौरान उन्होंने फिर दोहराया कि केदारनाथ में एक दिन में 800 श्रद्धालुओं को ही दर्शन की व्यवस्था है, यात्री कम होने की स्थिति में ही ई-पास से यहां पहुंचे यात्रियों को दर्शन हो सकते हैं, किंतु इसकी संभावनाएं काफी कम रहती है। उन्होंने देश-विदेश के तीर्थयात्रियों से भी अनुरोध करते हुए कहा कि ई-पास के साथ ही सही जानकारी लेकर ही यात्रा करें। इस बीच पुलिस अधीक्षक आयुष अग्रवाल ने बताया कि अभी तक करीब 2500 तीर्थयात्रियों को बिना ई-पास के लौटना पड़ा है। इसलिए सभी यात्री ई-पास के साथ ही पूरी जानकारी के साथ ही यात्रा पर आएं। एसपी ने बताया कि देवस्थानम के पोर्टल पर 15 अक्तूबर तक ई-पास की बुकिंग फुल है।

नेता प्रतिपक्ष और प्रशासन आमने-सामने

विकासनगर। बांध प्रभावितों को हटाने पहुंची पुलिस और प्रशासन की टीम को ग्रामीणों का विरोध झेलना पड़ा। प्रशासन की कार्रवाई से आक्रोशित ग्रामीणों की पुलिस से नोकझोंक हो गई। प्रदर्शनकारियों के समर्थन में पहुंचे नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह ने पुलिस प्रशासन की कार्रवाई का विरोध कर धरना दिया। प्रदर्शन कर रहे ग्रामीणों को बांध स्थल से हटाने के लिए प्रशासन भारी पुलिस बल के साथ दूसरे दिन भी जुड्डो पहुंचा। प्रशासन व पुलिस की टीम जब तक ग्रामीणों को बांध स्थल से हटाती तभी नेता प्रतिपक्ष प्रीतम सिंह फिर ग्रामीणों की ढाल बनकर धरना स्थल पर पहुंच गये। जिससे प्रशासन को फिर अपने कदम पीछे खींचने पड़े। देर रात तक प्रशासन व पुलिस की टीम नेता प्रतिपक्ष के जाने के इंतजार में बैठी है। लेकिन प्रीतम सिंह भी धरना स्थल पर डटे रहे। व्यासी बांध के प्रभावित लोहारी गांव के ग्रामीणों का पिछले 117 दिन से व्यासी बांध परियोजना का निर्माण कार्य ठप कर बांध स्थल पर अनिश्चितकालीन धरना प्रदर्शन जारी है। बांध परियोजना को दिसंबर में पूरा होना है।लेकिन ग्रामीण मांगों को लेकर बांध का कार्य रोके हुए हैं। परियोजना का कार्य आखिरी चरणों में है। जिसके चलते यूजेवीएनएल हर हाल में काम शुरू करवाकर परियोजना को पूरा करना चाहता है। गुरुवार को पुलिस और प्रशासन की टीम गुरुवार को फिर एडीएम एसके बर्नवाल, एसडीएम विकासनगर विनोद कुमार, एसडीएम कालसी सौरभ असवाल, एसपी देहात स्वतंत्र कुमार, सीओ विकासनगर वीडी उनियाल के नेतृत्व में दोबारा से जुड्डो में धरना प्रदर्शन कर रहे ग्रामीणों को हटाने पहुंची। इस दौरान ग्रामीणों ने पुलिस प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी कर कार्रवाई का विरोध किया।

त्रुटिपूर्ण भू अभिलेख से हो रही दिक्कतों से स्पीकर अग्रवाल को अवगत कराया

ऋषिकेश। बैराज रोड स्थित कैंप कार्यालय पर रायवाला के प्रधान सागर गिरी के नेतृत्व में रायवाला क्षेत्र के एक प्रतिनिधिमंडल ने विधानसभा अध्यक्ष प्रेम चंद अग्रवाल से भेंट की। प्रतिनिधिमंडल ने विधानसभा अध्यक्ष को अवगत कराया कि त्रुटिपूर्ण भू अभिलेख की वजह से क्षेत्रवासीयों को अनेक प्रकार की समस्या उत्पन्न हो रही है। रायवाला के प्रधान सागर गिरी ने कहा है कि ग्राम सभा रायवाला के निवासियों का आबादी खसरा नंबर वन भूमि पर चढ़या गया है जबकि वन भूमि का खसरा नंबर आबादी में तब्दील हो गया जिसके कारण स्थानीय क्षेत्र वासियों को अनेक प्रकार की समस्या का सामना करना पड़ रहा है। प्रधान सागर गिरी ने कहा है कि इस कारण स्थानीय लोगों को बिजली, पानी का कनेक्शन नहीं मिल रहा है जबकि वह अपने भवन निर्माण के लिए सरकार से लोन भी प्राप्त नहीं कर पा रहे हैं, क्योंकि उनका खसरा वन भूमि पर दर्शा रहा है। विधानसभा अध्यक्ष ने उपजिलाधिकारी ऋषिकेश को दूरभाष पर उपरोक्त समस्या के निस्तारण के लिए निर्देशित किया साथ ही कहा है कि स्थलीय निरीक्षण कर समस्या का समाधान किया जाए ताकि स्थानीय लोगों को किसी भी प्रकार की परेशानी ना हो। श्री अग्रवाल ने यह भी कहा है कि तहसील प्रशासन द्वारा की गई त्रुटि का खामियाजा स्थानीय लोगों को क्यों भुगतना पड़ रहा है।उन्होंने कहा है कि समस्या का समाधान शीघ्र किया जाए। इस अवसर पर स्थानीय प्रधान सागर गिरी, कुशल सिंह, सुरेंद्र सिंह चौहान, गब्बर सिंह, विशाल चौहान, नवीन कुमार, आनंद सिंह, कुल बहादुर छेत्री, ममता छेत्री, चंद्रमोहन कैंतूरा, पार्वती थापा, प्रीतम सिंह, सूरत सिंह कैंतूरा, सुषमा देवी, पदम सिंह, लाखन सिंह, पूर्ण सिंह, लक्ष्मण सिंह , मंगल सिंह, विक्रम सिंह, सूरज शर्मा, लक्ष्मी देवी, पान सिंह, कुंती देवी, प्रमोद कुमार, अनिल कुमार, सुमेर चंद, गंगा शरण, राकेश कुमार आदि सहित बड़ी संख्या में ग्रामीणों ने विधानसभा अध्यक्ष जी से भेटकर अपनी समस्या से अवगत कराया।

गरीब और कुपोषित लोगों को खिलाया पौष्टिक भोजन

विकासनगर। द सैपियंस स्कूल लाइन जीवनगढ़ में राष्ट्रीय पोषण माह हर्षाेल्लास से मनाया जा रहा है। कार्यक्रम के तहत गुरुवार को स्कूल की एनसीसी यूनिट ने गरीबों और कुपोषित लोगों को पौष्टिक भोजन कराया। छात्र-छात्राओं को लोगों को पोषाहार के प्रति जागरूक भी किया। गुरुवार सुबह स्कूल में चल रहे राष्ट्रीय पोषण माह कार्यक्रम का शुभारम्भ प्रबंधक रविकांत सपरा ने किया। उन्होंने छात्र-छात्राओं को पोषण के प्रति जागरूक करते हुए लोगों को भी पोषण का संदेश देने की अपील की। इसके बाद स्कूल की एनसीसी यूनिट के छात्र-छात्राओं ने क्षेत्र में जगह-जगह निर्धन और कुपोषित लोगों को पौष्टिक भोजन कराया। साथ ही यूनिट की ओर से क्षेत्र में जागरूकता अभियान चलाकर लोगों को जागरूक भी किया गया। अभियान में प्रधानाचार्य आलोक बिरमानी, रशिता सपरा, बिंदेश्वरी, पूजा तोमर, वर्तिका, ममता जोशी, संगीता शर्मा, मोनिका निराला, प्रियंका, संगीता त्यागी, तेजल, शिम्पी गुरुंग, रजनी, प्राची, अंजली, शिवांगी, मानसी, सीमा राणा, संगीता बाली, कृतिका, नीलम आदि शामिल रहे।

भरोसा फाउंडेशन के संस्थापक अध्यक्ष हेमंत बहुखंडी ने थामा भाजपा का दामन

ऋषिकेश/रायवाला। भरोसा फाउंडेशन के संस्थापक अध्यक्ष हेमंत बहुखंडी ने भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक एवं महामंत्री कुलदीप सिंह के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। आज रायवाला स्थित वूडस् रिसोर्ट में सैकड़ों ग्राम प्रधानों, बीडीसी सदस्यों के साथ हेमंत बहुखंडी ने भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। इस अवसर पर भरोसा फाउंडेशन के संस्थापक अध्यक्ष हेमंत बहुखंडी ने कहा कि मैंने जीवन पर्यंत देश की सेवा की, पुलिस विभाग में रहते हुए ईमानदारी से अपना धर्म निभाया। मुझे राष्ट्रपति द्वारा पदक दिया गया। सेवानिवृत्ति के बाद मेरे मन में अपनी मातृभूमि यमकेश्वर सहित पूरे उत्तराखंड की सेवा करने का जज्बा मुझे बचपन से ही रहा, इसीलिए आज मैं सेवा भाव के चलते भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ग्रहण कर रहा हूं। भारतीय जनता पार्टी में मेरी आस्था शुरू से ही रही है। यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी ने पूरे विश्व में भारत का परचम लहराया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के चलते पूरा विश्व भारत की तरफ देख रहा है। मैं भारतीय जनता पार्टी की रीती नीतियों को अपने जीवन में आत्मसात कर देश समाज राज्य की सेवा करूंगा। कभी भी ऐसा कोई कार्य नहीं करूंगा जिससे भारतीय जनता पार्टी के दामन पर दाग लगे। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश महामंत्री कुलदीप सिंह ने कहा कि आज भारतीय जनता पार्टी के परिवार में जगह-जगह लोग शामिल हो रहे हैं, और आने वाला समय भारतीय जनता पार्टी का है। हेमन्त बहुखंडी बेहद इमानदार और नेक व्यक्ति हैं। वह आशा करते हैं कि भारतीय जनता पार्टी की रीती नीति को जन-जन तक पहुंचाएंगे और भारतीय जनता पार्टी को अधिक से अधिक ऊंचाइयों तक लेकर जाएंगे। उन्होंने कहा कि भरोसा फाउंडेशन के संस्थापक अध्यक्ष हेमंत बहुखंडी के आने से पार्टी को मजबूती मिलेगी और निश्चित रूप से यह पार्टी के हित में काम करेंगे। भारतीय जनता पार्टी लगातार बढ़ रही है। भारतीय जनता पार्टी का परिवार विस्तृत होता जा रहा है। आगामी चुनाव में भारतीय जनता पार्टी पिछले चुनाव की तुलना में अधिक से अधिक सीट लेकर अपना पुराना रिकॉर्ड तोड़ेगी। उत्तराखंड में भारतीय जनता पार्टी के सामने कोई भी पार्टी नहीं दिख रही है जो भारतीय जनता पार्टी की मुकाबला कर सके। देश के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी ने जो चुनाव में अपने वायदे किए थे सभी को पूरा किया। चाहे कश्मीर का मुद्दा हो चाहे तीन तलाक का मुद्दा हो, धारा 370 हो, बड़े बड़े फैसले हमारे देश के मजबूत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लिया है। आज भारत ही नहीं अपितु पूरे विश्व में भारतीय जनता पार्टी के कारण देश का नाम ऊंचा हो रहा है, और सभी भारतवासी नरेंद्र मोदी जी के कार्यों से बेहद उत्साहित है। आज यमकेश्वर के सैकड़ों ग्राम प्रधानों, बीडीसी सदस्यों ने जो भारतीय जनता पार्टी में विश्वास जताया है उसके लिए मैं हेमंत बनखंडी जी का आभार व्यक्त करता हूं, और आशा करता हूं कि आगामी चुनाव में सभी लोग मिलजुलकर भारतीय जनता पार्टी के लिए काम करेंगे। भारतीय जनता पार्टी की रीती नीतियों को आत्मसात कर पार्टी हित में काम करेंगे। प्रदेश अध्यक्ष एवं महामंत्री की उपस्थिति में लगभग 400 लोगों ने भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ग्रहण किया। सदस्यता लेने वाले ग्राम प्रधानों में प्रमुख रूप से यशोदा, अनूप कुमार, मनीषा, गीता देवी, देवेंद्र सिंह, मीना देवी, माला देवी, मनीषा देवी, नरेंद्र, पूर्ण सिंह, सुमन देवी, रोशनी देवी, राम सिंह, अजय, अनिता, अनिता रावत, आशा नेगी, राजेंद्र, मधु जोशी इसके साथ ही बीडीसी सदस्यों में गोला मल्ला से भूरा धनाई, सहित भारी संख्या में लोगों भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। कार्यक्रम में मुख्य रूप से मीडिया प्रभारी विनोद पांडे बेखबर राहुल बहुखंडी आशीष बनखंडी राहुल अग्रवाल उपस्थित थे। इसके अलावा भाजपा शामिल होने वालों में शैलेंद्र सिंह, धर्मेंद्र सिंह, जितेंद्र सिंह, विकास ,सुशील, योगेंद्र, मनोज बिष्ट, भगत सिंह, देवेंद्र, सत्यपाल सैनी, सुनील गुसाईं, अभिषेक बिष्ट, सुरेश सिंह, सत्येंद्र सिंह, आशीष कुमार, अवतार सिंह, अनिल सिंह, गुरप्रीत सिंह, वीर सिंह, अवनीत सिंह, शिवानी, सोनाली, संजय सिंह, सुधीर सिंह, दीपकमल, श्याम लाल शर्मा, जगदीश सिंह, कुमारी रेनू, शर्मिला देवी ,राकेश सिंह, अभिषेक बिष्ट, मीना देवी, कविता देवी, राधा देवी, प्रमिला देवी, सुलोचना देवी, अमरचंद, प्रमोद कुमार, विनीता देवी, मदन बिष्ट, भगवान सिंह, संदीप सिंह, मुकेश सिंह, अनूप सिंह, मोहन सिंह, सूर्य मोहन ,रोहित सिंह, संतोष सिंह, अनूप सिंह, जगदीश सिंह, सुनील सिंह, बाल किशन सिंह, दर्शन लाल बिष्ट, रामप्रसाद गुसाई, अरविंद सिंह ,धनीराम, नवीन सिंह ,राजकुमार रमेश चंद ,मदन मोहन काला, हिमांशु कुकरेती, प्रवीण काला ,सूर्य प्रकाश काला, भरत सिंह रावत, महेश काला, नरेश काला, राहुल रावत, संगना देवी, दीपक सिंह, बीना देवी, सरिता, प्रमिला देवी, शीला देवी ,अनीता देवी, बसंती देवी, राधा देवी, मंजूर अली, शहाबुद्दीन, अय्यूब अली, दिलशाद अली, आसिफ अली ,रिजवान, अरशद, सरताज अहमद, अरमान अली, ताहिर अली, मासूम अली ,अभिषेक रावत ,दीपक, महावीर, सुशील, नीरज, रोहित, मदन रावत, अमित नेगी, हिमांशु नेगी ने भी भाजपा की सदस्यता ग्रहण की।

