Friday, 31 January 2020

ग्लोबल ब्रांड मार्केटिंग अभियान – ‘100% प्योर वेलकम – 100% प्योर न्यूजीलैंड’ लॉन्च किया


-विजिटर वीजा आवेदन की तेज प्रोसेसिंग के लिए की टूरिज्म इंडस्ट्री पार्टनरशिप कार्यक्रम के विस्तार की घोषणा


 देहरादून। न्यूजीलैंड उन चुनिंदा जगहों में से एक है, जहां नए दिन की पहली किरण सबसे पहले पड़ती है। इस तथ्य से प्रेरित होकर टूरिज्म न्यूजीलैंड ने ‘100% प्योर वेलकम – 100% प्योर न्यूजीलैंड’ के तहत प्रचार सामग्रियों की एक श्रृंखला जारी की है। इसमें स्थानीय लोग आगंतुकों को देशभर में उनकी पसंदीदा जगहों से ‘गुड मॉर्निंग वर्ल्ड’ के संदेश देते नजर आते हैं। अभियान दिखाता है कि कैसे गर्मजोशी से भरपूर दोस्ताना लोग, हैरान कर देने परिदृश्य और शामिल होने के लिए ढेर सारी तरह-तरह की गतिविधियां न्यूजीलैंड को एक अनूठा अवकाश गंतव्य बनाती हैं।


प्राचीन काल से ही भारतीय सूर्य नमस्कार (सूर्य को अभिवादन) से सुपरिचित हैं। यह एक लोकप्रिय योग आसन है, जो इस ग्रह पर जीवन को बनाए रखने को लेकर सूर्य के प्रति कृतज्ञता जताने के लिए जाना जाता है। इसी तरह, न्यूजीलैंड भी सुबह का कीर्तिगान करता है, और इसे दर्शाने के लिए टूरिज्म न्यूजीलैंड ने भारत में अपना नया ग्लोबल ब्रांड मार्केटिंग अभियान – ‘100% प्योर वेलकम – 100% प्योर न्यूजीलैंड’ लॉन्च किया है। टूरिज्म न्यूजीलैंड की रीजनल कंज्यूमर मार्केटिंग मैनेजर (एशिया) सुश्री वेनेसा चेन न्यूजीलैंड की पेशकशों के बारे में वास्तविक अंतर्दृष्टि साझा करने वाले अभियान की शुरुआत को लेकर उत्साहित हैं। वे कहती हैं, “माओरी संस्कृति में भोर (उदय) न का एक महत्वपूर्ण समय होता है – हर सुबह हम जीवन और नई शुरुआत का जश्न मनाते हैं। हर सवेरे के साथ हम उसकी क्षमता को स्वीकार करते हैं।इस नए अनुबंध के बारे में टूरिज्म न्यूजीलैंड के रीजनल ट्रेड मार्केटिंग मैनेजर (एशिया)  स्टीवन डिक्सॅन ने कहा, “पिछले पांच वर्षों में हमारी मौजूदा साझेदारी की सफलता के आधार पर इस कार्यक्रम का विस्तार किया गया है। हम कुलिन कुमार हॉलीडेज प्रा.लि., एसओटीसी ट्रैवल और थॉमस कुक इंडिया के साथ अपने निरंतर जारी सहयोग के लिए कृतज्ञ हैं और हम फ्लेमिंगो ट्रांसवर्ल्ड प्रा.लि., केसरी टूर्स प्रा.लि. तथा वीणा वर्ल्ड को जोड़ते हुए और भी ढेर सारे हिंदुस्तानी पर्यटकों के स्वागत के लिए उत्सुक हैं। तीन नए पार्टनर्स के चलते अब भारतीय आगंतुकों को पूरे भारत में 60 अतिरिक्त स्थानों पर शीघ्रता से विजिटर वीजा प्रोसेसिंग की सुविधा मिल सकती है।”



एडवेंचर समिट 21 व 22 मार्च को, तैयारियों को लेकर मुख्य सचिव ने ली बैठक 

देहरादून। मुख्यमंत्री उत्तराखण्ड के निर्देश पर पर्यटन क्षेत्र में रोजगार की पर्याप्त संभावनाओं को देखते हुए आगामी 21-22 मार्च 2020 में एडवेंचर समिट का आयोजन किया जाना है। आयोजन संचालन एवं मार्गदर्शन हेतु मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह की अध्यक्षता में गठित उच्चाधिकार प्राप्त समिति की बैठक हुई।

मुख्य सचिव द्वारा संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिये गये, कि समिट में अभी से साहसिक पर्यटन से जुड़े देश-विदेश के प्रमुख व्यवसायियों, ब्लाग रायटर्स एवं इनवेस्टर्स से सम्पर्क किया जाए। 

बैठक में स्पान्सरशिप हेतु एडवेंचर व्यवसाय से जुड़े लोगो से स्पान्सरशिप की संभावना पर विचार किया गया। समिट में राष्ट्रीय एवं अंतरर्राष्ट्रीय स्तर के साहसिक पर्यटन के क्षेत्र से जुड़े निवेशकों, विशेषज्ञों एवं इस क्षेत्र में जुड़े टुअर आपरेटरों को आमंत्रित किया जाना है। मुख्य सचिव ने पर्यटन बाहुल्य देशों के राजदूत एवं पर्यटन के व्यवसाय से जुड़ी स्वदेशीध्विदेशी कम्पनियों को भी समिट में बुलाने हेतु सम्पर्क करने के निर्देश दिए। मुख्य सचिव ने कहा कि एडवेंचर समिट से राज्य में रोजगार के अधिक अवसर पैदा होंगे। बैठक में एडवेंचर समिट का वृहद प्रचार-प्रसार हेतु ऋषिकेश, नैनीताल एवं नई दिल्ली में रोड शो करने का निर्णय लिया गया। समिट में एडवेंचर खेल से जुड़े उपकरणों की प्रदर्शनी लगाए जाने का प्राविधान किया गया है। समिट का आयोजन रामगनर में होगा।

इस अवसर पर सचिव पर्यटन श्री दिलीप जावलकर ने आयोजन की तैयारियों को लेकर की गई अबतक की कार्यवाही की जानकारी दी। आयोजन के क्रियान्वयन हेतु नामित नोडल अधिकारी प्रबंध निदेशक कुमांऊ मण्डल विकास निगम श्री रोहित मीना द्वारा एडवेंचर आयोजन से संबंधित आयोजन स्थल, नॉलेज पार्टनर्स तथा अबतक किए गए कार्य के संबंध में मुख्य सचिव को जानकारी दी गई। बैठक में अपर सचिव पर्यटन सोनिका, प्रबंध निदेशक गढ़वाल मण्डल विकास निगम ईवा आशीष श्रीवास्तव, उपनिदेशक पर्यटन विवेक चैहान आदि अधिकारी उपस्थित थे।

पिकअप और ट्रक की टक्कर में चार लोग गंभीर रूप से घायल 

देहरादून। डोईवाला नगर के मिशरवाला नीलू मेमोरियल स्कूल के सामने देहरादून से डोईवाला की तरफ जा रहे एक पिकअप और ट्रक से जबरदस्त भिड़ंत हो गई। हादसे में पिकअप में सवार कई यात्रियों को गंभीर चोटें आई हैं। हादसे की सूचना से मौके पर पहुंची पुलिस ने सभी घायलों को 108 की मदद से जौलीग्रांट हिमालय हॉस्पिटल पहुंचाया। जहां घायलों का इलाज चल रहा है। घायलों में एक युवती को गंभीर चोटें आई हैं। जिसके चलते उसे आईसीयू में भर्ती किया गया है।

मिली .जानकारी के अनुसार शुक्रवार सुबह 5 बजे यह हादसा हुआ। कोतवाल राकेश गुसाईं ने बताया कि घटना की सूचना मिलने पर तुरंत चीता पुलिस को मौके पर भेजा गया। काफी मशक्कत के बाद घायलों को हिमालय हॉस्पिटल जौलीग्रांट भेजा गया। जिसमें एक युवती की हालत गंभीर बनी हुई है। घायलों में गब्बर सिंह पुत्र आलम सिंह, दरबान सिंह पुत्र आलम सिंह, चालाक राकेश सिंह नेगी और एक युवती गंभीर रूप से घायल है। जिसकी अभी तक पहचान नहीं हो पाई फिलहाल सभी घायलों का हिमालय हॉस्पिटल में इलाज चल रहा है।

दून और हरिद्वार के डीएम बदले, आशीष श्रीवास्तव बने देहरादून के डीएम

देहरादून। उत्तराखंड सरकार ने प्रशासनिक फेरबदल किया है। इस फेरबदल में देहरादून और हरिद्वार को नए डीएम मिले हैं। वहीं जिलाधिकारी हरिद्वार को प्रतिक्षारत रखा गया है।

देहरादून के जिलाधिकारी सी. रविशंकर को राजधानी से हटाकर हरिद्वार जिले का जिलाधिकारी बनाया गया है। वहीं अपर सचिव आशीष कुमार श्रीवास्तव को देहरादून का जिलाधिकारी बनाया गया है। दीपेंद्र कुमार चैधरी को जिलाधिकारी हरिद्वार से हटाकर प्रतीक्षारत रखा गया है। दरअसल हरिद्वार के जिलाधिकारी दीपेंद्र चैधरी लगातार लंबी छुट्टी पर थे, जिस वजह से उनको हटाया गया है, फिलहाल उनके पास कोई चार्ज नहीं है।

ओलंपस हाई में बसंत पंचमी समारोह आयोजित 

देहरादून। ओलंपस हाईस्कूल ने बसंत पंचमी पर कार्यक्रम आयोजित किया। कार्यक्रम की शुरुआत देवी सरस्वती की पूजा अर्चना से की गई। स्कूल के छात्रों ने सरस्वती वंदना हे मां हमे दर्शन दे’ भी गाया।

प्रबंधन निदेशक कुनाल शमशेर मल्ला और प्रधानाचार्य अनुराधा मल्ला ने ज्ञान, संगीत और कला की अधिष्ठात्री देवी सरस्वती को श्रद्धा सुमन अर्पित किए। उन्होंने छात्रों के उज्ज्वल भविष्य की कामना भी की। इस अवसर को चिह्नित करने के लिए, स्कूल के नन्हे छात्रों ने पीले रंग की पोशाक पहनी और स्कूल परिसर के भीतर पतंग उड़ाने का आनंद लिया। कार्यक्रम के दौरान ओलंपस की हिंदी शिक्षक रचना पाठक ने इस दिन के महत्व पर जोर दिया। इसके बाद पूनम अरोड़ा ने एक कविता ‘बसंत रितु आया है’ पढ़ी गयी। ओलंपस हाई के छात्रों ने श्आया बसंत, आया बसंत ’एक गीत भी प्रस्तुत किया जिसे सभी ने सराहा। दिन का समापन स्कूल के छात्रों, शिक्षकों और कर्मचारियों के बीच प्रसाद के वितरण के साथ हुआ।

अब संत आत्मबोधानंद ने शुरू किया आमरण अनशन

देहरादून/हरिद्वार। साध्वी पद्मावती को बीती देर रात पुलिस के उठाने के साथ ही अब मातृ सदन आश्रम के ब्रह्मचारी संत आत्मबोधानंद अनशन  पर बैठ गए हैं। आत्मबोधानंद पहले भी 194 दिन का अनशन कर चुके हैं।उनका कहना है कि प्रशासन की ओर से साध्वी को जबरन उठाया गया है। पुलिस उन्हें जबरन कुछ खिला-पिला कर अनशन समाप्त कराना चाहती है। 

वह पहले ही घोषणा कर चुके थे कि साध्वी को उठाने पर वह अपना अनशन शुरू कर देंगे। इसलिए रात में ही उन्होंने गंगा रक्षा के लिए अपना अनशन शुरू कर दिया है। वहीं, स्वामी शिवानंद भी पुलिस  के इस तरह से साध्वी को उठाने पर भड़के हुए हैं। उन्होंने कहा कि मातृसदन के संतों का अनशन मांग पूरी होने न होने तक जारी रहेगा। एक के बाद एक ब्रह्मचारी और साध्वी गंगा रक्षा की मांग को लेकर तपस्या पर बैठते रहेंगे। चेतावनी दी कि जरूरत पड़ी तो स्वयं अन्न-जल त्यागकर तपस्या करेंगे। उन्होंने बताया कि बीती रात से ही साध्वी पदमावती को उल्टियां हो रही थी। इस पर चिकित्सक से कहा तो दिन में उसको दवाइयां दे दी थी। चिकित्सकों ने दोपहर तीन बताया था कि साध्वी पद्मावती को दवाएं दे दी है।

साध्वी पद्मावती को पुलिस ने अनशन से उठाया, दून अस्पताल में कराया भर्ती

-मातृ सदन की ओर से मुख्यमंत्री, एसडीएम व सीएमओ के खिलाफ वाद दायर किया गया

 

देहरादून/हरिद्वार। गंगा की अविरलता की मांग को लेकर मातृ सदन में अनशन पर बैठीं साध्वी पद्मावती का स्वास्थ्य बिगड़ने पर 47वें दिन पुलिस ने बीती देर रात उन्हें जबरन उठाकर दून अस्पताल में भर्ती करा दिया। पुलिस ने यह कार्रवाई रात में सीएमओ की ओर से जारी साध्वी के स्वास्थ्य बुलेटिन के आधार पर की है। मातृ सदन की ओर से मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, एसडीएम कुसुम चैहान, सीएमओ डॉ सरोज नैथानी, लक्सर की एसडीएम सुनैना राणा और थानाध्यक्ष के खिलाफ कोर्ट में वाद दायर किया है।

साध्वी पद्मावती ने 15 दिसंबर को गंगा की निर्मलता और अविरलता के लिए आमरण अनशन शुरू किया था। तब से उनका अनशन लगातार जारी था। हाल ही में बिहार के सीएम नितीश कुमार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से साध्वी पद्मावती के समर्थन में लिखा गया पत्र लेकर अपने जल संसाधन मंत्री संजय झा और सांसद कौशलेंद्र कुमार को हरिद्वार भेजा था।

मंगलवार को यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का संदेश लेकर यूपी के अधिकारी भी हरिद्वार पहुंचे थे, लेकिन साध्वी ने अनशन खत्म करने से इनकार कर दिया था। स्वास्थ्य विभाग की टीम ने साध्वी का स्वास्थ्य परीक्षण किया और एसडीएम कुसुम चैहान को स्वास्थ्य बुलेटिन सौंपा। उनके स्वास्थ्य में गिरावट को देखते हुए एसडीएम के नेतृत्व में पुलिस टीम मातृ सदन पहुंची और साध्वी को जबरन उठाकर दून अस्पताल में भर्ती करा दिया। गंगा की अविरलता की मांग को लेकर मातृ सदन में अनशन पर बैठीं साध्वी पद्मावती का स्वास्थ्य बिगड़ने पर 47वें दिन पुलिस ने उन्हें जबरन उठाकर दून अस्पताल में भर्ती करा दिया। इसके बाद शुक्रवार को मातृ सदन की ओर से मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, एसडीएम कुसुम चैहान, सीएमओ डॉ सरोज नैथानी, लक्सर की एसडीएम सुनैना राणा और थानाध्यक्ष के खिलाफ कोर्ट में वाद दायर किया है। वहीं, साध्वी पद्मावती का कहना है कि प्रशासन को जो भी उपचार देना है मातृ सदन में देना होगा। वे अपना अनशन समाप्त नहीं करेंगी। साध्वी पद्मावती ने 15 दिसंबर को गंगा की निर्मलता और अविरलता के लिए आमरण अनशन शुरू किया था। तब से उनका अनशन लगातार जारी था। डीआईजी अरूण मोहन जोशी ने अस्पताल पहंुचकर उनका हालचाल जाना। प्रशासन का कहना है कि साध्वी पद्मावती के बिगड़ते स्वास्थ्य को देखते हुए उक्त कार्रवाई की गई। मामले की गंभीरता को देखते हुए डीआईजी अरुण मोहन जोशी साध्वी के स्वास्थ्य की जानकारी लेने दून अस्पताल पहुंचे.। उन्होंने डॉक्टरों से विचार विमर्श कर हायर सेंटर उपचार कराने की बात कही। 

आईएसी ऑटिज्म से ग्रसित लोगों के लिए अपनी तरह का पहला विकास केंद्र होगा

देहरादून। इंडिया ऑटिज्म सेंटर, रत्नाबाली ग्रुप की एक पहल जो ऑटिज्म से ग्रसित व्यक्तियों के लिए दुनिया में अपनी तरह का पहला विकास केंद्र स्थापित कर रही है, कोलकाता के पास 52 एकड़ जमीन पर ‘सम्मिलित’ की मेजबानी की गई, अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन ऑटिज्म 2020 एमिटी यूनिवर्सिटी, कोलकाता में, जिसने एक समावेशी स्थान की शुरुआत करके जमीनी स्तर पर समस्या का समाधान किया, जहाँ हर प्रतिभागी, श्रोता, आगंतुक और स्वयंसेवक एक समान हैं अपने अद्वितीय व्यक्तित्व और विशेषताओं के साथ समाज को बढ़ाएगा। इस सम्मेलन में आत्मकेंद्रित समुदाय के विश्व स्तर पर मान्यता प्राप्त अधिवक्ताओं ने आत्मकेंद्रित के क्षेत्र में कई अग्रणी और आगामी अनुसंधान और नैदानिक प्रथाओं पर ध्यान केंद्रित करते हुए आत्मकेंद्रित पर नवीनतम विकास और शोध पर चर्चा की। चर्चाओं ने स्पेक्ट्रम के तहत सभी व्यक्तियों के लिए प्रभावी शैक्षिक प्रोग्रामिंग विकसित करने में शिक्षकों, अन्य पेशेवरों और परिवारों की सहायता के लिए व्यापक, साक्ष्य-आधारित जानकारी प्रदान की।

ऑटिज्म या ऑटिज्म स्पेक्ट्रम डिसऑर्डर (एएसडी) एक न्यूरोलॉजिकल और विकासात्मक विकार है जो लगभग दस मिलियन भारतीयों को प्रभावित करता है। यह कुछ हद तक बिगड़ा सामाजिक व्यवहार, संचार और भाषा की विशेषता स्थितियों को संदर्भित करता है। शब्द “स्पेक्ट्रम” यह दर्शाता है कि लक्षण किसी भी संयोजन में और गंभीरता की अलग-अलग डिग्री के साथ हो सकते हैं, जिसका अर्थ है कि यह हर व्यक्ति में अलग तरह से प्रकट होता है।

विधायक गणेश जोशी ने अपने जन्मदिवस पर आयोजित कई कार्यक्रमों में की शिरकत



देहरादून। भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता एवं मसूरी विधानसभा क्षेत्र से विधायक गणेश जोशी के 62वें जन्मदिवस पर पार्टी कार्यकर्ताओं ने कई स्थानों में कार्यक्रम किये। सहारनपुर रोड़ स्थित माता डाट काली मंदिर में आयोजित भण्डारे से पूर्व विधायक गणेश जोशी ने पूजा-अर्चना, हवन के बाद कन्या पूजन किया। जन्मदिन के अवसर पर शुभकामनाऐं देने पहुॅचे शुभचिन्तकों एवं पार्टी कार्यकर्ताओं का अभिवादन स्वीकारते हुए विधायक जोशी ने सभी का आभार प्रकट किया। उन्होनें कहा कि क्षेत्र की जनता का स्नेह एवं आर्शीवाद मुझे हमेशा ही मिलता है और मैं लगातार उनकी सेवा में तत्पर रहता हॅू। इस अवसर पर भाजपा महानगर अध्यक्ष सीताराम भट्ट, मेयर सुनील उनियाल गामा, मण्डल अध्यक्ष पूनम नौटियाल, मण्डल अध्यक्ष मोहन पेटवाल, मण्डल अध्यक्ष राजीव गुरुंग, विधायक जोशी की धर्मपत्नी निर्मला जोशी, सिकन्दर सिंह, अनुज रोहिला सहित पार्षद, ग्राम प्रधान एवं हजारों की संख्या में क्षेत्रवासी उपस्थित रहे।

           एक अन्य कार्यक्रम में, देहरादून के राष्ट्रीय दृष्टिबाधितार्थ संस्थान में विधायक गणेश जोशी ने दृष्टि दिव्यांग बच्चों के साथ अपना जन्मदिवस मनाया। उन्होनें कहा कि मुझे संस्थान में आकर ऐसा लगता है कि मैं किसी मंदिर मं आया हॅू। उन्होनें बच्चों के स्नेह को स्वीकारते हुए उनकी अच्छी शिक्षा के लिए संस्थान को दो नग कम्प्यूटर भेंट किये। साथ ही, विधायक जोशी ने घोषणा की कि वह इसी वर्ष संस्थान को एक एम्बुलेंस भी देगें। इस अवसर पर संस्थान के निदेशक नचिकेता राउत, योगेश अग्रवाल, जगदीश लखेड़ा सहित संस्थान की प्रधानाचार्य एवं सैकड़ों द ृष्टि दिव्यांग बच्चें उपस्थित रहे।


