Tuesday, 31 December 2019

अवैध खनन पर अंकुश लगाने को लेकर डीएम ने ली बैठक


 

देहरादून। जिलाधिकारी सी रविशंकर की अध्यक्षता में अवैध खनन पर अंकुश लगाने तथा शिमला बाईपास पर हुई दुर्घटना की जांच और इस तरह की दुर्घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए गठित समिति के सदस्यों के साथ जिलाधिकारी कार्यालय कक्ष में बैठक आयोजित करते हुए जरूरी दिशा-निर्देश दिये।

जिलाधिकारी ने समिति में सम्मिलित सभी अधिकारियों को अपने-अपने विभागीय स्तर से अवैध खनन की रोकथाम, अनाधिकृत तरीके से चलते वाहनों की रोकथाम तथा इससे होने वाली दुर्घटनाओं को रोकने हेतु ठोस कदम उठाने के निर्देश। उन्होंने पुलिस क्षेत्राधिकारी सदर को शिमला बाईपास रोड़ पर हुई दुर्घटना के सम्बन्ध में वीडियो फूटेज यदि हो तो उसका अवलोकरन करते हुए प्रतिबन्धित समय में वाहन के प्रवेश, बीच में रूकने के समय, दुर्घटना के समय इत्यादि का रूटीन अध्ययन करते हुए सम्बन्धित वाहन व चालक पर आवश्यक कार्रवाही के साथ ही प्रतिबन्धित समय में ड्यूटी पर तैनात सिपाही द्वारा की गयी लापरवाही की जिम्मेदारी तय करने के निर्देश दिये। इसके अतिरिक्त रात्रि में 11 बजे से सुबह के 5 बजे के अनुरूप समय के बीच  ही भारी लोडर वाहनों के प्रवेश का अनुपालन करवाने के निर्देश दिये। उन्होनें समिति को निर्देश दिये कि शिमला बाईपास रूट पर विकासगनर की ओर से आने वाले रूट की निगरानी के लिए धर्मावाला ओर जाने वाले रूट के लिए नया गांव में चैकपोस्ट स्थापित करते हुए गुजरने वाले वाहनों की निगरानी करें। रूट पर पंजाब-हरियाणा-हिमाचल से आने वाले वाहनों के इलैक्ट्रानिक  न0 की स्कैनिंग करते हुए निगरानी करें तथा अनाधिकृत व ओवरलोडिंग वाहनों पर नियमानुसार सख्त कार्यवाही करें। साथ ही फर्जी ई-रवन्ना बनाने वाले गिरोह की जांच करते हुए उन पर सख्त कार्यवाही करें। जिलाधिकारी ने सहायक संभागीय परिवहन अधिकारी को चैकपोस्ट पर अनाधिकृत वाहनों की जांच करते हुए कार्यवाही करने तथा जिला खनन अधिकारी को सभी खनन वाहनों में जीपीएस लगाने हेतु आवश्यक होमवर्क करने के पश्चात सम्बन्धित खनन एसोसिएशन से समन्वय करते हुए इसका अनुपालन करवाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि हम हर-हाल में 15 जनवरी 2020 तक खनन वाहनों में जीपीएस सिस्टम लगाना चाहते हैं, जिससे खनन में लगे सभी वाहनों की आॅनलाईन माॅनिटिरिंग संभव हो सके। उन्होनें कहा कि समिति में जुड़े विभिन्न विभाग अवैध खनन की रोकथाम और इससे होने वाली दुर्घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए एम्पावरमैन्ट, औचक निरीक्षण को अमल में लाते हुए अपनी सिफारिश प्रस्तुत करेंगे। इस अवसर अपर जिलाधिकारी प्रशासन रामजी शरण शर्मा, उप जिलाधिकारी विकासनगर कौस्तुभ मिश्र, पुलिस क्षेत्राधिकारी सदर अनुज कुमार, सहायक सभागीय परिवहन अधिकारी द्वारिका प्रसाद, जिला खनन अधिकारी वीरेन्द्र कुमार उपस्थित थे।

राष्ट्रीय उद्यमिता एवं लघु व्यवसाय विकास संस्थान के कार्यों की केंद्रीय मंत्री ने की समीक्षा 


 

देहरादून। राष्ट्रीय उद्यमिता एवं लघु व्यवसाय विकास संस्थान के क्षेत्रीय कार्यालय देहरादून का डाॅ0 महेन्द्र नाथ पाण्डे मंत्री कौशल विकास एवं उद्यमशीलता मंत्रालय भारत सरकार ने दौराकर संस्थान द्वारा किये जा रहे कार्यों की प्रगति की समीक्षा की। मंत्री जी द्वारा निसबड क्षेत्रीय कार्यालय, देहरादून आगमन पर संस्थान की निदेशक डाॅ0 पूनम सिन्हा ने उनका स्वागत किया एवं आभार प्रकट कर क्षेत्रीय कार्यालय से संचालित विभिन्न कार्यक्रमों की जानकारी दी गई। इस दोैरान निसबड से प्रशिक्षित उद्यमियों द्वारा अपने उत्पाद की प्रदर्शनी भी लगाई गई थी जिसमें जूट उत्पाद, खादी उत्पाद, खाद्य प्रसंस्करण, एल0ई0डी उत्पाद, सैनेटरी नैपकिन तथा सौन्दर्य प्रसाधन के उत्पादों को प्रदर्शित कर किस प्रकार इससे रोजगार संवर्धन किया जाता है इसकी जानकारी दी गयी। 

मंत्री जी द्वारा संस्थान में आयोजित विभिन्न प्रशिक्षणों में प्रतिभाग करने वाले प्रतिभागियों से वार्ता कर उन्हे मंत्रालय की ओर से पूर्ण सहयोग करने का भरोसा दिया गया। इस अवसर पर मंत्री महोदय द्वारा संस्थान के कार्यों की सराहना की गयी। उन्होने कहा कि उद्यमिता विकास केन्द्र सरकार कीे प्राथमिकता मे है। सरकार के इस कार्य को निसबड जैसे- संस्थानों के माध्यम से जन-जन तक पहुॅचाने का कार्य किया जाये। निसबड स्वरोजगार सृजन की दिशा में उत्कृष्ट कार्य कर रहा है।'' समाज के सभी वर्गों को उद्यमिता का भाव रखकर स्वरोजगार स्थापित करने की दिशा में कार्य करना चाहिए। उन्होने कहा है कि उत्तराखण्ड से उनका गहरा नाता रहा हैं। राज्य पृथक होने से पहले वह राज्य सरकार के मंत्री के रूप में कार्य करने के दौरान उन्हे उत्तराखण्ड को करीब से जानने का मौका मिला। उत्तराखण्ड की महिलाऐं जीवित्ता का रूप है और यह देखकर की निसबड उत्तराखण्ड महिलाओं की आजाविका संवर्धन हेतु विशेष रूप से कार्य कर रहा है। जिस हेतु उन्होने संस्थान की महानिदेशक तथा निदेशक को शुभकामनाऐं दी।

उन्हांेने अपने संबोधन में कहा कि संस्थान की गतिविधियों को देखते हुऐ परिसर को विस्तार करने के लिऐ मैं जल्द ही रणनीति तय कर उस पर कार्य करना प्रारम्भ करेंगे। जिससे उत्तराखण्ड के युवाओ, महिलाओं के साथ समाज के सभी वर्गों को विकास की मुख्य धारा के साथ जोड़ कर राष्ट्र को सशक्त करने की दिशा में प्रधानमंत्री जी के प्रयासों को सफल किया जा सके। इस अवसर पर संस्थान की निदेशक डाॅ0 पूनम सिन्हा ने मंत्री जी का आभार व्यक्त करते हुऐ कहा कि मंत्री जी के कुशल मार्गदर्शन एवं महानिदेशक के नेतृत्व में संस्थान उद्यमिता विकास के कार्यों को सकारात्मकता के साथ पूर्ण कर स्वरोजगार स्थापित करने के लिऐ प्रेरणा तथा सहयोग प्रदान करने का कार्य कर रहा है। उन्हांेने कहा कि संस्थान का क्षेत्रिय कार्यालय, भारत सरकार तथा राज्य सरकार के विभिन्न विभागों के साथ मिल कर स्वरोजगार सृजन की दिशा में विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन पूरे प्रदेश में कर रहा है। इस अवसर पर संस्थान के विरेन्द्र सजवाण, अमित सिंह, एल0पी0 भट्ट, अरूण बहादुर चन्द, तथा एन0एस0टी0आई0 के साकेत, प्रताप सिंह आदि मौजूद रहे। --------------------------------------------------------------- 

नेशनल हैंडलूम एक्सपो में पहाड़ी उत्पादों की धूम


 

देहरादून। परेड ग्राउंड में आयोजित नेशनल हैंडलूम एक्सपो में दून वासियों को उत्तराखण्ड के उत्पाद बहुत आकर्षित कर रहे हंै। एक्सपो में उत्तराखण्ड के विभिन्न जिलों से आए कारीगरों द्वारा अपने उत्पादों के स्टाल लगाए गए हैं। स्टॉलों में बहुत सी ऐसी चीजों को दिखाया गया है जो सिर्फ उत्तराखंड में ही पाए जाते हैं। पहाड़ से जुड़े विभिन्न उत्पादों का प्रदर्शन हैंडलूम एक्सपो में किया गया है। उत्तराखंड के उत्पादों की बात करें तो पहाड़ी दाल, पहाड़ी नमक, पहाड़ी चावल लोगों को खूब पसंद आ रहे हंै। हाथ से बनाये गर्म कपड़े भी लोगों को खूब भा रहे हंै। ग्राहकों की बढ़ती तादात देखकर बुनकर काफी खुश नजर आ रहे हंै। यह सभी प्रोडक्ट्स अलग-अलग डिजाइन में मौजूद हंै और लोगों को बहुत आकर्षित कर रहे हैं। वूलेन बेडशीट के चादर का स्टॉल सुलेमान अंसारी ने लगाई है जो हरिद्वार से हैं। उनका कहना है कि यह बेडशीट वूल से बना हुआ है और बहुत ही गरम होता है। यह बेडशीट 600 से 850 तक की है। यह अलग अलग डिजाइन में उपलब्ध है। पिछले वर्ष मुकाबले इस वर्ष ज्यादा लोग एक्सपो को देखने आ रहे हैं। उपनिदेशक उद्योग शैली डबराल, मेला अधिकारी केसी चमोली, जगमोहन बहुगुणा द्वारा स्टाॅलों का निरीक्षण किया गया। 