आप पार्टी का मकसद उत्तराखंड नवनिर्माण व युवाओं को रोजगार देनाः कर्नल कोठियाल

देहरादून। आम आदमी पार्टी की रोजगार गारंटी यात्रा आज पांचवे दिन द्वारहाट विधानसभा पहुंची जहां पहुंचने पर स्थानीय जनता ने कर्नल कोठियाल का जोरदार स्वागत किया। द्वारहाट विधानसभा के मासी बाजार पहुंचते ही सबसे पहले कर्नल कोठियाल भूमिया देवता के दर्शन करने पहुंचे जहां देवता का आशिर्वाद लेकर उन्होंने उत्तराखंड नवनिर्माण के अपने लक्ष्य के लिए आशीर्वाद लिया। देव दर्शनों के बाद कर्नल कोठियाल ने यहां मौजूद सैकड़ों स्थानीय जनता और युवाओं से मुलाकात की । इसके बाद उन्होंने एक जनसभा को संबोधित किया। जहां जनता से रूबरू होते हुए उन्होंने कहा, मैं पहले भी मैं यहां से कई बार गुजर चुका हूं ,लेकिन यहां आकर भूमिया देवता के दर्शनों का सानिध्य प्राप्त होगा ,ऐसा सपने में भी नहीं सोचा था। उन्होंने आगे कहा कि मैं नेता नहीं हूं और ना ही मुझे नेता बनना है,लेकिन बाबा केदारनाथ में सेवा देने के बाद ,अब मेरे मन में सिर्फ और सिर्फ प्रदेश की जनता की सेवा करने का लक्ष्य है। उन्होंने कहा मैंने फौज की नौकरी की है, जहां हर हालातों में जल्दी निर्णय लेने पडते हैं और मुझमें जल्दी और सही निर्णय लेने का गुण है जो फौज ने मुझे सिखाया। उन्होंने आगे कहा कि हमारी पहली परीक्षा केदार आपदा में हुई थी जब सिंचाई विभाग, बिजली विभाग, पीडब्ल्यूडी ने अपने हाथ खडे कर दिए थे लेकिन युवाओं को साथ लेकर हमने केदारनाथ पुननिर्माण में अहम भागेदारी निभाई और अब बारी प्रदेश के पुननिर्माण की है जिसमें मुझे पूरा विश्वास है प्रदेश के युवा और प्रदेश की जनता इसमें हमारा पूर्ण सहयोग करेगी। उन्होंने कहा हमने यूथ फाउंडेशन के जरिए कई युवाओं को सेना के लिए तैयार किया और अब इस संख्या को सैकड़ांे गुना बढ़ाने के लिए मैंने आम आदमी पार्टी का दामन थामा है ताकि जिस तर्ज पर दिल्ली में सरकार रहते हुए आप पार्टी ने विकास की गंगा बहाई वही विकास उत्तराखंड में भी हो सके। उन्होंने कहा कि आप पार्टी काम की राजनीति करती है और हम काम के नाम पर वोट मांगने वाली पार्टी हैं बस जनता को यह फैसला लेना ही होगा कि प्रदेश के विकास में वो कैसी पार्टी को सत्ता पर देखना चाहते हैं। जनता को कैसी सरकार चाहिए, यह ताकत जनता के ही हाथों में है। उन्होंने कहा कि एक छोटी सी लड़की ने मुझे अपनी गुल्लक दी और कहा कि इस गुल्लक की धनराशि उत्तराखंड नवनिर्माण मे खर्च करें। उसी लडकी द्वारा दी गई वो गुल्लक मेरे लिए एक प्रेरणा है। इस गुल्लक में रखे 90 रुपये 90 हजार लोगों को रोजगार दे सकते हैं, बस इसका उपयोग सही जगह होना चाहिए, यदि विचारधारा सही है तो सब संभव है। इसके बाद कर्नल अजय कोठियाल ने चोखटिया में भी एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि हम जनता से पूछकर ही अपना मैनिफेस्टो तैयार करेंगे। इसके लिए गढ़वाल, कुमांऊ से अलग अलग बिंदुओं पर बात करेंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश यूपी से अलग होने के बाद भी जस का तस है और इन सब की जिम्मेदार राजनीतिक पार्टियां हैं। उन्होंने यहां की मातृशक्ति और युवा शक्ति को नमन करते हुए कहा कि, इन ताकतों का अहसास मुझे तब हुआ, जब केदारनाथ आपदा आई थी और सबने मिलकर हमारे साथ केदारनाथ पुननिर्माण में अपनी अहम भागेदारी निभाई थी। जब केदारनाथ में आपदा आई तब मुझे प्रदेश के युवाओं और महिलाओं के जज्बे का वास्तव में पता चला। तभी मैंने सेना की नौकरी के बाद जनसेवा का प्रण लिया। उन्होंने कांग्रेस और बीजेपी पर हमलावर होते हुए कहा कि हमारी सरकारें प्रदेश की अपार संभावनाओं को नहीं भांप सकी, वह भीतर ही भीतर एक दूसरे में व्यस्त रहे। कांग्रेस और बीजेपी में एक दूसरे के नेताओं और विधायकों को अपने पाले में खींचने की होड़ लगी है।लेकिन प्रदेश के विकास की तरफ किसी का ध्यान नहीं है। उन्होंने कहा कि आप पार्टी का मकसद युवाओं को सही दिशा देना और देवभूमि का नवनिर्माण करना है। फौज में हमने नेतागिरी नही सीखी, लेकिन विपरीत हालातों में निर्णय लेना जरुर सीखा है। आज कांग्रेस, बीजेपी हमारे ऊपर घात लगाए बैठे हैं, इसका मतलब हम सही दिशा में जा रहे है। अंत में जनता से कोठियाल ने कहा कि आपके द्वारा दिए गए सुझाव को हम अपने बिंदओ में जगह देंगे इसके बाद चौखुटिया चौक तक रोजगार गारंटी यात्रा के तहत रोड शो निकाला गया। रोड शो में जनता ने कोठियाल को भारी समर्थन और अपना आशीर्वाद दिया। चौखुटिया के बाद आप की रोजगार गारंटी यात्रा देर शाम द्वारहाट विधानसभा क्षेत्र के अंतर्गत जालली पहुंची। देर शाम होने के बाद भी स्थानीय लोग बड़ी तादात में यहां कर्नल कोठियाल का इंतजार कर रहे थे। इस दौरान आप नेता दिनेश जोशी, जीतू फुलारा,प्रकाश उपाध्याय,विजय बिष्ट, दीपक जोशी, नारायण दत्त जोशी, संजय यादव, दयाल नाथ, महेश जोशी, संजीव जोशी सहित सैकड़ों समर्थक मौजूद रहे।

चारधाम यात्रा से नाउम्मीद हुए व्यापारी और यात्री, सरकार की अनदेखी और लापरवाही से बिना दर्शन लौट रहे श्रद्धालु

देहरादून। आम आदमी पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता नवीन पिरशाली ने प्रदेश कार्यालय में एक प्रेसवार्ता का आयोजन करते हुए राज्य की धामी सरकार पर जमकर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि पुष्कर सिंह धामी भी पूर्व मुख्य मंत्रियों टीएसआर 1,टी एसआर 2 की तरह जीरो वर्क सीएम साबित हो रहे हैं। इनके कार्यकाल में चारधाम यात्रा पूरी तरह चौपट हो चुकी है और प्रदेश की आर्थिकी पर इसका गहरा असर पड रहा है। इसके साथ ही उन्होंने प्रदेश मे चल रही चारधाम यात्रा की अव्यवस्था पर बोलते हुए कहा कि, कोरोना महामारी के चलते दो साल के बाद चारधाम यात्रा शुरू होने से प्रदेश वासियों को एक उम्मीद जगी थी, लेकिन धामी सरकार की लचर व्यवस्थाओं से चारधाम यात्रा पर पूरी तरह पानी फिर गया है। उन्होंने कहा कि, प्रदेश की आर्थिकी की रीढ माने जाने वाली चारधाम यात्रा को कोर्ट के आदेश के बाद शुरु तो जरुर किया गया, लेकिन भारी अव्यवस्थाओं के चलते सरकारी सिस्टम की पोल खुल चुकी है, कि महज खानापूर्ति के लिए सरकार द्वारा इस चारधाम यात्रा को सुचारु किया गया है। उन्होंने कहा कि लाखों लोगों की रोजी रोटी का जरिया बनी चारधाम यात्रा ,आज सरकारी उदासीनता के कारण अनदेखी का शिकार हो रही है। प्रदेश में देवस्थानम बोर्ड की वेबसाईट पर चारधाम यात्रियों के लिए पंजीकरण खोले गए, लेकिन कई ऐसे लोग हैं जिनके पंजीकरण हो ही नहीं पा रहे हैं ,और जो नियम बने हैं वो इतने जटिल हैं कि इच्छुक यात्रा चारधाम यात्रा पर नहीं आ पा रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश के लाखों लोग, जिनका रोजगार इस यात्रा से जुड़ा है, खुश थे कि यात्रा खुलने के बाद उनकी दिक्कतें कुछ कम होंगी लेकिन बढती अव्यवस्थाओं के कारण उन्हें निराश होना पड रहा है। 18 सितंबर को चारधाम यात्रा शुरु हुई थी लेकिन महज दो हफ्ते के अंतराल में ही बढती और लचर व्यवस्थाओं ने चारधाम यात्रा की पोल खोल कर रख दी है। उन्होंने सरकार को सुझाव देते हुए कहा कि यदि सरकार आप पार्टी की मदद्द लेना चाहे तो आप पार्टी अपने वॉलेंटियरर्स को चारधाम यात्रा में भेज सकती है ताकि यात्रियों को मदद मिलने के साथ कोई असुविधा ना हो। आप प्रवक्ता ने कहा,चारधाम यात्रा ना केवल भारत बल्कि पूरे विश्व के हिन्दुओं की आस्था का प्रतीक है लेकिन सरकारी कुप्रबंधन ने हिंदुओं की आस्था पर गहरी चोट पहुंचाई है। यात्रियों को बिना दर्शन करे ही लौटने को मजबूर होना पड रहा है। इससे बडे शर्म की बात बीजेपी सरकार और उत्तराखंड के लिए कुछ नहीं हो सकती है। एक ओर सरकार दोबारा कोर्ट जाने की तैयारी कर रही है वहीं पहले से चल रही यात्रा को ही सरकार व्यवस्थित नहीं कर पा रही है।