बिजली पोल से बाइक टकराने पर दो युवकों की मौत 

 


देहरादून। विकासनगर गीता भवन के पास बिजली के पोल से बाइक टकराने पर दो युवकों की मौत हो गई। युवक अपने दोस्त को लेकर ताऊ की बेटी की शादी में आया हुआ था। त्रिशला भवन में आयोजित शादी समारोह से खाना लेकर दोनों गुरुवार की रात में घर पर ताऊ को खाना देने जा रहे थे कि अचानक बाइक अनियंत्रित होकर पोल से जा टकराई और दोनों की मौत हो गई।

निखिल उर्फ सोनू (17) निवासी विकासनगर अपने मित्र अमित (18) निवासी सहसपुर के साथ अपनी बहन (ताऊ की बेटी) की शादी में आया हुआ था। गुरुवार देर रात निखिल उर्फ सोनू और अमित मोटरसाइकिल से शादी समारोह से खाना लेकर अपने ताऊ को देने के लिए उनके घर जा रहे थे। मुख्य बाजार में गीता भवन के पास पहुंचते ही बाइक अचानक अनियंत्रित होकर बिजली के पोल से जा टकराई। दोनों घायल युवकों को चैकी प्रभारी दीपक मैठाणी ने मय पुलिस बल मौके पर पहुंचकर उपचार के लिए राजकीय संयुक्त चिकित्सालय विकासनगर पहुंचाया। यहां पर चिकित्सकों ने दोनों युवकों की गंभीर हालत को देखकर हायर सेंटर रेफर कर दिया। परिवार के सदस्यों ने दोनों को लेहमन अस्पताल पहुंचाया, जहां चिकित्सकों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया। कोतवाल प्रदीप बिष्ट के अनुसार दोनों शवों को पंचनामा और पोस्टमार्टम की कार्रवाई के बाद परिजनों को सौंप दिया गया है। वहीं, त्रिशला भवन में अपने ताऊ की बेटी की शादी में शामिल होकर निखिल जश्न मना रहा। उसे क्या पता था कि ये खुशियां ज्यादा समय तक नहीं रहने वाली है। निखिल और उसके मित्र की मौत होने पर शादी की खुशियां मातम में बदल गई। अमित की मौत से गांव में भी लोग काफी आहत हैं।


गोशाला से अज्ञात व्यक्ति का शव बरामद

देहरादून। राजस्व पुलिस ने त्यूणी तहसील क्षेत्र के भंद्रोली गांव के खेड़ा कफोटा स्थित गोशाला से अज्ञात व्यक्ति का शव संदिग्ध परस्थितियों में बरामद किया। बस्ती क्षेत्र से कुछ दूरी पर शव मिलने से आसपास क्षेत्र मे सनसनी फैल गई। एसडीएम डॉ. अपूर्वा सिंह के निर्देश पर राजस्व पुलिस ने स्थानीय लोगों से पूछताछ के बाद मृतक की शिनाख्त नहीं होने से शव को 72 घंटे तक विकासनगर मोर्चरी में रखवाया है। तहसीलदार ने बताया कि हुलिए से बरामद शव किसी नेपाली मूल के व्यक्ति का प्रतीत होता है। पुलिस मामले की जांच-पड़ताल कर रही है।


सीमांत तहसील त्यूणी के पटवारी क्षेत्र भंद्रोली गांव के खेड़ा कफोटा में खेती-बाड़ी के काम से गए कुछ ग्रामीणों ने वहां स्थित एक गोशाला में नग्न हालत में पड़ा शव देखा। उन्होंने इसकी सूचना राजस्व पुलिस को दी। सूचना के तुंरत बाद तहसीलदार केडी जोशी के निर्देशन में क्षेत्रीय राजस्व उपनिरीक्षक अनिल चैहान और राजस्व उपनिरीक्षक भोपाल दास मयफोर्स मौके पर पहुंचे। राजस्व पुलिस टीम ने त्यूणी-चकराता हाईवे से करीब तीन सौ मीटर दूर कफोटा खेड़ा के पुरानी जर्जर गोशाला से शव बरामद किया। राजस्व उपनिरीक्षक अनिल चैहान ने बताया कि मृतक के शरीर पर कोई कपड़े नहीं थे। पुलिस ने नग्न अवस्था में शव बरामद किया। जांच के दौरान शरीर के कुछ हिस्से में हल्की चोटें और खरोंच के निशान मिले। हुलिए से बरामद शव किसी नेपाली मूल के व्यक्ति का मालूम पड़ता है। पुलिस ने आसपास के लोगों से उसकी शिनाख्त कराई पर पहचान नहीं हो सकी।


उत्तराखण्ड में शीघ्र होगा एन.सी.सी एकेडमी का शिलान्यास

-उत्तरकाशी में स्थापित की जायेगी एन.सी.सी की नई बटालाइन


-गणतंत्र दिवस परेड में प्रतिभाग कर लौटे एन.सी.सी कैडिटो को मुख्यमंत्री ने दी बधाई

-उत्तराखण्ड के एन.सी.सी कैडिटांे को बेहतर प्रदर्शन के लिये मिला देश में छठा स्थान

 

देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत शुक्रवार को हाथीबड़कला स्थित सर्वे ऑडिटोरियम में आयोजित नई दिल्ली में गणतंत्र दिवस परेड में प्रतिभाग कर लौटे एन.सी.सी कैडिटो के उत्साहवर्धन हेतु आयोजित कार्यक्रम में शामिल हुए। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने एन.सी.सी कैडिटो को सभी क्षेत्रों में बेहतर प्रदर्शन के लिये देशभर में छठा स्थान प्राप्त करने पर बधाई दी। उन्होंने गणतंत्र दिवस के अवसर पर एन.सी.सी कैडिटो द्वारा प्रस्तुत सांस्कृतिक कार्यक्रमों की भी सराहना की। मुख्यमंत्री ने कहा कि परेड में प्रतिभाग करने के साथ ही सांस्कृतिक कार्यक्रमों की आकर्षक प्रस्तुति को देखकर यह समझा जा सकता है कि एन.सी.सी के माध्यम से किस प्रकार उनका सर्वागीण विकास होता हैं। एन.सी.सी कैडिटो छात्रों द्वारा प्रोफेसनस् की भांति कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी। उन्होंने कहा कि यह इन कैडिटो की एक माह की मेहनत का ही प्रतिफल है कि उनके प्रदर्शन को देशभर में छठा स्थान प्राप्त हुआ है जो पहले 16 से 17वें पर रहता था।

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि प्रदेश में एन.सी.सी की डिमांड बढ़ी है, इसी के दृष्टिगत उत्तरकाशी में एन.सी.सी की नई बटालाइन की स्थापना के लिए आवश्यक वित्तीय स्वीकृति भी प्रदान दी गई। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही प्रदेश में एन.सी.सी एकेडमी का शिलान्यास किया जायेगा इसके लिए भी भूमि व धनराशि की व्यवस्था कर दी गई है। यह एकेडमी ग्रीन एनर्जी पर विकसित होगी। इसके लिये इसके समीप ही 07 करोड़ की लागत से 750 मीटर लम्बी झील का निर्माण किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इस एकेडमी को मॉडल एकेडमी के रूप में स्थापित करने के साथ ही इसे आधुनिक सुविधा युक्त बनाया जायेगा। इससे पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने एन.सी.सी को सहयोग देने वाले विभिन्न स्कूलों, संस्थाओं आदि के प्रतिनिधियों के साथ ही एन.सी.सी अधिकारियों व कैडिटो को भी सम्मानित किया। एन.सी.सी के ए.डी.जी मेजर जनरल सुधीर बहल ने मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि एन.सी.सी में हर साल लगभग 16 हजार नये कैडिट आते है। राज्य के लाखों लोगों पर एन.सी.सी का प्रभाव है। उन्होंने कहा कि एन.सी.सी केवल फौज के लिये ही नही है बल्कि यह युवाओं के व्यक्तित्व विकास में भी योगदान देता है, जो उन्हें जीवन के हर पहलु में सफलता की ओर ले जाता है।


एसजीआरआर इंटर कॉलेज सहसपुर का वार्षिकोत्सव धूमधाम से मना 

 


देहरादून। श्री गुरु राम राय इंटर कॉलेज सहसपुर का वार्षिकोत्सव धूमधाम से मनाया गया। वार्षिकोत्सव में छात्र-छात्राओं द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रमों की रंगारंग प्रस्तुति दी गई।

वार्षिकोत्सव का शुभारंभ खंड शिक्षा अधिकारी पंकज शर्मा ने दीप प्रज्वलित कर किया। वार्षिकोत्सव में विद्यार्थियों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रमों की एक से बढ़कर एक प्रस्तुति दी गई। छात्रों ने गढ़वाली, जौनसारी गीतों व नृत्यों की शानदार प्रस्तुति दी। कार्यक्रम में समाजसेवियों एवं मेधावी छात्रों को सम्मानित किया गया। प्रधानाचार्य रविंद्र सैनी ने अभिभावकों व उपस्थित अतिथियों का आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम में सीबीएससी के रीजनल अधिकारी रणवीर सिंह, अनुनाद पब्लिक स्कूल के प्रधानाचार्य सुनीता रावत, मेजर कादिर हुसैन, बीडीएम के संस्थापक संजय गर्ग, समाजसेवी आर्येंद्र शर्मा, अमर सिंह कश्यप, सुरेंद्र नाथ भट्ट, पूर्व ग्राम प्रधान सुंदर थापा आदि उपस्थित रहे।


कैंची धाम में बाबा की हत्या

 


हल्द्वानी। हल्द्वानी में शुक्रवार की सुबह सनसनी फैल गई। कैंची धाम क्षेत्र में एक बाबा की हत्या का मामला सामने आया। मिली जानकारी के अनुसार, घटना देर रात की है। मृतक बाबा केशर नाथ की उम्र करीब 100 वर्ष बताई जा रही है। बाबा के सिर में चोट के निशान मिले हैं। पुलिस मामले की तहकीकात करने में जुट गयी है। मिली जानकारी के अनुसार बाबा साल 2004 से कैंची के जंगल में रह रहे थे। इसके साथ ही वहां बाबा का एक साथी तीरथ सिंह घायल अवस्था में मिला। जानकारी मिलते ही पहुंची पुलिस ने घायल को अस्पताल में भर्ती कराया। पुलिस को मौके पर करीब एक लाख रुपये भी बरामद हुए हैं। पुलिस पूरे मामले की पड़ताल कर रही है। बाबा के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। इस मामले में पुलिस गहन पूछताछ में जुटी है।


सीएम 8 फरवरी को करेंगे हेली सेवा का शुभारंभ

देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत 8 फरवरी को सहस्त्रधारा हेलीपैड से उड़ान योजना के अन्तर्गत सहस्त्रधारा-गौचर-सहस्त्रधारा हेली सेवा एवं सहस्त्रधारा -चिन्यालीसौड़-सहस्त्रधारा हेली सेवा का शुभारम्भ करेंगे। मुख्यमंत्री के उड्डयन सलाहकार कैप्टन दीप श्रीवास्तव ने बताया कि मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के अथक प्रयासों से केन्द्र सरकार की उड़ान योजना के अन्तर्गत इस हेली सेवा का शुभारंभ किया जा रहा है। हैरिटेज एविएशन प्राइवेट लिमिटेड द्वारा शुरू की जा रही इस डबल इंजन-6 सीटर हेलीकॉप्टर सेवा की शुरुआत की जा रही है। उन्होंने बताया कि सहस्त्रधारा से गौचर हेली सेवा का किराया 4120 रुपए एवं सहस्त्रधारा-चिन्यालीसौड़ हेली सेवा का किराया 3350 रुपए होगा। हेली सेवा द्वारा प्रतिदिन 2 ट्रिप की जाएगी।

मैक्स अस्पताल के डॉ. वैभव चाचरा ने दो वर्षीय बच्चे की श्वास नली से मूंगफली का दाना निकालकर बचाई जान 

देहरादून। मैक्स सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल देहरादून ने दो साल के बच्चे की श्वासनली में फंसे मूंगफली के दाने को निकालकर उसकी जान बचाई। मूंगफली के दाने की वजह से बच्चे को श्वास लेना मुश्किल हो गया था, जिससे उसकी जान को खतरा पैदा हो गया था। पल्मोनोलॉजी विभाग में कंसल्टेंट डॉ. वैभव चाचरा ने बताया, बच्चा खाते समय खेल रहा था, जिसके कारण मूंगफली का दाना श्वासनली में फंस गया। इससे वह सांस नहीं ले पा रहा था।

मैक्स अस्पताल में आयोजित पत्रकार वार्ता में डा. वैभव चाचरा ने बताया कि बच्चे के माता-पिता इलाज के लिए उसे अपने क्षेत्र (सहारनपुर) के सभी अस्पतालों में यहां से वहां दौड़ते रहे लेकिन छोटे बच्चे को कहीं से राहत नहीं मिली। एक दिन पहले ही उसे लेकर देहरादून आए लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ और इलाज के अभाव में हालत खराब होती गईं। उन्हें देहरादून के एक मल्टीस्पेशलिटी अस्पताल से मैक्स अस्पताल भेजा गया, जहाँ वे शाम लगभग 6.45 बजे पहुंचे। उसके बाद उन्हें डॉ. वैभव चाचरा की देखरेख में भर्ती कराया गया, जो ऐसे मामलों से निपटने के लिए इंटरवेंशनल पल्मोनोलॉजिस्ट और विशेषज्ञ हैं और पहले भी 9 महीने के बच्चे के गले में फंसे एलईडी बल्ब को सफलतापूर्वक बाहर निकाला था। उन्होंने तुरंत स्थिति का आकलन किया और अस्पताल आने के तीन घंटे के भीतर ऑपरेशन की व्यवस्था की और मूंगफली के दाने को सफलतापूर्वक निकाल लिया। इसके बाद न केवल दो वर्षीय छोटे बच्चे को बल्कि उनके परिवार ने भी राहत की सांस ली। उन्होंने कहा कि मूंगफली के दाने ने पहले से ही बहुत नुकसान कर दिया था क्योंकि राज्य में कोई विशेषज्ञता न होने से इलाज में बहुत देर हो चुकी थी। वह दाना बुरी तरह से अटक गया था और बच्चा बिना रुके खांस रहा था और उसे निमोनिया भी हो गया था। इसलिए बिना देरी किए उसे हटाने के लिए तुरंत कदम उठाए गए। मूंगफली के दाने को शुरुआत में एक लचीली ब्रोन्कोस्कोप से हटाने की कोशिश की गई, जिसके बाद एक कठोर ब्रोन्कोस्कोपी का इस्तेमाल किया गया। इस प्रक्रिया में श्वासनली में एक कठोर स्कोप डालना शामिल है। विशेष उपकरणों का इस्तेमाल करते हुए मूंगफली के दाने को निकालने की कोशिश की गई और इस दौरान बच्चे को वैकल्पिक व्यवस्था के जरिये ऑक्सीजन सप्लाई की गई। इसके बाद मूंगफली के दाने को छिलके सहित सफलतापूर्वक निकाल लिया गया। श्वासनली में बाहरी वस्तु फंसना आपात परिस्थिति होती है और इस पर तत्काल उपचार की आवश्यकता होती है। बाहरी वस्तु शरीर के वायुमार्ग के भीतर कई अलग-अलग स्थानों में फंस सकती है। ज्यादातर दाएं फेफड़ों में। खिलौने, वनस्पति खाद्य पदार्थ जैसे कि मक्के का दाना, राजमा, बादाम, मूंगफली का दाना, धातु का खिलौना, सेफ्टी पिन जैसी वस्तुएं अक्सर फंस जाती है। डॉ. चाचरा ने तो एक बूढ़े व्यक्ति के शरीर से पहले डेंटल ड्रिल (आरसीटी पिन) भी निकाली है। मैक्स सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल के मेडिकल डायरेक्टर और प्रख्यात गैस्ट्रोएन्टेरोलॉजिस्ट डॉ रविकांत गुप्ता ने कहा, “हमारे विशेषज्ञ- डॉ. वैभव चाचरा, कंसल्टेंट, पल्मोनोलॉजी विभाग- विशेष रूप से कठोर और साथ ही लचीले ब्रोन्कोस्कोपी और इंटरवेंशनल पल्मोनोलॉजी के क्षेत्र में प्रशिक्षित हैं। मैक्स-देहरादून में पल्मोनोलॉजी या इंटरवेंशनल पल्मोनोलॉजी के क्षेत्र में राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय मानकों के अनुरूप सुविधाएं उपलब्ध हैं फिर चाहे कोई बाहरी वस्तु हो या ट्रेकिअल स्टेंटिंग या गंभीर रूप से बीमार रोगी का प्रबंधन। उन्होंने (डॉ. चाचरा) पहले भी ऐसी आपात परिस्थितियों में आए मरीजों का इलाज कर चुके हैं। 

Thursday, 30 January 2020

महर्षि वाल्मीकि शिक्षा-संस्कार केंद्र में पढ़ने वाले गरीब बच्चों को ट्रैक सूट वितरित किए 


देहरादून। स्वामी विवेकानंद संस्थान तथा मानवाधिकार एवं सामाजिक न्याय संगठन के संयुक्त तत्वावधान में बसंत पंचमी के अवसर पर प्रेमनगर में स्वामी विवेकानन्द सेवा संस्थान द्वारा संचालित महर्षि वाल्मीकि शिक्षा-संस्कार केंद्र में पढ़ने वाले गरीब बच्चों को ट्रैक सूट वितरण कार्यक्रम सनातन धर्म मन्दिर हॉल, प्रेमनगर में आयोजित किया गया। इस अवसर पर मानवाधिकार एवम  सामाजिक न्याय संगठन के चैयरमैन सचिन जैन ने कहा कि मानवाधिकार एवं सामाजिक संगठन की तरफ से मैं सभी बच्चों और आए हुए महानुभाव को वसंत पंचमी की बहुत-बहुत बधाई देता हूं हमारा प्रयास हमेशा यही रहता है कि जरूरतमंद बच्चों को उनकी जरूरत के अनुसार समय-समय पर उनकी जरूरतों को पूरा किया जा सकें।

 कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के रूप में चार्टर्ड अकाउंटेंट नवीन गुप्ता ने कहा कि मैं आज ऐसे कार्यक्रम में आकर अपने आप को गौरवान्वित महसूस कर रहा हूं,  कि मैं ऐसी दो संस्थाओं का हिस्सा बना जो समाज के गरीब वर्ग के बच्चों की शिक्षा एवं अन्य जरूरतों को पूरा करने के लिये सदा प्रयासरत रहती हैं। मैं धन्यवाद देना चाहूंगा इन दोनों संस्थाओं के पदाधिकारियों का जिन्होंने मुझे यह अवसर प्रदान किया। जहाँ स्वामी विवेकानन्द सेवा संस्थान अपने 9 शिक्षा केंद्रों के माध्यम से गरीब असहाय बच्चों की संस्कार युक्त शिक्षा के लिये तन मन धन से पिछले 15 वर्ष से कार्य कर रहा है वहीं मानवाधिकार संगठन गरीब बच्जों की विभिन्न आवश्यकताओं की पूर्ति के लिये सदा  तत्पर रहता है। जिसकी प्रदेश अध्यक्ष मधु जैन ऐसे कार्यक्रमों में सदा अग्रणी भूमिका निभाती हैं और जो आए दिन किसी ना किसी कार्यक्रम में बच्चों की मदद करती हुई नजर आती हैं। विशिष्ट अतिथि के रूप में अनन्या कटारिया ने कहा कि हम सबको ऐसी समाजसेवी संस्थाओं के साथ मिलकर गरीब वर्ग के बचचों की यथासम्भव सहायता करने की आवश्यकता है, तभी ऐसे बच्चे आगे चलकर राष्ट्र कार्य मे अग्रणी भूमिका निभा सकेंगे। कार्यक्रम का संचालन स्वामी विवेकानन्द सेवा संस्थान के सहसचिव गुलशन माकिन और मानवाधिकार एवं सामाजिक न्याय संगठन की प्रदेश अध्यक्ष मधु जैन ने संयुक्त रूप से किया। संस्थान के उपाध्यक्ष केके अरोड़ा ने सभी उपस्थित लोगों तथा सनातन धर्म मन्दिर कार्यकारिणी का उनके सहयोग के लिये धन्यवाद किया और कहा कि आप लोग की मदद से हम लोगों का हौसला और बढ़ जाता है।