डीएम ने केन्द्र पोषित शहरी विकास योजनाओं की समीक्षा की

चमोली। जिलाधिकारी स्वाति एस भदौरिया ने मंगलवार को क्लक्ट्रेट सभागार में नगर पालिका के अधिशासी अधिकारियों की बैठक लेते हुए केन्द्र पोषित शहरी विकास योजनाओं की समीक्षा की। मौके पर जिन अभ्यर्थियों को प्रधान मंत्री आवास के तहत 80 प्रतिशत तक धनराशि का भगतान किया जा चुका है। उनके आवास हर हाल में 20 जनवरी तक पूरे करवाने के निर्देश दिए। 

काम पूरा नहीं होने पर डीएम ने अधिशासी अधिकारियों के वेतन रोकने के निर्देश दिए। डीएम ने सभी अधिशासी अधिकारियों को पीएम आवास और स्वच्छ भारत मिशन के तहत निर्धारित लक्ष्य को शतप्रतिशत हासिल करने और नगर क्षेत्रों में नवाचार के तहत इनोवेटिव कार्य कराने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने पीएम आवास योजना के तहत स्वीकृत आवास निर्माण कार्यो की धीमी प्रगति पर नाराजगी जाहिर करते हुए अधिशासी अधिकारियों को लाभार्थियों से जल्द आवास निर्माण कार्यों को पूरा कराने के निर्देश दिए। इसके अलावा पीएम आवास के तहत चिह्नित ऐसे लाभार्थी जो आवास निर्माण के इच्छुक नहीं है उनको आनलाइन डेटाबेस से हटाकर अन्य लाभार्थियों को आवास आवंटित करने हेतु शासन से स्वीकृति लेने के निर्देश दिए गए। जिलाधिकारी ने नवाचार के तहत नगर क्षेत्रों में कुछ इनोवेटिव कार्य कराने पर भी जोर दिया। उन्होंने नगर पालिका क्षेत्र के पार्को का सौन्दर्यीकरण, पार्किंग निर्माण, गौसदन निर्माण एवं अन्य आवश्यकताओं के अनुसार नए इनोवेटिव कार्य कराने को कहा। पालिकाओं की दुकानों के बकाया किराए एवं हाउस टैक्स वसूली की जानकारी लेते हुए जिलाधिकारी ने 20 जनवरी तक कम से कम 70 प्रतिशत तक वसूली सुनिश्चित करने तथा अगली बैठक में वसूली संबधी पूरी रिपोर्ट भी प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। नगर क्षेत्रों में बंदरों की समस्या को दूर करने के लिए अधिशासी अधिकारियों को वन विभाग से समन्वय स्थापित करने की बात कही। बैठक में अर्थ एवं संख्याधिकारी आनंद सिंह जंगपागी, अधिशासी अधिकारी अनिल पंत, एसपी नौटियाल, अंकित राणा, गुरदीप आर्या, रघुवीर राय, टंकार कौशल, बीना नेगी, एनआर तिवारी आदि उपस्थित थे।

माणा गांव के हस्तशिल्प में होगा बदलाव

चमोली। माणा गांव के हस्तशिल्प ऊनी वस्त्र नए डिजाइन में नजर आएंगे। माणा गांव की भोटिया जनजाति की महिलाओं को एक्सपोर्ट प्रमोशन कौंसिल फॉर हैंडीक्राफ्ट की ओर से नए डिजाइन वाले ऊनी कपड़ों के निर्माण का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। ये कपड़े बाजार में चल रही डिजाइन कपड़ों की भरपाई करेंगे। आज की चकाचैंध में माणा गांव के ऊनी वस्त्रों की डिमांड कम हुई है। एक्सपोर्ट प्रमोशन कौंसिल फॉर हैंडीक्राफ्ट की ओर से हैंडीक्राफ्ट मिशन के तहत माणा गांव के ऊनी कपड़ों को डिजाइन कर बाजार में उतारा जाएगा। निदेशक राकेश कुमार ने बताया कि आज बाजार में डिजाइन वाले कपड़ों की भरमार से माणा गांव के ऊनी वस्त्रों की घ्डिमांड नहीं बढ़ पा रही है। माणा गांव के ऊनी दोखा, मफलर, टोपी, स्वेटर, पंखी, कंबल, कोट, कुर्ता जैसे कपड़ों का निर्माण आज भी पुराने डिजाइन से ही होता आ रहा है। माणा गांव के परिधानों को नया लुक देने का प्रयास किया जा रहा है। जिससे यहां के कपड़ों की बाजार में डिमांड बढ़ सके। साथ ही यहां के ऊनी डिजाइन वस्त्रों की देश के दूसरे हिस्सों में भी बिक्री हो सके।

नए साल पर राशन कार्ड धारकों को स्मार्ट कार्ड मिलेंगे

पौड़ी। एक देश एक राशन कार्ड की तर्ज पर जिले के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति महकमे ने राशन कार्ड धारकों के स्मार्ट कार्ड बनाने की प्रक्रिया शुरू कर दी। अभी तक जिलेभर में सभी कार्ड धारकों के डाटा को ऑनलाइन करने का काम किया गया था। इस डाटा में संशोधन के लिए भी समय दिया गया है। इसी ऑनलाइन डाटा के अनुसार स्मार्ट कार्ड बनाए जाएंगे। इस स्मार्ट कार्ड में एक तरफ परिवार के मुखिया का फोटो चस्पा होगा तो दूसरी तरफ परिवार के सभी सदस्यों की डिटेल होगी। जिलापूर्ति अधिकारी पौड़ी केएस कोहली ने बताया कि जिले के 1 लाख 76 हजार 981 राशन कार्डों की साढ़े 6 लाख से अधिक यूनिटे हैं। कार्ड धारकों के जो डाटा ऑन लाइन हुआ है उसमें त्रुटियां भी है। इन्हें दूर करने के लिए उपभोक्ताओं को समय दिया गया है। इस काम के लिए एक एजेंसी का चयन भी किया जा रहा है। हालांकि दो बार टेंडर प्रक्रिया अपना ली गई लेकिन एजेंसी का चयन नहीं हो सका। एक बार फिर टेंडर जारी किए जा रहे हैं। अभी जो कार्डधारक अपने डेटा बेस में संशोधन करवाना चाहता है वह पौड़ी मुख्यालय सहित कोटद्वार और श्रीनगर आदि स्थानों पर इसमें सुधार करवा सकता है। एजेंसी चयन के बाद यह काम और भी आसान हो जाएगा। एक बार स्मार्ट कार्ड बन जाने के बाद इसी से राशन उपभोक्ताओं को मिल सकेगी। हालांकि स्मार्ट कार्ड के बन जाने के बाद उपभोक्ताओं को यह भी सहूलियत बाद में मिल सकेगी कि वह किसी भी गल्ला विक्रेता से अपनी राशन ले सकता है। फिलहाल यह सुविधा शुरूआती चरण में नहीं होगी।

नागरिकता संशोधन काननू की भ्रांति दूर करेगी बीजेपी

पौड़ी। भारतीय जनता पार्टी की मंगलवार को पौड़ी में नागरिकता संशोधन कानून पर कार्यशाला का आयोजन किया गया। कार्यशाला में जिलेभर के पार्टी कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों ने हिस्सा लिया। कार्यशाला में कानून की जानकारी घर-घर तक पहुंचाने पर जोर दिया गया। कार्यशाला में मुख्य वक्ता प्रदेश महामंत्री राजेंद्र भंडारी ने कहा कि सीएए की जानाकरी बूथ स्तर पर पार्टी कार्यकर्ता पहुंचाएं। भंडारी ने कहा कि कानून को लेकर संपर्क और संवाद रखना होगा ताकि आम लोगों को इसकी पूरी जानकारी हासिल हो सके।

 भंडारी ने कहा कि विधानसभावार और मंडलवार बैठकों का जिम्मा भी संबंधित विधायकों को दी गई। विधायक पौड़ी मुकेश कोली ने कहा कि केंद्र सरकार ने इस तरह के कानून को लाने का प्रयास किया है। कुछ लोग कानून को लेकर गलत भ्रांतियां फैला रहे हैं। लिहाजा सभी कार्यकर्ताओं को चाहिए कि वह इन भ्रांतियों को दूर करें। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए पौड़ी के जिलाध्यक्ष सम्पत सिंह रावत ने कार्यकर्ताओं का आह्वान किया कि कानून की पूरी जानकारी सभी को होनी जरूरी हो ताकि कोई संदेह न रहे। रावत ने कहा कि 5 जनवरी 2020 तक परिवहन मंत्री यशपाल आर्य का पौड़ी में कार्यक्रम प्रस्तावित है। 6 से 10 जनवरी तक विधानसभाओं में रैली आयोजित होगी। 11 से 15 जनवरी तक प्रबुद्ध सम्मेलन होंगे जबकि इससे पूर्व मंडल और बूथ स्तर तक बैठक आयोजिते होगी। इस मौके जिला पंचायत अध्यक्ष पौड़ी शांति देवी, दायित्वधारी राजेंद्र प्रसाद अण्थवाल, पालिकाध्यक्ष यशपाल बेनाम,नगराध्यक्ष क्रांति किशोर, पूर्णकालिक जेबी रावत, ब्लाक प्रमुख एकेश्वर नीरज पांथरी, पूर्व प्रमुख संतोषी रावत,मधुखुगशाल, मातवर सिंह नेगी, राजकुमार पोरी, महावीर सिंह, सुषमा रावत, सुमनलता ध्यानी,दलवीर सिंह नेगी,कमला रावत,कमल रावत, ओपी जुगरान, संजय पटवाल,कमल किशोर,ऊषा थपलियाल, सुरेंद्र जुगरान,सुभाष कुमार ,राजकुमार रावत आदि मौजूद रहे। संचालन जिला महामंत्री विरेंद्र सिंह रावत ने किया।

कांजी हाउस खोलने की उठाई मांग

पौड़ी। योगी गो रक्षा समिति संगठन ने गो संरक्षण के लिए शहर में कांजी हाउस खोलने की मांग डीएम से की है। साथ ही आवारा गोवंश को सड़कों पर छोड़ने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग भी की गई है। समिति की गढ़वाल मंडल अध्यक्ष कुसुम चमोली ने डीएम धीराज सिंह गर्ब्याल को ज्ञापन देकर कहा है कि शहर में लावारिश गोवंश बड़ी संख्या में घूम रहे है। जिससे गोवंशों के साथ सड़क दुर्घटनाओं के साथ ही गोवंश को कड़ाके की ठंड में दिक्कतें होती है। लिहाजा शहर में जल्द ही कांजी हाउस का निर्माण किया जाना जरूरी है। उन्होंने डीएम से जल्द ही शहर में कांजी हाउस खोलने की मांग की है।