85 मृतक आश्रित परिवारों को स्पीकर अग्रवाल ने विवेकाधीन कोष से चेक वितरित किए

ऋषिकेश। कोरोना महामारी के दौरान जिन लोगों ने अपने परिजनों को गंवाया ऐसे 85 मृतक आश्रित परिवारों को विधानसभा अध्यक्ष विवेकाधीन कोष से 8 लाख 50 हज़ार रुपये के चेक वितरित किए गए। बैराज रोड स्थित कैंप कार्यालय पर आयोजित कार्यक्रम के दौरान श्री अग्रवाल ने चेक वितरित करते हुए कहा कि कोरोना काल के दौरान ऋषिकेश विधानसभा क्षेत्र से भी अनेक लोग कोरोना की जंग हार गए। ऐसे में 85 मृतक आश्रित परिजनों को विधानसभा अध्यक्ष विवेकाधीन कोष से 10-10 हजार रुपये की धनराशि के चेक वितरित किए गए हैं।उन्होंने कहा कि कोरोना काल में संपूर्ण देश भर में अनेक लोगों की क्षति हुई है, जो अत्यंत दुखदाई थी। श्री अग्रवाल के यह बोलते ही कार्यक्रम में उपस्थित अनेक मृतकों के परिजनों के आंसू छलक आए। श्री अग्रवाल ने ढाँढस बाँधते हुए कहा कि जो लोग कोरोना काल मे अपने परिजनों से बिछड़ गए वह वापस नहीं आ सकते परंतु अब आत्मनिर्भरता के साथ स्वयं के बल पर खड़े होने की आवश्यकता है। श्री अग्रवाल ने कहा है कि कोरोना काल के दौरान अनेक लोगों को राशन के किट, मास्क, सैनिटाइजर एवं जरूरतमंदों को जीवन यापन की सभी सामग्री उपलब्ध कराने का प्रयास किया गया ताकि कोई भी व्यक्ति भूखा ना सोये। इसी परिपेक्ष जो लोग काल के ग्रास बने उनके परिजनों को कुछ राहत मिल सके इसलिए विवेकाधीन कोष से यह राशि उपलब्ध कराई गई। श्री अग्रवाल ने कहा है कि प्रदेश सरकार द्वारा वात्सल्य योजना के तहत भी लोगों को लाभ मिल रहा है इस योजना का उद्देश्य यही है कि कोई भी बच्चा अपने माता-पिता के अभाव में अशिक्षित ना रह सके। इस अवसर पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के जिला प्रचारक भूपेंद्र सिंह ने विधानसभा अध्यक्ष के इस प्रयास की सराहना की, उन्होंने कहा है कि जिन लोगों के सामने आज रोजी रोटी का संकट है उनके लिए इस प्रकार की आर्थिक सहायता उपलब्ध कराना वरदान साबित होगा। कार्यक्रम में संघ के जिला संपर्क प्रमुख राकेश शर्मा, नगर निगम के पार्षद राजेश दिवाकर, पार्षद सरदार अजीत सिंह गोल्डी, चेतन चौहान, रीना शर्मा, लव कांबोज, प्रधान भगवान सिंह महर, प्रधान सोवन कैंतूरा, विजयलक्ष्मी शर्मा सहित कोरोना मृतक आश्रितों के परिजनों में निशा देवी, मनीषा देवी, सुरेंद्र सिंह, केशव देवी, महेश्वरी देवी, उमा देवी, सोनल देवी, नेहा झा, ममता, संगीता देवी, सीमा देवी, मिथिलेश शर्मा, पूजा उनियाल, सुनीता, राधा देवी आदि सहित बड़ी संख्या में लोग उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन कविता शाह ने किया।

महिला मोर्चा की पदाधिकारियों ने स्पीकर अग्रवाल से की भेंट

ऋषिकेश। ऋषिकेश स्थित विधानसभा अध्यक्ष प्रेम चंद अग्रवाल के निजी आवास पर बुधवार को महिला मोर्चा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं उत्तर प्रदेश महिला मोर्चा की प्रभारी रेखा गुप्ता सहित महिला मोर्चा की अन्य राष्ट्रीय पदाधिकारियों ने शिष्टाचार भेंट कर विभिन्न विषयों पर चर्चा वार्ता की। साथ ही गंगा आरती की भव्यता देखकर अभिभूत हुई महिला पदाधिकारियों ने विधानसभा अध्यक्ष का आभार भी व्यक्त किया। इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष ने अपने आवास पर सभी पदाधिकारियों का स्वागत करते हुए कहा कि देवभूमि उत्तराखंड का निर्माण ही महिलाओं के संघर्ष के बल पर हुआ है उन्होंने कहा है कि उत्तराखंड प्रदेश के विकास में भी महिलाओं का बड़ा योगदान है।श्री अग्रवाल ने भारतीय जनता पार्टी महिला मोर्चा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी में प्रतिभाग करने वाली सभी महिलाओं का गंगा आरती में सम्मिलित होने के लिए धन्यवाद व्यक्त किया स इस अवसर पर महिला मोर्चा की राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी नीतू डबास, महिला मोर्चा की राष्ट्रीय सचिव सुमित्रा दहिया भी उपस्थित थी।

मुख्यमंत्री ने दी विभिन्न निर्माण कार्यों के लिए दी वित्तीय स्वीकृति

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने विभिन्न विकास कार्यों हेतु वित्तीय एवं प्रशासकीय स्वीकृति प्रदान की है। मुख्यमंत्री ने सी०आर०आई०एफ० (केन्द्रीय सड़क अवसंरचना निधि) के अन्तर्गत जनपद हरिद्वार के बहादराबाद-धनौरी-इमलीखेड़ा भगवानपुर-गागलहेड़ी राज्य मार्ग- 68 तथा पुहाना इकबालपुर-झबरेड़ा-गुरुकुल नारसन राज्य मार्ग-28 पर रोड फर्नीचर, रोड मार्किंग तथा अन्य विविध कार्यों हेतु 260.35 लाख की वित्तीय स्वीकृति प्रदान की है। मुख्यमंत्री ने विधानसभा क्षेत्र लोहाघाट के अन्तर्गत विभिन्न 02 निर्माण कार्यों हेतु 389.83 लाख रूपये, टी०एस०पी० के अन्तर्गत विधानसभा क्षेत्र सितारगंज में बिज्टी मार्ग होते हुये ग्राम करघाटा में कलासेन के घर एवं रसोईपुर मार्ग से बिज़्टी लिंक मार्ग का नव निर्माण हेतु 114.77 लाख रूपये, विधानसभा क्षेत्र रूद्रप्रयाग के अन्तर्गत विभिन्न 02 निर्माण कार्यों हेतु 100.35 लाख रूपये, विधानसभा क्षेत्र बी०एच०ई०एल० के अन्तर्गत विभिन्न 07 निर्माण कार्यों हेतु 383.60 लाख रूपये की वित्तीय स्वीकृति प्रदान की है। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कोविड-19 के कारण चारधाम यात्रा एवं पर्यटन गतिविधियों पर प्रतिकूल प्रभाव के दृष्टिगत वीर चन्द्र सिंह गढ़वाली एवं दीनदयाल उपाध्याय होम स्टे योजना हेतु ऋण पर 06 माह के ब्याज की प्रतिपूर्ति हेतु प्रथम चरण में राहत कोष से 02 करोड़ रूपये की स्वीकृति तथा मुख्यमंत्री घोषणा के क्रम में कोविड-19 उपचार में तैनात कुल 1559 चिकित्सकों को प्रति चिकित्सक के लिए 10 हजार रुपए की प्रोत्साहन राशि हेतु 1,55,90,000 रूपये की धनराशि की स्वीकृति प्रदान की है। मुख्यमंत्री ने चीनी मिल सितारगंज में आउटसोर्स एजेन्सी के माध्यम से पेराई सत्र 2021-22 में संचालन कराये जाने हेतु 19.27 करोड़ रूपये की भी वित्तीय स्वीकृति प्रदान की है।

टाडा की बैठक में निर्णय 10 बोटों के जारी होंगेलाइसेंस

टिहरी। टिहरी बांध जलाशय में संचालित होने वाली नई साहसिक गतिविधियों पैरासेलिंग बोट, क्रूज बोट व शिकारा बोट के लिए प्राप्त आवेदनों पर डीएम इवा श्रीवास्तव ने टाडा की बैठक लेकर चर्चा की। आवेदकों के साक्षात्कार को लेकर लाइसेंस निर्गत समिति को डीएम ने विभिन्न निर्देश दिये। जिला सभागार में आयोजित बैठक में डीएम इवा श्रीवास्तव ने नई साहसिक गतिविधियों के तहत प्रथम चरण में पैरा सीलिंग बोट को 2, क्रूज बोट को 3 व शिकारा बोट को 5 लाइसेंस निर्गत करने के निर्देश दिये। डीएम ने कहा कि प्राप्त आवेदनों में सभी नियमों और शर्तों को पूरा करने वाले आवेदकों को 1 सप्ताह के भीतर कार्य आदेश जारी कर दिए जायेंगे। कार्य आदेश जारी होने से 9 माह के भीतर बोटों को झील में उतारना होगा। टिहरी विशेष क्षेत्र पर्यटन विकास प्राधिकरण के कर्मचारियों के लिए ड्रेस कोड जारी करते हुये वर्दी व पहचान पत्र देने के निर्देश दिये। टिहरी बांध जलाशय में नियमों का उल्लंघन करने पर चालन की कार्यवाही, होटल ली राय ग्रुप को दिए जाने वाले बोट लाइसेंस, प्राधिकरण कार्यालय द्वारा लिए जाने वाले प्रति यात्री शुल्क में बढ़ोतरी, प्राधिकरण कार्यालय में कर्मचारियों की नियुक्ति, वोट लाइसेंस नवीनीकरण एवं लाइसेंस निर्गत किए जाने संबंधी बिंदुओं पर विस्तृत चर्चा बैठक में की गई। बैठक में एसीओ टाडा लक्ष्मी राज चौहान, जिला पर्यटन अधिकारी एसएस यादव, एएमए जिला पंचायत संजय खंडुड़ी, साहसिक खेल अधिकारी सोबत सिंह राणा, सहायक पर्यटन अधिकारी विजय राणा आदि मौजूद रहे।

साइकिल रैली का हुआ आयोजन

पौड़ी। आजादी के अमृत महोत्सव के तहत खेल व युवा कल्याण विभाग के संयुक्त तत्वावधान में 18 वर्ष से अधिक आयुवर्ग की साईकिल रैली का आयोजन किया गया। इस दौरान कार्यक्रम में पैठाणी के रहने वाले अंतरराष्ट्रीय बाक्सर जयदीप रावत को भी सम्मानित किया गया। बुधवार को पौड़ी में साइकिल रैली को विधायक पौड़ी मुकेश कोली व डीएम डा.विजय कुमार जोगदंडे ने हरी झंडी देकर रवाना किया। साईकिल रैली कंडोलिया से घुड़दौडी व वापस कंडोलिया तक आयोजित की गई। साइकिल रैली में 21 प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया। कार्यक्रम के दौरान पैठाणी निवासी एवं अंतरराष्ट्रीय बॉक्सर जयदीप रावत को उनके उत्कृष्ट प्रदर्शन व जिले का नाम रोशन करने पर सम्मानित किया गया। इस दौरान डीएम ने सामान्य ज्ञान प्रतियोगिता के विजेता प्रतिभागियों को भी सम्मानित किया। इस मौके पर प्रभारी जिला क्रीडा अधिकारी अरूण बंग्याल, शैलेश भट्ट, जिला युवा कल्याण अधिकारी गणेश थपलियाल, सीओ पीएल टम्टा, बबीता रावत, योगंबर नेगी, उमा रोथाण, राजेंद्र सिंह रावत, जितेंद्र राय, अजय रावत आदि शामिल थे।