इस अवसर पर मानवाधिकार सामाजिक न्याय संघठन के प्रदेश उपाध्यक्ष लच्छू गुप्ता ने कहा कि संगठन के सभी सदस्य निरंतर मिलजुल कर इस तरह की सेवा कार्य और जरूरतमंद लोगों की सहायता करते रहते हैं। इस अवसर पर महर्षि वाल्मीकि शिक्षा केंद्र, प्रेमनगर तथा माँ नन्दा देवी केंद्र, शास्त्रीनगर में गरीब बच्जों को शिक्षा दे रही शिक्षिका रिया, गौरी, अंजलि और केंद्र की प्रभारी पारुल विश्नोई जी को आशा और अर्जुन कोहली को भी सम्मानित किया गया सामाजिक न्याय संगठन के द्वारा शिक्षा के क्षेत्र में गरीब बच्चो को उच्च शिक्षा देने के लिए सम्मानित किया गया। इस अवसर पर केंद्र व्यवस्थापक गुलशन माकिन एवं मां नंदा देवी शिक्षा संस्कार रुचि तोमर तथा शिक्षक गजेंद्र सिंह का सम्मान  प्रशस्ति पत्र और स्मृति चिह्न देकर किया गया इसके साथ ही शिक्षा और केंद्र प्रबंधन के उत्कृष्ट कार्य के लिये श्रीमती पारुल विश्नोई तथा  व्यवस्थापक गुलशन माकिन जी को भी मानवाधिकार समिति द्वारा सम्मानित किया गया। इस अवसर पर विशंभर नाथ बजाज, कुलदीप विनायक श्रीमती रेखा निगम,  हरीश कटारिया, के के  अरोड़ा , एम एल जोशी ,मनमोहन शर्मा , जे सी पांडे , दिनेश बंसल, शिखा थापा कविता चैहान, राहुल चैहान, श्री कविता लोहानी , गीता वर्मा, कमलेश कुमार, एस पी सिंह आदि विशेष रूप से मौजूद रहे।

जेईई मैंस में सफल रहे विद्यार्थियों को पुरस्कृत किया गया  


देहरादून। देहरादून शहर के प्रतिष्ठित संस्थान फिजिक्स प्लेनेट के प्रांगण में विद्यादायनी मां सरस्वती की पूजा एवं अर्चना बहुत धूमधाम से की गई। शिक्षक एवं छात्र एवं छात्राओं का उत्साह एवं उमंग उत्कर्ष स्थिति में था। पूरा वातावरण मां सरस्वती की जयकारा एवं मंत्रोच्चारण से भक्तिमय हो गया। इस अवसर पर जेईई मैंस में सफल छात्र एवं छात्राओं को पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया। पुरस्कार वितरण संस्थान के प्रबंध निदेशक एवं विभागाध्यक्ष (फिजिक्स) रवि सिंह एवं संस्थान के निदेशक एवं विभागाध्यक्ष (गणित) बिनोद कुमार मिश्रा, छात्र-छात्राओं, अभिभावक की उपस्थिति में सम्पन्न हुआ।

  इस अवसर पर संस्थान के प्रबंध निदेशक रवि सिंह ने कहा कि यह संस्थान विगत कुछ वर्षों में ही मेडिकल एवं इंजीनियरिंग दोनों में केवल फिजिक्स में बहुत शानदार रिजल्ट दिया है, पर इस साल से फिजिक्स, केमेस्ट्री, मैथ्स, बायोलॉजी सभी विषयों की पढ़ाई स्कूल के साथ साथ प्रतियोगी प्रक्षायो के लिए कराई जाएगी! साथ ही उन्होंने कहा कि मेरे यहां रिकॉर्डेड वीडियो लेक्चर सभी क्लास का उपलब्ध रहता है ताकि अगर किसी छात्र का वर्ग किसी कारणवश छूट जाए तो वह उसे सुनकर पूरे वर्ग के लेक्चर को समझ सके! एक एक छात्र के साथ जुटकर यहां उनके डाउट का समाधान किया जाता है! प्रतिदिन एवं साप्ताहिक उनकी परीक्षाएं प्रतियोगिता परीक्षा की तरह ली जाती है! और अभिभावक को भी इसकी सूचना दी जाती है साथ ही महीने में एक दिन अभिभावक के साथ मीटिंग भी की जाती है ताकि बच्चे की दिक्कतों को दूर की जा सके एवं उसका सर्वांगीण विकास हो सके! यह कार्यक्रम विगत वर्षो से मेरे यहां संपादित किया जा रहा है, जो हमारी सफलता का मूलमंत्र है। संस्थान के निदेशक बिनोद कुमार मिश्रा ने कहा कि यहां सभी शिक्षक मिलकर कमजोर विद्यार्थी का काउंसलिंग बराबर करते रहते है ताकि उनका उत्साह ना टूटे और ना उनका विषय के प्रति अनुराग बना रहे सभी विद्यार्थी के रिजल्ट का एनालाईसिस बहुत ही बारीकी से हमलोग करते है एवं  उसमे कैसे सुधार किया जा सकता है इस पर बहुत जोर डालते है हमारे संस्थान में शैक्षणिक माहौल बनाए रखने के लिए बीच बीच में अलग अलग विषयों पर बच्चो के बीच क्विज भी कराया जाता है जिसमें बच्चे उत्साह एवं उमंग के साथ भाग लेते है! साथ ही हमारे यहां एक समृद्ध पुस्तकालय एवं पढ़ने की भी उत्तम व्यवस्था है। इस अवसर पर संस्थान की ओर से राहुल सिंह (डायरेक्टर-एडमिन), नरेश कुमार (असिस्टेंट डायरेक्टर), हरीश त्रिपाठी ( विभागाध्यक्ष बायोलॉजी), बृजमोहन (फिजिक्स फैकल्टी) एवं मिस गुंजन (ऑफिस असिस्टेंट) की गरिमामई उपस्थित रहे।

दून वल्र्ड स्कूल  मे धूम-धाम से मनाया गया वसंतोत्सव


देहरादून। रक्षा विहार स्थित दून वल्र्ड स्कूल मे वसन्त पंचमी के अवसर पर वसंतोत्सव का आयोजन श्रद्धा और हर्षोल्लास के साथ किया गया। कार्यक्रम का शुभारम्भ सरस्वती वंदना से हुआ। विद्यालय की हिन्दी अध्यापिका वन्दना उनियाल ने वसन्त ऋतु के महत्व व विशेषताओं पर प्रकाश डाला। प्रधानाचार्य सन्तोष कोटियाल व स्टाफ के सदस्यों ने माँ सरस्वती की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया व पुष्प अर्पित कर विद्यार्थियों व स्कूल की प्रगति की कामना की। सभी उपस्थित अध्यापकों, कर्मचारियों व विद्यार्थियों में प्रसाद वितरण किया गया। स्कूल डाईरेक्टर वीणा कालिया व चेयरमैन मंदीप डंग भी इस अवसर पर मोजूद रहे।

रानीखेत में बृहद रोजगार मेले का आयोजन 15 फरवरी को 

अल्मोड़ा। जिलाधिकारी नितिन सिंह भदौरिया निर्देशानुसार 15 फरवरी को राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय चिलियानौला रानीखेत में बृहद रोजगार मेला का आयोजन किया जा रहा है। इस बात की जानकारी देते हुये क्षेत्रीय सेवायोजन अधिकारी ए0एस0बिष्ट ने बताया कि इस रोजगार मेले में 15 से 20 कम्पनियों द्वारा लगभग 2000 रिक्तियों के साथ प्रतिभाग किया जाना है। जिसमंे जनपद के शिक्षित बेरोजगार युवाओं को कम्पनी में लिखित एवं साक्षात्कार के माध्यम से सीधी नियुक्ति तथा कौशल प्रशिक्षण एवं आॅन जाॅब प्रशिक्षण में रोजगार के अवसर प्रदान किया जाना है।

उन्होंने बताया कि जनपद के समस्त विकास खण्डों में क्षेत्रीय सेवायोजन अधिकारी के नेतृत्व में रोजगार मेले से पूर्व कैरियर वार्तायें, मोबलाईजेशन एवं प्रचार-प्रसार कार्यक्रम निर्धारित किया गया हैै। कैरियर वार्तायें, मोबलाईजेशन एवं प्रचार-प्रसार कार्यक्रम विकास खण्ड चैखुटिया व द्वाराहाट में दिनांक 01 फरवरी, 2020 को प्रातः 10 बजे से 12 बजे तक तथा द्वाराहाट में 02 बजे से 04 बजे तक, विकास खण्ड सल्ट में दिनांक 03 फरवरी, 2020 को प्रातः 11 बजे से 1 बजे तक, विकास खण्ड स्याल्दे में दिनांक 04 फरवरी, 2020 को प्रातः 10 बजे से 12 बजे तक तथा विकास खण्ड भिकियासैण में 1 बजे से 03 बजे तक, विकास खण्ड ताड़ीखेत मंे दिनांक 05 फरवरी, 2020 को प्रातः 11 बजे से 1 बजे तक, विकास खण्ड धौलादेवी में दिनांक 06 फरवरी, 2020 को प्रातः 10 बजे से 12 बजे तक तथा विकास खण्ड लमगड़ा में 02 बजे से 04 बजे तक, विकास खण्ड ताकुला में दिनांक 07 फरवरी 2020 को प्रातः 10 बजे से 12 बजे तक तथा हवालबाग में 02 बजे से 04 बजे तक एवं विकास खण्ड भैसियाछाना में दिनांक 10 फरवरी, 2020 को प्रातः 11 बजे से 1 बजे तक किया जायेगा। उन्होंने समस्त विकास खण्ड अधिकारी से अपील की है कि वे अपने स्तर से इस रोजगार मेले का प्रचार-प्रसार करे ताकि अधिक से अधिक इच्छुक बेरोजगार युवाओं द्वारा इस रोजगार में मेले में प्रतिभाग कर सके। उन्होंने मेले में प्रतिभाग करने  हेतु युवाओ को भारत सरकार के दिशा-निर्देश के अनुसार पंजीकृत होना आवश्यक है।  

परमार्थ निकेतन पधारा लाइफ आर्ट फेस्टिवल का प्रतिनिधिमंडल

ऋषिकेश। परमार्थ निकेतन में लाइफ आर्ट फेस्टिवल के प्रतिनिधि मंडल व हाॅलीवुड फिल्म निर्माता निदेशक पधारे। उन्होंने परमार्थ निकेतन के परमाध्यक्ष स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी से भेंट वार्ता कर लाइफ आर्ट फेस्टिवल को आध्यात्मिक संरक्षण और मार्गदर्शन प्रदान करने हेतु अनुरोध किया। लाइफ आर्ट फेस्टिवल एक ग्लोबल मीडिया और मल्टी मीडिया फेस्टिवल है। जो कि लाइफ, आर्ट एंड फिल्म्स को अनोखे कार्यक्रमों के साथ मनाता है। यह विभिन्न स्तर की कला और संस्कृतियों को एक मंच प्रदान करता है। इस मंच पर अंतर्राष्ट्रीय कलाकार एक साथ जुड़ते है तथा नवीन परियोजनाओं पर चर्चा होती है।ं इस फेस्टिवल का आयोजन एथेंस, सेंटोरिनी ग्रीस, नई दिल्ली, लखनऊ, न्यूयार्क और विश्व के अनेक स्थानों पर किया गया।

परमार्थ निकेतन के परमाध्यक्ष और ग्लोबल इंटरफेथ वाश एलायंस के संस्थापक स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी महाराज से चर्चा के दौरान लाइफ आर्ट फेस्टिवल के प्रतिनिधियों ने बताया कि लाइफ आर्ट फेस्टिवल में फिल्मों, संगीत, कला, मानवीय मुद्दों, सामाजिक न्याय, पशु कल्याण पर विस्तृत चर्चा होती है। प्रतिनिधि मंडल ने स्वामी जी से अनुरोध किया कि वे इस लाइफ आर्ट फेस्टिवल को आध्यात्मिक मार्गदर्शन और संरक्षण प्रदान करें। स्वामी जी ने सुझाव दिया कि इस वैश्विक आयोजन में पर्यावरण संरक्षण के विषय को भी सम्मिलित किया जाना चाहिये क्योकि वर्तमान समय में पर्यावरण और जल का प्रदूषण एक ग्लोबल समस्या है इसका समाधान भी विराट वैश्विक मंचों पर बेहतर तरीके से निकाला जा सकता है। इस अवसर पर स्वामी जी ने कहा कि महात्मा गांधी जी के विचारों से भारतीय गौरवमयी संस्कृति की झलक स्पष्ट हो जाती है। वास्तव में आज हमें खुद में बदलाव करने की जरूरत है जो हम इस दुनिया में देखना चाहते है।

चर्चा के दौरान स्वामी जी ने 19 वीं सदी के लेखक अल्बर्ट पाइक के कथन को याद करते हुये  कहा कि हम जो कुछ भी अपने लिये करते है वह मृत्यु के साथ ही हमारे साथ चला जाता है परन्तु जो हम दूसरों के लिये करते है अनंत और अविनाशी होता है। प्रकृति और पर्यावरण का संरक्षण न केवल हमारे लिये, हमारी आने वाली पीढ़ियों के लिये है बल्कि पृथ्वी पर रहने वाले सभी जीवों के लिये है। लाइफ आर्ट के प्रतिनिधि मंडल ने कहा कि स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी के साथ हुई हमारी वार्ता अविश्वसनीय आध्यात्मिक और कलात्मक विनिमय से युक्त थी। इस अवसर पर हाॅलीवुड फिल्म प्रोडूसर एण्ड डायरेक्टर राण मोर, मेंनेजर एवं डायरेक्टर जुलियट, फिल्म स्कोर कंपोजर गिलाड बेनामरम, गुरू योडा और उनके सहयोगी उपस्थित थे। स्वामी जी के सान्निध्य में लाइफ आर्ट के प्रतिनिधि मंडल और नन्दिनी त्रिपाठी ने विश्व स्तर पर स्वच्छ जल की आपूर्ति हेतु विश्व ग्लोब का जलाभिषेक किया।

शहीद दिवस पर याद किए गए अहिंसा के पुजारी महात्मा गांधी

देहरादून। राष्ट्रीय दृष्टि दिव्यांगजन संशक्तिकरण संस्थान देहरादून में महात्मा गांधी के कलात्मक चित्र के समक्ष दो मिनट का मौन धारण कर श्रद्धा सुमन अर्पित किये गये। इस अवसर पर अहिंसा के पुजारी महात्मा गांधी को श्रृद्धापूर्व क स्मरण करते हुए संस्थान के निदेशक प्रो0 नचिकेता राउत ने महात्मा गांधी के जीवन दर्शन को अनुकरणीय बताया। 

संक्षिप्त आयोजन में निदेशक प्रो0 नचिकेता राउत के साथ स0कमलवीर सिंह जग्गी, डाॅ0 जसमेर सिंह, सुनील कुमार सिरपुरकर, एच आर जोशी, चेतना गोला, पवन कुमार शर्मा, राकेश मल, पी0एन0 काला, सविता आनन्द, बीना सिंह, सुरेन्द्र सिंह, अनिल शर्मा, भावना भट्ट, विलियम सोहन सिंह, मो जुबेर अहमद, ओमप्रकाश, गौरव कुमार तथा योगेश अग्रवाल द्वारा समूहिक रुप से उपस्थित होकर महात्मा गांधी के कलात्मक चित्र के समक्ष दो मिनट का मौन धारण कर श्रद्धा सुमन अर्पित किये गये।

जिलाधिकारी ने प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों का किया निरीक्षण 

नैनीताल। जिलाधिकारी सविन बंसल ने कस्बों के सरकारी अस्पतालों के साथ ही जिले के दूरदराज इलाकों मे संचालित प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों के निरीक्षण का भी सिलसिला शुरू किया। जिसके तहत उन्होने गुरूवार को खैरना, गरमपानी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पहुचकर स्वास्थ्य सेवाआंे एवं व्यवस्थाओं का जायजा लिया। जिलाधिकारी श्री बंसल के निरीक्षण के दौरान वहां तैनात स्टाफ मे हडकम्प मचा रहा, लगभग 2 घंटे स्वास्थ्य केन्द्र मे रहकर उन्होने वहां की व्यवस्थायें परखी।  जिलाधिकारी ने ओपीडी, एक्सरे कक्ष,पैथलैब, अल्ट्रासांउड कक्ष आदि का गहनता से निरीक्षण किया। चिकित्सालय का आवश्यक मरम्मत कार्य जो ग्रामीण अभियंत्रण के द्वारा किया जा रहा है मन्द गति  हो रहे कार्य पर उन्होने नाराजगी व्यक्त की। उन्होने मौके पर मौजूद उपजिलाधिकारी गौरव चटवाल को निर्देश दिये कि वह कार्यदायी संस्था से कार्य 15 फरवरी तक पूर्ण करायें।

जिलाधिकारी श्री बंसल ने बताया कि गरमपानी का चिकित्सालय दुर्गम पर्वतीय क्षेत्र में है तथा यह एक दुर्घटना सम्भावित जोन होने के कारण आये दिन भूस्खलन व अन्य कारणों से दुर्घटनायें होती रहती है ऐसे मे इस स्वास्थ्य केन्द्र की उपयोगिता बहुत अधिक है, ऐसे में सभी चिकित्सकीय सुविधायें आवश्यक दवायें स्वास्थ्य केन्द्र मे उपलब्ध रहनी चाहिए यह निर्देश उन्होेने मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 भारती राणा को दिये। उन्होने कहा कि स्वास्थ्य केन्द्र में स्थापित पैथोलाॅजी प्रयोगशाला तथा क्षयरोग  निदान प्रयोगशाला को फरवरी के अन्त तक क्रियाशील कर दिया जायेगा तथा इन दोनों प्रयोगशालाओं मे उपकरण आदि क्रय किये जाने के लिए एनएचएम से धन की व्यवस्था की जायेगी। उन्होने पैथोलाॅजी लैब मेें प्रयोगशाला सहायक की तैनाती अविलम्ब उपनल से किये जाने के निर्देश मुख्य चिकित्साधिकारी को दिये। उन्होने सीएमओ से कहा कि स्वास्थ्य केन्द्र के स्टाॅफ नर्स की तैनाती के लिए सचिव स्वास्थ्य को उनके ओर से पत्र प्रेषित किया जाए। उन्होने सीएमओ से यह भी कहा कि भवाली के स्वास्थ्य केन्द्र मे तैनात बालरोग विशेषज्ञ को सप्ताह मे दो दिन गरमपानी स्वास्थ्य केन्द्र मे कार्य करने के आदेश निर्गत करें। उन्होने स्वास्थ्य केन्द्र मे रैबीज के टीकों की निरंतर व्यवस्था बनाने को भी कहा। जिलाधिकारी सविन बंसल द्वारा देर सांय सामुदायिक स्वास्थ्य केेन्द्र सुयालबाडी का भी निरीक्षण किया गया। निरीक्षण दौरान उप जिलाधिकारी गौरव चटवाल, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 भारती राणा, मुख्य शिक्षा अधिकारी केके गुप्ता,अधिशासी अभियन्ता ग्रामीण अभियंत्रण विनीत कुरील, जल संस्थान संतोष उपाध्याय. एमओआईसी डा0सतीश पंत, तहसीलदार नितेश डागर,हेम तिवारी आदि मौजूद थे।

टूरिज्म इंडस्ट्री पार्टनरशिप कार्यक्रम के विस्तार की घोषणा की

देहरादून। न्यूजीलैंड उन चुनिंदा जगहों में से एक है, जहां नए दिन की पहली किरण सबसे पहले पड़ती है। इस तथ्य से प्रेरित होकर टूरिज्म न्यूजीलैंड ने 100 प्रतिशत प्योर वेलकम-100 प्रतिशत प्योर न्यूजीलैंड के तहत प्रचार सामग्रियों की एक श्रृंखला जारी की है। इसमें स्थानीय लोग आगंतुकों को देशभर में उनकी पसंदीदा जगहों से गुड मॉर्निंग वर्ल्ड के संदेश देते नजर आते हैं। अभियान दिखाता है कि कैसे गर्मजोशी से भरपूर दोस्ताना लोग, हैरान कर देने परिदृश्य और शामिल होने के लिए ढेर सारी तरह-तरह की गतिविधियां न्यूजीलैंड को एक अनूठा अवकाश गंतव्य बनाती हैं। प्राचीन काल से ही भारतीय सूर्य नमस्कार (सूर्य को अभिवादन) से सुपरिचित हैं। यह एक लोकप्रिय योग आसन है, जो इस ग्रह पर जीवन को बनाए रखने को लेकर सूर्य के प्रति कृतज्ञता जताने के लिए जाना जाता है।

ओएलएक्स पर फोन बेचने का झांसा देकर 16 हजार की ठगी 

रुड़की। एक ठग ने खुद को सैन्यकर्मी बताकर ओएलएक्स पर फोन बेचने का झांसा देकर 16 हजार की ठगी कर ली। युवक को छह हजार रुपये में स्मार्ट फोन बेचने का झांसा दिया था। जबकि, बाकी की रकम वापस करने की बात कही थी। पीड़िघ्त ने पुलिस को मामले की तहरीर दी है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