------------------------------------------------------

मलासी महामिलन समारोह में स्वरोजगार अपनाने पर दिया जोर

पौड़ी। पयासू गांव में आयोजित मलासी महामिलन समारोह के दूसरे दिन गांव की बंजर जमीन पर चकबंदी के आधार पर फलोत्पादन, सौर ऊर्जा संयंत्र स्थापित करने, बीरान व खंडहर पड़े मकानों में मशरूम उत्पादन करने, साहसिक पर्यटन, पशुपालन करने के लिए युवाओं ने अपने विचार रखे। युवाओं ने कहा कि इस संबंध में शासन-प्रशासन से संपर्क कर गांव में विकास योजनाएं स्थापित कर महानगरों में रह रहे युवाओं को गांव में ही रोजगार के अवसर कराने के प्रयास किए जाने का प्रस्ताव पारित किया गया। समारोह में गांव की महिलाओं ने नंदा देवी की वंदना करके झूमेलो गीत गाए और कीर्तन-भजन भी किए। मंगलवार को डा. चंद्रबल्लभ मलासी (आईएफएस) की अध्यक्षता में आयोजित सम्मेलन में विभिन्न समस्याओं पर चर्चा की गई। वक्ताओं ने कहा कि पयासू गांव को आधार बनाकर कार्ययोजना तैयार की जानी चाहिए। इस अवसर पर सर्वसम्मति से एक समिति का गठन किया गया, जिसमें अनसूया प्रसाद मलासी को अध्यक्ष, जयंती बल्लभ उपाध्यक्ष, शैलेश मलासी सचिव, भैरव दत्त कोषाध्यक्ष, विमल चंद्र संप्रेक्षक बनाए गए। कार्यकारिणी के संरक्षक मंडल में डा. चंद्र बल्लभ, लज्जाराम, सुभाष चंद्र व शशि प्रसाद को शामिल किया गया जबकि नरेश मलासी, कमल मलासी, प्रमोद मलासी, सुनीता, अनीता, उमाचरण मलासी, मातंग मलासी, आशुतोष मलासी, प्रमोद मलासी, सौरभ, प्रवेश, नागेश, रूपेश, मुकेश मलासी को सदस्य बनाया गया। समारोह में तय किया गया कि मलासी उत्थान सेवा समिति के नाम से समिति का पंजीकरण किया जाएगा। इस मौके पर बीएम मलासी, कुसुमलता, राम शरण, लालाराम मलासी, सूरज मणि, नेत्रमणि, अतुल कुमार, प्रेम बल्लभ मलासी, महेश चंद्र आदि मौजूद रहे।

भाषा प्रबोधन वर्ग में संस्कृत भाषा सीखें

टिहरी। संस्कृत भाषा के प्रसार एवं जन-जन तक संस्कृत भाषा व्यवहारिक भाषा बनाने के उद्देश्य से हर वर्ष की तरह इस वर्ष भी 10 दिवसीय भाषा प्रबोधन वर्ग आयोजित की जा रही है। यह जानकारी देते हुये टिहरी जनपद संयोजन डा. शक्ति प्रसाद उनियाल ने बताया कि इस वर्ग में संस्कृत भाषा में वार्तालाप करना सिखाया जायेगा। यह वर्ग उत्तराखंड के दो स्थानों पर लगाया जायेगा। कुमाऊं संभाग में 1 से 10 जनवरी तक हल्द्वानी में और गढ़वाल के मानव कल्याण आश्रम कनखल हरिद्वार में 2 से 12 जनवरी तक आयोजित किया जायेगा।

राज्य स्तरीय अबेकस प्रतियोगिता के लिए शुभम व शुभन चयनित

टिहरी। जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान (डायट) टिहरी में जिला स्तरीय अबेकस प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। प्रतियोगिता मे जिले के सभी ब्लॉकों के छात्रों व शिक्षकों ने प्रतिभाग किया। प्रतियोगिता मे उत्कृष्ठ प्रदर्शन करने वाले शुभन नौटियाल व शुभम कुमार का चयन राज्य स्तर के लिए किया गया। जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान (डायट) में आयोजित अबेकस प्रतियोगिता का शुभारंभ संस्थान प्राचार्य चेतन प्रसाद नौटियाल ने किया। चार चरणों में आयोजित हुई प्रतियोगिता में जिले के विभिन्न स्कूलों से आए 52 छात्र-छात्राओं व 25 शिक्षकों ने प्रतिभाग किया। इस मौके पर छात्रों तथा अध्यापकों को अबेकस उपकरण के माध्यम से गणित को सरल बनाने का सुझाव भी दिए गए। प्रतियोगिता मे राप्रावि जमुंडा क्यारी प्रतापनगर शुभन नौटियाल व राप्रावि ढालवाला नरेंद्रनगर के शुभम कुमार का चयन राज्य स्तर के लिए किया गया। इस मौके पर सीईओ शिव प्रसाद सेमवाल, डीईओ सुदर्शन बिष्ट, समन्वयक जितेन्द्र सिंह राणा, अशोक कुमार सिंह, डॉ. वीर सिंह रावत, अंजना संजवाण, देवेन्द्र सिंह भण्डारी, मीनाक्षी त्यागी, निर्मला सिंह, चन्द्रमणि आदि मौजूद रहे।

------------------------------------------------

रासायनिक आपदा विषय पर माॅक अभ्यास का आयोजन 


 

हरिद्वार। राष्ट्रीय आपदा प्रबन्धन प्राधिकरण भारत सरकार के सहयोग से राज्य आपदा प्रबन्धन एवं पुनर्वास विभाग, उत्तराखण्ड शासन द्वारा जनपद हरिद्वार में औद्योगिक आपदाओं की संवेदनशीलता के दृष्टिगत रासायनिक आपदा विषय पर माॅक अभ्यास के सम्बन्ध में आॅरयंटेशन कम काॅर्डिनेशन टेबल टाॅप एक्सरसाइज एंड माॅक एक्सरसाइज आज कलेक्ट्रट सभागार में की गयी। इस अभ्यास बैठक में जनपद स्तरीय अधिकारी जिनको जिनको जिला आपदा प्रबंधन उत्तरदाय अधिकारी नियुक्त किया गया है तथा विभिन्न इंडस्ट्रीयल एसोसिएशन के पदाधिकारी भी उपस्थित रहे। 

बैठक की अध्यक्षता प्रभारी जिलाधिकारी  विनीत तोमर ने की जिसमें वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सेंथिल अबुदई, अपर जिलाधिकारी वित्त के के  मिश्र, अपर जिलाधिकारी प्रशासन बीके मिश्र सहित पुलिस प्रशासन के अधिकारी उपस्थित रहे। औद्योगिक रासयनों में किसी प्रकार के विस्फोट, गैस रिसाव तथा भूकम्प आदि के प्रभाव से कैमिकल दुर्घटनाओं को रोकने तथा जान माल की क्षति को कम करने के लिए औद्यौगिक इकाईयों की तैयारियों को लेकर समीक्षा की गयी। प्लानिंग बैठक मे औद्यौगिक इकाईयों की तैयारी तथा रिस्पाॅस सिस्टम को परखने के लिए जिला प्रशासन, औद्योगिक इकाईयां, साामजिक प्रतिनिधियों द्वारा एक माॅक ड्रिल के माध्यम से आॅडिट किये जाने की भी जानकारी दी गयी है। यह आॅडिट किसी भी फैक्टरी में किसी भी समय किया जायेगा। 

इस सम्बन्ध में आपदा प्रबंधन विशेषज्ञ बीबी गणनायक ने आपदा के दौरान होने वाली हानि को कम करने के लिए सभी को प्री प्लानिंग तथा तैयारी के विषय पर सम्बोधन दिया। उन्होंने इस विषय पर एक विस्तृत प्रेजेंटेशन के माध्यम से जागरूक किया। श्री गणनायक ने किसी प्रकार की आपदा के समय में जिला प्रशासन तथा इंसीडिंट रिस्टपॅास टीम के साथ साथ औद्योगिक इकाईयों की जिम्मेदारी भी स्पष्ट रूप् से बतायी। उन्होंने कहा कि सभी इण्डस्ट्री अपने यहां प्रयोग होने वाले रासायनिकों तथा गैस आदि की विस्तृत डिटेल से जिला प्रशासन को अवगत कराये तथा जिला प्रशासन उक्त जानकारी शासन स्तर पर शीघ्र ही प्रेषित करे। 

---------------------------------------------------------------------

जनवरी के पहले सप्ताह में आँखों से बनाए जायेंगे आयुष्मान कार्ड


हरिद्वार। प्रधानमंत्री जनारोग्य योजना के तहत बनाये जा रहे आयुष्मान कार्ड (गोल्डन कार्ड) से बहुत से ऐसे लोग वंचित रह गए, जिनके फिंगर प्रिंट नही आ पा रहे थे। उनके लिए जनवरी माह में आँखों से बनाएं जायेंगे आयुष्मान कार्ड।  

 जिला अस्पताल हरिद्वार के आयुष्मान कार्ड प्रभारी सुमित तिवारी ने बताया कि प्रधानमंत्री जनारोग्य योजना के तहत बनाये जा रहे आयुष्मान कार्ड (गोल्डन कार्ड) से बहुत से ऐसे लोग वंचित रह गए, जिनके फिंगर प्रिंट नही आ पा रहे थे। सुमित तिवारी ने बताया कि शहर में विभिन्न जगह के माध्यम से प्राप्त जानकारी के मुताबिक ऐसे सैंकड़ो लोगों के आयुष्मान कार्ड नही बन पाए जिसका मुख्य कारण उनके फिंगरप्रिंट था। ऐसे तमाम लोगों की सुविधा के लिए जनवरी के प्रथम सप्ताह में एक सप्ताह के लिए ऐसे कैम्प का आयोजन किया जायेगा जिसमे सिर्फ आँखों की रेटिना स्कैन द्वारा कार्ड बनाये जाएंगे। इसलिए 5 जनवरी से पहले सभी लोग अपने आयुष्मान कार्ड बनवा लें। क्योंकि आंखों द्वारा बनने वाले कार्डो के कैम्प में फिंगर प्रिंट से कार्ड नही बनाये जायेंगें।