रामदेई जिलाध्यक्ष व पूनम डोभाल सचिव चुने गए

टिहरी। आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की बैठक जिला मुख्यालय के दुर्गामंदिर में संपन्न हुई। जिसमें एक सूत्रीय मांग को लेकर आगामी 1 अक्तूबर से आंदोलन शुरू करने को लेकर चर्चा करने के साथ ही जिला कार्यकारिणी का सर्वसम्मति से चुनाव किया गया। सर्वसम्मति से हुये चुनाव में आंगनबाड़ी कार्यकत्री संगठन का जिलाध्यक्ष रामदेई राणा, उपाध्यक्ष सोनी, महामंत्री लक्ष्मी, सचिव पूनम डोभाल, कोषाध्यक्ष मीना को चुना गया। सर्वसम्मति से हुये चुनाव के बाद आंगनबाडी कार्यकर्ताओं ने 18 हजार रुपये मानदेय दिये जाने की एक सूत्रीय मांग को लेकर आंदोलन पर चर्चा की। उन्होंने कहा कि यदि सरकार उनकी मांग को नहीं मानती है, तो वे अक्तूबर से आंदोलन करने को बाध्य होंगे। इस मौके पर पुष्पा सजवाण, शंकुतला विष्ट, उषा राणा, मीना रावत, हरिप्रिया, रजनी रावत, बागेश्वरी, कृष्णा नौटियाल, सरस्वती आदि मौजूद रहे।

3 तक जिला समाज कल्याण अधिकारी को भेजे आवेदन पत्र

पौड़ी। डीएम डा. विजय कुमार जोगदण्डे ने सभी एसडीएम, खण्ड विकास अधिकारियों को कहा कि बीते वर्षों की तरह इस वर्ष भी 3 दिसम्बर को विश्व दिव्यांग दिवस के अवसर पर उत्कृष्ट दिव्यांग कर्मचारियों, स्वत रोजगार में कार्यरत दिव्यांग व्यक्तियों, दिव्यांगों की सेवा योजकों, प्लेसमेंट, अधिकारियों, उत्कृष्ट दिव्यांग खिलाड़ियों, दक्ष दिव्यांग कर्मचारियों को चयनित कर राज्य स्तरीय पुरस्कार वितरित किये जाने हेतु प्रस्ताव मांगे गए हैं। उन्होंने सभी एसडीएम व खण्ड विकास अधिकारियों को निर्देशित किया है कि अपने अधीनस्थ उत्कृष्ट दिव्यांग कर्मचारियों, स्वत रोजगार में दिव्यांगों, दिव्यांगों की सेवा योजकों, प्लेसमेंट, अधिकारियों, उत्कृष्ट दिव्यांग खिलाड़ियों, दक्ष दिव्यांग कर्मचारियों को चयनित कर राज्य स्तरीय पुरस्कार पात्र अभ्यर्थियों के आवेदन पत्र पूर्ण विवरण सहित 3 अक्टूबर 2021 तक जिला समाज कल्याण अधिकारी कार्यालय पौड़ी को दे दे।

कार और मैक्स की टक्कर, तीन शिक्षिकाओं समेत आठ घायल

रुड़की। कलियर-इमलीखेड़ा मार्ग पर दूध से भरी मैक्स एवं मारुति कार की टक्कर में आठ व्यक्ति घायल हो गए। घायलों में राजकीय इंटर कालेज की तीन शिक्षिकाएं भी शामिल हैं। घायलों को पहले रुड़की अस्पताल में भर्ती कराया गया। बाद में दो को हायर सेंटर रेफर कर दिया है। बुधवार सुबह के समय एक मारुति कार हरिद्वार की ओर से आ रही थी, जबकि दूध से भरी मैक्स गाड़ी हरिद्वार की ओर जा रही थी। जैसे ही दोनों वाहन इमलीखेड़ा-कलियर मार्ग पर दरियापुर गांव के समीप पहुंचे तो उनकी भिड़ंत हो गई। वाहनों के आपस में टकराने के साथ ही यहां पर जाम लग गया। सड़क पर अफरा-तफरी मच गई। कार सवार चालक हिमांशु शर्मा, अध्यापिका रीना देवी, रेनू खंडूड़ी और रचना कुंडू घायल हो गई। सभी को राजकीय इंटर कालेज खेड़ी शिकोहपुर पहुंचना था। इसके अलावा मैक्स का चालक अब्दुल करीम भी घायल हो गया है। कुछ और व्यक्तियों को भी चोट आई है। घायलों की चीख पुकार सुनकर मौके पर भारी भीड़ जमा हो गई। सभी घायलों को 108 एंबुलेंस की मदद से रुड़की के सिविल अस्घ्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां पर दो की हालत को नाजुक देखते हुए उन्घ्हें हायर सेंटर रेफर किया गया। हादसे की जानकारी मिलने पर घायलों के स्वजन एवं अन्य विद्यालयों के शिक्षक भी अस्पताल में पहुंचे। इस संबंध में पुलिस अधीक्षक देहात प्रमेंद्र डोबाल ने बताया कि दोनों ही वाहन तेज गति में थे, जिसकी वजह से हादसा हुआ है।

प्रेमनगर के घौलास क्षेत्र में दोहरा हत्याकांड, महिला और नौकर का घर में मिला शव

देहरादून। थाना प्रेमनगर क्षेत्र के धौलास क्षेत्र में दोहरे हत्याकांड को अंजाम दिया गया है। यहां घर के पीछे महिला और उनके नौकर का शव बरामद शख्स का शव बरामद किया गया है। मौके पर पहुंची पुलिस ने शवों को कब्जे में ले लिया। एसएसपी जन्मेजय खंडूरी और एसपी सिटी सरिता डोभाल ने भी घटनास्थल पर पहुंचकर छानबीन की। वहीं, दोनों के गले पर धारदार हथियार के निशान भी पाए गए हैं। फिलहाल, मामले की हर एंगल से जांच की जा रही है। इसे अवैध संबंध के चलते की गई हत्या के रूप में भी देखा जा रहा है। हालांकि, हत्या की असल वजह जांच के बाद ही सामने आ पाएगी। धौलास क्षेत्र निवासी सुभाष शर्मा अपनी पत्नी उन्नति शर्मा (55 साल) और नौकर राजकुमार थापा (50 वर्ष) के साथ पिछले आठ साल से यहां रह रहे थे। बताया गया कि सुभाष शर्मा की पत्नी और उनका नौकर अचानक गायब हो गए। उन्होंने उनको पूरे घर में ढूंढा, लेकिन वो कहीं नहीं मिले। इसपर उन्होंने घर दूध पहुंचाने वाली महिला को फोन किया और उसे कहा कि शायद उनकी पत्नी और नौकर का किडनैप हो गया है। वो उन्हें घर पर कहीं भी नहीं मिल रहे हैं। वो उनकी मदद करे। महिला अन्य लोगों के साथ उनके घर पहुंची और उनकी खोजबीन करने लगे। इस बीच उनके घर के पीछे उन्हें ढूंढ़ रही महिओं को एक बड़ी पालीथिन नजर आई, जिसके नीचे किसी का पैर दबा हुआ नजर आ रहा था। उन्होंने बिना देरी के पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने घटनास्थल का जायजा लिया तो सुभाष शर्मा की पत्नी और उनके नौकर का शव नजर आया। पुलिस ने शवों को कब्जे में लिया और पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। वहीं, फारेंसिक टीम ने घटनास्थल से साक्ष्य जुटाए। हत्या कब और कैसे की गई ये तो पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही पता चल सकेगा। ये भी आशंका जताई जा रही है कि अवैध संबंध के शक में दोनों की हत्या की गई है।धौलास निवासी सुभाष शर्मा यूके में नौकरी करते थे। 40 साल तक वे वहीं थे। पिछले आठ साल से वे यहां स्थित अपने बंगले में पत्नी और नौकर के साथ रह रहे थे। उनके बच्चे लंदन में रहते हैं। उनके घर के पीछे से इस तरह से शवों का मिलना कई सवाल खड़े कर रहा है। शक की सुई सुभाष शर्मा पर भी घूम रही है।

सचिवालय संघ का सरकार को अल्टीमेटम, 4 अक्टूबर से तय होगी आंदोलन की रूपरेखा

देहरादून। अपनी मांगों को लेकर राज्य कर्मचारियों ने फिलहाल कुछ दिनों के लिए विरोध प्रदर्शन स्थगित करने का निर्णय लिया है। लेकिन सरकार के लिए यह राहत कुछ दिनों की ही होगी। दरअसल सचिवालय संघ ने 4 अक्टूबर से 2 घंटे का कार्य बहिष्कार करने का फैसला लिया है। सचिवालय संघ के कर्मचारियों का यह विरोध उनकी लंबित मांगों को लेकर है। इसमें कर्मचारियों और पेंशनर्स के लिए गोल्डन कार्ड में खामियां दूर करने, एसीपी की पूर्वव्यवस्था को बहाल करने, कार्मिक विभाग की शिथिलीकरण नियमावली 2002 को दोबारा लागू करने के विषय शामिल हैं.इस मुद्दे को लेकर एक दिन पहले ही कर्मचारी मुख्यमंत्री से मुलाकात कर चुके हैं। जिसके आधार पर कर्मचारियों ने सरकार को 5 दिन का वक्त दिया है। कर्मचारियों ने साफ कर दिया है कि 4 अक्टूबर से आंदोलन की नई रूपरेखा तय की जाएगी और कार्य बहिष्कार की शुरुआत के साथ हड़ताल तक करने से कर्मचारी गुरेज नहीं करेंगे। आपको बता दें कि 2 दिन पहले ही कर्मचारियों ने गोल्डन कार्ड के आदेश की प्रतियां जलाकर अपना विरोध भी दर्ज कराया था। सचिवालय संघ के अध्यक्ष दीपक जोशी ने बताया कि राज्य सरकार से इस संबंध में कई दौर की बातचीत हो चुकी है। इसके मद्देनजर सरकार के प्रतिनिधियों की तरफ से आश्वासन भी दिए जाते रहे, लेकिन अब तक उनकी मांगों पर सकारात्मक निर्णय नहीं हो पाया है। लिहाजा, अब कर्मचारी सरकार से आर-पार की लड़ाई लड़ने को तैयार हैं।

पीएम मोदी 7 अक्टूबर को करेंगे केदारनाथ का दौरा

देहरादून। आखिरकार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का बहुप्रतीक्षित उत्तराखंड दौरा तय हो गया है। प्रधानमंत्री 7 अक्टूबर को उत्तराखंड आएंगे। पीएम मोदी ऋषिकेश में ऑक्सीजन प्लांट का उद्घाटन करेंगे। इसके साथ ही जौलीग्रांट एयरपोर्ट टर्मिनल का उद्घाटन भी करेंगे। प्रधानमंत्री मोदी ऋषिकेश में एक जनसभा को भी संबोधित कर सकते हैं। पीएम मोदी केदारनाथ धाम भी जाएंगे। वहां पीएम पुनर्निर्माण कार्यों का जायजा लेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इस दौरे से बीजेपी के चुनाव अभियान को रॉकेट की गति मिलने की उम्मीद है। हाल के दिनों में बीजेपी विपक्ष को कई बड़े झटके दे चुकी है। पिछले दिनों दो विधायक बीजेपी में शामिल हो चुके हैं। धनौल्टी से निर्दलीय विधायक प्रीतम सिंह पंवार बीजेपी की सदस्यता ले चुके हैं। उधर पुरोला से कांग्रेस के विधायक राजकुमार ने भी बीजेपी का दामन थाम लिया है। यह पहला मौका है, जब कोरोना काल के दौरान प्रधानमंत्री देवभूमि के दौरे पर आ रहे हैं। इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी साल 2019 में बाबा केदारनाथ के दर पर मत्था टेक चुके हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 7 अक्टूबर को देवभूमि में रहने वाले हैं। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बाबा केदारनाथ धाम में दर्शन-पूजन करेंगे।