सिविल लाइंस कोतवाली क्षेत्र के बंदा रोड निवासी दानिश राजमिस्त्री हैं। उन्होंने ओएलएक्स पर स्मार्ट फोन का एक विज्ञापन देखा था, जिसमें छह हजार रुपये में स्मार्ट फोन बेचने की बात कही गई थी। नए फोन की कीमत करीब 60 हजार रुपये बताई गई थी। दानिश ने विज्ञापन में दिए गए नंबर पर फोन किया। फोन उठाने वाले ने खुद को सैन्यकर्मी बताया और छह हजार रुपये में फोन बेचने की बात कही। इसके लिए उन्हें खाते में 16 हजार रुपये जमा कराने होंगे। वह छह हजार रुपये का मोबाइल उनके बताए गए पते पर भिजवा देगा। साथ ही बाकी की 10 हजार की रकम उसके बैंक खाते में वापस भेज दी जाएगी। बातों में आकर दानिश ने उसके बताए गए बैंक खाते में 16 हजार रुपये जमा करा दिए। गुरुवार सुबह जब दानिश ने उस नंबर पर फोन किया तो नंबर बंद मिला। सुबह से उसने कई बार नंबर मिलाने का प्रयास किया, लेकिन नंबर बंद ही मिला। ठगी का एहसास होने पर पीड़ित ने गुरुवार दोपहर सिविल लाइंस कोतवाली पहुंचकर पुलिस को मामले की शिकायत की। कोतवाली प्रभारी निरीक्षक अमरजीज सिंह ने बताया कि आरोपित का मोबाइल नंबर ट्रेस किया जा रहा है।

डीएम ने किया सुयालबाडी जवाहर नवोदय विद्यालय का निरीक्षण 

नैनीताल। जवाहर नवोदय विद्यालय समिति के अध्यक्ष एवं जिलाधिकारी सविन बंसल ने गुरूवार को जिले के दूरस्थ स्थित सुयालबाडी जवाहर नवोदय विद्यालय पहुंचकर विद्यालय का निरीक्षण किया तथा वहां अध्ययनरत छात्र-छात्राओं से मुलाकात की। उन्होने विद्यालय मेें जवाहर नवोदय समिति की बैठक भी ली। उन्होने एनएचएम द्वारा लगाये गये स्वास्थ्य शिविर,बाल विकास द्वारा लगाये गये पोषण कार्यक्रम तथा बेटी बचाओ बेटी पढाओ कार्यक्रम का दीप प्रज्वलित कर शुभारम्भ किया। उन्होने विद्यालय सभागार में परीक्षाओें एवं खेल स्पर्धाओें मे बेहतर प्रदर्शन करने वाले छात्र-छात्राओं को पुरस्कृत भी किया।

श्री बंसल ने कहा कि ग्रामीण इलाकों के बच्चो को बेहतर शिक्षा देने के लिए जवाहर नवोदय विद्यालय पूरी तत्परता से कार्य कर रहे है। उन्होने अध्यापकों से कहा कि बच्चे हमारे राष्ट्र का भविष्य है इनके बेहतर शिक्षा के साथ ही व्यक्तित्व निर्माण की दिशा मे कार्य किये जांए। श्री बंसल ने प्रबन्ध समिति की बैठक में प्रधानाचार्य द्वारा प्रस्तुत विद्यालय सम्बन्धी 14 बिन्दुओं पर प्रस्तुत की गई। समस्याओं पर विचार करते हुये छात्र हितों को ध्यान मे रखते हुये अधिकाशं बिन्दुओ पर अपनी सहमति व्यक्त की। उन्होने कहा कि विद्यालय की बेहतरी एवं सुदृढीकरण के लिए खनन निधि न्यास से वित्तीय संसाधन उपलब्ध कराये जायेगे। उन्होने पाया कि विद्यालय परिसर में बच्चो के खेलने के लिए उचित स्थान नही है। उन्होने बालिका छात्रावास के पास खाली भूमि पर बास्केटबाल तथा वॅालीबाल ग्राउन्ड आरईएस विभाग से बनवाने के निर्देश दिये। इन मैदानोें के निर्माण में तकनीकी मार्गदर्शन सहायक निदेशक खेल अख्तर अली द्वारा दिया जायेगा। श्री बंसल ने पाया कि छात्र-छात्रायंे जिस बैड पर सो रहे है छात्रओें का बैड प्लाई का ना होकर सीमेन्ट का बना हैै इस पर उन्होने कडी नाराजगी व्यक्त की। उन्होने खनन निधि न्यास से सभी बच्चों के बैड पर प्लाई लगाई जायेगी। जिलाधिकारी ने विद्यालय के चारोें ओर सुरक्षात्मक बचाव तथा जंगली जानवरो की सुरक्षा के लिए 12 सोलर लाईट लगाने की स्वीकृति प्रदान की। उन्होने परियोजना अधिकारी उरेडा संदीप भटट को निर्देश दिये कि तत्काल 12 सोलर लाईटें लगाने का कार्य प्रारम्भ करें। उन्होने कहा विद्यालय मे अध्ययरत छात्र-छात्राओं का प्रत्येेक तीन माह में स्वास्थ्य परीक्षण आरबीएसके की टीम द्वारा किया जायेगा। उन्होने बैठक मे मौजूद सीएमओ डा0 भारती राणा को निर्देश दिये कि वह जिले के सभी नवोदय विद्यालयोें, राजीव नवोदय विद्यालयो तथा केन्द्रीय विद्यालयोें मे अध्ययरत बच्चो के स्वास्थ परीक्षण का कार्य स्वास्थ विभाग के रोस्टर मे शामिल करें। उन्होने अधिशासी अभियन्ता जल संस्थान एसके उपाध्याय को निर्देश दिय कि वह विद्यालय मे कोसी नदी से हो रही जलापूर्ति के लिए अतिरिक्त पम्प सैट क्रय करने तथा पेयजल सम्बन्धी व्यवस्थाओ को सुदृढ करने के प्रस्ताव आगामी जिला योजना मे शामिल करें।

जिलाधिकारी के संज्ञान मे आया कि ग्रामीण इलाकों के नवोदय विद्यालयोें में बन्दरो का आतंक है यह बन्दर छात्र-छत्राओ पर भी हमला करते हे। उन्होने कहा कि बन्दरोें को पकडने के लिए जल्द ही वन विभाग की टीम भेजी जायेगी। विद्यालय भवन मे आ रही दरारोें तथा भावी खतरोें का आकलन अधिशासी अभियन्ता प्रान्तीय खण्ड लोनिवि द्वारा तैयार किया जायेगा, विद्यालय के मुख्य द्वार पर प्रवेश व निकास के लिए अवत्तल दर्पण भी लगाये जायेंगे इसके अलावा विद्यालय मे सोलर पैनल लगाये जाने का स्टीमेट तैयार करने के नर्देश उरेडा विभाग को दिये। श्री बंसल ने कहा कि आवासीस विद्यालय के कूडा प्रबन्धन करने के लिए बडे कन्टेनर जिला पंचायत से उपलब्ध कराये जायेंगे तथा नगर पंचायत के माध्यम से कूडा कन्टेेनर उठाने की व्यवस्था की जायेगी। श्री बंसल ने विद्यालय की सुरक्षा के लिए दो होमगार्ड की तैनाती की स्वीकृति प्रदान की। निरीक्षण में उपजिलाधिकारी गौरव चटवाल, शिक्षा अधिकारी केके गुप्ता,प्रधानाचार्य राज सिह, तहसीलदार नितेश डागर, उपप्रधानाचार्य एचएस जीना,पूर्व प्रधानाचार्य जेएन शर्मा, जिला कार्यक्रम अधिकारी अनुलेखा बिष्ट, पायल चैधरी आदि उपस्थित थे।

एम.एम.एम.ई. के तहत संचालित कार्यक्रम का प्रस्तुतीकरण किया गया

देहरादून। सचिवालय सभागार में केन्द्र सरकार के एम.एस.एम.ई. सचिव डॉ0 अरूण कुमार पाण्डा के समक्ष प्रदेश सरकार द्वारा एम.एम.एम.ई. के तहत संचालित कार्यक्रम का विस्तार से प्रस्तुतीकरण किया गया। एम.एस.एम.ई. सचिव भारत सरकार डॉ0 अरूण कुमार पाण्डा ने प्रदेश सरकार से एससी, एसटी उद्यमियों को उच्च तकनीकि प्रशिक्षण दिलाने के लिए उद्यमिता प्रस्ताव केन्द्र सरकार को भेजने के अपेक्षा की तथा इस सम्बन्ध में पर्याप्त सहायता देने का आश्वासन दिया। उन्होंने क्लस्टर विकास योजना के अन्तर्गत और अधिक प्रस्ताव केन्द्र सरकार को भेजने के अपेक्षा की। 

प्रस्तुतीकरण के दौरान निदेशक उद्योग सुधीर नौटियाल ने बताया कि राज्य सरकार द्वारा 5 क्लस्टर डेवलपमेंट प्रस्ताव तैयार कर दिये गये हैं तथा 04 प्रस्ताव तैयार करने का कार्य गतिमान है। प्रस्तुतिकरण के दौरान प्रमुख सचिव उद्योग मनीषा पंवार द्वारा अवगत कराया गया कि राज्य सरकार द्वारा स्किल डेवलपमेंट हेतु ग्रोथ सेंटर स्थापित किये गये हैं उन्होंने और ग्रोथ सेंटर स्थापना हेतु केन्द्र सरकार से मैचिंग ग्राण्ट का अनुरोध किया जिस पर सचिव भारत सरकार द्वारा वांछित धन उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया गया। सचिव भारत सरकार द्वारा राज्य में अवस्थित औद्योगिक आस्थानों के विस्तारीकरण एवं उच्चीकरण तथा नये औद्योगिक आस्थानों की स्थापना हेतु प्रस्ताव भेजने के निर्देश दिये गये तथा इस योजना में पर्याप्त मात्रा में धनराशि उपलब्ध कराने का आश्वासन दिया। उन्होंने जनपदों में स्थित जिला उद्योग केन्द्रों को निर्यातक सुविधा केन्द्र तथा उद्यमिता विकास केन्द्र के रूप में विकसित करने हेतु भी प्रस्ताव आमंत्रित किये तथा इस कार्य हेतु केन्द्र सरकार से बजट उपलब्ध कराने का स्वीकारोक्ति की। सचिव भारत सरकार ने बताया कि रामनगर में संचालित इलेक्ट्रॉनिक सेवा एवं प्रशिक्षण केन्द में बेरोजगार युवाओं को इलेक्ट्रोनिक प्रशिक्षण दिया जाता है तथा नये उद्यमियों को इससे सम्बन्धित व्यवसाय स्थापना में सुविधा प्राप्त होती है। साथ ही युवा आईटी यूनिट वाले उद्यमियों को अग्रिम तकनीकि प्रदान करने में सहायता दी जाती है। उन्होंने बताया कि सितारगंज में भी केन्द्र सरकार द्वारा 200 करोड़ की लागत का एमएसएमई टूल रूम स्थापित किया गया है। उन्होंने प्रमुख सचिव उद्योग को निर्देश दिये कि समस्त जिलाधिकारियों को निर्देश दे कि वे अपने स्तर में एम.एस.एम.ई. मंत्रालय में संचालित विभिन्न रोजगारपरक योजनाओं में अधिक से अधिक प्रस्ताव भारत सरकार को भेजे। उन्होंने एसएलवीसी में भी इस बात को प्रमुखता से उठाने के निर्देश दिये। इस अवसर पर मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह ने सचिव एमएसएमई का धन्यवाद ज्ञापित किया एवं विश्वास दिलाया कि उनके निर्देशन में प्रदेश एमएसएमई के क्षेत्र में नये आयाम हासिल करेगा। इस अवसर पर निदेशक इलेक्ट्रॉनिक सेवा एवं प्रशिक्षण केन्द्र के निदेशक संजीव कुमार क्षेत्री, केवीआईसी के निदेशक रामनारायण, महानिदेशक उद्योग एल0फैनई, उपनिदेशक उद्योग अनुपम त्रिवेदी सहित सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित थे।

कुष्ठ निवारण दिवस पर कंबल व अन्य सामग्री वितरित की

हरिद्वार। ‘कुष्ठ निवारण दिवस’ के अवसर पर संस्था के संस्थापक अध्यक्ष, स्वामी अच्युतानन्द तीर्थ महाराज की प्रेरणा से स्वामी भूमानन्द काॅलेज आॅफ नर्सिंग द्वारा श्रीमहन्त दयालपुरी कुष्ठ आश्रम, निकट-चण्डी घाट, हरिद्वार में गरीब एवं कुष्ट रोगी पीडितों की सहायतार्थ उनकों फल, अन्न (दाल, चावल, आटा) एवं कम्बल भेंट किये गये।

इस अवसर पर संस्था के संस्थापक अध्यक्ष स्वामी अच्युतानन्द तीर्थ महाराज ने कुष्ट रोग निवारण एवं उसकी रोकथाम के लिए इस देश के नागरीकों के लिए सन्देश दिया कि बचाव एवं चिकित्सा उपचार के अतिरिक्त कुष्ट से ग्रसित व्यक्तियों में आत्म सम्मान जगाना अत्यन्त आवश्यक है। कुष्ट रोग निवारण दिवस के उपलक्ष में श्रीस्वामी भूमानन्द नर्सिंग काॅलेज के छात्र-छात्राओं ने दयालपुरी कुष्ट आश्रम में स्वास्थ्य सम्बन्धी नुक्कड नाटक एवं जानकारी हेतु कार्यक्रम प्रस्तुत किये। इस अवसर पर नर्सिंग काॅलेज की नर्सिंग प्रवक्ता, शोबिता बंसल, रजनी, सोनम कालरा, अग्रेंजी प्रवक्ता अर्चना शर्मा तथा नर्सिंग काॅलेज के छात्र-छात्रा आदि ने अपना यह कार्यक्रम सम्पन्न किया।

गौ प्रचार रथ भारत भ्रमण पर निकला 

हरिद्वार। विश्व वंदनीय सांस्कृतिक धरोहरों में गौ-गंगा और पहाड़ को अब तक पूर्ण रूप से बचायें रखने वाली एकमात्र पवित्र भूमि देवभूमि उत्तराखण्ड से 2020 बसंत पंचमी के पावन अवसर पर गौ प्रचार रथ द्वारा आज से अगले वर्ष वसंत पंचमी 2021 हरिद्वार कुम्भ तक भारतीय देशी गौवंश के प्रचार में समस्त भारत वर्ष की यात्रा पर प्रस्थान सुबह सूरज कुंड बाबा मनोहर नाथ गौशाला मेरठ से प्रारम्भ हुई। 

यात्रा के अगले पड़ाव में रुड़की रॉयल पेलेश में योगी गौरक्षा सेना के उत्तराखंड प्रभारी कमल बिष्ट  एवं संगठन मंत्री प्रतिभा चैहान के साथ बड़ी संख्या में गौ भक्तों ने गौ रक्षा जनजागरण यात्री सर्वदलीय गौरक्षा मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष ठाकुर जयपाल सिंह नयाल, महामंडलेश्वर गुरु मां निलेमानंद जी महाराज के साथ आये गौ यात्रीयो का भव्य स्वागत किया। नयाल ने बताया कि एक  साल तक देश भर में गौ यात्रा में जनता को भारतीय देशी गौवंश के रक्षण और गौ आधारित पदार्थो के फायदे के अलावा 2021 कुम्भ में 30 करोड़ कुम्भ यात्रियों को गौ की महिमा से अवगत कराना है। कुम्भ में सर्वदलीय गौरक्षा मंच का विशाल पंडाल लगेगा और देश भर के समस्त गौ भक्तों के लिए सेवा प्रकल्प चलेगा। इस अवसर पर गौ प्रचार रथ का सर्वदलीय गौरक्षा मंच परिवार की रीता चमोली, मनु रावत, लक्ष्मी भंडारी, शिखा सैनी, अनीता रावत, खीमा नेगी, राबिता सैनी, आरती सैनी, भवना रावत, लक्ष्मी देबी, जनकी भट्ट आदि ने स्वागत किया। 

देहरादून से ट्रेनों का संचालन 10 फरवरी से होगा सुचारु रूप से चालू 

हरिद्वार। देहरादून रेलवे स्टेशन पर ट्रेनों का संचालन बहुत जल्द शुरू होना है। दून रेलवे स्टेशन पर रीमॉडलिंग कार्य चल रहा है। जिसके चलते पिछले 10 नवंबर 2019 से ट्रेनों का संचालन पूरी तरह बंद है। लेकिन अब प्लेटफार्म और रि-मॉडलिंग का निर्माण कार्य अंतिम चरण में है।

 कार्य पूरा होने के बाद ट्रेनों का संचालन शुरू कर दिया जाएगा। कुछ ट्रेनों का संचालन 8 फरवरी से शुरू होगा। जबकि अन्य ट्रेनों का संचालन 10 फरवरी से शुरू कर दिया जाएगा। जिन ट्रेनों का संचालन 8 फरवरी से शुरू होने वाला है, उनमें नंदा देवी, शताब्दी, काठगोदाम जन शताब्दी, लाहौरी समेत कुल छह ट्रेनें शामिल हैं।इस वक्त ट्रेनों का संचालन बंद होने के कारण यात्रियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। लेकिन  ट्रेनों का संचालन शुरू होने के बाद ये समस्या खतम हो जाएगी।  देहरादून रेलवे स्टेशन पर सभी कर्मचारियों की नए सिरे से तैनाती की जा रही है। 8 फरवरी से ट्रेनों का संचालन शुरू हो जाएगा, पर 3 ट्रेनों में सफर करने के लिए लोगों को अभी और इंतजार करना पड़ेगा। कोहरे के चलते जनता एक्सप्रेस, उपासना एक्सप्रेस और उज्जैन एक्सप्रेस का कैंसिलेशन बढ़ाया गया है। बता दें कि देहरादून से हर दिन 18 ट्रेनों का संचालन होता है। जिनमें हर रोज 10 हजार यात्री सफर करते हैं। पिछले तीन महीने से ट्रेन सेवा रद्द है, जिस वजह से हजारों यात्री परेशानी का सामना कर रहे हैं।  

शक्ति का अरुणोदय है वसंतः डॉ. पण्डया

-आचार्यश्री के 95वें आध्यात्मिक जन्मदिवस पर गृहे-गृहे यज्ञ उपासना का लिया संकल्प

 

-11 विवाह सहित विभिन्न संस्कार बड़ी संख्या में सम्पन्न, बहिनों ने सजाई आकर्षक रंगोली

 

हरिद्वार। अखिल विश्व गायत्री परिवार के अंतर्राष्ट्रीय केन्द्र शांतिकुंज में वसन्तोत्सव का मुख्य कार्यक्रम गुरुवार को हर्षोल्लास के साथ सम्पन्न हुआ। धर्मध्वजा फहराने के साथ प्रारम्भ हुए वसंत पर्व आयोजन में गायत्री परिवार प्रमुख शैल जीजी एवं देवसंस्कृति विवि के कुलाधिपति डॉ. प्रणव पण्ड्या ने विश्वभर से आये गायत्री साधकों को वासंती उल्लास की शुभकामनाएँ दीं। सरस्वती पूजन, गुरुपूजन एवं पर्व पूजन के साथ हजारों साधकों ने भावभरी पुष्पांजलि अर्पित कीं।

तीन दिवसीय वसंतोत्सव के प्रमुख कार्यक्रम को संबोधित करते हुए अखिल विश्व गायत्री परिवार प्रमुख डॉ. प्रणव पण्ड्या ने कहा कि वसंत शक्ति का अरुणोदय है। वसंत जीवन का शृंगार करता है। प्रकृति व परमेश्वर के मिलन का महापर्व है वसंत। हंसवाहिनी माता के प्रादूर्भाव का दिन है। उन्होंने कहा कि इन दिनों वासंती संस्कृति पूरे विश्व में दिखाई दे रहा है। रुस, अमेरिका सहित अनेक देशों के लोग भारतीय संस्कृति के प्रति आकर्षित हो रहे हैं। गायत्री परिवार प्रमुख ने कहा कि लोगों में जब संस्कृति आती है, तब उनमें उदारता, सेवाभाव जैसे सद्गुण विकसित होने लगते हैं।

संस्था की अधिष्ठात्री शैलदीदी ने कहा कि वसंत उल्लास, उमंग का महापर्व है। वसंत पर्व के दिन ही लिपि का प्रादुर्भाव हुआ और इसी से ज्ञान का विस्तार हुआ और जनमानस में विकास दर बढ़ा है। रामायण आदि प्राचीन ग्रंथों का हवाला देते हुए शैलदीदी ने कहा कि भौतिक संपदा की तुलना में आत्मिक व आध्यात्मिक प्रगति का महत्त्व ज्यादा है। इस अवसर पर डॉ. पण्ड्या व शैलदीदी ने पूज्य आचार्य की पुस्तकों का अंग्रेजी व तमिल भाषाओं में अनुवादित पाँच पुस्तकों का विमोचन किया।

पंजाबी सभा ने शहीद वीर हकीकत राय को याद किया 

हरिद्वार। बसंत पंचमी पर्व पर माँ शारदा को शत-शत नमन करते हुए पंजाबी सहायक सभा के प्रांतीय अध्यक्ष संजय चोपड़ा के संयोजन में बेलवाला घाट पर मां गंगा की विशेष पूजा-अर्चना कर शहीद वीर हकीकत राय को याद करते हुए उनका शहीदी दिवस पर श्रद्धासुमन किए। शहीद वीर हकीकत राय सन 1734 में पाकिस्तान सियालकोट में बसंत पंचमी के दिन ही मुगल शासक द्वारा उनकी हत्या की गई थी। तब से पंजाबी समाज शहीद वीर हकीकत राय को याद करते हुए बसंती पंचमी के दिन उनका शहीदे बलिदान दिवस मनाता चला आ रहा है।