ब्लैक स्पॉट की संख्या सही होने पर ही दुघर्टनाओं पर लगाम लगायी जा सकतीः एसएसपी  


हरिद्वार। प्रभारी जिलाधिकारी हरिद्वार विनीत कुमार तोमर की अध्यक्षता में जिला सड़क सुरक्षा समिति की बैठक आयोजित की गयी। यह बैठक वर्ष में चार बार अयोजित की जाती है। बैठक में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक हरिद्वार सेंथिल अबुदई, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व के.के. मिश्र, एसपी ट्रैफिक आयुष अग्रवाल, एसपी सिटी कमलेश उपाध्याय, एसडीएम भगवानपुर पाण्डेय, एआरटीओ प्रशासन तथा प्रवर्तन समिति के अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

  बैठक में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने पुलिस, एसडीएम तथा परिवहन विभाग की संयुक्त टीम द्वारा पुनः ब्लैक स्पॉट चिन्हित किये जाने को कहा। उन्होंने कहा कि ब्लैक स्पॉट की संख्या सही होने पर ही दुघर्टनाओं पर लगाम लगायी जा सकती है। सार्वजनिक सेवायान से दुर्घटना की स्थिति में उत्तराखण्ड दुर्घटना राहत निधि से वितरित मुआवजा धनराशि के प्रकरणों की भी समीक्षा श्री तोमर ने की। उन्होंने कहा कि इन मुआवजा राशि का वितरण निर्धारित समय समय में किया जाये इसके लिए एसडीएम, सम्बंधित क्षेत्र का थाना व परिहन विभाग सभी कार्रवाई समय से तालमेल बनाकर करना सुनिश्चि करें।

सड़क दुर्घटनाओं में संवेदनशीलता को अपनाते हुए सड़क निर्माण विभाग, पुलिस तथा यातायात विभाग अपने दायित्वों का तत्परता से अनुपाल करे। एनएच के अधिकारियों ने बताया कि पुराने रिफलेक्टिंग बोर्ड कोहरे में सही ढंग से कार्य करें इसके लिए पुराने बोर्ड को बदल कर नये बोर्ड लगाये जाने की प्रक्रिया शुरू कर दी गयी है। जनपद की सड़कों पर क्रैश बैरियर, सूचना संकेत बोर्ड, ट्रैफिक कॉमिंग के कार्यो की भी समीक्षा की। उन्होंने सड़क और यातायात के नियमों तथा दुर्घटना की स्थिति में पुलिस तथा प्रशासन की ओर से किये जाने वाले राहत कार्यो की सूचनाओं और जानकारियों का व्यापक प्रचार प्रसार किये जाने के निर्देश एआरटी व पुलिस को दिये।  

सीएम पोर्टल की शिकायतों का समय से निस्तारण न किये जाने पर एडीएम ने अधिकारियों को चेताया


 

हरिद्वार। अपर जिलाधिकारी नोडल अधिकारी सीएम हेल्पलाइन कृष्ण कुमार मिश्र ने ऑनलाइन पोर्टल पर शिकायकर्ताओं द्वारा आ रही शिकायतों व निस्तारण की स्थिति की समीक्षा की। उन्होंने जिला स्तर पर निस्तारित होने वाली शिकायतें अर्थात जो लेवल वन पंजीकृत हो रही हैं, सभी का निर्धारित अवधि में निस्तारण न किये जाने पर अधिकारियों को चेताया। 

उन्होंने अधिकारियों को ऑनलाइन पंजीकृत शिकायतों को गंभीरता से लेते हुए निर्धारित समय में निस्तारित कर रिपोर्ट प्रेषित किये जाने की बात कही। उन्होंने कहा कि कई अधिकारी अपनी आईडी लॉगइन नहीं कर रहे हैं, जिससे शिकायतें लेवल वन से उपर उच्च अधिकारी लेवल चार तक चली गयी हैं। उन्होंने ऐसी शिकायतों को तत्काल जांच कर निस्तारण रिपोर्ट उच्च अधिकारी को प्रेषित कर निस्तारण के निर्देश दिये। श्री मिश्रा ने कहा कि एल वन अधिकारी नियमित रूप से अपनी आईडी लॉगइन कर जांच करें कि कोई शिकायत चैक न होने या आंशिक निस्तारण न होने के कारण लेवल 2,3,4 पर तो पैंडिंग नहीं हो गयी है।

किसी भी स्थिति में शिकायतों की पैंडेंसी न बढ़ायें, अपने स्तर से निस्तारण न किये जा सकने वाली शिकायतों पर समय से रिपोर्ट लगाकर शिकायतकर्ता को अवगत करायें। उन्होंने विभागवार पैंडिंग शिकायतों का विवरण भी अधिकारियों को बताते हुए कहा कि शीघ्र ही कार्य को प्राथमिकता पर करायें। यदि इसके बाद भी शिकायतें पैंडिंग रहती हैं तो शासन के निर्देशानुसार दण्डात्मक र्कारवाई अमल में लायी जायेगी।  

नए साल का जश्न मनाने को औली में पर्यटकों का हुजूम उमड़ा

जोशीमठ। नए साल के जश्न के लिए औली में पर्यटकों का हुजूम उमड़ पड़ा। मंगलवार सुबह से ही गाड़ियां भर-भर के पर्यटक जोशीमठ पहुंचने लगे। दरअसल कई साल बाद दिसंबर महीने में औली में इतनी अच्छी बर्फबारी हुई है। जिसके चलते इतनी भारी तादात में पर्यटक यहां पहुंचे हैं। वहां से रोपवे और सड़क मार्ग से औली पहुंचने के लिए उत्साहित पर्यटकों की भारी भीड़ लगी रही। दोपहर तक करीब छह हजार पर्यटक औली पहुंच चुके थे। जोशीमठ से औली तक हर तरफ पर्यटक ही पर्यटक नजर आ रहे हैं। औली के अलावा आसपास के अन्य पर्यटन स्थल सभी पर्यटकों से भरे रहे। थर्टी फर्स्ट के जश्न के लिए औली में एक सप्ताह पूर्व से ही यहां पर्यटक पहुंचने शुरू हो गए थे। लेकिन मंगलवार को तो पर्यटक हजारों की संख्या में पहुंच गए। स्थिति यह थी कि शाम तक पर्यटकों के आने का सिलसिला जारी रहा। औली पहुंचकर वहां का नजारा देखकर पर्यटक प्रफुलित नजर नजर आ रहे। पर्यटकों की भीड़ का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि जोशीमठ से लेकर औली तक सभी होटल और गेस्ट हाउस फुल हैं, इसके अलावा कई अपने टैंट लेकर आए हैं। रोपवे से औली पहुंचने के लिए सुबह से ही पर्यटकों की भीड़ उमड़ रही है। जोशीमठ-औली मोटर मार्ग पूरे दिन वाहनों की आवाजाही से व्यस्त रहा। कई ऐसे पर्यटक भी थे जो पैदल ही जोशीमठ से औली पहुंच रहे थे। सहायक पर्यटन अधिकारी हीरा लाल आर्य का कहना है कि मंगलवार को औली में छह हजार से अधिक पर्यटक पहुंचे हैं। कई पर्यटक पैदल ही प्रकृति का आंनद लेते हुये औली पहुंच रहे हैं। 

सगाई में आए युवक ने बुजुर्ग महिला के साथ किया दुष्कर्म

 रुड़की। रुड़की में सगाई में आए एक युवक ने घर में बुजुर्ग महिला को अकेला पाकर उससे दुष्कर्म कर दिया और फरार हो गया। महिला ने घटना की जानकारी अपनी बेटी को दी। बेटी ने आरोपी युवक के खिलाफ तहरीर दी है।

पुलिस ने तहरीर के आधार पर युवक के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। साथ ही बुजुर्ग महिला का मेडिकल कराया है। सिविल लाइंस कोतवाली क्षेत्र स्थित एक गांव में एक युवक की 25 दिसंबर को सगाई थी। सगाई में उसका रिश्तेदार ज्वालापुर निवासी एक युवक भी आया था। आरोप है कि युवक रात में पड़ोस में अकेली रहने वाली एक 65 वर्षीय बुजुर्ग के घर में घुस गया। युवक ने बुजुर्ग को डरा धमकाकर दुष्कर्म किया। साथ ही शोर मचाने पर जान से मारने की धमकी दी। घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी मौके से फरार हो गया। पीड़ित बुजुर्ग महिला ने अगले दिन घटना की जानकारी अपने बेटी को दी। बेटी ने अपनी मां के घर पहुंचकर जानकारी ली। साथ ही आरोपी युवक के खिलाफ कोतवाली पहुंचकर तहरीर दी। एसएसआई प्रदीप कुमार ने बताया कि तहरीर के आधार पर आरोपी के खिलाफ दुष्कर्म का केस दर्ज कर लिया गया है। जल्द ही उसकी गिरफ्तारी की जाएगी। उन्होंने बताया कि इस बाबत आरोपी युवक के रिश्तेदारों से भी जानकारी ली जा रही है, वहीं पीड़ित बुजुर्ग महिला का मेडिकल कराया गया है। 

कारोबारी के साढ़े चैदह लाख रुपये लेकर सिक्योरिटी गार्ड फरार, मुकदमा दर्ज 

देहरादून। कारोबारी के साढ़े चैदह लाख रुपये घर पहुंचाने के बजाय सिक्योरिटी गार्ड रकम लेकर फरार हो गया। कारोबारी ने जब गार्ड को फोन किया तो वह उन्हें धमकी देने लगा। मामले में राजपुर पुलिस ने सिक्योरिटी गार्ड के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है। 

पुलिस के अनुसार, अंकित रावत निवासी सीमाद्वार वसंत विहार ने बीते दो दिसंबर को धर्मपुर स्थित बैंक से साढ़े चैदह लाख रुपये निकाले। इस दौरान उनके साथ सिक्योरिटी गार्ड राजीव शर्मा भी बैंक गया हुआ था। रकम निकालने के बाद अंकित गार्ड के साथ पैसेफिक मॉल पहुंचे। यहां सुरक्षा के लिहाज से उन्होंने रकम गार्ड को देते हुए कहा कि वह इसे घर पहुंचा दे। इसके बाद अंकित अपनी दुकान में चले गए, लेकिन गार्ड काफी देर तक वापस नहीं लौटा तो अंकित ने गार्ड को फोन किया। फोन बंद आने पर उन्होंने अपने घर पर बात की। पता चला कि गार्ड यहां तो आया ही नहीं। अगले दिन उन्होंने किसी तरह उसके घर के बारे में जानकारी जुटाई, लेकिन गार्ड यहां भी यहां आया था। दो-तीन दिन बाद गार्ड का मोबाइल ऑन हुआ तो अंकित ने रकम के बारे में पूछा। गार्ड ने कहा कि वह रकम के बारे में भूल जाएं। दोबारा फोन किया तो उन्हें जान से मार देगा। एसओ अशोक राठौड़ ने बताया कि मामले में गार्ड के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। उसके मोबाइल नंबर की कॉल डिटेल निकलवाई जा रही है। जल्द ही उसे गिरफ्तार कर लिया जाएगा। 