आनंद गिरि के सील हुए आश्रम में चोरी, पुलिस की व्यवस्था पर सवाल

हरिद्वार। श्यामपुर स्थित आनंद गिरि के सील हो चुके आश्रम में चोरी की घटना सामने आई है। मामले में पुलिस ने चोर को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। पुलिस की मानें तो आरोपी युवक के पास से पानी की मोटर और जूसर बरामद हुआ है। वहीं, हाई प्रोफाइल मामले से जुड़े आश्रम में चोरी होने से पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था और मुस्तैदी पर सवाल खड़े हो रहे हैं। बता दें कि बीते 22 सितंबर को हरिद्वार-रुड़की विकास प्राधिकरण ने आश्रम को सील कर दिया था। तब से आश्रम में कोई नहीं रहता है, लेकिन चोरों ने इस आश्रम को खंगाल दिया। हालांकि, चोर सामान समेत पुलिस के हत्थे चढ़ गया है। वहीं, आश्रम में चोरी के मामले पर हरिद्वार पुलिस कुछ भी कहने से बच रही है। स्थानीय लोगों के मुताबिक, आए दिन इस इलाके में चोरी की घटनाएं होती रहती हैं। ऐसे में बंद पड़े आश्रम में चोरी होना कोई नई बात नहीं है। ऐसे में पुलिस की मुस्तैदी और कार्यशैली पर कई सवाल उठ रहे हैं। बता दें कि अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि ने बीती 20 सितंबर को प्रयागराज स्थित बाघम्बरी पीठ में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी. महंत नरेंद्र गिरि ने आत्महत्या से पहले सुसाइड नोट भी लिखा था. इस सुसाइड नोट के आधार पर महंत नरेंद्र गिरि के चेले आनंद गिरि, मंदिर के पुजारी आद्या प्रसाद और आद्या प्रसाद के पुत्र संदीप प्रसाद को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष नरेंद्र गिरि की मौत के मामले में फंसे आनंद गिरि की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। उधर, प्रयागराज में सीबीआई नरेंद्र गिरि मौत मामले की जांच में जुटी हुई है। उम्मीद जताई जा रही है कि सीबीआई आनंद गिरि को उनके आश्रम भी लेकर पहुंच सकती है, लेकिन यहां आश्रम को चोर पहले ही खंगाल चुके हैं। गौर हो कि आनंद गिरि का आश्रम हरिद्वार के गाजीवाली इलाके में है। बीते 13 मई को भी हरिद्वार-रुड़की विकास प्राधिकरण ने आश्रम के निर्माण को नियम विरुद्ध बताते हुए सील किया था। बावजूद इसके आनंद गिरि आश्रम का निर्माण कार्य कर रहे थे और हरिद्वार-रुड़की विकास प्राधिकरण को इसकी जानकारी तक नहीं थी। जिसके बाद बीते 22 सितंबर को हरिद्वार-रुड़की विकास प्राधिकरण ने आनंद गिरि के निर्माणाधीन आश्रम को सील कर दिया था।आनंद गिरि के सील हुए आश्रम में चोरी, पुलिस की व्यवस्था पर सवाल हरिद्वार, आजखबर। श्यामपुर स्थित आनंद गिरि के सील हो चुके आश्रम में चोरी की घटना सामने आई है। मामले में पुलिस ने चोर को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। पुलिस की मानें तो आरोपी युवक के पास से पानी की मोटर और जूसर बरामद हुआ है। वहीं, हाई प्रोफाइल मामले से जुड़े आश्रम में चोरी होने से पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था और मुस्तैदी पर सवाल खड़े हो रहे हैं। बता दें कि बीते 22 सितंबर को हरिद्वार-रुड़की विकास प्राधिकरण ने आश्रम को सील कर दिया था। तब से आश्रम में कोई नहीं रहता है, लेकिन चोरों ने इस आश्रम को खंगाल दिया। हालांकि, चोर सामान समेत पुलिस के हत्थे चढ़ गया है। वहीं, आश्रम में चोरी के मामले पर हरिद्वार पुलिस कुछ भी कहने से बच रही है। स्थानीय लोगों के मुताबिक, आए दिन इस इलाके में चोरी की घटनाएं होती रहती हैं। ऐसे में बंद पड़े आश्रम में चोरी होना कोई नई बात नहीं है। ऐसे में पुलिस की मुस्तैदी और कार्यशैली पर कई सवाल उठ रहे हैं। बता दें कि अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि ने बीती 20 सितंबर को प्रयागराज स्थित बाघम्बरी पीठ में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी. महंत नरेंद्र गिरि ने आत्महत्या से पहले सुसाइड नोट भी लिखा था. इस सुसाइड नोट के आधार पर महंत नरेंद्र गिरि के चेले आनंद गिरि, मंदिर के पुजारी आद्या प्रसाद और आद्या प्रसाद के पुत्र संदीप प्रसाद को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष नरेंद्र गिरि की मौत के मामले में फंसे आनंद गिरि की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं। उधर, प्रयागराज में सीबीआई नरेंद्र गिरि मौत मामले की जांच में जुटी हुई है। उम्मीद जताई जा रही है कि सीबीआई आनंद गिरि को उनके आश्रम भी लेकर पहुंच सकती है, लेकिन यहां आश्रम को चोर पहले ही खंगाल चुके हैं। गौर हो कि आनंद गिरि का आश्रम हरिद्वार के गाजीवाली इलाके में है। बीते 13 मई को भी हरिद्वार-रुड़की विकास प्राधिकरण ने आश्रम के निर्माण को नियम विरुद्ध बताते हुए सील किया था। बावजूद इसके आनंद गिरि आश्रम का निर्माण कार्य कर रहे थे और हरिद्वार-रुड़की विकास प्राधिकरण को इसकी जानकारी तक नहीं थी। जिसके बाद बीते 22 सितंबर को हरिद्वार-रुड़की विकास प्राधिकरण ने आनंद गिरि के निर्माणाधीन आश्रम को सील कर दिया था।

नशे में नाबालिग बेटी की आबरू लूटता रहा दरिंदा पिता, घर से भागी बड़ी बहन ने खोला राज

चंपावत। बाप-बेटी के रिश्ते को एक और कलयुगी पिता ने शर्मसार किया है। नेपाल मूल का यह कलयुगी पिता शराब के नशे में 13 साल की नाबालिग बेटी की आबरू लूटता रहा। राज खुला तो स्वयंसेवी संस्था रीड्स ने पिता के खिलाफ दुष्कर्म और पॉस्को एक्ट समेत विभिन्न धाराओं में केस दर्ज कराया है। पुलिस मामले की जांच के साथ ही दरिंदे पिता की गिरफ्तारी के प्रयास में जुट गई है। नेपाल मूल का निवासी आरोपी पचपकरिया में बटाई में खेती करता है। शराब के नशे में पति की हरकतों के तंग होकर कुछ समय पूर्व उसकी पत्नी 15 व 13 साल की बेटियों व 10 साल के बेटे को छोड़ कर घर से कहीं चली गई। दोनों बेटियां और बेटा पिता के साथ रहते हैं। बताया गया कि गत 26 सितंबर को उसकी बड़ी बेटी घर से भाग गई थी, जिसे पुलिस ने खोजकर रीड्स संस्था के उज्वला पुनर्वास केंद्र के सुपुर्द किया था। बताया गया कि पुनर्वास केंद्र में हुई पूछताछ में उसने पिता की दरिंदगी का राज खोला तो संस्था के कार्यकर्ता दंग रह गए। संस्था के को-आर्डिनेटर जनक चंद के मुताबिक दरिंदा पिता शराब के नशे में तीनों बच्चों के साथ न सिर्फ मारपीट करता है, बल्कि 13 साल की छोटी बेटी की आबरू भी लूटता रहा। पिता की दरिंदगी पता चलने पर संस्था की ओर से आरोपी पिता के खिलाफ थाने में आईपीसी की धारा 376, 323, 504, 506 व 3/4, 5/6 पॉस्को एक्ट के तहत केस दर्ज कराया गया है। थानाध्यक्ष लक्ष्मण सिंह जगवाण ने बताया कि मामले की जांच शुरू करने के साथ ही आरोपी पिता की गिरफ्तारी के प्रयास किए जा रहे हैं।

दून को बर्बाद कर रहा स्मार्ट सिटी का कामः धस्माना

देहरादून। कांग्रेस प्रदेश उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना ने स्मार्ट सिटी के नाम पर शहर को बर्बाद करने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि परेड ग्राउंड शहर के वाटर रिचार्ज का सबसे बड़ा सोर्स था। इसे कंक्रीट का जंगल बना दिया गया है। सड़कों की बुरी हालत है। उन्होंने स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के नाम पर सरकार पर घोटाले का आरोप लगाया। राजपुर रोड स्थित प्रदेश मुख्यालय में पत्रकारों से बात करते हुए धस्माना ने कहा कि परेड ग्राउंड देश नामचीन नेताओं की रैली का गवाह रहा है। दशहरा मेला, खेल, बड़े मेले, प्रदर्शनी से परेड ग्राउंड की पहचान थी, लेकिन अब इसे जकड़ लिया गया है। यह जगह शहर के पर्यावरण के लिहाज से महत्वपूर्ण थी, लेकिन इसे तहस-नहस कर दिया गया। स्मार्ट सिटी के नाम पर सीवर सिस्टम फेल है। ड्रेनेज सिस्टम का बुरा हाल है। खुद भाजपा के विधायक ही अफसरों को विकास भवन के सामने स्मार्ट सिटी की हकीकत दिखाने ले गए थे। उन्होंने एमडीडीए के बजट से बन रही सड़कों पर भी सवाल उठाए। आरोप लगाया कि एक ही सड़क को कई विभाग बना रहे हैं। करोड़ों का बजट घपला करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि कैंट क्षेत्र में कैनाल रोड उखड़ी पड़ी है। छोटी बिंदाल की समस्या को लेकर सिंचाई विभाग ने जो प्रस्ताव तैयार किया है। उसे सत्ताधारी पार्टी के नेता पास नहीं होने दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि अगर समस्याएं हल नहीं हुई तो कांग्रेस आंदोलन करेगी। उन्होंने छोटी बिंदाल के मुद्दे पर शनिवार से सिंचाई विभाग के अफसरों के घेराव की चेतावनी दी।

हरिद्वार से रांसी के लिए 1 अक्तूबर से होगी हिमगिरी बस सेवा शुरू

रुद्रप्रयाग। द्वितीय केदार भगवान मद्महेश्वर को जाने वाले तीर्थयात्रियों एवं स्थानीय लोगों को जीएमओयू ने खुशखबरी दी है। क्षेत्रीय लोगों की लम्बे समय से चली आ रही मांग पर जीएमओयू 1 अक्तूबर से हरिद्वार से रांसी के लिए हिमगिरी बस सेवा शुरू कर रही है। सेवा शुरू होने को लेकर क्षेत्रीय लोगों में खुशी है। गढ़वाल मोटर आनर्स यूनियन लिमिटेड के स्टेशन अधीक्षक सत्यप्रकाश पंत ने बताया कि रांसी ग्राम पंचायत के लोगों के साथ ही जनप्रतिनिधियों एवं क्षेत्रीय जनता द्वारा काफी समय से बस सेवा शुरू करने की मांग की जा रही है। क्षेत्रीय लोगों के आग्रह पर जीएमओयू ने फैसला लिया है कि पहली अक्तूबर से हरिद्वार से रांसी के लिए सेवा शुरू होगी। बताते चलें कि रुद्रप्रयाग से रांसी तक भले ही जीएमओ की अन्य बस सेवाएं चल रही हों किंतु हरिद्वार से रांसी के लिए अभी तक कोई बस सेवा नहीं है। इस सुविधा के मिलने से क्षेत्रीय लोगों को काफी लाभ मिलेगा।

श्रीमहंत नरेंद्र गिरि प्रकरणः आनंद गिरि को रिमाड पर लेकर हरिद्वार आश्रम पहंुची सीबीआई की टीम

हरिद्वार। महंत नरेंद्र गिरि की मौत के मामले में सीबीआई आनंद गिरि को रिमांड पर लेकर उनके हरिद्वार स्थित आश्रम पहुंची है। जानकारी के अनुसार, टीम श्यामपुर के कांगड़ी स्थित आनंद गिरि के आश्रम में पूछताछ के साथ छानबीन भी करेगी। जिससे कि कोई सबूत जुटाया जा सके। बताया जा रहा है कि टीम पहले देहरादून एयरपोर्ट पहुंची थी। उसके बाद हरिद्वार के लिए रवाना हुई। अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष श्रीमहंत नरेंद्र गिरि की मौत के मामले में सीबीआई ने आनंद गिरि, आद्या तिवारी और संदीप तिवारी की सात दिनों की रिमांड ली है। रिमांड चार अक्तूबर तक चलेगी। मई में गुरु से विवाद होने के बाद श्यामपुर के कांगड़ी स्थित आनंद गिरि के आश्रम को हरिद्वार-रुड़की विकास प्राधिकरण (एचआरडीए) ने सील कर दिया था। इसके बाद आनंद गिरि को हरिद्वार के एक आश्रम के परामाध्यक्ष ने शरण दी थी। उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से गठित की गई एसआईटी जांच में हरिद्वार के 18 लोगों के नंबर सामने आए थे। जिसमें से कई संत, रसूखदार और प्रॉपर्टी डीलर भी है। बताया जा रहा है कि सीबीआई आनंद गिरि के साथ साथ इनसे भी पूछताछ करेगी।

सीएम ने दी पूर्व पार्षद दीपा शाह के इलाज के लिए 2 लाख रु की आर्थिक सहायता

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने पूर्व पार्षद दीपा शाह के इलाज के लिये 2 लाख रुपये की आर्थिक सहायता मुख्यमंत्री विवेकाधीन कोष से प्रदान की है। दीपा शाह ने बुधवार को मुख्यमंत्री से भेंट कर अपनी अस्वस्थता से उन्हें अवगत कराया। मुख्यमंत्री ने दीपा शाह के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की भी कामना की है।