इस अवसर पर पंजाबी सहायक सभा के अध्यक्ष संजय चोपड़ा ने कहा कि शहीद वीर हकीकत राय अल्प आयु में ही समाज को नई दिशा दी थी और समाज में अंधविश्वास के खिलाफ छोटी से आयु में ही बड़े पैमाने पर जन जागरण चला रखा था। उनके इस कार्य से मुगल शासकों में बौखलहाट व घबराहट जैसा माहौल था। उनके इस जज्बे को समाप्त करने के उद्देश्य से बसंत पंचमी के दिन मुगलों ने षड़यंत्र के तहत मासूम वीर हकीकत राय की हत्या की थी। संजय चोपड़ा ने कहा कि शहीद वीर हकीकत राय ने समाज में शिक्षा को बढ़ावा दिया था और सामाजिक कार्यों में उनकी लोकप्रियता अधिक थी। शाहिद-ए-आजम वीर हकीकत राय के बलिदान दिवस पर उनको श्रद्धासुमन अर्पित करते पंडित सागर पल्लव, मनीष शर्मा, भूपेंद्र राजपूत, नरेंद्र कीर्तिपाल, विक्की गुप्ता, प्रभात चैधरी, नरेंद्र सिंह, राजेश खुराना, ओमप्रकाशभाटिया, रोहित सेठी, असीम जोशी, जयसिंह बिष्ट, मानसिंह, मोहनलाल, छोटेलाल शर्मा आदि प्रमुख रूप से सम्मलित रहे।

होम स्टे योजना पर पर्यटन मंत्री व सचिव आमने-सामने   

देहरादून। राज्य की ग्रामीण अर्थव्यवस्था को सुधारने के लिए सरकार द्वारा शुरू की गयी होम स्टे योजना से पर्यटन को कितने चार चांद लग सकंेगे और पलायन पर कितना रोक लग सकेगा यह तो बाद की बात है, अभी फिलहाल इस योजना को लेकर पर्यटन मंत्री और पर्यटन सचिव अलग-अलग राग अलाप रहे हैं।

पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज का कहना है कि राज्य के बंद पड़े हजारों स्कूल भवनों का इस्तेमाल इस योजना के लिए किये जाने की बात कही जा रही है। उनका कहना है कि जिन स्कूलों को सरकार बंद करने का निर्णय ले चुकी है पर्यटन विभाग उनको स्टे होम या लाज के रूप में इस्तेमाल करेगा। लेकिन इसके विपरीत पर्यटन सचिव दिलीप जावलकर का साफ कहना है कि बंद पड़े स्कूलों का उपयोग इस योजना के लिए नहीं किया जायेगा।

पर्यटन मंत्री और सचिव इस मामले में अलग अलग राय व्यक्त कर रहे हंै। उनकी अपनी अपनी ढपली और अपने अपने राग के पीछे क्या कारण है यह वहीं बेहतर समझ सकते है लेकिन सवाल यह है कि क्या होम स्टे योजना जिसे लेकर सरकार पलायन रोकने तथा ग्रामीण अर्थव्यवस्था में सुधार लाने जैसे सपने देख रही है वह इसी तरह साकार होगें। राज्य सरकार ने राज्य में 5 हजार स्टे होम खोलने का लक्ष्य रखा है अब तक लगभग दो हजार होम स्टे खुल भी गये हंै। सरकार द्वारा होम स्टे की एडवांस बुकिंग के मेक माई ट्रिप व्यवसायिक वेबसाइड भी लांच करने जा रही है। जिसके लिए उत्तराखण्ड पर्यटन विकास परिषद और एमएमटी के साथ एमओयू भी साइन हो चुका है लेकिन सवाल यह है कि क्या यह होम स्टे इसी तरह खोले जा सकेंगे जब पर्यटन मंत्री कुछ कहे और सचिव कुछ और कहे।

बसंत पंचमी पर विष्णु सहस्त्रनाम व गायत्री यज्ञ का आयोजन

देहरादून। बसंत पंचमी के शुभ अवसर पर प्रातः 7.30 बजे मंदिर के पुजारी चंद्र प्रकाश ममगई द्वारा विष्णु सहस्रनाम व गायत्री यज्ञ कराया गया। परम पूज्य महाराज के साधना कक्ष में विराजमान राधा कृष्ण व शालिग्राम भगवान का विशेष अभिषेक परम पूज्य महाराज की सद प्रेरणा द्वारा मंदिर के ट्रस्टीयों द्वारा किया गया। जिसमें दूध, दही, घी, बूरा, शहद, व वृन्दावन से लाया गया यमुना जल से अभिषेक किया गया। अपार भक्त समूह द्वारा श्री कृष्ण स्रोत, विष्णु सहस्रनाम का पाठ किया गया व समुचित भक्त समाज को लड्डू गोपाल जी व राधा कृष्ण के विग्रहो  का अभिषेक होते हुए दर्शन का सौभाग्य प्राप्त हुआ।

महाराज की सदप्रेणा  द्वारा सभी भक्तों को पीले रंग के रुमाल वितरण किये गए। प्रमोद श्रीवास्तव व साथियों द्वारा भजन कीर्तन का कार्यक्रम हुआ जिसमें अनेकों भजन गाकर सभी भक्त विभोर हो गए। तत्पश्चात प्रातः 10.00 बजे ठाकुर जी की आरती हुई व पीले चावल व हलवा खीर भक्तों को प्रसाद रूप में वितरण किया गया। 10.30 बजे मां कालिका धर्मार्थ औषधालय का 49वां वार्षिकोत्सव मनाया गया जिसमें मंदिर के समस्त डॉक्टर व स्टाफ मेंबर को उपहार भेंट व प्रसाद वितरण किया गया। विदुर  क्षेत्रों से पधारे संतो द्वारा प्रातः मां कालीका सत्संग भवन में सत्संग का कार्यक्रम हुआ जिसमे भक्तों के कल्याण व सामाजिक कार्य, सतमार्ग पर चलने का मार्ग बताया। दोपहर 1.30 पर मंदिर समिति द्वारा एक विशाल भंडारे का आयोजन किया गया जिसमें संतों, ब्राह्मणों, भिक्षकों को भोजन के साथ  जरूरत का सामान व दक्षिणा भी दी गई अपार भक्तों ने भंडारा ग्रहण किया। साय  बसंत पंचमी के उपलक्ष में एक विशेष भजन संध्या कार्यक्रम हुआ जिसमें मंदिर समिति की ही मण्डली  प्रमोद श्रीवास्तव द्वारा भजन गाए गये। इस अवसर पर ट्रस्टी गगन सेठी, दयाल धवन, जितेंदर  अरोरा,  एलडी भाटिया, एनके दत्ता, प्रधान  उमेश मिनोचा, सतीश कक्कर, अनिरुद्ध गुप्ता, संजय आनंद, विजय अरोरा,  सतीश मेहता सहित कई लोग मौजूद रहे।

कुमाऊं मण्डल के नगर निगमों को नहीं पता अपने मार्गों की चैड़ाई

-12 मीटर से कम चैड़ी सड़कों पर स्थित भवनों पर सम्पत्ति कर एक समान दर से निर्धारित

 

देहरादून। कुमाऊं मण्डल के तीनों नगर निगमों को उनके अन्तर्गत आने वाले मार्गों की चैड़ाई की जानकारी नहीं है जबकि इनकी चैैड़ाई के आधार पर नगर निगम निवासियों को सम्पत्ति कर का भुुगतान करना होगा। यह चैैंकाने वाली जानकारी सूचना अधिकार से मिली हैै। काशीपुर निवासी सूचना अधिकार कार्यकर्ता नदीम उद्दीन एडवोकेट ने कुमाऊं मण्डल के तीनों नगर निगमों से भवन कर के लिये उनके द्वारा निर्धारित न्यूनतम कारपेट एरिया दरों तथा सड़कांे की चैड़ाई की सूचना मांगी थी। इसके उत्तर में काशीपुर व हल्द्वानी नगर निगम द्वारा न्यूनतम कारपेट एरिया दरों की सूची तो उपलब्ध करायी गयी हैै लेकिन मार्गों की चैड़ाई की सूचना उपलब्ध न होने के आधार पर नहीं उपलब्ध करायी गयी है। 

श्री नदीम को काशीपुर व हल्द्वानी नगर निगमोें के लोक सूचना अधिकारियों द्वारा उपलब्ध करायी गयी सूचना केे अनुसार सम्पत्ति कर निर्धारित करने हेतु 12 मीटर सेे कम चैड़ी सड़क पर स्थित सभी पक्के भवनोें पर एक ही दर सेे टैक्स लगेगा जबकि 12 से 24 मीटर की सड़क पर स्थित भवनोे पर दूसरी तथा 24 मीटर सेे अधिक चैड़ी सड़क पर स्थिित भवनों पर तीसरी दर सेे सम्पत्ति कर लगेगा। इसके अतिरिक्त अन्य भवनों, कच्चेे भवनोें तथा आवासीय भूखण्डो जिसमें भवन न बने हो के लिये भी इन्हीं मार्गोंं के आधार पर दर निर्धारित की गयी हैै। इस प्रकार 12 मीटर से कम चैैड़ी सड़कों जिसमें छोटी-छोटी गलियां भी शामिल है, के निवासियोें को एक ही दर से सम्पत्ति कर देना होगा जो पिछले सालों में भुगतान किये जा रहे टैक्स की अपेक्षा कई गुना ज्यादा है। काशीपुर नगर निगमों के लोक सूचना अधिकारी/कर एवं राजस्व अधीक्षक द्वारा उपलब्ध करायी गयी निर्धारित दरों की सूची के अनुसार 12 मीटर सेे कम चैैड़ी सड़क पर स्थित पक्के भवनों की सर्वाधिक कारपेट एरिया दर बाजपुर रोड, पक्का कोट, जसपुर खुर्द, आवास विकास की 0.80 रू.प्रति वर्ग फुट कारपेट एरिया प्रति माह निर्धारित की गयी हैै जबकि सिंघान, टांडा उज्जैन, कटोराताल, कटोराताल नीझड़ा तथा गंज की 0.70 रू. प्रति वर्ग फुट तथा थानासाबिक कानून गोयान, कटरामालियान, लाहोरियान, अल्लीखां, लक्ष्मीपुर पट्टी, काजीबाग, रजवाड़ा तथा महेशपुरा की 0.60 रू. प्रति वर्ग फुट तथा सबसे कम 0.40 रू. प्रति वर्ग फुट कारपेट एरिया प्रति माह की दर किला, खत्रियान, रहमखानी, खालसा, ओझान, बांसफोड़ान की निर्धारित की गयी है। नगर निगम हल्द्वानी की दरें काशीपुर की अपेक्षा कम है। नगर निगम हल्द्वानी काठगोदाम के लोक सूचना अधिकारी/अवर अभियंता द्वारा उपलब्ध करायी गयी सूची के अनुसार 12 मीटर से कम चैड़ी सड़क पर स्थित पक्के भवनों की प्रति वर्ग फिट कारपेट एरिया दरों में सर्वाधिक 0.55 रू. प्रति वर्ग फिट नैनीताल रोड की है जबकि वार्डवार दरों में 0.45 रू. प्रति वर्ग फिट वार्ड नं0 3, 5, 6, 7, 8, 11, 12, 13, 15, 17, 18, 20, 22, 23, 24 व 25 के आंशिक क्षेत्रोें तथा वार्ड सं0 9, 10, 16, 19 के पूरे क्षेत्रों के लिये है। इन वार्डों के शेष भाग के लिये तथा वार्ड नं0 14, 21 के पूरे भाग के लिये 0.35 रू. प्रति वर्ग फिट दरें निर्धारित की गयी हैै। रूद्रपुर नगर निगम के लोक सूचनाधिकारी ने कारपेट एरिया दरेें भी नहीं उपलब्ध करायी गयी है।

25 लाख यूनिट्स के निर्यात का ऐतिहासिक आंकड़ा पार किया

देहरादून।  होण्डा 2 व्हीलर्स इण्डिया ने भारत और दुनिया भर के उपभोक्ताओं को संतोषजनक सेवाएं प्रदान करने की उपलब्धि का जश्न मनाया। होण्डा 2व्हीलर्स  इण्डिया का समग्र निर्यात इसके संचालन के 19वें साल में 25 लाख युनिट्स के आंकड़े को पार कर गया है। होण्डा 2 व्हीलर्स इण्डिया ने अपने पहले मॉडल एक्टिवा के साथ 2001 में भारत से निर्यात शुरू किया।

2015 में होण्डा के संचालन के 15वें साल में होण्डा का समग्र निर्यात 10 लाख के ऐतिहासिक आंकड़े को पार कर गया। पिछले सालों के दौरान इसके प्रोडक्ट पोर्टफोलियो में त्वरित विस्तार के चलते होण्डा 2 व्हीलर्स इण्डिया ने होण्डा मोटर कंपनी (जापान) के द्वारा अतिरिक्त निर्यात आवंटन किया। परिणामस्वरूप, होण्डा ने सिर्फ 5 साल के अंदर अगली 15 लाख युनिट्स का समग्र निर्यात दर्ज कर लिया, जो इसकी पिछली गति से दोगुना है। इस उपलब्धि पर अपने विचार अभिव्यक्त करते हुए यदविंदर सिंह गुलेरिया, सीनियर वाईस प्रेजीडेन्ट-सेल्स एण्ड मार्केटिंग, होण्डा मोटरसाइकल एण्ड स्कूटर इण्डिया प्रा. लिमिटेड ने कहा, ‘‘शुरूआत से ही होण्डा निर्यात के माध्यम से 25 लाख से अधिक दोपहिया उपभोक्ताओं को संतोषजनक सेवाएं प्रदान कर चुकी है। हमें गर्व है कि हमभारत से नंबर 1 स्कूटर निर्यातक हैं। 2020 की बात करें तो होण्डा 2 व्हीलर्स इण्डिया ने ठै.टप् दौर में निर्यात के विकास को जारी रखते हुए होण्डा के ग्लोबल मोटरसाइकल कारोबार में अपनी नंबर 1 स्थिति को और मजबूत बनाने का लक्ष्य तय किया है।’’

जेईई मैंस में सफल रहे विद्यार्थियों को पुरस्कृत किया गया  

देहरादून। देहरादून शहर के प्रतिष्ठित संस्थान फिजिक्स प्लेनेट के प्रांगण में विद्यादायनी मां सरस्वती की पूजा एवं अर्चना बहुत धूमधाम से की गई। शिक्षक एवं छात्र एवं छात्राओं का उत्साह एवं उमंग उत्कर्ष स्थिति में था। पूरा वातावरण मां सरस्वती की जयकारा एवं मंत्रोच्चारण से भक्तिमय हो गया। इस अवसर पर जेईई मैंस में सफल छात्र एवं छात्राओं को पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया। पुरस्कार वितरण संस्थान के प्रबंध निदेशक एवं विभागाध्यक्ष (फिजिक्स) रवि सिंह एवं संस्थान के निदेशक एवं विभागाध्यक्ष (गणित) बिनोद कुमार मिश्रा, छात्र-छात्राओं, अभिभावक की उपस्थिति में सम्पन्न हुआ।

  इस अवसर पर संस्थान के प्रबंध निदेशक रवि सिंह ने कहा कि यह संस्थान विगत कुछ वर्षों में ही मेडिकल एवं इंजीनियरिंग दोनों में केवल फिजिक्स में बहुत शानदार रिजल्ट दिया है, पर इस साल से फिजिक्स, केमेस्ट्री, मैथ्स, बायोलॉजी सभी विषयों की पढ़ाई स्कूल के साथ साथ प्रतियोगी प्रक्षायो के लिए कराई जाएगी! साथ ही उन्होंने कहा कि मेरे यहां रिकॉर्डेड वीडियो लेक्चर सभी क्लास का उपलब्ध रहता है ताकि अगर किसी छात्र का वर्ग किसी कारणवश छूट जाए तो वह उसे सुनकर पूरे वर्ग के लेक्चर को समझ सके! एक एक छात्र के साथ जुटकर यहां उनके डाउट का समाधान किया जाता है! प्रतिदिन एवं साप्ताहिक उनकी परीक्षाएं प्रतियोगिता परीक्षा की तरह ली जाती है! और अभिभावक को भी इसकी सूचना दी जाती है साथ ही महीने में एक दिन अभिभावक के साथ मीटिंग भी की जाती है ताकि बच्चे की दिक्कतों को दूर की जा सके एवं उसका सर्वांगीण विकास हो सके! यह कार्यक्रम विगत वर्षो से मेरे यहां संपादित किया जा रहा है, जो हमारी सफलता का मूलमंत्र है। संस्थान के निदेशक बिनोद कुमार मिश्रा ने कहा कि यहां सभी शिक्षक मिलकर कमजोर विद्यार्थी का काउंसलिंग बराबर करते रहते है ताकि उनका उत्साह ना टूटे और ना उनका विषय के प्रति अनुराग बना रहे सभी विद्यार्थी के रिजल्ट का एनालाईसिस बहुत ही बारीकी से हमलोग करते है एवं  उसमे कैसे सुधार किया जा सकता है इस पर बहुत जोर डालते है हमारे संस्थान में शैक्षणिक माहौल बनाए रखने के लिए बीच बीच में अलग अलग विषयों पर बच्चो के बीच क्विज भी कराया जाता है जिसमें बच्चे उत्साह एवं उमंग के साथ भाग लेते है! साथ ही हमारे यहां एक समृद्ध पुस्तकालय एवं पढ़ने की भी उत्तम व्यवस्था है। इस अवसर पर संस्थान की ओर से राहुल सिंह (डायरेक्टर-एडमिन), नरेश कुमार (असिस्टेंट डायरेक्टर), हरीश त्रिपाठी ( विभागाध्यक्ष बायोलॉजी), बृजमोहन (फिजिक्स फैकल्टी) एवं मिस गुंजन (ऑफिस असिस्टेंट) की गरिमामई उपस्थित रहे।

इन्द्रप्रस्थ अपोलो होस्पिटल्स ने देहरादून में शुरू की ओपीडी सेवाएं

देहरादून। कैंसर के उपचार के बारे में जागरूकता फैलाने के प्रयास में इन्द्रप्रस्थ अपोलो होस्पिटल्स शनिवार, 1 फरवरी 2020 को सिनर्जी अस्पताल, देहरादून में ओपीडी सेवाओं का आयोजन कर रहा है। इस सत्र का नेतृत्व डॉ प्रवीण गर्ग, सीनियर कन्सलटेन्ट, सर्जिकल ओंकोलोजी, इन्द्रप्रस्थ अपोलो होस्पिटल्स के द्वारा किया जाएगा। यह सुविधा क्षेत्र के लोगों को अत्याधुनिक स्वास्थ्यसेवाएं उपलब्ध कराएगी, जहां इसकी सबसे ज्यादा जरूरत है। हर साल कैंसर के 11,57,294 नएमामले सामने आते हैं। कैंसर की रोकथाम के लिए नियमित जांच जरूरी है, जल्दी निदान के द्वारा मरीज के जीवित रहने की संभावना कई गुना बढ़ जाती है। आजकल बायोप्सी और रेडियोग्राफी के अलावा भी निदान केे नए तरीके उपलब्ध हैं जो कैंसर की अवस्था और मरीज के जीवित रहने की संभावना का अनुमान लगाने में मदद करते हैं।

डॉ प्रवीण गर्ग, सीनियर कन्सलटेन्ट, सर्जिकल ओंकोलोजी, इन्द्रप्रस्थ अपोलो होस्पिटल्स ने कहा, ‘‘सभी को गुणवत्तापूर्ण एवं किफायती स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने के अपने मिशन के तहत अपोलो होस्पिटल्स ने देहरादून में ओपीडी सेवाओं की शुरूआत की है। हम क्षेत्र के लोगों को उपचार के सर्वश्रेष्ठ विकल्प उपलब्ध कराना चाहते हैं। मुझे विश्वास है कि हम क्षेत्र के लोगों की स्वास्थ्य संबंधी जरूरतों को पूरा करने में योगदान दे सकेंगे। इन्द्रप्रस्थ अपोलो होस्पिटल्स अपनी आधुनिक बुनियादी सुविधाओं, चिकित्सा तकनीकों के साथ उच्च गुणवत्ता की स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराने में अग्रणी रहा है। होस्पिटल हमेशा से मरीजों के स्वास्थ्य, क्षमता और उत्तरजीविता में योगदान देता रहा है। अपने अनुभवी पेशेवर चिकित्सकों की टीम के साथ अपोलो होस्पिटल्स मरीजों को विश्वस्तरीय उपचार उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध है।