--------------------------------------------------------

वर्ष 2019 भाजपा के जिए उपलब्धियों भरा रहाः अजय भट्ट, पार्टी की सदस्य संख्या बढ़कर 26 लाख हुई  


 

-कहा, कांग्रेस रोहिंग्या मुसलमानों को नागरिकता देना चाहती, इसलिए कर रही विरोध  

 

देहरादून। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून शरणार्थियों के लिए है। लेकिन कांग्रेस रोहिंग्या मुसलमानों को नागरिकता देना चाहती है, इसलिए विरोध कर रही है। उन्होंने कहा कि वर्ष 2019 भाजपा संगठन और सरकार के जिए उपलब्धियों भरा रहा। पार्टी द्वारा 26 लाख सदस्य बनाए गए। केंद्र से राज्य को 20 हजार करोड़ से भी ज्यादा बाह्य साहयतायित योजनाएं मिली।  

बलवीर रोड स्थित भाजपा प्रदेश मुख्यालय में आयोजित पत्रकार वार्ता में प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने कहा कि साल 2019 बीजेपी के लिए कई उपलब्धियों भरा रहा। पार्टी ने पहली बार लोकसभा की पांचों सीटों को लगातार दोबारा जीतने का श्रेय हासिल किया। नगर निकाय चुनाव, पंचायत चुनाव, सहकारिता चुनाव में भाजपा ने शानदार सफलता हासिल की। पार्टी ने राज्य में 13 में से 11 जिला पंचायतों पर कब्जा जमाया। सात में से पांच नगर निगम भाजपा ने जीते। अजय भट्ट ने कहा कि उत्तराखंड में पार्टी के सदस्यों की संख्या बढ़कर 26 लाख हो गई है। आने वाले साल में इसमें और इजाफा होगा। उन्होंने कहा कि पार्टी ने 250 में से 230 मंडल गठित कर दिए हैं। केंद्र से राज्य को 20 हजार करोड़ से भी ज्यादा बाह्य साहयतायित योजनाएं मिली। कहा कि नागरिकता संशोधन कानून शरणार्थियों के लिए है। लेकिन कांग्रेस रोहिंग्या मुसलमानों को नागरिकता देना चाहती है, इसलिए विरोध कर रही है। उन्होंने कहा भाजपा विपक्ष को बेनकाब करेगी। विपक्ष इस मुद्दे पर गैरजिम्मेदार बना हुआ है। उन्होंने कहा कि एनआरसी व सीएए में बड़ा अंतर है। पत्रकार वार्ता में पार्टी के मीडिया प्रमुख डा. देवेंद्र भसीन, दायित्वधारी वीरेंद्र सिंह बिष्ट, मीडिया सहप्रमुख शादाब शम्स, बलजीत सोनी आदि उपस्थित रहे।    

वर्ष 2019 भाजपा के जिए उपलब्धियों भरा रहाः अजय भट्ट, पार्टी की सदस्य संख्या बढ़कर 26 लाख हुई  


 

-कहा, कांग्रेस रोहिंग्या मुसलमानों को नागरिकता देना चाहती, इसलिए कर रही विरोध  

 

देहरादून। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून शरणार्थियों के लिए है। लेकिन कांग्रेस रोहिंग्या मुसलमानों को नागरिकता देना चाहती है, इसलिए विरोध कर रही है। उन्होंने कहा कि वर्ष 2019 भाजपा संगठन और सरकार के जिए उपलब्धियों भरा रहा। पार्टी द्वारा 26 लाख सदस्य बनाए गए। केंद्र से राज्य को 20 हजार करोड़ से भी ज्यादा बाह्य साहयतायित योजनाएं मिली।  

बलवीर रोड स्थित भाजपा प्रदेश मुख्यालय में आयोजित पत्रकार वार्ता में प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने कहा कि साल 2019 बीजेपी के लिए कई उपलब्धियों भरा रहा। पार्टी ने पहली बार लोकसभा की पांचों सीटों को लगातार दोबारा जीतने का श्रेय हासिल किया। नगर निकाय चुनाव, पंचायत चुनाव, सहकारिता चुनाव में भाजपा ने शानदार सफलता हासिल की। पार्टी ने राज्य में 13 में से 11 जिला पंचायतों पर कब्जा जमाया। सात में से पांच नगर निगम भाजपा ने जीते। अजय भट्ट ने कहा कि उत्तराखंड में पार्टी के सदस्यों की संख्या बढ़कर 26 लाख हो गई है। आने वाले साल में इसमें और इजाफा होगा। उन्होंने कहा कि पार्टी ने 250 में से 230 मंडल गठित कर दिए हैं। केंद्र से राज्य को 20 हजार करोड़ से भी ज्यादा बाह्य साहयतायित योजनाएं मिली। कहा कि नागरिकता संशोधन कानून शरणार्थियों के लिए है। लेकिन कांग्रेस रोहिंग्या मुसलमानों को नागरिकता देना चाहती है, इसलिए विरोध कर रही है। उन्होंने कहा भाजपा विपक्ष को बेनकाब करेगी। विपक्ष इस मुद्दे पर गैरजिम्मेदार बना हुआ है। उन्होंने कहा कि एनआरसी व सीएए में बड़ा अंतर है। पत्रकार वार्ता में पार्टी के मीडिया प्रमुख डा. देवेंद्र भसीन, दायित्वधारी वीरेंद्र सिंह बिष्ट, मीडिया सहप्रमुख शादाब शम्स, बलजीत सोनी आदि उपस्थित रहे।    

Monday, 30 December 2019

जनरल बिपिन रावत बने पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस)


नई दिल्ली। आर्मी चीफ जनरल बिपिन रावत देश के पहले चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) बन गए हैं। रक्षा मंत्रालय ने इसकी औपचारिक घोषणा की है। इस बीच जनरल बिपिन रावत ने सोमवार शाम को राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात की। गौरतलब है कि रक्षा मंत्रालय ने चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) की नियुक्ति संबंधी नियमों में संशोधन करते हुए उसकी सेवा की अधिकतम आयु बढ़ाकर 65 साल कर दी है। सेवानिवृत्ति की उम्र सीमा बढ़ाने के लिए सेना, नौसेना व वायुसेना के सेवा नियमों में संशोधन किया गया। इससे पहले सीडीएस की नियुक्ति तीन साल या 62 साल की अधिकतम उम्र के लिए मान्य है।


रक्षा मंत्री का प्रमुख सैन्य सलाहकार होगा सीडीएस


सुरक्षा मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति ने पिछले मंगलवार को चार स्टार जनरल को सीडीएस नियुक्त करने की हरी झंडी दी है। वह तीनों सेवाओं के बीच तालमेल बैठाने और रणनीति तय करने का काम करेगा। तीनों सेनाओं के मामले में उसकी भूमिका रक्षा मंत्री के प्रमुख सैन्य सलाहकार की होगी। सीडीएस के रूप में सेवानिवृत्त होने वाला सैन्य अधिकारी अन्य किसी पद के लिए योग्य नहीं माना जाएगा। वह सरकार की अनुमति के बिना सेवानिवृत्ति के बाद पांच साल तक निजी क्षेत्र में भी सेवाएं नहीं दे सकेगा।


कमानों के पुनर्गठन और तीनों सेनाओं के संयुक्त अभियानों की जिम्मेदारी


सीडीएस पर सैन्य कमानों के पुनर्गठन की जिम्मेदारी होगी, ताकि सेनाओं के संसाधनों का अधिकतम उपयोग हो। सेनाओं के संयुक्त अभियान और संयुक्त कमानों की स्थापना भी उसके प्रमुख कार्यों में शामिल होगा। अभियान, रसद, परिवहन, प्रशिक्षण, सहयोगी सेवाएं, संचार एवं तीनों सेनाओं के कार्य संवर्धन की जिम्मेदारी भी सीडीएस की होगी।


एनसीए का भी सैन्य सलाहकार होगा सीडीएस


सीडीएस परमाणु कमांड अथॉरिटी (एनसीए) का भी सैन्य सलाहकार होगा। साइबर और अंतरिक्ष से संबंधित तीनों सेनाओं की एजेंसियां, संगठन और कमान भी उसके अधीन काम करेंगे।


सीओएससी का चेयरमैन भी होगा


सीडीएस चीफ ऑफ स्टाफ कमेटी (सीओएससी) का भी चेयरमैन होगा। इससे पहले तीनों सेनाओं का सबसे वरिष्ठ अधिकारी सीओएससी का चेयरमैन होता था। फिलहाल सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत चेयरमैन हैं, जो 31 दिसंबर को सेवानिवृत्त होंगे। वह सीओएससी के चेयरमैन का पदभार नौसेना प्रमुख एडमिरल करमबीर सिंह सौंपने वाले थे, लेकिन शुक्रवार को स्थगित कर दिया गया। माना जा रहा है कि सरकार ने सीडीएस की नियुक्ति के बारे में निर्देश दिया है। 


अपने दिल में छुपी अलौकिक शक्ति को पहचानने के लिये अपने भीतर ध्यान दें


कमलेश डी. पटेल

जिन चीजों का अधिक उपयोग किया जाता है, वे बीतते समय के साथ फीकी पड़ जाती हैं। उदाहरण के लिये, हमें खुशी पसंद है। दुख कौन चाहता है? क्या हम दुख को आमंत्रित करते हैं? कोई नहीं करता। हम हर समय खुशी ही चाहते हैं, इसलिये अपनी इंद्रियों का अत्यधिक उपयोग करते हैं- शारीरिक और भावनात्मक-खुद को खुशी से भरने के लिये। खुद को खुश रखने के लिये हमें भीतर और बाहर अधिक से अधिक प्रोत्साहन चाहिये। यह इंद्रियों का अत्यधिक उपयोग है, भीतरी और शारीरिक।