Wednesday, 29 September 2021

बुसेला रोग नियंत्रण प्रशिक्षण कार्यशाला आयोजित

देहरादून। मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ0 एस बी पाण्डे ने अवगत कराया है कि भारत सरकार द्वारा वित्त पोषित राष्ट्रीय पशु रोग नियंत्रण कार्यक्रम के अन्तर्गत जनपद में कृषि विज्ञान केन्द्र ढकरानी के सभागार में एक दिवसीय बुसेला रोग नियंत्रण प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला में मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बुसेला रोग नियंत्रण कार्यक्रम एवं टीकाकरण के अभिलेखीकरण के साथ ही डाटा को पोर्टल पर अंकित करने एवं वर्तमान में चल रहे राष्ट्रीय कार्यक्रम लाइवस्टैक पायलेट प्रोजेक्ट की प्रगति सुचारू रूप से परिलक्षित करने हेतु समस्त डाटा नियमित रूप से विभागीय ऑनलाइन पोर्टल पर अंकित करने हेतु निर्देश किया। कार्यशाला में मुख्य वक्ता डॉ0 अनुप नौटियाल के द्वारा रुसेला रोग के लक्षण, प्रसार एवं रोकथाम हेतु टीकाकरण के महत्व पर विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि भारत सरकार के निर्देशानुसार 04 से 08 माह तक के समस्त माधा गौवंशी एवं महिष वंशीय पशुओं का आवश्यक रूप से टीकाकरण एवं गांव में सीरो सैम्पलिंग कार्य किया जाएगा। कार्यशाला में बताया गया कि ब्रुसेला रोग एक जुनेटिक महत्व का रोग है जिसका पशुओं के साथ ही मानव जाति में फैलने का अन्देशा रहती है। और इस रोग के कारण पशुओ में गर्भपात एवं बॉझपन की समस्या उत्पन्न होती है इस रोग का उपचार संभव नहीं है इसके निदान हेतु टीकाकरण ही एकमात्र उपाय है। कार्यक्रम में कृषि विज्ञान केन्द्र के वैज्ञानिक डॉ0 ए.के शर्मा एवं डॉ0 ए.के सिंह ने कृषि विज्ञान केन्द्र के द्वारा चलाये जा रहे योजनाओं की विस्तार से जानकारी दी। कार्यक्रम का संचालन पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ0 सतीश जोशी ने कार्यक्रम का संचालन किया तथा इस अवसर पर डॉ0 उमेश मौर्य, डॉ0 अनमोल नौटियाल, डॉ0 हेमन्त मेहरा, डॉ0 लतेश जोशी, अर्जुन सिंह डीपी डोभाल, मालती भट्ट, संतोष कुमार जुयाल, वैक्सीनेटर जयपाल एवं कुलदीप सहित जनपद के लगभग 95 विभागीय अधिकारियों एवं कर्मचारियों द्वारा प्रतिभाग किया गया।

विभिन्न जगहों पर डेंगू लार्वा पाया गया

देहरादून। स्वास्थ्य विभाग एवं नगर निगम देहरादून की टीम के द्वारा जनपद देहरादून के डेंगू प्रभावित/संवेदनशील क्षेत्रों में सघन डेंगू लार्वा सर्वे/सोर्स रिडक्शन एवं लार्वीसाइड/इंसेक्टिसाइड का छिड़काव/फॉगिग किया गया विभिन्न जगहों पर लार्वा पाए गए जिसे टीमों के द्वारा नष्ट किया गया टीमों के द्वारा इस वर्ष अभी तक जनपद देहरादून में 918254 आबादी के अंतर्गत 186445 घरों का सर्वे किया गया जिसमें से 8910 घरों में मच्छर का लार्वा पाया गया जिसे टीमों के द्वारा नष्ट किया गया सभी डेंगू प्रभावित/संवेदनशील क्षेत्रों में डेंगू से बचाव हेतु जन जागरूकता अभियान/डेंगू पखवाड़ा चलाया जा रहा है पंपलेट वितरित किए जा रहे हैं स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं एवं नगर निगम के द्वारा क्षेत्रों में लगातार निगरानी रखी जा रही है डेंगू धनात्मक रोगी पाए जाने पर त्वरित प्रभावी निरोधात्मक कार्यवाही की जा रही है आज जनपद देहरादून में 04 डेंगू धनात्मक रोगी पाए गए हैं जिनमें से 02 पुरुष उम्र 27 व 31 वर्ष बल्लीवाला एवं अजबपुर खुर्द के रहने वाले हैं तथा 02 महिला उम्र 47 व 51 वर्ष बल्लूपुर एवं भनियावाला की रहने वाली हैं उपरोक्त सभी रोगी वर्तमान में अपने घर पर हैं सभी की स्थिति ठीक है इस वर्ष अभी तक जनपद देहरादून में कुल 33 डेंगू रोगी पाए गए हैं जो सभी ठीक है।

डोईवाला महाविद्यालय में हिंदी पखवाड़े के तहत संगोष्ठी आयोजित

देहरादून। शहीद दुर्गामल्ल राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय, डोईवाला, देहरादून के तत्वाधान में आज हिन्दी विभाग द्वारा हिन्दी पखवाड़ा के अंतर्गत एक संगोष्ठी का आयोजन हुआ। संगोष्ठी के मुख्य अथिति पद्मश्री कवि लीलाधर जगूड़ी, विशिष्ट अतिथि उत्तराखंड के सुप्रसिद्ध कवि राजेश सकलानी एवं लेखिका एवम् समाज-सेविका गीता गैरोला थीं। कार्यक्रम के अध्यक्षता प्राचार्य डॉ डी सी नैनवाल ने की। हिंदी भाषा और उसकी लिपि विषय पर विचार गोष्ठी तथा पुस्तक लोकार्पण का आयोजन हिन्दी विभाग प्रभारी डॉ डी एन तिवारी के संरक्षण में हुआ। अतिथियों का परिचय डॉ. नवीन नैथानी ने कराया। स्वागत करते हुए डॉ डी एन तिवारी ने कार्यक्रम की महत्ता और अतिथियों के आने से कार्यक्रम के अपने-आप में अनूठे हो जाने की बात कही। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि कविश्रेष्ठ लीला धर जगूड़ी ने हिन्दी भाषा और लिपि से जुड़ी अनेक विशिष्ट बिन्दुओं पर प्रकाश डाला। उन्होंने देवनागरी लिपि की वैज्ञानिकता, समृद्ध थाती एवं भविष्य में उसके उपयोग की संभावनाओं पर प्रकाश डालते हुए, लिपि से सम्बंधित विसंगतियों पर भी प्रकाश डाला, जिनमें वर्णों के लिखे जाने में कुछ बदलाव होने पर उसके और सटीक और सुदृढ़ होने की बात कही। ’देवनागरी लिपि की समस्याओं पर बात करते हुए जगूड़ी जी ने ‘ख’ की खराबी और ‘झ’ का झगड़ा की ओर श्रोताओं का ध्यान आकृष्ट करते हुए देवनागरी लिपि को सुधारने का प्रस्ताव दिया । हिन्दी पखवाड़े के अंतर्गत संपन्न हुए इस आयोजन में शहीद दुर्गमल्ल राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय डोईवाला, देहरादून में अंग्रेजी विभाग की असिस्टेंट प्रोफेसर, डॉ पल्लवी मिश्र के काव्य-संग्रह विलोल वीचि वल्लरी का लोकार्पण हुआ। कार्यक्रम के मुख्य वक्ता डॉ डी पी सिंह, हिन्दी विभाग ने काव्य-संग्रह की उत्कृष्ट समालोचना की। डॉ. सिंह ने कविताओं के नएपन को रेखांकित किया। ंगोष्ठी का कुशल संचालन राजनीति विज्ञान की डॉ राखी पंचोला ने किया।कवि राजेश सकलानी ने कविताओं में पोएटिक डिक्शन की ताजगी का उल्लेख किया । नवीन कुमार नैथानी ने समकालीन रचनासंसार से संवादरत होने के बावजूद समकालीन कविताओं के दबाव से मुक्त होना इस संग्रह की कविताओं की विशेषता बताई। लीलाधर जगूड़ी ने विलोल वीचि वल्लरी की कविताओं को हिंदी कविता के लिए आश्रवस्तिकर कहा। अपने अध्यक्षीय भाषण में प्राचार्य डॉ डी सी नैनवाल ने संगोष्ठी में हुई चर्चाओं की सराहना की एवं इस तरह के अकादमिक गतिविधियों के आगे भी होते रहने की बात कही, जिससे छात्र-छात्राओं का बौद्धिक विकास होता रहे। ‘विलोल वीचि वल्लरी’ डॉ पल्लवी मिश्रा का पहला हिंदी काव्य संग्रह है । उनके अध्ययन अध्यापन और लेखन का क्षेत्र अंग्रेजी रहा है। उन्होने अपने जीवनानुभवों, साहित्यिक यात्रा और रचना प्रक्रिया के बारे में बताया । डॉ. पल्लवी मिश्रा ने अतिथि वक्ताओं का आभार जताते हुए कहा कि ’यह मेरे लिए बहुत सौभाग्य का विषय है कि पद्मश्री लीलाधर जगूड़ी और राजेश सकलानी जी ने मेरी कविताओं को पढ़ कर उन पर अपनी वक्तव्य दिया है । यह मेरे लिए कभी न भूलने वाला क्षण है । कार्यकम में डॉ नर्वदेश्वर शुक्ल, डॉ रवि रावत,डॉ नीलू, डॉ सूरत सिंह बलूनी, डॉ पूनम पांडेय, डॉ प्रियंका डॉ पल्लवी उप्रेती, डॉ सुनीता रावत,डॉ आशा रोंगाली की गरिमामयी उपस्थिति रही। छात्र-छात्राओं में संदीप झा, महिमा गुनसोला, वंदना, बुशरा, आसिफ हसन, शीतल खोलिया आदि मौजूद रहे। पद्मश्री लीलाधर जगूड़ी एवम् प्राचार्य ने एनसीसी कैडेट्स को ‘सी’ सर्टिफिकेट वितरित किया । महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं ने पूरे कार्यक्रम को मनोयोग से सुना।

डीएम स्मार्ट सिटी के कार्यों का निरीक्षण करेंगे

देहरादून। जनपद में स्मार्ट सिटी परियोजना के अन्तर्गत संचालित स्मार्ट सिटी के कार्यों का जिलाधिकारी/मुख्य कार्यकारी अधिकारी स्मार्ट सिटी डॉ0 आर राजेश कुमार द्वारा प्रातः 09ः00 बजे से कैंम्प कार्यालय से बहल चौक राजपुर रोड बहल चौक से-ईसी रोड़, ईसी रोड से गांधी रोड तक स्मार्ट सिटी के कार्यों का निरीक्षण करेंगे। --------------------------------

मतदाता जनजागरुकता कार्यक्रम आयोजित होंगे

देहरादून। मुख्य विकास अधिकारी नितिका खण्डेलवाल ने अवगत कराया है कि भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार विधानसभा निर्वाचक नामावलियों के शुद्धिकरण एवं सुव्यवस्थित मतदाता शिक्षा एवं निर्वाचक सहभागिता के अन्तर्गत मतदाता सूची में पंजीकरण करवाने के लिए जनजागरुकता हेतु विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जाने हैं। उन्होंने अवगत कराया है कि 02 अक्टूबर को गांधी जयंती पर आयोजित होने वाले झण्डारोहण कार्यक्रम में मतदाता शपथ दिलवाये जाने के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने समस्त विभाग अध्यक्ष/कार्यालयाध्यक्ष, समस्त निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी, नोडल अधिकारी स्वीप, जिला समन्वयक स्वीप, समस्त कॉलेज/विश्व विद्यालय के प्राचार्य/प्रंबंधक/प्रधानाचार्य, समस्त कैंम्पस अम्बेसडर एवं समस्त वोटर एवरनेस ग्रुप को गांधी जयंती के अवसर पर मतदाता शपथ दिलवाते हुए उनके फोटोग्राफ कार्यालय की ई-मेल आईडी पर प्रेषित करने को कहा।

सीएम भाजपा नेता बलजीत सोनी के पिताजी की अन्तिम अरदास में शामिल हुए

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी बुधवार को रेसकोर्स स्थित गुरुद्वारे में भाजपा नेता बलजीत सोनी के पिताजी के अन्तिम अरदास में शामिल हुए। मुख्यमंत्री ने बलजीत सोनी के परिजनों से भेंटकर उनके पिताजी के निधन पर शोक व्यक्त किया। उन्होंने दिवंगत आत्मा की शांति तथा शोक संतप्त परिजनों को इस दुःख को सहन करने की शक्ति प्रदान करने की ईश्वर से कामना की है।