‘इन्द्रप्रस्थ अपोलो होस्पिटल्स में हम कैंसर के उपचार की आधुनिक तकनीकें जैसे टोमोथेरेपी और प्रोटोन बीम थेरेपी उपलब्ध कराते हैं। टोमोथेरेपी रेडिएशन थेरेपी का एक प्रकर है जिसमें एक मोड्यूलेटेड स्ट्रिप-बीम से मरीज की स्कैनिंग की जाती है ताकि एक समय में बीम के संपर्क में सिर्फ टारगेट टिश्यूज ही आएं। प्रोटोन बीम थेरेपी ने भी आधुनिक पैंसिल बीम स्कैनिंक तकनीक के साथ कैंसर की देखभाल में नए मार्ग प्रशस्त किए हैं, जो उच्च सटीकता देता है।’ डॉ प्रवीण गर्ग ने कहा। अपोलो होस्पिटल्स ग्रुप अपने अनुभवी डॉक्टरों और आधुनिक चिकित्सा तकनीकों के साथ भारत में विश्वस्तरीय उपचार सेवाएं उपलब्ध कराने में अग्रणी रहा है। स्वास्थ्य स0ेवाओं में निरंतर अपग्रेडेशन के द्वारा हम उपभोक्ताओं को विश्वस्तरीय उपचार के सर्वश्रेष्ठ विकल्प उपलब्ध कराते हैं।  

गोद ली गई भूमिका अब कुपोषण से मुक्त हो गई

देहरादून। राष्ट्रीय पोषण मिशन के अंतर्गत गोद अभियान के तहत सरकार द्वारा मसूरी विधायक गणेश जोशी को गोद दी गयी दो वर्षीय भूमिका अब कुपोषण से मुक्त हो गयी है। भूमिका का वजन जनवरी में 10 किलो 100 ग्राम होने के साथ विभाग ने उसे सामान्य श्रेणी प्रदान कर दी है। अपने जन्मदिवस के एक दिन पूर्व विधायक जोशी ने देहरादून के धर्मपुर स्थित अमरनाथ कालोनी में रहने वाले बच्ची को पोषण सामाग्री, कम्बल एवं पोषण कीट प्रदान की। जोशी ऐसे पहले विधायक हैं जो गोद दी गयी बच्ची से लगातार मुलाकात करते हैं।

           विधायक जोशी ने बताया कि मुझे 02 वर्षीय बालिका भूमिका को पोषित करने का जिम्मा दिया था। मैं लगातार बाल विकास अधिकारी एवं बच्ची के परिवार से संपर्क में था और पिछले 04 माह में दो बार बालिका से मिला। उन्होनें बताया कि भूमिका का वजन अगस्त 2019 में 8.50 किग्रा0, सितम्बर में 8.65 किग्रा0, अक्टूबर में 9.00 किग्रा0, नवम्बर में 9.40 किग्रा0, दिसम्बर में 9.80 किग्रा0 से बढ़कर अब जनवरी 2020 में 10.10 किग्रा0 हुआ है, जो सामान्य की श्रेणी में है। उन्होनें खुशी जाहिर करते हुए कहा कि 6 माह के भीतर परिवार एवं विभाग के प्रयास से भूमिका कुपोषण की जद से बाहर आ गयी है। इस अवसर पर बाल विकास परियोजना अधिकारी क्षमा बहुगुणा, भूमिका की माॅ श्वेता, भाजपा नेता पंकज गुप्ता, मनोज जोशी उपस्थित रहे।

----------------------------------------------------------------

मिनी ने पहले मिनी अरबन स्टोर का किया शुभारंभ

देहरादून। मिनी भारत ने अपने पहले मिनी अरबन स्टोर का शुभारंभ किया। मिनी अरबन स्टोर आइकॉनिक मिनी को एक अनूठे परिवेश में प्रस्तुत करता हैएजिसमें एक शोरूम और कैफे शामिल हैं। नई मिनी फैसिलिटी बीएमडब्ल्यू और बीएमडब्ल्यू मोटोरैड शोरूम के नजदीक स्थित हैएजो कि एंजल प्लाजाए23ध्649ए1 एन एच 47एदक्षिण काला मैसेरीएकोच्चि में अवस्थित है। इसका नेतृत्व साबुजॉनीएडीलर प्रिंसिपलए ईवीएम ऑटो क्रॉफ्ट द्वारा किया जा रहा है।

इंटीग्रेटेड कैफे के साथ नये मिनी अरबन स्टोर का कॉन्सेप्ट कोच्चि में एक अनूठा गंतव्य और शहर के प्रगतिशील मिलेनियल्स के लिये एक नया गैस्ट्रोनॉमिक एक्सपीरिएंस लेकर आया है। यहां पर ग्राहक और मिनी के प्रशंसक एक प्रेरणादायक और संवाद परक स्पेस में आराम से बैठकर आइकॉनिक मिनी को एक्सप्लोर कर सकते है। इसके साथ ही वे विभिन्न इटैलियन और मेडिटेरैनियन पकवानों का लुत्फ भी उठा सकते हैं। रूद्रतेज सिंहएप्रेसिडेंट और चीफ एक्जीक्यूटिव ऑफिसर बीएमडब्ल्यू ग्रुप इंडिया ने कहा मिनी हमेशा से एक कार से कहीं ज्यादा रही है। यह आइकॉनिक स्आइल अनूठी शख्सियत और रचनात्मकता का प्रतीक है। मिनी अर्बन स्टोर कॉन्सेप्ट जिंदगी को लेकर मिनी के जोशीले रवैये का प्रतिबिंब है। यह अपनी तरह का पहला स्थान है जिसे रचनात्मक वर्ग को प्रेरित करने और रिवोल्यूशनरी कारों एवं अनंत रोमांच के बीच यादगार पलों का सृजन करने के लिए डिजाइन किया गया है। हमें अपने प्रगतिशील कस्टमर्स के लिए मिनी अर्बन स्टोर कॉन्सेप्ट को कोच्चि के जीवंत शहर में लाने पर गर्व हो रहा है। यह उन्हें लेजेंडरी गो.कार्ट फीलिंग का अनुभव देगा और अपनी आकर्षक खूबसूरती एवं गैस्ट्रोनॉमिकल डिलाइट्स की अनूठी पृष्ठभूमि से खुश करेगा।

कांग्रे्रस भवन में महात्मा गांधी की पुण्यतिथि को ‘‘एकता दिवस’’ के रूप में मनाया गया

देहरादून। उत्तराखण्ड प्रदेश कांग्रेस कमेटी द्वारा महात्मा गांधी की पुण्य तिथि को ‘‘एकता दिवस’’ के रूप में मनाया गया। इस अवसर पर कांग्रेसजनों द्वारा विनम्र भाव से राष्ट्रपिता का स्मरण करते हुए उन्हें श्रद्धंाजलि अर्पित की गई। इस अवसर पर प्रदेश कांग्रेस कमेटी कार्यालय, 21 राजपुर रोड़ में आयोजित ‘‘एकता सम्मेलन’’ कार्यक्रम में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह द्वारा वरिष्ठ कांग्रेसजनों को शाॅल ओडाकर सम्मानित किया गया। प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कार्यक्रम में उपस्थित कांग्रेसजनों को संबोधत करते हुए कहा कि हमें गांधी जी के बताये सत्य एवं अहिंसा के मार्ग पर चलते हुए महात्मा गांधी जी के विचारों और आदर्शों को जन-जन तक पहुंचाना है। उन्होेने कहा कि गांधी जी हमारे पथप्रदर्शक नेता थे। आज देश की सत्ता पर काबिज गोड़से की नीतियों का समर्थन करने वाले लोग गांधी जी के विचारों तथा उनकी नीतियों की हत्या कर रहे हैं। कांग्रेस पार्टी ने सदैव गांधी जी के विचारों पर चलकर देश के हर धर्म, हर वर्ग के व्यक्ति की उन्नति की विचारधारा पर चलते हुए महात्मा गांधी जी के सपनों को साकार करने का काम किया है।

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने अंग्रेजी हुकूमत को भारत से निकालने के लिए राष्ट्र को अंगे्रजो भारत छोड़ो का नारा दिया जो पूरे देष में गूंजा और इसी नारे को लगाते हुए लाखों नर-नारियों ने देश की आजादी के लिए बढ़चढ़ कर भाग लिया जिसे देखकर बिटिश हुकूमत भयभीत हो गई और आन्दोलन को क्रूरता से दबाना शुरू कर दिया। अंगे्रजी हूकूमत ने आजादी के दिवानो ंपर लाठियां तथा गोलियां बरसानी शुरू कर दी जिसमें अनेकों स्वतंत्रता सेनानी शहीद हुए तथा कई जेल में डाल दिये गये। इसके बावजूद आजादी के दिवानों ने हार नहीं मानी और दृढ निश्चय के साथ देश की आजादी के लिए संघर्ष करते हुए आगे बढ़ते चले गये तथा देश को आजादी दिलाई। कंाग्रेस पार्टी महात्मा गांधी जी द्वारा दिखाये जाने वाले मार्ग पर चलने वाली पार्टी है तथा आज भी विश्व में गांधी जी के विचार प्रासांगिक हैं तथा सारा विश्व गांधी जी के विचारों पर चलना चाहता है। हमें राष्ट्र के स्वतंत्रता आन्दोलन के स्वतंत्रता सेनानयों को सदैव याद रखना चाहिए। हम सब कांग्रेसजन उन्हें याद कर अपनी श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी महात्मा गांधी जी के पद चिन्हों का अनुसरण करने वाली पार्टी होने के साथ-साथ हम कांग्रेस पार्टी के लोग अपने को उनकी विरासत का वाहक और हकदार मानते हैं और देश की आजादी के लिए महात्मा गांधी जी ने अहिंसा का मार्ग अपनाया था। हमें उनसे प्रेरणा लेकर राष्ट्रहित में कार्य करना चाहिए, यही हमारी उन्हें सच्ची श्रद्धांजलि होगी।

कार्यक्रम में प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने संयोगिता रानी, राधा चैहान, बाला शर्मा, विमला मन्हास, नजमा खान, सुष्मा अग्रवाल, सोनी देवी, सुशीला देवी, राम प्यारी, चन्द्रवती करासी, उषा गौतम, सोमवती, कान्ता क्षेत्री, सरोजनी रावत, भारती भट्ट, प्रेमलता बजाज, मूर्ति देवी, अमीर बानो, प्रेमलता निराला, उर्मिला देवी, लक्ष्मी राणा, कलावती यादव, गुरूबचन दुग्गल, किरन चैधरी, श्याम बख्शी, संसार सिंह शाही, किशन लाल, रमेश कुमार, नारायण सिंह पुण्डीर, नरेन्द्र बिष्ट, रामसिंह थापा, जगदीश सिंह, सी.बी. थापा, जनेश्वर प्रसाद गौड, जगदीश आनन्द, आनन्द कटारिया, राकेश भण्डारी, सोम प्रकाश, ललित मोहन शर्मा, लक्ष्मण थापा, देवेन्द्र कुमार शर्मा, मुकुन्द चन्द्र, लेखराज, के.डी. नौटियाल, मोलड राम, दामोदर प्रसाद, वी.प. नौटियाल, राशिद, श्रवण कमार राजौरिया, चुन्नी लाल, कुंवर सिंह यादव, मुन्शी राम, गुरूबख्श सिह? चन्द्र मोहन शर्मा, महेश शर्मा, माखन लाल, अनुराग शर्मा, हयात खान, रतनमणि नौटियाल, श्याम सुन्दर शर्मा, बन्सीराम सती, मोहन सिंह चैहान, मनजीत सिंह, लक्ष्मी नारायण गुप्ता, विरेन्द्र सिंह नेगी, नानकचन्द आदि को शाॅल ओढ़ाकर सम्मानित किया। कार्यक्रम का संचालन महानगर अध्यक्ष लालचन्द शर्मा ने किया। इस अवसर पर पूर्व मंत्री दिनेश अग्रवाल, मातवर सिह कण्डारी, प्रदेश उपाध्यक्ष सूर्यकान्त धस्माना, संजय पालीवाल, पूर्व विधायक विजय पाल सजवाण, आर्येन्द्र शर्मा, प्रो0 बलवन्त सिंह नेगी, महानगर अध्यक्ष लालचन्द शर्मा, महामंत्री, पी.के. अग्रवाल,राजपाल खरोला, गोदावरी थापली, सतीश कुमार, जिलाध्यक्ष संजय किशोर, गौरव चैधरी, प्रभुलाल बहुगुणा, प्रदेश सचिव नीनू सहगल, राजेश शर्मा, जगदीश धीमान, श्याम लाल आर्य, सागर मनवाल, नवीन पयाल, सीताराम नौटियाल, मंजुला तोमर, प्रणीता बडोनी, डाॅ. आर.पी. रतूड़ी, गरिमा दसौनी, राजेष पाण्डे, भरत षर्मा, डाॅ0 विजेन्द्र पाल, डा0 प्रतिमा सिह, सुनित राठौर, दीप बोहरा, संदीप चमोली, षोभा राम,, लक्ष्मी अग्रवाल,  धर्मपाल, प्रदीप चैधरी, मीना रावत, संजय अग्रवाल, देवेन्द्र बुटोला, युवराज सिंह, लाखीराम बिजलवाण,  प्रदीप थपलियाल, नागेश रतूड़ी, महेश जोशी, कमलेश रमन, पुश्पा पंवार, चन्द्रकला नेगी, देवेन्द्र सिंह, महेष चैहान, राजेन्द्र जोषी, सुधीर सुनेहरा, मोहन काला, षोभा कन्याल, संतोश सैनी, धर्मसिह पंवार, अनुराधा तिवारी, पुष्पा देवी, सोमवती, बाला शर्मा, सावित्री थापा, मंजू, राजकुमारी क्षेत्री, सुषीला देसाई, सहित अनेक कांगे्रस कार्यकर्ता उपस्थित थे। 

राज्य कैबिनेट की बैठक में लिए गए कई महत्वपूर्ण फैसले 

देहरादून। राज्य कैबिनेट की बैठक में कई महत्वपूर्ण फैसले लिए गए। बैठक में 18 प्रस्ताव आए, दो प्रस्घ्ताव पर सब कमेटी बनाई गई है, जबकि एक प्रस्घ्ताव को अगली कैबिनेट बैठक में लाया जाएगा। कैबिनेट ने उत्तर प्रदेश परिवहन प्राविधिक सेवाओं में भर्ती के लिए अधिकतम आयु 35 से बढ़ाकर 42 साल कर दी। वैट के पुराने मामलों की सुनवाई के लिए समय जनवरी से बढ़ाकर मार्च किया गया। पीडब्लूडी विभाग में वर्कचार्ज कर्मियों को पेंशन चार किश्तों में दी जानी थी, सर्वोच्च न्यायालय ने 03 माह में देने को कहा था, अब सरकार पुनर्विचार के लिए अवधि बढ़ाने के लिए सर्वोच्च न्यायालय में जाने की अनुमति प्रदान की गई। केदारनाथ पुननिर्माण के कार्यो के लिए कंसलटेंट को भुगतान की कंसलटेंसी फीस अब 2 प्रतिशत होगी, पहले 3.2 प्रतिशत थी।

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की अध्यक्षता में आयोजित मंत्रिमंडल की बैठक में निर्णय लिया गया कि जयहरीखाल में आवासीय विद्यालय खोला जाएगा। यह विद्यालय ट्रस्ट के माध्यम से संचालित होगा। इसके अध्यक्ष मुख्यमंत्री होंगे और उपाध्यक्ष शिक्षा मंत्री होंगे। 60 प्रतिशत का योगदान हंस फाउंडेशन के माध्यम से होगा। ऋषिकेश आईडीपीएल. स्थित 830 एकड़ भूमि की लीज मार्च में खत्म, केंद्र इस जमीन को राज्य को वापस करेगा। 200 एकड़ जमीन ऋषिकेश एम्स को मिलेगी बाकी पर्यटन के पास रहेगी। समस्त भूमि सर्वप्रथम वन विभाग के अधीन की जाएगी। इसके बाद पर्यटन विभाग को दी जायेगी। उत्तराखण्ड उपखनिज नियमावली 2001 में संशोधन करते हुए नदी चुगान क्षेत्र में चुगान की गहराई 1.5 मीटर से बढ़ाकर 3 मीटर अथवा ग्राउंड लेवल तक करने की अनुमति दी गई। अल्मोड़ा नैनीसार में आवासीय निजी स्कूल को दी गई। 4 करोड़ लागत की 7.06 हेक्टेयर की भूमि के प्रस्ताव पर पुर्नविचार किया जाएगा। यह देखा जाएगा कि पांच वर्ष में उस भूमि का कितना उपयोग हुआ है। राज्य सरकार जनपद अथवा अन्य कोई भी निकाय क्षेत्र में किसी भी स्लाटर हाउस, पशु वधशाला को बंद करने के अधिकार है, प्राप्त करने के लिए अध्यादेश लायेगी। इससे अब सरकार किसी भी क्षेत्र को प्रतिबंधित कर सकेगी। कुम्भ मेला 2021 के लिए 31 पदों की स्वीकृति उप मेलाधिकारी-1, सूचना अधिकारी-1, सहायक लेखाकार-1, वरिष्ठ सहायक- 1, कनिष्ठ सहायक- 2, डाटा एन्ट्री आपरेटर- 4, चपरासी- 2, चैकीदार- 1, मेट-1, बेलदार-10, राजस्व निरीक्षक- 2, उप राजस्व निरीक्षक- 5 शामिल हैं। वेलनेस समिट के लिए भारतीय उद्योग संघ पार्टनर के रूप में काम करेगा। अप्रैल 2020 में आयोजन होगा। खनिज नियमावली के अवैध भंडारण के मामलों में सुनवाई के अधिकार एडीएम अथवा राज्य सरकार द्वारा अधिकृत अधिकारी को प्रदान किया जाएगा। सेवा का अधिकार का वर्ष 2017-18 एवं वर्ष 2018-19 वार्षिक प्रतिवेदन विधानसभा में प्रस्तुत किया जाएगा। एनएच चैड़ीकरण में सड़क किनारे भूमि कब्जेदारी को मुआवजा दिया जाएगा। उत्तर प्रदेश जमीदारी भूमि व्यवस्था के धारा 143 मास्टर प्लान के अनुसार सीधे प्राधिकरण में लैंड यूज चेंज के लिए दिया जाएगा। यह कृषि भूमि होनी चाहिए। उत्तराखण्ड श्रम सेवा नियमावली 2020 का प्रख्यापन किया गया।

शिवसेना ने फंूका केंद्र सरकार का पुतला, लापता फौजी को बरामद करने की मांग

देहरादून। कश्मीर के गुलमर्ग में तैनात प्रेमनगर स्थित सैनिक कॉलोनी अंबीवाला निवासी हवलदार राजेंद्र सिंह के बर्फीले इलाके में फिसलकर पाकिस्तानी सीमा में पहुंचने के बाद से लापता हो रखे हैं। उन्हे बरामद करने मे केंद्र सरकार ने अभी तक कोई ठोस कदम नहीं उठाये, केंद्र सरकार की हिला हवाली से शिव सेना मे आक्रोश पनप रहा हैं। 

शिव सेना ने केंद्र सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलते हुये देहरादून के लैंसडाउन चैक मे मोदी सरकार का पुतला दहन किया। आज दोपहर 12 बजे शिव सेना से जुड़े कार्यकर्ता राज्य उप प्रमुख गौरव खंडेलवाल व दर्शन डोभाल के नेतृत्व मे लैंसडाउन चैक मे एकत्र हुये, जहां उन्होंने केंद्र सरकार के खिलाफ अक्रामक नारे बाजी करते हुये प्रदर्शन किया और मोदी सरकार का पुतला दहन किया। इस अवसर पर प्रदर्शनकारियो की सभा को सम्बोधित करते हुये उपाध्यक्ष संजीव सुजॉय ने कहा की प्रेमनगर स्थित सैनिक कॉलोनी अंबीवाला निवासी भारतीय सेना के 11वीं गढ़वाल राइफल्स में तैनात हवलदार राजेंद्र सिंह नेगी बीते दिनों से गुलमर्ग के अग्रिम पोस्ट से लापता हैं। आठ जनवरी की शाम से कश्मीर के गुलमर्ग में लापता हुए जवान राजेन्द्र सिंह नेगी का अभी तक कुछ पता नहीं चल पाया है। राजेन्द्र सिंह नेगी के परिवार में माता-पिता, पत्नी और तीन बच्चे हैं जिनका राजेन्द्र सिंह नेगी के गायब होने के बाद से रो-रोकर बुरा हाल है। लेकिन केंद्र सरकार पर उनके आंसुओ का कोई फर्क नहीं पड़ रहा, सरकार ने अभी तक लापता फौजी को तलाश करने के लिये कोई भी ठोस कदम नहीं उठाये। शिव सेना केंद्र सरकार की हिला हवाली का विरोध करती हैं, और सरकार से मांग करती हैं लापता फौजी राजेन्द्र को तलाश करने के लिये आवश्यक कदम उठाये जाये। प्रदर्शन के दौरान अपने विचार व्यक्त करते हुये शिव सेना के जिला महासचिव शिव नारायण ने कहा की केंद्र सरकार यदि समय रहते लापता फौजी की तलाश प्रारम्भ कर देती तो आज उनके परिवार का रो-रोकर बुरा हाल ना होता। पूरा देश अपने फौजी भाई की वापसी के लिये दुआ कर रहा हैं। उन्होंने कहा की शिव सेना केंद्र सरकार को चेतावनी देती हैं की यदि समय रहते राजेन्द्र सिंह नेगी की सकुशल वापसी के ठोस कदम नहीं उठाये गये तो, शिव सेना केंद्र सरकार के खिलाफ चरणबद्ध आंदोलन शुरू कर देगी। पुतला फूकने वालों मे मुख्य रूप से राज्य उप प्रमुख गौरव खंडेलवाल, जिला महासचिव शिव नारायण, मनोज सरीन, शामेंद्र मल्ल, वासु गौरव कुमार, दर्शन डोभाल, मंजीत भट्ट, विकास सिह, विजय गुलाटी, रोहित बेदी, नितिन शर्मा, रजत विशनोई, नितिन कुमार, विनोद भट्ट आदि उपस्थित थे।