दर्द, दुर्गति और उदासी में क्या होता है? इन्हें कोई नहीं चाहता। यदि फिर भी यह हमारे रास्ते में आएं, तो हम इन पर ध्यान नहीं देते हैं- मानो ध्यान नहीं देने से वे चले जाएंगे! चूंकि हम इन्हें नहीं चाहते हैं, इसलिये थोड़ी दुर्गति भी हमारे लिये बड़ी होती है। अत्यधिक उपयोग से खुशी फीकी पड़ जाती है, जबकि उदासी पर ध्यान न देने से वह विकट होती जाती है। यह आपको रेजर की तरह काटती है। आप उससे जितना बचते हैं, वह उतना ही आपको परेशान करती है। अपेक्षाएं भी ऐसी ही होती हैं, यदि हम अपने परिजनों से बहुत ज्यादा अपेक्षा करते हैं, तो वह भी भावनात्मक स्तर पर फीकी होती जाती है। ऐसा नहीं है कि मैं आपसे दुख को अपनाने के लिये कह रहा हूँ, लेकिन यदि वह आपके रास्ते में आता है, तो उसे छोटा मत समझिये। जब आपकी इंद्रियाँ दुख, आदि को झेलें, तब उससे गुजरिये और भगवान को धन्यवाद दीजिये। सुख और दुख हमेशा के लिये नहीं होता है। क्या आप हवा को अपनी मुट्ठी में रख सकते हैं? नहीं। यह क्षणिक है। भावनात्मक उतार-चढावों पर भी यही लागू होता है। इसलिये अपने भीतर छुपे भगवान पर ध्यान देना ठीक रहता है, जोकि आपके दिल में मौजूद अलौकिक शक्ति है। चाहे आप भगवान को न मानें, फिर भी यह ठीक है। इस प्रकार ध्यान लगाएं कि आपके मस्तिष्क का संतुलन बना रहे। संतुलित अवस्था में ही आप जीवन का आनंद ले सकते हैं।

जीवन में चीजों को ऐसे स्वीकार करें कि वे आपको फीका या पैना न बनाएं। यदि दुख आता है, तो उसकी आदत डालें, उससे बचें नहीं। अन्यथा थोड़ी सी असुविधा भी बड़ा कष्ट दे सकती है और इसलिये बाबूजी महाराज (राम चंद्र, शाहजहांपुर वाले) दुर्गति को भी आशीर्वाद के रूप में लेने की सलाह देते हैं। दुर्गति को आशीर्वाद के रूप में लेना बहुत कठिन है, यदि आप उसके पीछे का कारण न समझें। मेरी दृष्टि में खुशी का अत्यधिक उपयोग होने से वह फीकी हो जाती है, जबकि दुख का अत्यधिक उपयोग होने पर वह पैना होता जाता है। जब हम छोटे थे, हमारे पास बहुत सारे खिलौने नहीं थे और जितने भी थे, वह परिवार में साझा होते थे, पड़ोसियों में भी! आज बच्चों के कमरे खिलौनों से भरे हैं और खुशी फीकी पड़ गई है। हम नहीं चाहते कि हमारे बच्चे अपने जीवन में दुख या कठिनाई का सामना करें, लेकिन हमें यह बोध नहीं है कि ऐसा करने से हम उन्हें खराब कर रहे हैं। बाद में हम शिकायत करते हैं कि बच्चे बिगड़ गये हैं। एक के बाद एक, कई रोमांच हो सकते हैं- कई सारे रोमांचक पेन, खिलौने और नोटबुक। व्यर्थ चीजें बहुत हैं। यह आदत में आ जाता है। दिमाग व्यर्थ चीजों के लिये खुल जाता हैय और यह समय के प्रबंधन पर भी लागू होता है। मेडिसिन के क्षेत्र में भी ऐसा होता है। कोई व्यक्ति दवा की एक खुराक से शुरूआत करता है, उदाहरण के लिये 5 मि.ग्रा. की गोली, लेकिन कुछ महीने के बाद वह काम करना बंद कर देती है और उसकी खुराक बढ़ानी पड़ती है। हमारा सिस्टम बहुत जल्दी प्रोत्साहन का आदी हो जाता है, वह खूब खुशियाँ चाहता है और असुविधा तो बिलकुल नहीं चाहता

किसान है देश की रीढ़ः सुशील राठी

हरिद्वार। जगजीतपुर में किसान कांग्रेस की बैठक का आयोजन किया गया। बैठक की अध्यक्षता जगजीतपुर के पूर्व ग्राम प्रधान दिनेश वालिया और संचालन ललित वालिया ने किया। बैठक में मुख्य अतिथि किसान कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष व पूर्व राज्य मंत्री सुशील राठी का कार्यकर्ताओं ने फूल मालाओं व नारों के साथ गर्मजोशी के साथ  स्वागत किया। किसान कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष पूर्व राज्य मंत्री सुशील राठी ने बैठक में कहा कि किसान हमारे देश की रीढ़ है, किसानों के बिना देश की प्रगति असम्भव है। अगर देश-प्रदेश के किसानों पर ध्यान नहीं दिया गया तो हमारे देश का अन्नदाता भूखा मर जाएगा और देश की अर्थव्यवस्था और भी खराब हो जाएगी। राठी ने कहा कि जहां-जहां कांग्रेश सत्ता में आ रही है वहां-वहां किसानों का कर्ज माफ किया जा रहा है और इससे पहले भी कांग्रेस के शासनकाल में किसानों के कर्ज माफ किए गए। कांग्रेस की सरकार किसानों के लिए हर संभव मदद के लिए तैयार है। इसी के साथ किसान कांग्रेस के प्रदेश महामंत्री राहुल चैधरी ने बैठक में कहा कि गुस्से और अहंकार से देश नहीं चलता है जब से भारतीय जनता पार्टी सत्ता में आई है तब से उद्योगपतियों के कर्ज माफ किए जा रहे हैं। देश के किसान मजदूर गरीब की कोई चिंता नहीं है। अमीर और अमीर होता जा रहा है गरीब और गरीब होता जा रहा है। राहुल चैधरी ने कहा कि महात्मा गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू, राजीव गांधी, इंदिरा गांधी ने देश और देश की जनता के लिए अपने बलिदान देकर देश को प्रगतिशील बनाने का प्रयास किया, उनके बलिदानों को भुलाया नहीं जा सकता। आज की युवा पीढ़ी को भी महात्मा गांधी, जवाहरलाल नेहरू, राजीव गांधी इंदिरा गांधी को पढ़ना चाहिए ताकि वह उनकी उपलब्धियों के बारे में जान सकें। किसान कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष सुंदर मनवाल ने कहा कि आने वाले विधानसभा के चुनाव में कांग्रेस पार्टी सत्ता में वापसी करेगी जिसके लिए सभी को अभी से एकजुट होकर तैयारी में लग जाना चाहिए। इस अवसर पर कुलदीप चैधरी, पदम प्रकाश, पार्षद उदयवीर चैहान, मा. राजेंद्र वालियान, भूपेंद्र तोमर, संजय धीमान, रकम सिंह, संसार सिंह, प्रदीप कुमार, अभिनव चैधरी, लालू, राजदीप नैनवाल, सुमित भाटिया, अमन कुमार, रवि प्रकाश, शादाब अली, तस्वीर अली, सागर, पुरुषोत्तम, नीतू, अमित कुमार, इमरान अली, लखन सिंह, शुभम सैनी आदि सैकड़ों कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

----------------------------------------------------------

नयी उमंग सामाजिक संस्था ने बच्चों को बांटे उपहार 

हरिद्वार। कड़कड़ाती ठंड में क्रिसमस पर सेंटा तो ज्वालापुर पुल जटवाडा गरीबों की बस्ती में उपहार बांटने नहीं आया लेकिन नयी उमंग सामाजिक संस्था रूड़की के कार्यकर्ता समाजसेवी मनू के आग्रह पर बच्चों के बीच पहुंचें और बाल कल्याण समिति हरिद्वार के अध्यक्ष विनोद कुमार शर्मा, आशीष सैनी, गोविंद कृपा सेव समिति धर्मार्थ ट्रस्ट की अध्यक्ष अनीता वर्मा के साथ सड़क किनारे जीवन बीता रहे मासूम बच्चों को उपहार में गर्म कपड़े वितरित किये। इस मानवीय कार्य को ईश्वरीय कार्य बताते हुए बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष विनोद कुमार शर्मा ने नयी उमंग सामाजिक संस्था की सराहना की। उन्होंने कहा कि छोटा सा उपहार इन बच्चों के लिए बड़ी सी खुशी लेकर आया है। गोविंद कृपा सेवा समिति धर्मार्थ ट्रस्ट की अध्यक्ष अनीता वर्मा ने सड़क किनारे जीवनयापन करने वाले बच्चों को पढ़ाने की पहल करने वाली मनू और सहयोगी माला को शुभकामनाएं प्रदान करते हुए कहा कि मन में संकल्प हो तो सिद्धी पाने के रास्ते स्वयं मिल जाते हंै। समाजसेवी संस्था नयी उमंग ने जो सेवा के हाथ बढ़ाये हैं उससे मनू के संकल्प को बल मिलेगा। बच्चे भिक्षावृति छोड़कर  शिक्षा पाएंगे। नयी उमंग सामाजिक संस्था की अध्यक्ष मीनाक्षी गोयल ने संस्था के उद्देश्यों और उपलब्धियों को बताया। इस अवसर पर नयी उमंग सामाजिक संस्था रूड़की की अध्यक्ष मीनाक्षी गोयल, सचिव सौरभ गोयल, कोषाध्यक्ष सुमित सैनी, अनुज सैनी, विनित चैहान, स्वाति धीमान आदि ने बच्चों को उपहार में गर्म कपड़े वितरित किये। आयोजन का संयोजन आशीष सैनी तथा संचालन समाजसेवी संजय वर्मा ने किया। सड़क किनारे रह रहे बच्चों को पढ़ाने में सहयोग करने वाली माला ने उपहार देने वाली संस्था का आभार प्रकट किया। 