उत्तराखंड में विंटर टूरिज्म की अपार संभावनाएंः महाराज

मुम्बई/देहरादून। तीन दिवसीय इंटरनेशनल ट्रैवल एंड टूरिज्म फेयर (टीटीएफ) का बुद्धवार को माया नगरी मुम्बई में प्रदेश के पर्यटन मंत्री सतपाल महाराजऔर महाराष्ट्र की पर्यटन राज्य मंत्री अदिति तटकरे ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर शुभारम्भ किया। इंटरनेशनल ट्रैवल एंड टूरिज्म फेयर (टीटीएफ) के तीन दिवसीय आयोजन का शुभारम्भ बुद्धवार को नेहरू तारामंडल वर्ली मुंबई में उत्तराखंड के पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज और महाराष्ट्र की पर्यटन राज्य मंत्री अदिति तटकरे ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर किया। इंटरनेशनल ट्रैवल एंड टूरिज्म फेयर (टीटीएफ) में 55 स्टालों, मंडपों में उत्तराखंड सहित 16 राज्यों के लगभग 108 प्रदर्शक भाग ले रहे हैं। इसमें निजी होटल, ट्रेवल, एडवेंचर व्यवसायियों की ओर से स्टॉल लगाए गए हैं। टूरिज्म फेयर के पहले दिन ही उत्तराखंड पर्यटन के स्टॉलों पर आगंतुओं का विशेष आकर्षण बना रहा। इन स्टॉलों में योगासन, राफ्टिंग, साइकिलिंग आदि का डेमोस्टेशन भी दिया जा रहा है। इंटरनेशनल ट्रैवल एंड टूरिज्म फेयर के शुभारम्भ के अवसर पर उत्तराखंड के पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि उत्तराखंड राज्य में विंटर टूरिज्म की अपार संभावनाएं हैं। इसको ध्यान में रखते हुए इस वर्ष भी उत्तराखंड पर्यटन पर्यटकों के लिए विशेष तैयारियों में जुटा है। उन्होने बताया कि धार्मिक पर्यटन के साथ शीतकालीन पर्यटन और साहसिक खेलों को बढ़ावा देने के लिए उत्तराखण्ड पर्यटन की ओर से जिला प्रशासन के साथ मिलकर नैनीताल, भीमताल, पंगोट, मसूरी समेत कई स्थानों पर विंटर कार्निवाल आयोजित किया जाता है। पर्यटन मंत्री श्री महाराज ने कहा कि उत्तराखंड का ऑली अपनी प्राकृतिक सुंदरता के साथ-साथ स्कीइंग के लिए भी बेहद लोकप्रिय है। जबकि ट्रैकिंग के शौकीनों के लिए केदारकांता ट्रैक भी उत्तराखंड के गढ़वाल क्षेत्र में ही है। ऐसे ही चकराता, नाग टिब्बा, मसूरी, अल्मोड़ा, पिथौरागढ़ की सुंदरता देश-विदेश के पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता है। इस मौके पर उपस्थित उत्तराखंड के पर्यटन सचिव दिलीप जावलकर ने कहा कि मुंबई से हर साल लाखों पर्यटक उत्तराखंड का रूख करते हैं। कोरोनाकाल में पर्यटकों को स्वच्छ और सुरक्षित वातावरण उपलब्ध कराने के लिए उत्तराखंड सरकार ने होमस्टे योजना पर तेजी से काम किया है। जहां पर्यटक अपनी आरामदायक छुट्टियां बिताने के साथ वर्क फ्रॉम होम भी कर रहे हैं। उन्होने बताया कि बीते कुछ सालों में सरकार ने उत्तराखंड पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए लगातार काम किया है। कोरोना गाइडलाइन को ध्यान में रख उत्तराखंड में पर्यटन गतिविधियों को एक बार फिर से शुरू किया गया है। टूरिज्म फेयर में उत्तराखंड की पूर्व कैबिनेट मंत्री अमृता रावत सहित उत्तराखंड के स्टॉलों का प्रतिनिधत्व करने वाले पर्यटन के अपर निदेशक, विवेक सिंह चौहान आदि अनेक लोग मौजूद थे।

लेडीज क्लब आयोजित किया दंत चिकित्सा शिविर

विकासनगर। लेडीज क्लब विकासनगर द्वारा निशुल्क दंत चिकित्सा शिविर का आयोजन सरस्वती शिशु विद्या मंदिर में किया गया। जिसमें डॉ सृष्टि अग्रवाल वह कालिंदी हॉस्पिटल के मैनेजर रमेश खंडूरी की टीम ने भाग लिया जिसमें लगभग 200 विद्यार्थियों को दंत परामर्श वह निशुल्क दवाइयां वितरित की गई। कार्यक्रम में बच्चों को जागरूक करने के लिए टूथपेस्ट वह टूथब्रश भी वितरित किए गए। क्लब अध्यक्ष अनु जयसवाल ने दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। ममता अग्रवाल जी ने विद्यार्थियों को दातों को स्वच्छ रखने के लिए जागरूक किया। कार्यक्रम के चेयरमैन नीना लोगानी वह प्रोमिल अग्रवाल जी न इस कार्यक्रम को अपनी तरफ से स्पॉन्सर किया साथ ही इस मौके पर सीनियर मेंबर प्रोमिल अग्रवाल ने अपनी तरफ से विद्यालय की हर कक्षा में गुरुजनों के बैठने के लिए कुर्सियां वितरित की इस मौके पर क्लब अध्यक्ष अनु जयसवाल सचिव नीरू सोनी चेयरमैन नीना लोंगानी प्रोमिल अग्रवाल ममता अग्रवाल सोनिका वालिया सीमा अग्रवाल सिमी डिसूजा सोनिया सप्पल दिव्या अग्रवाल मीनू अरोड़ा अनु दत्ता राधिका गुप्ता गुंजन गुप्ता सीमा अग्रवाल आदि सदस्यों ने पूर्ण सहयोग दिया।

भाजपा में कार्यकर्ता है जीत का आधारः जेपी नड्डा

देहरादून। भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नडढा ने कहा कि भाजपा कार्यकर्ता आधारित पार्टी है और वही पार्टी की जीत को सुनिश्चित करते हैं। पार्टी को अपने वायदो पर खरा उतरने के कारण ही जनता का आशिर्वाद मिलता रहा है। राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने वर्चुअल रूप से बुधवार को आयोजित शक्ति केन्द्र संयोजकों, प्रभारियों तथा वरिष्ठ पदाधिकारियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि कोरोना की लड़ाई में जनता और पार्टी कार्यकर्ताओं ने अदभुद योगदान दिया है। राष्ट्रीय अध्यक्ष के उधबोधन को आईआरडीटी ऑडिटोरियम सर्वे चौक सहित पूरे प्रदेश में सभी 70 विधानसभाओं में वर्चुवली पदाधिकारियों तथा कार्यकर्ताओं द्वारा सुना गया। उन्होंने कहा कि कार्यकर्ता ही हमारे चुनाव जीतने का शस्त्र है। भारतीय जनता पार्टी देश की एकमात्र पार्टी है जो नेताओं के आधार पर नहीं वरन कार्यकर्ताओ के आधार पर चुनाव लड़ती है और जीतती है। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने 2014, 2017 व 2019 के चुनावों में प्रदेश की जनता ने पारदर्शिता, सूशासन और सेवा के आधार पर पार्टी को मौका दिया। उन्होंने कहा पुष्कर सिंह धामी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी 2022 में जनता के आशीर्वाद से पुनरू प्रचंड बहुमत से सत्ता में आएगी। राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा कोरोनाकाल में जनकल्याण के निर्णय लिए गए वंही कोविड को हराने के लिए ऑक्सीजन,कोविड उपकरण व टीकाकरण किया गया। दुनिया मे सबसे तेज गति का वेक्सीनेशन अभियान भारत मे चला जिस पर विपक्ष द्वारा जनता को गुमराह करने का प्रयास किया गया, लेकिन जनता ने उनकी बातों में न आकर रिकार्ड वेक्सीनेशन करवाया व आने वाले समय मे हम शत-प्रतिशत वेक्सीनेशन को पूर्ण कर लेंगे। उन्होंने कहा कि मोदी जी के जन्मदिन पर ढाई करोड़ वेक्सीन लगाई गई जो कि एक रिकॉर्ड है। देश मे मोदी जी व उत्तराखंड में धामी जी के नेतृत्व में डबल इंजन की सरकार विकास के नए आयाम स्थापित करेगी। विकास के आयामों को छूते हुए आलवेदर रोड बनने से उत्तराखंड पर्यटन में नई ऊंचाइयों को छुएगा। इस अवसर पर प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक ने कहा कि रामनगर की चिंतन शिविर में जो 2022 के जीत के लिए नक्शा तैयार किया गया उस पर हमारे बूथ से लेकर प्रदेश तक सक्रिय होकर काम कर रहे हैं। हमारे यहां मीडिया की कार्यशाला संपन्न हो चुकी है और हाल में राष्ट्रीय महिला मोर्चा की सफल कार्यसमिति संपन्न हुई है। हमारे यहां सभी बूथ समितियों का सत्यापन हो गया है। उन्होंने कहा मुख्यमंत्री निरंतर जनहित के लिए निर्णय ले रहे हैं और उनके नेतृत्व में उत्तराखंड विकास के नए आयाम गड रहा है। उन्होने कहा कि 2364 शक्ति केंद्र हैं यह सभी शक्ति केंद्र चुनाव का आधार है। अभी कुछ दिनों पहले ही बूथ पर हमारा हर पदाधिकारी और नेता प्रवास करके आया और आने वाले कार्यक्रमों को उनके साथ साझा किया। इस मौके पर मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने कहा कि राष्ट्रीय अध्यक्ष का मार्गदर्शन हम सभी के लिए जनहित के कार्य करने के लिए प्रेरणा देता है। उन्होंने कहा की उत्तराखंड सरकार जनहित के कार्यों को मध्य नजर रखते हुए कार्य कर रही है। करोना महामारी के कारण बहुत से छोटे-छोटे ऐसे व्यवसाय थे जिनकी आजीविका पर गहरा असर पड़ा। जिनमें प्रमुख रूप से पर्यटन, भेड़ पालन, बकरी पालन अन्य सभी तरह के व्यवसाय थे, उनके लिए हमारी सरकार ने 119 करोड़ का राहत पैकेज दिया। हमने एक सहयोगी के रूप में उनका साथ दिया। उन्होंने रोजगार पर सभी का ध्यान केंद्रित करते हुए कहा कि हमने रोजगार देने के लिए सभी स्तर पर सार्थक प्रयास किए हैं और यह निरंतर जारी रहेगा। इस अवसर पर भाजपा प्रदेश महामंत्री संगठन अजेय ने कहा कि कोई भी चुनाव संगठन के आधार पर जीता जाता है और भाजपा के पास आज सबसे मजबूत संगठन है। उन्होंने कहा कि हमने विधानसभा प्रभारी व विधानसभा विस्तारक बना दिए हैं और साथ ही 2022 चुनाव के लिए चुनाव प्रबंधन समिति भी बना दी गई है। उन्होंने इस अवसर पर दो नारे दिये मेरा घर भाजपा का घर ष्मेरा परिवार भाजपा का परिवार इसी धेय के साथ 2022 चुनाव में भाजपा प्रचंड जीत उत्तराखंड में हासिल करेगी। कार्यक्रम का संचालन प्रदेश महामंत्री कुलदीप कुमार ने किया। इस अवसर पर लोकसभा सांसद चुनाव प्रबंधन समिति के संयोजक अजय टम्टा, प्रदेश सरकार में मंत्री रेखा आर्य, महिला मोर्चा की राष्ट्रीय महामंत्री दीप्ति रावत, मेयर सुनील उनियाल कौस्तुबा नंद जोशी प्रदेश मीडिया प्रभारी मनवीर सिंह चौहान, प्रदेश सोशल मीडिया प्रभारी शेखर वर्मा, प्रदेश आईटी संयोजक हिमांशु, अजीत नेगी, प्रदेश आईटी सह संयोजक प्रवीण लेखवार, भाजपा के वरिष्ठ पदाधिकारी उपस्थित रहे।