गॉडस क्रिएशन सोसायटी ने ’उड़ान’ के तहत आयोजित किए कार्यक्रम 

देहरादून। गॉडस क्रिएशन सोसायटी द्वारा ’उड़ान’ कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में महापौर सुनील उनियाल गामा एवं विशिष्ट अतिथि के तौर पर उत्तराखंड सरकार के दायित्वधारी राज्यमंत्री राजकुमार पुरोहित, क्षेत्रीय पार्षद अनूप नौडियाल एवं वरिष्ठ समाज सेवक सागर गुरुंग, गॉडस क्रिएशन के स्वयंसेवक भी मौजूद रहे।

 कार्यक्रम में छात्र-छात्राओं ने अपने हुनर की प्रस्तुति दी। जिसमें नृत्य संगीत एवं नाटक की प्रस्तुति छात्र छात्राओं के द्वारा दी गई। गोड्स क्रिएशन परिवार की छात्रा को समाज सेवक सागर गुरुंग द्वारा छात्रवृत्ति प्रदान की गई। मेयर व अन्य अतिथियों ने बच्चों का मनोबल बढ़ाया। गॉड्स क्रिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष कार्तिकेय विशनोई का आभार व्यक्त किया और उनके द्वारा समाज के प्रति निस्वार्थ सेवा की प्रशंसा की। कार्यक्रम में गॉड्स क्रिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष कार्तिकेय विशनोई, कपिल गर्ग, आकाश सिंह, मुदित बलूनी, अमन सिंह, मंजू ,पूर्णिमा, प्रतिभा, प्रियांशु ,गौरव ,अनिकेत, सिद्धार्थ, उज्जवल, प्रिया ,गार्गी, निखिल, पूनम व अन्य परिवार के सदस्य मौजूद रहे। राष्ट्रीय अध्यक्ष कार्तिकेय विशनोई ने सभी अतिथियों का और गॉड्स क्रिएशन के परिवार के समस्त सदस्यों का आभार व्यक्त किया।

खुकरी सहित एक पकड़ा

देहरादून। चेकिंग के दौरान नेशनल रोड़ के पास से एक अभियुक्त को गिरफ्तार किया गया जिसके कब्जे़ से एक खुकरी बरामद हुई। चैकी प्रभारी लक्ष्मण चैक लोकेंद्व बहुगुणा ने बताया कि क्षे़त्र में अभियुक्त के खिलाफ आम्र्स एक्ट के तहत चालान कर जेल भेज दिया गया। पकड़े गये अभियुक्त ने अपना नाम सुमित उम्र 19 पुत्र दिलिप देवली निवासी पार्क रोड़ कावली कोतवाली नगर देहरादून बताया।

45 लाख में जमीन बेचकर कब्जा रखा बरकरार, अब 4 लोगों के खिलाफ हुई कार्रवाई

देहरादून। थाना नेहरू कॉलोनी क्षेत्र में जमीन की रजिस्ट्री करने और कब्जा मांगने पर धमकी देने के मामले में चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। पुलिस ने मामले को रफा-दफा करने में भी लाखों रुपये की मांग करने का भी चार्ज लगाया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। जांच के दौरान जो तथ्य सामने आएंगे, उसी आधार पर अग्रिम कार्रवाई की जाएगी। 

दरअसल राजधानी के ईसी रोड निवासी रोहित वर्मा ने शिकायत दर्ज कराई थी। इस शिकायत के अनुसार, दिसंबर 2018 में उनकी मुलाकात दिनेश रौतेला निवासी दिव्य विहार से हुई। दिनेश रौतेला अपनी अजबपुर कलां स्थित जमीन बेचना चाहते थे, सौदा तय होने पर 16 मार्च को 45 लाख रुपए दे दिए गए, जिसके बाद रजिस्ट्री कराकर कब्जा भी दे दिया गया। कुछ दिन बाद दिनेश और उसका भाई दीपक रोहित वर्मा के पास आए और कहा कि उनके पास रहने का इंतजाम नहीं हो पाया है, जिस कारण उन्होंने वहीं रहने की मांग रखी। दोनों भाइयों की बातों में आकर रोहित ने उनको मकान में रहने दिया। जब रोहित ने 3 दिसंबर 2019 को दिनेश से बात की तो दोनों में आपस में विवाद हो गया। वहीं, कब्जा छोड़ने के एवज में 20 लाख की मांग करने लगे। थाना नेहरू कॉलोनी प्रभारी दिलबर सिंह नेगी ने बताया कि रोहित वर्मा की तहरीर के आधार पर दिनेश रौतेला, दीपक रौतेला और उनकी मां रजनी रौतेला सहित सुभाष नौटियाल के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। साथ ही मामले की जांच की जा रही है, तथ्य सामने आने पर ही अग्रिम कार्रवाई की जाएगी।

एथलेटिक्स एण्ड फिटनैस क्लब के प्रतिनिधिमण्डल ने एसीएस राधा रतूड़ी से की भेंट 

देहरादून। सचिवालय परिसर में सचिवालय एथलेटिक्स एण्ड फिटनैस क्लब के प्रतिनिधिमण्डल ने अपर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी से शिष्टाचार भेंट की। प्रतिनिधिमण्डल द्वारा अपर मुख्य सचिव को अवगत कराया गया कि आगामी 01 फरवरी को सचिवालय एथलेटिक्स क्लब द्वारा निर्मल गंगा एवं प्लास्टिक मुक्त पर्यावरण अभियान के अन्तर्गत सचिवालय मुख्य गेट से हरिद्वार तक अखण्ड रिले मैराथन दौड़ (दूरी लगभग 60 कि0मी0) का आयोजन किया जा रहा है। इस आयोजन में सचिवालय परिवार के 24 अधिकारी एवं कार्मिक प्रतिभाग कर रहे हैं।

अपर मुख्य सचिव राधा रतूड़ी द्वारा अभियान की प्रशंसा करते हुए सुरक्षित तरीके से अखण्ड मैराथन दौड़ पूरी करने की अपेक्षा की। उन्होंने कहा कि इस प्रकार के आयोजनों से प्लास्टिक मुक्त पर्यावरण हेतु जन जागरूकता फैलेगी तथा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जएवं मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत के सिंगल यूज प्लास्टिक के प्रयोग पर रोक अभियान को भी बल मिलेगा। सचिवालय एथलेटिक्स एण्ड फिटनैस क्लब के अध्यक्ष गिरधर सिंह भाकुनी ने जानकरी दी कि अभियान दल को अपर सचिव देवेन्द्र पालीवाल हरी झण्डी दिखाकर प्रातः 6ः30 बजे सचिवालय से दौड़ रवाना करेंगे। दौड़ का दोपहर लगभग 1ः00 बजे हरिद्वार मेला नियंत्रण कक्ष (हर की पैड़ी के पास) पर समापन किया जायेगा। अभियान के प्रतिभागियों द्वारा दोपहर 01 बजे से हरिद्वार में गंगा सफाई कार्यक्रम किया जाना है। मैराथन दौड़ के समापन अवसर पर मेला अधिकारी हरिद्वार भी उपस्थित रहेंगे।

----------------------------------------------------------

महर्षि वाल्मीकि शिक्षा-संस्कार केंद्र में पढ़ने वाले गरीब बच्चों को ट्रैक सूट वितरित किए 

देहरादून। स्वामी विवेकानंद संस्थान तथा मानवाधिकार एवं सामाजिक न्याय संगठन के संयुक्त तत्वावधान में बसंत पंचमी के अवसर पर प्रेमनगर में स्वामी विवेकानन्द सेवा संस्थान द्वारा संचालित महर्षि वाल्मीकि शिक्षा-संस्कार केंद्र में पढ़ने वाले गरीब बच्चों को ट्रैक सूट वितरण कार्यक्रम सनातन धर्म मन्दिर हॉल, प्रेमनगर में आयोजित किया गया। इस अवसर पर मानवाधिकार एवम  सामाजिक न्याय संगठन के चैयरमैन सचिन जैन ने कहा कि मानवाधिकार एवं सामाजिक संगठन की तरफ से मैं सभी बच्चों और आए हुए महानुभाव को वसंत पंचमी की बहुत-बहुत बधाई देता हूं हमारा प्रयास हमेशा यही रहता है कि जरूरतमंद बच्चों को उनकी जरूरत के अनुसार समय-समय पर उनकी जरूरतों को पूरा किया जा सकें।

 कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के रूप में चार्टर्ड अकाउंटेंट नवीन गुप्ता ने कहा कि मैं आज ऐसे कार्यक्रम में आकर अपने आप को गौरवान्वित महसूस कर रहा हूं,  कि मैं ऐसी दो संस्थाओं का हिस्सा बना जो समाज के गरीब वर्ग के बच्चों की शिक्षा एवं अन्य जरूरतों को पूरा करने के लिये सदा प्रयासरत रहती हैं। मैं धन्यवाद देना चाहूंगा इन दोनों संस्थाओं के पदाधिकारियों का जिन्होंने मुझे यह अवसर प्रदान किया। जहाँ स्वामी विवेकानन्द सेवा संस्थान अपने 9 शिक्षा केंद्रों के माध्यम से गरीब असहाय बच्चों की संस्कार युक्त शिक्षा के लिये तन मन धन से पिछले 15 वर्ष से कार्य कर रहा है वहीं मानवाधिकार संगठन गरीब बच्जों की विभिन्न आवश्यकताओं की पूर्ति के लिये सदा  तत्पर रहता है। जिसकी प्रदेश अध्यक्ष मधु जैन ऐसे कार्यक्रमों में सदा अग्रणी भूमिका निभाती हैं और जो आए दिन किसी ना किसी कार्यक्रम में बच्चों की मदद करती हुई नजर आती हैं। विशिष्ट अतिथि के रूप में अनन्या कटारिया ने कहा कि हम सबको ऐसी समाजसेवी संस्थाओं के साथ मिलकर गरीब वर्ग के बचचों की यथासम्भव सहायता करने की आवश्यकता है, तभी ऐसे बच्चे आगे चलकर राष्ट्र कार्य मे अग्रणी भूमिका निभा सकेंगे। कार्यक्रम का संचालन स्वामी विवेकानन्द सेवा संस्थान के सहसचिव गुलशन माकिन और मानवाधिकार एवं सामाजिक न्याय संगठन की प्रदेश अध्यक्ष मधु जैन ने संयुक्त रूप से किया। संस्थान के उपाध्यक्ष केके अरोड़ा ने सभी उपस्थित लोगों तथा सनातन धर्म मन्दिर कार्यकारिणी का उनके सहयोग के लिये धन्यवाद किया और कहा कि आप लोग की मदद से हम लोगों का हौसला और बढ़ जाता है।

सेंट्रलाइज्ड ट्रेड प्रोसेसिंग सेंटर (सीटीपीसी) का उद्घाटन किया

देहरादून। आईडीबीआई बैंक के एमडी और सीईओ राकेश शर्मा ने नरीमन पॉइंट, मुंबई में आईडीबीआई बैंक लिमिटेड के सेंट्रलाइज्ड ट्रेड प्रोसेसिंग सेंटर (सीटीपीसी) का उद्घाटन किया। इस अवसर पर आईडीबीआई बैंक के डिप्टी मैनेजिंग डायरेक्टर सेमुअल जोसेफ और सुरेश खातनहर और एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर -ट्रेड फाइनेंस राजीव कुमार और बैंक के अन्य अधिकारी भी मौजूद रहे।

सीटीपीसी के माध्यम से बैंक को उत्पाद वितरण में दक्षता के उच्च स्तर की सुविधा मिलने लगेगी, परिचालन जोखिम को कम करने का अवसर मिलेगा और साथ ही टीएटी को कम करने और ग्राहक सेवा में और सुधार करने की सुविधा भी हासिल होगी। बैंक ने दस्तावेज रिपॉजिटरी के साथ एक स्वचालित कार्य-प्रवाह समाधान तैनात किया है। सीटीपीसी मुंबई के एक प्रमुख व्यवसाय केंद्र, नरीमन पॉइंट पर स्थित है। इस अवसर पर बोलते हुए राकेश शर्मा ने कहा, ‘‘वैश्विक आर्थिक अनिश्चितता के मौजूदा दौर में लागत में कमी और प्रभावी जोखिम प्रबंधन किसी भी संगठन के लिए महत्वपूर्ण प्राथमिकताएं हैं। इसके अतिरिक्त, समय-समय पर और प्रभावी नियामक अनुपालन की बदलती-बढ़ती जिम्मेदारी व्यापार संचालन के क्षेत्र में एक चुनौती है। सीटीपीसी चुनौतियों को प्रभावी ढंग से संभालने और लेनदेन बैंकिंग के अगले स्तर पर जाने के लिए तैयार है। ”बैंक जल्द ही चेन्नई में दूसरा सीटीपीसी भी खोलेगा।

बसन्तोत्सव कार्यक्रम में कार्यक्रम में शामिल हुए सीएम 


देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत बुधवार को बसंत पंचमी के अवसर पर भरत मन्दिर ऋषिकेश में आयोजित बसन्तोत्सव कार्यक्रम में सम्मिलित हुए। इस अवसर पर मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने सभी को बसन्त पंचमी की शुभकामनायें दी तथा भरत मन्दिर में पूजा अर्चना कर प्रदेश की खुशहाली की कामना की। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि बसन्तोत्सव प्रकृति के श्रृगांर एवं नई ऊर्जा का संचार करने वाला पर्व है। यह पर्व हमें प्रकृति के संरक्षण एवं संवर्धन की भी प्रेरणा देता है। उन्होंने आयोजकों की इस आयोजन के लिए भी सराहना की। इस अवसर पर मेयर ऋषिकेश अनीता ममगाई, मुख्यमंत्री के औद्योगिक सलाहकार के0एस0पंवार, महंत अशोक प्रपन्न शर्मा, हर्षवर्धन शर्मा आदि उपस्थित थे।

बसन्तोत्सव कार्यक्रम में कार्यक्रम में शामिल हुए सीएम 


देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत बुधवार को बसंत पंचमी के अवसर पर भरत मन्दिर ऋषिकेश में आयोजित बसन्तोत्सव कार्यक्रम में सम्मिलित हुए। इस अवसर पर मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने सभी को बसन्त पंचमी की शुभकामनायें दी तथा भरत मन्दिर में पूजा अर्चना कर प्रदेश की खुशहाली की कामना की। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि बसन्तोत्सव प्रकृति के श्रृगांर एवं नई ऊर्जा का संचार करने वाला पर्व है। यह पर्व हमें प्रकृति के संरक्षण एवं संवर्धन की भी प्रेरणा देता है। उन्होंने आयोजकों की इस आयोजन के लिए भी सराहना की। इस अवसर पर मेयर ऋषिकेश अनीता ममगाई, मुख्यमंत्री के औद्योगिक सलाहकार के0एस0पंवार, महंत अशोक प्रपन्न शर्मा, हर्षवर्धन शर्मा आदि उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री ने नियुक्त किए आई.टी एवं आर्थिक सलाहकार


देहरनादून। शासन द्वारा रविन्द्र दत्त को मुख्यमंत्री उत्तराखण्ड का आई.टी सलाहकार नियुक्त किया गया है। रविन्द्र दत्त पेशे से आई.टी प्रोफेशनल हैं और ई गवर्नेंश, पब्लिक ग्रिवांस रिड्रेसल, साफ्टवेयर डेवलपमेंट और नेटवर्किंग के क्षेत्र के अनुभवी व्यक्ति हैं। रविन्द्र दत्त पूर्व में भाजपा उत्तराखण्ड के प्रदेश आई.टी संयोजक भी रह चुके हैं। रविन्द्र दत्त मुख्यमंत्री के आई.टी सलाहकार के रूप में सूचना प्रौद्योगिकी एवं सी.एम हैल्प लाइन से संबंधित कार्यों का निर्वहन करेंगे।

इसके साथ ही शासन द्वारा आलोक भट्ट को मुख्यमंत्री उत्तराखण्ड का आर्थिक सलाहकार नियुक्त किया गया है। आलोक भट्ट पेशे से चार्टर्ड एकाउंटेंट हैं और कॉपोरेट क्षेत्र में भी अपनी सेवायें दे चुके हैं। श्री भट्ट उत्तराखण्ड राज्य में कई सामाजिक उद्यमिता पहलों में भी शामिल रहे हैं। श्री भट्ट सम-सामयिक और आर्थिक मामलों की अच्छी जानकारी रखते हैं। श्री भट्ट मुख्यमंत्री के आर्थिक सलाहकार की भूमिका में राज्य योजना, आर्थिक रिपोर्टिंग एवं आर्थिक मामलों से सबंधित कार्यों का निर्वहन करेंगे।

देशी शराब के साथ एक गिरफ्तार

देहरादून। थाना सहसपुर पुलिस नें मुखबिर की सूचना के आधार पर सहसपुर क्षेत्र से एक अभियुक्त को 96 पव्वे देशी शराब के साथ गिरफ्तार कर आबकारी अधिनियम के तहत चालान कर जेल भेज दिया। पकड़े गये अभियुक्त ने अपना नाम प्रमोद कुमार पुत्र गिरन्दर सिंह निवासी चुन्नी पोस्ट ब्योति खुर्द थाना भोगांवा जिला मैनपुरी हाल निवासी सहसपुर देहरादून बताया।

विधायक विनोद चमोली ने किया स्वामी शंकर मीना की पुस्तक जीवन का रहस्य का विमोचन


 

देहरादून। स्वामी शंकर मीना की पुस्तक जीवन का रहस्य कल, आज और कल का विमोचन विधायक विनोद चमोली द्वारा किया गया। यह ग्रंथ 800 पेजों की किताब है। जीवन का रहस्य ग्रह नक्षत्रों के विविध आयामों की जानकारी देने वाला वैज्ञानिक विधान ग्रंथ है।   

उत्तरांचल प्रेस क्लब में आयोजित कार्यक्रम मेें विधायक विनोद चमोली ने इस पुस्तक का विमोचन किया। इस मौके पर विधायक श्री चमोली ने कहा कि हम दूसरे को जानने में अपना पूरा समय लगा देते हैं लेकिन अपने बारे में नहीं जानते हैं। हमें स्वयं को समझना चाहिए। उन्होंने इस पुस्तक के लिए स्वामी शंकर मीना को बधाई दी। इस मौके पर स्वामी शंकर मीना ने कहा कि हमारा जीवन जन्म से लेकर अंतिम समय तक अपने भीतर अनेकानेक रहस्यों को छिपाए है। हमारे जन्म समयानुसार हम ग्रह-नक्षत्रों के स्थितियों का आंकलन कर अपने वर्तमान और भविष्य को जान सकते हैं। यह जानकारी हमें हमारी मानसिक, शारीरिक व आर्थिक के बारे में बताती है और हम अपने वर्तमान व भविष्य से रूबरू हो उसे बेहतर बना सकते हैं। मनुष्य सदा अपने आपको बेहतर बनाने में जूटा रहता है और अक्सर अपने भविष्य को सुधारने के फेर में वह गुरु-घंटालों के चक्कर में फंस जाता है। जीवन रहस्य, कल आज और कल ज्योतिष ग्रंथ की रचना इसी समस्या से आमजन को निजात दिलाने के लिए की गई है। एक साधारण मनुष्य भी इस ग्रंथ का अध्ययन कर अपनी जन्मकुंडली खुद ही बना सकता है और अपना अच्छा बुरा जान सकता है। जब आप सच्चाई को जान लोगे तो कोई भी कथित गुरु आपको पथ भ्रष्ट कर या डर दिखा कर आपका आर्थिक, मानसिक या शारीरिक शोषण नहीं कर पायेगा। आपने अक्सर सुना होगा कि आप अपने भाग्य विधाता खुद हो तो सही मायने में जीवन रहस्य नामक यह ग्रंथ आपको इसी सच्चाई से रूबरू कराने की एक कोशिश मात्र है। अगर आपको अपनी समस्या का ज्ञान हो जाये तो समाधान आप खोज ही लेंगे। आपको बोध करा बोधिसत्व की और ले जाने के एक प्रयास का नाम है जीवन रहस्य, कल आज और कल। पुस्तक विमोचन के मौके पर दीपक नागलिया, डा. हरीश कोहली, डा. हर्ष खेतान, मीना खेतान, सोमवारी लाल उनियाल आदि उपस्थित रहे। 