दुकान में लगी भीषण आग, लाखों का सामान जलकर खाक

हरिद्वार। धर्मनगरी के सिडकुल थाना क्षेत्र में स्थित राव मार्केट में एक डेंटिंग-पेंटिंग की दुकान में भीषण आग लग गई। आग लगने के कारण दुकान में रखा लाखों रुपये का सामान और एक बाइक पूरी तरह जलकर खाक हो गई। सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची फायर ब्रिगेड की गाड़ी ने बमुश्किल आग पर काबू पाया। आग लगने का कारण शार्ट सर्किट बताया जा रहा है। दुकान में आग लगने के कारण लोगों में हड़कंप मच गया। आग इतनी भीषण थी कि फायर बिग्रेड की टीम को आग पर काबू पाने के लिए कड़ी मशक्क्त करनी पड़ी। वहीं जब तक आग पर काबू पाया तब तक दुकान में रखा लाखों रुपये का सामान जलकर खाक हो गया। दुकान स्वामी शाहिद ने बताया कि आग शॉर्ट सर्किट की वजह से लगी है। दुकान में लाखों की डेंटिंग-पेंटिंग का सामान रखा था। साथ ही एक बाइक भी दुकान के अंदर ही थी। कई ग्राहकों की बैटरी भी जलकर पूरी तरह खाक हो गई है।दुकान में भीषण आग लगने के कारण आसपास की दुकानों में भी आग लगने का खतरा बढ़ गया था, लेकिन समय रहते ही इसकी सूचना दमकल विभाग को दी गई। वरना आसपास की कई दुकानों में भी भीषण आग लगने से काफी नुकसान हो सकता था। पुलिस इस मामले में जांच कर रही है।

प्रियंका गांधी से अभद्रता के खिलाफ कांग्रेसियों ने किया प्रदर्शन, फूंका पुतला

हल्द्वानी। कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव और उत्तर प्रदेश कांग्रेस प्रभारी प्रियंका गांधी से कथित रूप से अभद्रता के खिलाफ कांग्रेसियों ने प्रदर्शन किया। गौर हो कि लखनऊ में पुलिस द्वारा प्रियंका गांधी के साथ अभद्रता का मामला सामने आया था। इसके विरोध में हल्द्वानी में कांग्रेसियों ने योगी सरकार के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया और मुख्यमंत्री योगी का पुतला फूंका। कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने बुद्ध पार्क में केंद्र और यूपी की योगी सरकार के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया और योगी सरकार का पुतला फूंका। कांग्रेसी नेताओं ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार और केंद्र सरकार लोगों के साथ बर्बरता कर रही है। पुलिस द्वारा जायज मांग कर रहे प्रदर्शनकारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जा रही है। यहां तक कि कांग्रेसी नेताओं को भी पीड़ित लोगों से नहीं मिला दिया जा रहा है। ऐसे में राज्य सरकार द्वारा तानाशाही रवैया अपनाकर कांग्रेसी नेताओं को जबरदस्ती रोका जा रहा है। कांग्रेसी कार्यकर्ताओं ने कहा कि जिस तरह से प्रियंका गांधी से पुलिस द्वारा अभद्रता की गई है, वह राज्य सरकार के कहने पर की गयी है। राज्य सरकार को प्रियंका गांधी से माफी मांगनी चाहिए।

बैंक में चोरी का प्रयास

चमोली। राजकीय इंटर कालेज असेड़-सिमली के एनएसएस का सात दिवसीय विशेष शिविर का शुभारंभ राजकीय प्राथमिक विद्यालय सणकोट में किया गया। शिविर का संचालन चार जनवरी तक किया जाएगा। शिविर के उद्घाटन के अवसर पर स्वयं सेवियों ने गांव में सफाई अभियान, सांस्कृतिक कार्यक्रम, नाटक, गीत एवं नृत्य से ग्रामवासियों को एनएसएस के प्रति जागरूक किया। इस अवसर पर ग्राम प्रधान मंजू देवी, कार्यक्रम अधिकारी सी प्रसाद, ए रतूड़ी, प्रवक्ता विक्रम भंडारी, पीटीए अध्यक्ष अब्बल सिंह सणकोटी, प्रेम बुटोला, प्रधानाध्यापक कुंवर सिंह समेत बड़ी संख्या में ग्रामीण मौजूद रहे।

गोपेश्वर के छात्रों ने किया विधानसभा भवन भराड़ीसैंण का भ्रमण

चमोली। इंटर कालेज गोपेश्वर के 9 वीं और 11वीं के छात्रों को समग्र शिक्षा अभियान के तहत भराडीसैंण विधानसभा भवन का शैक्षिक भ्रमण कराया गया। जानकारी देते हुए वरिष्ठ अध्यापक कुंवर सिंह रावत ने बताया कि भ्रमण दल में शामिल छात्रों को विधानसभा भवन के अधिकारियों ने विधानसभा भवन के बारे में जानकारी दी। विधानसभा अध्यक्ष कक्ष, विधानसभा के स्टाफ समेत सभी आवश्यक जानकारी छात्रों को दी। इस भ्रमण दल में प्रधानाचार्य डीमएस कंडेरी, कुवर सिंह रावत, अनुप खंडूरी, श्रीकृष्ण पुरोहित, भूपेंद्र रावत, जगमोहन नेगी, अनिता आर्य, भुवनेश्वरी चोहान, नरेंद्र रावत शामिल थे।

नमामि गंगे के तहत स्वच्छता की ली शपथ

चमोली। नमामि गंगे अभियान के तहत सोमवार को राजकीय बालिका इंटर कालेज गोपेश्वर की एनएसएस की स्वयं सेवी छात्राओं मे मध्य भाषण, पोस्टर व निबंध प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। सोमवार को विद्यालय में आयोजित भाषण प्रतियोगिता में दीया प्रथम, साम्या द्वितीय व रवीना तृतीय स्थान पर रही। जबकि पोस्टर प्रतियोगिता में लक्ष्मी, हिमानी व अनामिका ने क्रमश प्रथम, द्वितीय और तृतीया स्थान प्राप्त किया। वहीं निबंध प्रतियोगिता में शालिनी प्रथम, तनुजा द्वितीय व हिमवंती ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। प्रतियोगिता में स्थान प्राप्त करने वाली स्वयं सेवियों को पुरस्कृत भी किया गया। इस अवसर पर गंगा को स्वच्छ बनाये रखने का भी संकल्प लिया गया। यह जानकारी देते हुये एनएसएस की कार्यक्रम अधिकारी डा. सुमन लता ध्यानी ने बताया कि कार्यक्रम में विद्यालय की प्रभारी प्रधानाचार्य सुनीता पुरोहित मीनाक्षी भंडारी आदि मौजूद थे।

समय पर मानदेय न मिलने से बीएसएनएल के कांट्रेक्ट वर्कर परेशान

पौड़ी। बीएसएनएल श्रीगनर शाखा के कैजुवल एंड कांट्रेक्ट वर्करों को पिछले 11 महीने से मानदेय नहीं मिल पाया है। मानदेय नहीं मिलने से कर्मचारियों को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। वहीं मानेदय का इंतजार का कर रहे इन कर्मचारियों को दिसंबर महीने से कार्य से भी हटा दिया गया है। जिससे इन वर्करों के सामने रोजी रोटी का संकट खड़ा हो गया है। वहीं विभागीय अधिकारियों का कहना है कि दो महीने के मानदेय का भुगतान एक दो दिन के भीतर कर दिया जाएगा।बीएसएनएल श्रीनगर शाखा में करीब 150 से अधिक वर्कर बीएसएनएल कैजवल एंड काट्रेक्ट वर्कर के तहत कार्यरत हैं। इन वर्करों को बीती फरवरी महीने से मानदेय नहीं मिला है। ये वर्कर लाइनमैन, कंप्यूटर आपरेटर, इंजन आपरेटर जैसे पदों पर कार्यरत हैं। बीएसएनएल कैजवल एंड काट्रेक्ट वर्कर संगठन के जिलाध्यक्ष बलवीर सिंह बिष्ट, संगठन सचिव विजेंद्र थपलियाल ने कहा कि मानदेय भुगतान के लिए कई बार श्रीनगर स्थित प्रशासनिक भवन में धरना प्रदर्शन भी किया गया। लेकिन हर बार विभागीय अधिकारियों ने केवल आश्वासन ही दिया है। विजेंद्र थपलियाल ने कहा कि उनका पूरा साल बिना मानदेय के ही गुजर गया है। थपलियाल ने बताया कि इस दिसंबर महीने से उनका कांट्रेक्ट भी समाप्त कर दिया गया है। जिससे सभी वर्कर कार्य से वंचित हो गए हैं। इन वर्करों का कहना है कि साल भर मानदेय तो मिला नहीं लेकिन अब काम से भी हटा दिया गया है। जिससे उनके समक्ष रोजी रोटी का संकट पैदा हो गया है। वर्करों ने जल्द काम दिए जाने व मानदेय के भुगतान की मांग की है। वहीं बीएसएनएल श्रीनगर के महाप्रबंधक विजयपाल का कहना है कि कांट्रेक्ट नवीनीकरण की प्रक्रिया चल रही है। वर्करो का दो महीने का भुगतान एक दो दिन के भीतर कर दिया जाएगा। शेष भुगतान फंड की उपलब्धता के आधार पर कर दिया जाएगा।

वार्षिकोत्सव में दी सांस्कृतिक कार्यक्रमों की शानदार प्रस्तुति

पौड़ी। पाबौ ब्लाक के राजकीय इंटर कालेज जगतेश्वर में तीन दिवसीय वार्षिकोत्सव एवं प्रतिभा सम्मान समारोह मंडाण का शानदार आयोजन किया गया। कार्यक्रम में छात्र-छात्राओं ने गढ़वाली, कुमांउनी, जौनसारी लोकगीत थडिया, चैंफ ला, झुमैलो के साथ ही पंजाबी, हरियाणवी, राजस्थानी, हिमाचली, उडिया, असमी, मणिपुरी मराठी सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुतियां दी। इस दौरान विभिन्न क्षेत्रों में अव्वल रहे छात्र-छात्राओं को सम्मानित भी किया गया। वार्षिकोत्सव में छात्र छात्राओं ने कथक, भरतनाट्यम आदि नृत्यों की भी प्रस्तुतियां दी। मंडाण का मुख्य आकर्षण सांस्कृतिक क्विज व पारंपरिक गढ़ वेशभूषा प्रतियोगिता, महिला मंगलदलों की प्रस्तुतियां रहीं। कार्यक्रम में राइंका जगतेश्वर के साथ ही राइंका चिपलघाट, राइंका कालों, सिद्धार्थ पब्लिक स्कूल सैंजी, सनराइज पब्लिक स्कूल भरसार, आदर्श विद्या मंदिर चपलोडी, राजकीय प्राथमिक विद्यालय धुलेत के छात्र-छात्राओं द्वारा भी कार्यक्रम प्रस्तुत किए गए। साथ ही महिला मंगलदल सैंजी, बुरांसी, सकन्याणा, धुलेत द्वारा भी थड्या, चैंफला नृत्य प्रस्तुत किए गए। कार्यक्रम के अंतिम दिन मां भगवती नंदा राजजात की शानदार प्रस्तुति दी गई। कार्यक्रम में केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री डा. रमेश पोखरियाल निशंक द्वारा वार्षिकोत्सव के समापन पर दिया गया शुभकामना संदेश वीडियो के माध्यम से जनता को दिखाया गया। इससे पूर्व कार्यक्रम का शुभारंभ जगतेश्वर महाधाम के महंत भजनानंद गिरी जी महाराज ने किया। इस मौके पर विशिष्ट अतिथि सिद्धार्थ पब्लिक स्कूल के प्रधानाचार्य शंभू प्रसाद खंकरियाल, पिंकी नेगी, प्रधानाचार्य राइंका कालों, अतुल दर्शन सिंह बिष्ट, प्रधानाचार्य राइंका चिपलघाट, पुष्कर सिंह नयाल, शिव शंकर पटेल, रूपाली रावत, रजनीश सेमवाल, दिवाकर पोखरियाल, मालती रावत, अंजना, अशोक खंडूरी, चंद्रप्रकाश, हर्ष वर्धन भट्ट, शमशुद्दीन, धर्मेंद्र चैहान, विकास नेगी, पंकज रावत, राजेंद्र रौथाण, वचन सिंह रावत आदि मौजूद रहे।