आईआईटी रुड़की के पूर्व विशिष्ट विद्यार्थियों के लिए सालाना पुरस्कारों की घोषणा

रुड़की। आईआईटी रुड़की ने साल 2021 के लिए अपने विशिष्ट पूर्व विद्यार्थी पुरस्कार (डीएए), उत्कृष्ट सेवा पुरस्कार (ओएसए) और विशिष्ट युवा पूर्व विद्यार्थी (डीवाईएए) की घोषणा की। आईआईटी रुड़की अपने पूर्व विद्यार्थियों को उनके चुने हुए करियर में उत्कृष्ट योगदान के लिए हर वर्ष ये सम्मान देता है। गौरतलब है कि पहली बार ओएसए संस्थान के पूर्व विद्यार्थियों को अल्मा मेटर की उत्कृष्ट सेवा के लिए दिया गया। डीएए, डीवाईएए और ओएसए के लिए पूरी दुनिया से नामांकन आमंत्रित किए जाते हैं और इस वर्ष क्रमशः डीएए एवं डीवाईएए 2021 के लिए 163 और 37 नामांकनों पर विचार किया गया। बीते वर्षों में संस्थान के स्नातकों ने उद्योग, व्यवसाय, सरकार, शैक्षणिक और अनुसंधान संस्थानों में उत्कृष्टता और प्रतिष्ठा प्राप्त करने के साथ-साथ सफल उद्यमी बन कर या समाज सेवा में योगदान देकर संस्थान का नाम ऊंचा किया है।

विश्व हृदय दिवस पर मैक्स अस्पताल ने लोगों को किया हृदय रोगों से बचाव के प्रति जागरूक

देहरादून। विश्व हृदय दिवस के उपलक्ष्य में मैक्स सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल देहरादून ने जनता को स्वस्थ जीवन शैली के प्रति प्रेरित करने के लिए आज एक प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया है। हमारे देश में हर साल कार्डियोवैस्कुलर बीमारी या सीवीडी से 1 करोड़ से अधिक लोगों की मौत होती है। यह इवेंट लोगों को अपने स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहने व अपने स्वास्थ्य की देखभाल करने तथा लोगों को हृदय संबंधित समयस्यों के बारे में शिक्षित करने के उद्देश्य से आयोजित की गई, ताकि लोग स्वस्थ हृदय के साथ अच्छा औऱ लंबा जीवन जी सकें। इस बात की ओर ध्यान दिया जाना जरूरी है की असमान जीवन शैली, रोजमर्रा के काम के दौरान होने वाला तनाव और असंतुलित खान-पान हृदय संबंधित बीमारीयों का प्रमुख कारण होता हैं। कार्यक्रम में बोलते हुए, डॉ प्रीति शर्मा, एसोसिएट डायरेक्टर, कार्डियोलॉजी, मैक्स सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल, देहरादून ने कहा, “भारत के 12 शहरों में किए गए एक हालिया अध्ययन से पता चला है कि,70 प्रतिशत से अधिकभारतीय शहरी आबादी को हृदय रोग से संबंधित खतरा है और उन्हेंडॉक्टर के पास जाने की जरूरत है। इस वर्ष का थीम है-’विश्व स्तर पर हृदय संबंधित समयस्यों के बारे में जागरूकता फैलाने, बीमारी की रोकथाम और प्रबंधन में सुधार के लिए डिजिटल माध्यम का उपयोग करना’। डॉ योगेंद्र सिंह, एसोसिएट डायरेक्टर, कार्डियोलॉजी, मैक्स सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल, देहरादून ने आगे कहा, “हृदय रोग (सीवीडी) दुनिया भर में होने वाली मौत का प्रमुख कारण है। सीवीडी के दो सबसे आम प्रकार कोरोनरी हृदय रोग (दिल के दौरे का कारण ) और सेरेब्रोवास्कुलर रोग (स्ट्रोक का कारण) हैं। डॉ पुनीश सदाना, प्रिंसिपल कंसल्टेंट, कार्डियोलॉजी, मैक्स सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल, देहरादून ने कहा, “शहरी क्षेत्रों में, 32.8þ मौतें हृदय रोगों के कारण होती हैं, जबकि ग्रामीण क्षेत्रों में यह प्रतिशत 22.9þ है। यदि सभी आयु समूहों के लोगों को शामिल कर लिया जाएं, तो सभी मौतों का लगभग 19þ कारण हृदय रोगहोता है। यह पुरुषों के साथ-साथ महिलाओं में भी मौत का प्रमुख कारण है। इस अवसर पर बोलते हुए डॉ रवि कुमार सिंह, सीनियर कंसल्टेंट और हेड-सी टी वी एस ने कहा कि, “लगभग 3 करोड़ भारतीय हृदय रोग से पीड़ित हैं। दिल की बीमारियों का खतरा कोई नया नहीं है। हमारें द्वारा जीवनशैली के लिए चुने गए विकल्प भी हृदय से जुड़ी बीमारियों का कारण बनती है। सरकारी आंकड़ों के अनुसार, भारत में कोरोनरी धमनी रोग, हाई ब्लड प्रेशर, मोटापा, मधुमेह और रूमेटिक हृदय रोग के कारण हृदय गति रुकने से बहुत से लोगों की मौत होती है। बच्चों से लेकर बड़ों तक सभी को दिल की बीमारी होने का खतरा होता है। जीवनशैली की आदतों को यदि प्रारंभिक अवस्था में बदल दिया जाए तो यह व्यक्ति के हृदय और स्वास्थ्य पर बहुत ही बेहतर और अनुकूल प्रभाव डाल सकती है।“

एचडीएफसी बैंक ने प्रतिबंध हटने के बाद 4 लाख से अधिक कार्ड जारी किए

देहरादून। एचडीएफसी बैंक ने आज प्रतिबंध हटने के बाद से अब तक 4 लाख से अधिक क्रेडिट कार्ड जारी करने के नए रिकॉर्ड की घोषणा की है। बैंक द्वारा ये रिकॉर्ड 21 सितंबर, 2021 को ही बना लिया गया था और उसके बाद भी बैंक ने लगातार इस सेक्टर में आक्रामक तौर पर ग्रोथ को दर्ज किया है। बैंक क्रेडिट कार्ड सेगमेंट में कई सारे मजबूत उत्पादों और साझेदारियों के साथ अपने क्रेडिट कार्ड पोर्टफोलियो को नए सिरे से मजबूत बना रहा है और और सह-निर्माण करने के लिए बैंक ने आक्रामक विकास पथ को चिह्नित किया है। बैंक ने 3 कार्ड री-लॉन्च करने की भी घोषणा की। एचडीएफसी बैंक के मिलेनिया, मनीबैक़ और फ्रीडम कार्डों को कई नए फीचर्स और लाभों को जोड़कर, ग्राहकों के हाथों में अधिक शक्ति प्रदान करने के लिए नए सिरे से तैयार किया गया है। बैंक द्वारा कई नए कार्ड प्रोडक्ट्स को क्रिएट और को-क्रिएटिंग प्रत्येक ग्राहक वर्ग को आगे बढ़ाने की बैंक की रणनीति का हिस्सा हैय फिर चाहे वे कार्ड शहरी क्षेत्रों के लिए हो या ग्रामीण क्षेत्रों के लिए हों। पराग राव, ग्रुप हेड-पेमेंट्स, कंज्यूमर फाइनेंस, डिजिटल बैंकिंग एंड आईटी, एचडीएफसी बैंक ने कहा कि “कार्ड स्पेस में एक लीडर के रूप में, हमने वादा किया था, हम एक धमाके के साथ वापस आएंगे। अब हम न केवल नए ग्राहकों को प्राप्त करने के लिए, बल्कि अपने मौजूदा कार्डों पर ऑफर्स को बढ़ाने के लिए भी जोर दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि री-इन्वेंट करने, क्रिएट और को-क्रिएट करने की हमारी रणनीति ग्राहकों के खरीद व्यवहार, उनके द्वारा खर्च की जाने वाली श्रेणियों और खर्च के पैटर्न के विश्लेषण के आधार पर तैयार की गई है।

पीरामल ग्रुप ने डीएचएफएल के अधिग्रहण को किया 34,250 करोड़ रु का भुगतान

देहरादून। पीरामल एंटरप्राइजेज लिमिटेड (पीईएल, एनएसई- पीईएल, बीएसई- 500302) ने आज दीवान हाउसिंग फाइनेंस कॉरपोरेशन लिमिटेड (डीएचएफएल) के अधिग्रहण के लिए भुगतान करने का एलान किया। वित्तीय सेवा क्षेत्र में आईबीसी रूट के तहत होने वाला यह पहला सफल समाधान है। मूल्य के संदर्भ में यह ट्रांजेक्शन अब तक के सबसे बड़े प्रस्तावों में से एक है, जो इस क्षेत्र में भविष्य के प्रस्तावों के लिए मिसाल कायम करता है। इस अवसर पर बोलते हुए पीरामल ग्रुप के प्रेसीडेंट अजय पीरामल ने कहा, ‘‘हमें इस उपयोगी अधिग्रहण को पूरा करने के लिए किए गए भुगतान की घोषणा करते हुए बहुत खुशी हो रही है। इस तरह हम एक अग्रणी और डिजिटल रूप से उन्मुख, विविध वित्तीय सेवा समूह बनने की दिशा में और तेजी से आगे बढ़ने में कामयाब हुए हैं। निश्चित तौर से अब हम ग्राहकों की वित्तीय जरूरतों को पूरा करने की दिशा में पूरा ध्यान केंद्रित कर पाएंगे और हमारे देश के उन लोगांे को और अधिक सेवाएं उपलब्ध कराएंगे, जो अभी तक इन सेवाओं से वंचित हैं या जिन्हें बहुत कम सेवाएं उपलब्ध हैं। ‘‘किसी भी उन्नत अर्थव्यवस्था की एक महत्वपूर्ण विशेषता एक मजबूत इन्सॉल्वेंसी कोड है। दिवालियेपन के ऐतिहासिक सुधारों ने इस तरह के जटिल प्रस्तावों को अधिक पूर्ण और समयबद्ध तरीके से हल करना संभव बना दिया है। पीरामल ग्रुप के एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर आनंद पीरामल ने कहा, ‘‘संयुक्त इकाई में 301 शाखाएं, 2,338 कर्मचारी और 10 लाख से अधिक आजीवन ग्राहक होंगे। हम तेजी से बढ़ते किफायती आवास वर्ग में एक प्रमुख कंपनी के तौर पर सामने आएंगे। पिछले दो वर्षों में हमने अपने नेक्स्ट-जेन टेक्नोलॉजी प्लेटफॉर्म, एडवांस्ड एनालिटिक्स इंजन और एआईध्एमएल क्षमताओं का सफलतापूर्वक निर्माण किया है। यह अधिग्रहण हमें इन तकनीकों को ग्राहकों के बहुत बड़े आधार पर लागू करने की अनुमति देता है। नई मर्ज की गई इकाई भारत में डिजिटल-फर्स्ट रिटेल लेंडिंग मार्केट में सबसे आगे होने की ओर अग्रसर है।

भाजपा विज्ञापन अभियान समिति में ओओएच डिजिटल की जिम्मेदारी हरीश चमोली को

देहरादून। उत्तराखंड में होने वाले आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए भाजपा ने राज्य चुनाव प्रबंधन समिति के विभिन्न विभागों की घोषणा की है। चुनाव प्रबंधन समिति के अध्यक्ष प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक होंगे, जबकि संयोजक सांसद अजय टम्टा होंगे। सहसंयोजक राज्यसभा सांसद अनिल बलूनी व पूर्व सीएम व मौजूदा पौड़ी गढ़वाल सांसद तीरथ सिंह रावत, पूर्व दायित्वधारी ज्योति प्रसाद गैरोला, पूर्व सांसद बलराज पासी, पूर्व मंत्री गोविंद सिंह बिष्ट और विधायक महेंद्र भट्ट होंगे। विज्ञापन अभियान समिति में टी.वी की जिम्मेदारी प्रदेश मीडिया सहप्रभारी सुनी सैनी, एफ.एम. रेडियो की जिममेदारी प्रदेश प्रवक्ता विपिन कैंथोला, थियेटर एड एवं केबल नेटवर्क की जिम्मेदारी प्रदेश प्रवक्ता राजेश कुमार, आउट ऑफ होम डिजिटल सिगनेचर (ओओएच) डिजिटल स्क्रीन की जिम्मेदारी पूर्व सहसंयोजक आई.टी. गढ़वाल हरीश चमोली व प्रिंट मीडिया की जिम्मेदारी प्रदेश मीडिया प्रमुख मनवीर चौहान को सौंपी गई है।

Featured Post

शारदीय नवरात्र की नवमी पर सीएम धामी ने किया कन्या पूजन

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गुरुवार को शारदीय नवरात्र की नवमी के पावन अवसर पर मुख्यमंत्री आवास में विधि-विधान से कन्या-पूजन ...