हिस्ट्री टीवी 18 पर देखिए विश्व के सबसे बड़े आयोजन की कहानी, नई डॉक्युमेंट्री “कुम्भ अमंग द सीकर्स” में

देहरादून। हिस्ट्री टीवी 18 भारतीय विषयों पर रोचक कार्यक्रम बनाता आ रहा है और अब इसी क्रम में देश का सबसे सफल फैक्चुअल एंटरटेनमेंट चैनल  प्रस्तुत कर रहा है विश्व के सबसे बड़े और सबसे सफल धार्मिक आयोजन कुम्भ मेले पर एक घंटे का विशेष कार्यक्रम।  कुम्भ विश्व का सबसे शांतिपूर्ण पर्व है जिसमें करोड़ों श्रद्धालु भाग लेते हैं। अधिकारिक आंकड़ों के अनुसार कुम्भ मेले के दौरान प्रयागराज में दो महीने में 240 मिलियन से भी ज्यादा लोग एकत्रित हुए। यह संख्या न्यूयॉर्क जहाँ साल 2019 में  सबसे ज्यादा लोग आए, उन साल भर आए विजिटर्स की संख्या से तीन गुना से भी ज्यादा है। यह डॉक्यूमेंट्री दर्शकों को श्रद्धालुओं के बीच ले जाती है और दिखाती है कुछ भावपूर्ण मानवीय कहानियां, कुछ चैंकाने वाले तथ्य और वो सभी तैयारियां जो करोड़ों लोगों की जमा हुई भीड़ से बनने वाली लॉजिस्टिक चुनौतियों का सामना करती हैं।  कुम्भ के वर्तमान स्वरुप के साथ-साथ ये डॉक्यूमेंट्री कुम्भ के इतिहास पर भी प्रकाश डालती है और पुराणों में इसके वर्णन से लेकर इस पर्व से जुड़ी कहानियों-किस्सों का भी जिक्र करती है।

इस डॉक्युमेंटरी को बनाने में लगभग एक वर्ष का समय लगा जिसमें कुम्भ मेले की विभिन्न स्तर पर बड़ी-छोटी तैयारियों से लेकर सात सप्ताहों तक चलने वाले इस मेले के अंतिम दिन तक को दर्शाया गया है।  इसका फिल्मांकन दिन-रात चला और हाई-डेफिनिशन वाले 4के कैमरा से जिस तरह की इमेज कैप्चर की गई हैं उन्हें स्क्रीन पर देखने का अनुभव निःसंदेह मंत्र मुग्ध करने वाला है।  पूरी फिल्म को बहुत ही खूबसूरती से शूट किया गया है और गंगा, यमुना, सरस्वती के संगम तट से लेकर प्रयागराज के समतल इस तरह से शूट किए गए हैं कि मानो प्रकृति का सारा सौंदर्य धरती के इसी भाग में सिमट गया हो।  किसी भी पर्व को सुंदर बनाते हैं लोग और उस पर्व से जुड़ी परम्पराएँ। कुम्भ में ऐसे पलों की कभी कमी नहीं होती।  साधु, संत और श्रद्धालुओं के जीवन से कैंडिड मोमेंट्स कैप्चर करने से लेकर खोया-पाया केंद्रों पर हलचल के दृश्य इस फिल्म से बांधे रखते हैं और हर एक फ्रेम नई कहानी बयान करता है।  इस फिल्म के कुछ किरदार बड़े यादगार हैं जिनमें बॉलीवुड सिनेमेटोग्राफर, अमेरिकन साध्वी, किन्नर अखाड़े का सदस्य और कंट्रोल एवं कमांड सेंटर के हेड शामिल हैं।  कुम्भ लोगों का पर्व है और इसीलिए इस फिल्म का नैरेटिव भी लोगों के नजरिए से है। कुम्भ के साथ उनका अनुभव ही रचता है इस फिल्म की स्क्रिप्ट।  वाकई कुम्भ का अनुभव एकदम अनोखा और जीवन के सबसे यादगार अनुभवों में से एक है।

कुंभ मेला तैयारियों को लेकर सीएम ने ली बैठक


 

देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की अध्यक्षता में बुधवार को मुख्यमंत्री आवास में कुम्भ मेला-2021 की तैयारियों के संबंध में बैठक संपन्न हुई। इस अवसर पर उत्तर प्रदेश के मेलाधिकारी प्रयागराज कुम्भ मेला 2019 विजय किरन आनन्द ने प्रयागराज कुम्भ मेला 2019 हेतु की गई तैयारियों पर प्रस्तुतीकरण दिया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्ष 2021 में होने जा रहे कुम्भ मेले में 15 करोड़ से अधिक श्रद्धालुओं के आने की सम्भावना है। इतनी बड़ी संख्या में आने वाले श्रद्धालुओं के लिए कुम्भ क्षेत्र का विस्तार किया जाना आवश्यक है। उन्होंने अवस्थापना संबंधी कार्यों जैसे सडक, विद्युत, पेयजल आपूर्ति, कानून व्यवस्था सुनिश्चित करने, चिकित्सा सुविधा, स्वच्छता व कूड़ा निस्तारण, आवासीय व पार्किंग व्यवस्था व कुम्भ मेला क्षेत्र विस्तार योजना पर तेजी से कार्य करने के निर्देश दिए। उन्होंने अधिकारियों को सभी आवश्यक व्यवस्थाएं समय से सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने सभी सेक्टर ऑफिसर्स को भी शीघ्र तैनात करने के निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रयागराज में आयोजित कुम्भ पूर्ण रूप से सफल रहा था। उन्होंने प्रयागराज कुम्भ 2019 का अध्ययन एवं मेलाधिकारी विजय किरन आनन्द के अनुभवों की सहायता से कुम्भ 2021 को सफल बनाने हेतु हर सम्भव प्रयास किये जाने के निर्देश दिए। उन्होंने सभी आवश्यक शासनादेश भी शीघ्र जारी करने के निर्देश दिए। इस अवसर पर मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह, अपर मुख्य सचिव ओम प्रकाश, मेलाधिकारी कुम्भ मेला 2021 दीपक रावत, महानिदेशक पुलिस अशोक कुमार, सचिव अमित नेगी, दिलीप जावलकर एवं सौजन्या सहित शासन के उच्चाधिकारी भी उपस्थित थे।

एचडीएफसी बैंक उत्तराखंड में एक लाख पेड़ लगाएगा

ऋषिकेश। एचडीएफसी बैंक लिमिटेड ने आज उत्तराखंड में 1 लाख पेड़ लगाने की पहल की। यह गतिविधि रु परिवर्तन सभी पर्यावरण, सामाजिक और शासन  पहलों के लिए बैंक के अमब्रेला ब्रांड का हिस्सा है। यह ऐसे कई वृक्षारोपण अभियानों में से पहला है जो एचडीएफसी बैंक जलवायु परिवर्तन पर अंकुश लगाने के अपने प्रयास के तहत निकट भविष्य में आयोजित करेगा। 

ऋषिकेश के ओल्ड रेलवे स्टेशन पार्क में आयोजित एक कार्यक्रम में यह घोषणा की गई। वृक्षारोपण अभियान का उद्घाटन उत्तराखंड के माननीय राज्यपाल,बेबी रानी मौर्य और संजीव कुमार, शाखा बैंकिंग प्रमुख-उत्तराखंड, द्वारा किया गया। अन्य सरकारी और बैंक अधिकारियों की उपस्थिति में एचडीएफसी बैंक। एचडीएफसी बैंक ने राज्य में हाल के वर्षों में पर्यावरणीय गिरावट को सुधारने के उद्देश्य से इस गतिविधि को अंजाम दिया और रु क्लाइमेटचेंज की वैश्विक समस्या को रोकने में भी मदद की। पेड़ एक महत्वपूर्ण प्राकृतिक संसाधन हैं और पारिस्थितिक संतुलन बनाए रखने के लिए आवश्यक हैं, भूजल की भरपाई करते हैं और वायु प्रदूषण को कम करते हैं। राष्ट्रीय वन नीति के अनुसार, देश को हर राज्य में 33ः का वन कवर लक्ष्य प्राप्त करना आवश्यक है। यह पहल कई में से एक है जो एचडीएफसी बैंक स्थिरता के अपने बड़े लक्ष्य के हिस्से के रूप में करती है, जो इसके मुख्य मूल्यों में से एक है। बैंक दृढ़ता से उन समुदायों को वापस देने में विश्वास करता है, जिसमें वह काम करता है, जिससे पर्यावरण और साथ ही साथ अपने निवासियों की जीवन स्थितियों को वृक्षारोपण के माध्यम से बढ़ाया जाता है। अतीत में बैंक ग्रीन कवरेज, जल संरक्षण को बढ़ावा देने और प्लास्टिक प्रदूषण को कम करने के लिए ग्रीनथॉन, सैवाथोन और प्लागथॉन जैसी घटनाओं का नियमित रूप से आयोजन कर रहा है। एचडीएफसी बैंक के कॉरपोरेट सोशल रिस्पॉन्सिबिलिटी की ग्रुप हेड सुश्री आशिमा ने कहा, “हमें स्थानीय समुदाय और पर्यावरण को बेहतर बनाने वाले अवसर में भाग लेने के लिए सम्मानित किया जाता है। हम दृढ़ता से मानते हैं कि एक पेड़ लगाकर, हम अपने प्राकृतिक संसाधनों को बहाल करने और एक स्वस्थ ग्रह बनाने में मदद करेंगे जो हम सभी की देखभाल करता है। आइए हम सभी अधिक से अधिक पेड़ लगाकर इस ग्रह को हरियाली बनाने का संकल्प लें। 

बहुद्देशीय शिविर का आयोजन 30 को

देहरादून। विधानसभा क्षेत्र डोईवाला में 30 जनवरी को जिलाधिकारी सी रविशंकर की अध्यक्षता में राजकीय बालिका इण्टर कालेज रानीपोखरी में प्रातः 11 बजे से बहुद्देशीय शिविर का आयोजन किया जा रहा है, जिलाधिकारी द्वारा जन समस्याओं की सुनवाई की जायेगी। जिलाधिकारी ने सम्बन्धित विभागीय अधिकारियों को विधानसभा डोईवाला क्षेत्रान्तर्गत उनके विभाग द्वारा संचालितध्प्रस्तावित योजनाओं की प्रगति रिपोर्ट के साथ स्वयं बहुद्देशीय शिविर में प्रतिभाग करने के निर्देश दिये।

विधिक जागरूकता शिविर आयोजित 

देहरादून,। सिविल जज सीडी सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण नेहा कुशवाहा ने अवगत कराया है कि जिला विधिक सेवा प्राधिकरण देहरादून के द्वारा ग्रामसभा श्यामपुर के नम्बरदार फार्म स्थित महिला मिलन केन्द्र ऋषिकेश में विधिक जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया। विधिक शिविर में उपस्थित लोगों को कानून की जानकारी सहित विभिन्न विभागों के प्रतिनिधियों द्वारा उनके विभाग में संचालित जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी भी दी गयी। शिविर में उपस्थित व्यक्तियों को ऋषिकेश से दून चिकित्सालय लाने हेतु वाहन की व्यवस्था की गयी  तत्पश्चात  उपस्थित होने वाले सभी दिव्यांग व्यक्तियों का चिकित्सीय टीम द्वारा फार्म भरवाकर उनका चिकित्सा परीक्षण करने के उपरान्त 24 दिव्यांग व्यक्तियों के प्रमाण-पत्र बनवाये गये।

अनेक प्रोजेक्टों को स्वीकृति प्रदान की गयी


 

देहरादून। सचिवालय सभागार में बुधवार को मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह की अध्यक्षता में उत्तराखण्ड उद्यम एकल खिड़की सुगमता एवं अनुज्ञापन अधिनियम-2012 के अन्तर्गत राज्य प्राधिकृत समिति की बैठक में अनेक प्रोजेक्टों को स्वीकृति प्रदान की गयी। जिनमें नरेन्द्र नगर में लगभग 194.33 करोड़ की लागत के महिन्द्रा स्पॉ एंड रिजोर्ट प्राइवेट लिमिटेड प्रोजेक्ट, सितारगंज ऊधम सिंह नगर में 25.65 करोड़ की लागत के  डंदनंिबजनतपदह व िच्वसलेजमत ब्ीपचे इल तमबलबसपदह व िच्ब्त् च्मज थ्संामे प्रोजेक्ट, सिडकुल हरिद्वार में 12.59 करोड़ की लागत के सामानों की पैकिंग से जुडे प्लास्टिक आर्टिकल्स प्रोजेक्ट्स, सेलाकुई में 90 लाख की लागत के हर्बल औषधीय प्रोजेक्ट शामिल हैं। बैठक में प्रमुख सचिव मनीषा पंवार, सचिव राजस्व सुशील कुमार, महानिदेशक उद्योग ऐल फेनई, उत्तराखण्ड पर्यावरण एवं प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के सदस्य सचिव एसपी सुबुद्धि निदेशक उद्योग सुधीर नौटियाल, उपनिदेशक अनुपम त्रिवेदी सहित संबंधित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

72 शिक्षकों को शैलेश मटियानी राज्य शैक्षिक पुरस्कार से सम्मानित किया गया


 

देहरादून। प्रदेश के सरकारी स्कूलों में शिक्षा में गुणात्मक सुधार लाने के लिए उल्लेखनीय कार्य करने वाले प्रदेश के 72 टीचरों को शैलेश मटियानी राज्य शैक्षिक पुरस्कार से सम्मानित किया गया। बुधवार को शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे ने 10 हजार की पुरस्कार राशि और प्रशस्ति पत्र देकर टीचरों को पुरस्कृत किया। रायपुर स्थित राजीव गांधी नवोदय स्कूल तपोवन में आयोजित सम्मान समारोह में प्राथमिक, माध्यमिक, संस्कृत शिक्षा और प्रशिक्षण संस्थानों के कुल 72 टीचरों को उत्कृष्ट कार्य के लिए शैलेश मटियानी शैक्षिक पुरस्कार दिया गया। इसमें वर्ष 2015 में 27 टीचरों, वर्ष 2016 में 21 और वर्ष 2017 के लिए 24 टीचरों को पुरस्कार दिया गया। पुरस्कार से सम्मानित टीचरों को दो साल का सेवा विस्तार मिलेगा। 

कार्यक्रम में शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे ने कहा कि बेसिक शिक्षा में अभी भी कई कमियां हैं। जिनको दूर करने की चुनौती है।  विभागीय अधिकारियों और टीचरों को मिल कर शिक्षा में और सुधार करना होगा। शिक्षा में कमियों के लिए सिर्फ टीचर को दोषी मानना उचित नहीं है। इसके लिए हम सब दोषी हैं। उन्होंने प्राथमिक स्कूलों में घट रही बच्चों की संख्या पर चिंता जाहिर करते हुए कहा कि नए शैक्षिक सत्र से बच्चों की संख्या बढ़ाने के लिए विशेष प्रयास करने की जरूरत है। कार्यक्रम का संचालन मोहन बिष्ट ने किया। इस मौके पर शिक्षा निदेशक आरके कुंवर, निदेशक शिक्षा एवं प्रशिक्षण अकादमी सीमा जौनसारी, अपर निदेशक प्राथमिक बीएस रावत, अपर निदेशक माध्यमिक आरके उनियाल, संस्कृत शिक्षा निदेशक एसपी खालिद आदि मौजूद थे। शिक्षा मंत्री ने कहा कि टीचरों के हित में जायज मांगों का तत्काल समाधान किया जाए। यदि टीचरों की कोई समस्या है तो वे सीधा संवाद कर सकते हैं। विभागीय स्तर पर भी सुनवाई के माध्यम से समस्याओं को हल किया जा रहा है। 

सीएस ने प्रशिक्षणार्थी अधिकारियों को दायित्वों का निष्ठापूर्वक निर्वहन करने का मंत्र दिया


 

देहरादून। सचिवालय सभागार में मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह से सम्मिलित सेवा परीक्षा-2016 के अंतर्गत चयनित 48 प्रशिक्षणार्थी अधिकारियों ने मुलाकात की। इस अवसर पर मुख्य सचिव ने प्रशिक्षणार्थी अधिकारियों को शुभकामना देते हुए अपने दायित्वों का निष्ठापूर्वक निर्वहन करने का मंत्र दिया। उन्होंने कहा कि आप सब युवा अधिकारी हैं और आप को लम्बी यात्रा करनी है, उन्होंने युवा प्रशिक्षणार्थियों से अपनी सेवा की यात्रा के प्रत्येक पल को प्रसन्नता पूर्वक निभाने को कहा। उन्होंने प्रशिक्षुओं के साथ अपने अनुभवों को बांटते हुए बताया कि उत्तराखण्ड के लोग काफी सहयोगी हैं। 

उन्होंने कहा कि आप की सेवाओं की प्रकृति का सम्बन्ध खुशियों के व्यवसाय से जुड़ा है जिसको देखते हुए अपने दायित्वों को खुशी पूर्वक क्रियान्वित करें, इससे आपको स्वयं खुशी महसूस होगी और समाज को भी आप की सेवाओं का लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड राज्य प्राकृतिक रूप से सुन्दर है, उन्होंने राज्य की नैसर्गिक सुंदरता का आनन्द उठाते हुए अपने कर्तव्यों का निर्वहन करने की अपेक्षा की। डा. आर. एस. टोलिया उत्तराखण्ड प्रशासनिक अकादमी के निदेशक श्री राजीव रौतेला ने अवगत कराया कि उत्तराखण्ड राज्य सम्मिलित सेवा परीक्षा 2016 की 7 विभिन्न सेवाओं के 48 अधिकारी इस 14 वें आधारभूत प्रशिक्षण कार्यक्रम में प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हैं। उन्होंने अकादमी द्वारा संचालित प्रशिक्षण पर विस्तार से जानकारी दी, उन्होंने बताया कि इस 14 वें आधारभूत प्रशिक्षण कार्यक्रम में 7 विभिन्न सेवाओं के ऑफिसर प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हैं जिनमें 6 प्रशासनिक, 17 पुलिस, 12 वित्त, 2 टैक्स, 8 म्युनिसपल, 2 सिविल डिफेंस तथा 1 जेल अधीक्षक सेवा के अधिकारी हैं।

उन्होंने बताया कि इन अधिकारियों को व्यावहारिक ज्ञान दिलाने के लिए विधानसभा तथा देश की उच्च विशेषज्ञ संस्थानों यथा एफ.आर.आई, आई.एम.ए, ओ.एन.जी.सी आदि का भ्रमण कराया गया है। विगत 28 दिसम्बर को माननीय मुख्यमंत्री के साथ डा. आर.एस.टोलिया उत्तराखण्ड प्रशासनिक अकादमी प्रशिक्षणार्थी अधिकारियों का संवाद हुआ तथा कल (आज) महामहिम राज्यपाल उत्तराखण्ड से संवाद हेतु समय लिया गया है। उन्होंने बताया कि अकादमी में उच्च गुणवत्तापूर्ण प्रशिक्षण दिया जाता है जिससे अधिकारी क्षेत्रों में जाकर अपनी जिम्मेदारियों का अच्छी तरह से निर्वहन कर सकें। उन्होंने बताया कि प्रशिक्षणार्थियों को खेल गतिविधियों में भी प्रतिभा दिखाने हेतु खेल सुविधायें उपलब्ध हैं। उन्होंने जानकारी दी कि अकादमी में लगभग 96 हजार पुस्तकों व 35 सामसामयिक जरनल्स पत्रिकाओं से युक्त पुस्तकालय, सुसज्जित कंप्यूटर लैब आदि सुविधाये उपलब्ध हैं। मुख्य सचिव द्वारा प्रशिक्षणार्थी अधिकारियों से भी उनके प्रशिक्षण के दौरान हुए अनुभवों एवं विचारों को सुना गया। इस अवसर पर सचिव परिवहन एवं शहरी विकास शैलेश बगोली, वित्त सचिव सौजन्या, सचिव ऊर्जा राधिका झा, प्रभारी सचिव कार्मिक बी.एस. मनराल द्वारा प्रशिक्षणार्थी अधिकारियों से संवाद स्थापित किया गया। इस अवसर पर अकादमी के संयुक्त निदेशक नवनीत पाण्डेय, अकादमी के सहायक प्रवक्ता डॉ मंजू पाण्डेय तथा डॉ ओम प्रकाश भी उपस्थित थे।

Featured Post

कोरोना काल के पश्चात राफ्टिंग का प्रारंभ होना बेहद सुखदः महाराज

ऋषिकेश। पर्यटन व्यवसाय से जुड़े 15 हजार लोगों को पर्यटन विभाग की ओर से अब तक 7 करोड़ की धनराशि वितरित की जा चुकी है। उक्त बात गंगा नदी राफ...