टिहरी में युवा पंचायत प्रतिनिधि सम्मेलन का आयोजन

टिहरी। उत्तराचंल उत्थान परिषद टिहरी की ओर से आयोजित युवा पंचायत प्रतिनिधि सम्मेलन में उत्थान परिषद ने युवा पंचायत प्रतिनिधियों का स्वागत किया गया। वक्ताओं ने कहा युवा ही देश का भविष्य है, और वही देश की दिशा और दशा तय करते है। सोमवार को नई टिहरी स्थित एक निजी होटल में युवा संकल्प के तहत आयोजित युवा जनप्रतिनिधि (पंचायत) सम्मेलन का मुख्य अतिथि जिला पंचायत अध्यक्ष सोना सजवाण और आरएसएस के प्रांत सेवा प्रमुख पवन ने दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। मुख्य अतिथि ने कहा कि इस बार पंचायतों से भारी संख्या में युवा प्रतिनिधि चुनकर आए है, युवा प्रतिनिधियों को अपनी ऊर्जा देश ओर समाज हित में खर्च कर देश, प्रदेश और जिले को नई ऊंचाई तक पहुंचाने का काम करना चाहिए। कहा देश तभी आगे बढ़ेगा जब युवा प्रतिनिधि देश के विकास में अपनी की भागीदारी सुनिश्चित करेगा। कार्यक्रम के मुख्य वक्ता ने कहा देश और समाज की दिशा और दशा युवा ही तय करता है। कहा जिस-जिस क्षेत्र से युवा जनप्रतिनिधि चुनकर आए है उस क्षेत्र के विकास के लिए उन्हें भरपूर प्रयास करना चाहिए। कहा युवाओं में इतनी शक्ति होती है वह असंभव को भी संभव कर सकते है। विद्या मंदिर की छात्राओं ने कार्यक्रम के दौरान सांस्कृतिक प्रस्तुति दी। मौके पर टिहरी विधायक धन सिंह नेगी, भाजपा जिलाध्यक्ष विनोद रतूड़ी, ब्लॉक प्रमुख जाखणीधार सुनीता देवी, शिवानी बिष्ट, रघुवीर सिंह पंवार, संजय नेगी, रामलाल नौटियाल, जिपंस रघुवीर सजवाण, जिपंस हितेश चैहान, रवि सेमवाल, प्रमोद उनियाल, मस्ता नेगी, रविन्द्र परमार, पंकज बरवाण, गोपीराम चमोली, दिनेश रतूड़ी आदि मौजूद थे।

कोटेश्वर पर्यटन व विकास मेला 13 से 17 जनवरी तक होगा

टिहरी। कोटेश्वर पर्यटन एवं विकास मेला इस बार 13 से 17 जनवरी को आयोजित होगा। बैठक में यह निर्णय सर्वसम्मति से लिया गया। बैठक में सभी से सहयोग की अपेक्षा करते हुए कृषि व उद्यान मंत्री सुबोध उनियाल ने कहा कि मेले को सफल बनाने के लिए सभी अधिकारी-कर्मचारियों के साथ टीएचडीसी पूर्ण सहयोग प्रदान करे। कोटेश्वर पर्यटन एवं विकास मेला 2020 के सफल आयोजन को लेकर तहसील सभागार नरेंद्रनगर में प्रदेश के कृषि मंत्री सुबोध उनियाल की अध्यक्षता में बैठक सम्पन्न हुई।

 बैठक में मेले के व्यवस्थित प्रबंधन के लिए विभन्न समितियों का गठन किया गया। जिनमें स्वागत, खेल समिति, संस्कृति समिति, स्टॉल आदि समितियां बनाई गई। कृषि मंत्री ने कहा कि मेले के आयोजन में टीएचडीसी को जो सहयोग करना चाहिये था, वो विगत वर्ष देखने को नहीं मिला, कहा कि यह टीएचडीसी का फीडिंग क्षेत्र होने के कारण टीएचडीसी को इस मेले को गोद लेकर आयोजन में मुख्य भागीदारी निभानी चाहिए। मेला संस्कृति का संरक्षण एवं सालभर खेतीबाड़ी करने वाले काश्तकारों के मनोरंजन करने का भी साधन है। इसके आयोजन में सभी संबंधित अधिकारी अपने-अपने दायित्वों का निर्वहन कर शतप्रतिशत योगदान दें एवं मेले को सफल बनायें। बैठक में मेले के आयोजन को 13 से 17 जनवरी 2020 तिथि निर्धारित की गई है। वहीं मेले को आकर्षक बनाने के लिए स्थानीय, प्रदेश स्तरीय कलाकारों के साथ ही स्थानीय व क्षेत्रीय स्कूलों के छात्रध् छात्राओं का आमंत्रित करने का निर्णय लिया गया। इसके साथ ही सभी विभागों को स्टाल लगाकर सरकार की योजनाओं को जनता तक पहुंचाने के निर्देश भी दिये। विद्युत विभाग और जल संस्थान को बिजली और पानी की पर्याप्त व्यवस्था करने को कहा गया। इस अवसर पर एसडीएम मुक्ता मिश्र, ब्लॉक प्रमुख नरेंद्रनगर राजेन्द्र भंडारी, पूर्व ब्लाक प्रमुख विनीता विष्ट, नगर पंचायत अध्यक्ष गजा मीना खाती, उद्यान अधिकारी डीके तिवारी आदि मौजुद रहे।

जंगली सुअर ने लड़की पर किया हमला

टिहरी। गजा क्षेत्र के कृदवाल गांव की 19 वर्षीय अंजली पुत्री साब सिंह पर जंगली सूअर ने हमला कर उसे घायल कर दिया। पूर्व क्षेपंस सदस्य जोत सिंह नेगी ने बताया कि अंजली बीते रविवार सुबह करीब साढ़े दस बजे अपनी दादी को कुछ दूरी पर बने दूसरे घर में दूध देने जा रही थी, तभी रास्ते की झाड़ियों में छुपे जंगली सुअर ने लड़की पर अचानक हमला कर उसे घायल कर दिया। लड़की की चिल्लाने की आवाज सुनकर ग्रामीण मौके पहुंचे और शोर मचाकर सूअर को भगाया। और लड़की को उपचार के लिए गजा ले गए जहां एक निजी क्लिीनिक में उसका उपचार करवाया गया। ग्रामीणों ने सोमवार को डीएफओ को पत्र सौंपकर घायल का समुचित उपचार तथा पीड़ित परिवार को उचित मुआवजा देने की मांग की है।

जनता दरबार में सीडीओ ने 18 शिकायतों का किया निस्तारण

टिहरी। जिला कार्यालय में हर सोमवार को लगने वाले जनता दरबार में 18 शिकायतें आम लोगों ने प्रस्तुत की। जिनमें से अधिकांश का मौके पर सीडीओ अभिषेक रूहेला ने निस्तारण किया। सीडीओ रूहेला ने इस मौके पर कहा कि जनता की समस्याओं को सभी विभागीय अधिकारी गंभीरता से लें।

जनता दरबार में कोटी के नरेंद्र सिंह धनोला ने मांग की, कि कोटेश्वर टावर संख्या 11 व 12 बीच आवासीय भवनों को प्रतिकर तत्काल दिया जाय। लायकोट के प्रधान ने गांव में 33 केवी लाइन के रिपेयरिंग की मांग की। जिसे लेकर सीडीओ रूहेला ने विद्युत विभाग को कार्यवाही के निर्देश दिये। प्रतापनगर भैलुंता के मदन सिंह राणा ने बताया कि उन्होंने स्वच्छ भारत मिशन के तहत ग्रामीण क्षेत्र में बेहतर कार्य किये हैं। जिसके लिए सम्मानित किया जाना चाहिए। बौराड़ी निवासी रघुनाथ सिंह ने उन्हें पेयजल बिल उपलब्ध कराये जाने की मांग। जिसे लेकर जल संस्थान को बिल उपलब्ध कराने को कहा गया। ग्राम खांड के जगवीर सिंह ने भूमि आवंटन सम्बंधी जनता दरबार में रखी। इसके साथ ही इन्होंने अवगत कराया कि गांव के उपर वाले मार्ग पर भांग व शराब की बिक्री किये जाने की शिकायत रखी। जिसे गंभीरता से लेते हुये कार्यवाही के निर्देश दिये गये। टिहरी बांध के विस्थापित परिवारों के सम्बंध में भी इन्होंने कई तरह की समस्यायें रखी। पूर्व जिला पंचायत सदस्य रेखा पुंडीर ने राजमार्ग संख्या 94 पर चंबा से चैड़ीकरण के दौरान ठेकेदारों की मनमानी तरीके से सड़क चैड़ीकरण किये जाने शिकायत की। जिस पर रोक लगाने की मांग की गई। जिस पर सीडीओ से त्वरित कार्यवाही का भरोसा दिलाया। सुषमा देवी ने रोजगार गारंटी के लिए वित्तीय स्वीकृति के सम्बंध में अपनी मांग रखी। सुषमा देवी ने विकलांग प्रमाण पत्र दिये जाने की भी मांग की। इस मौके पर डीएफओ कोकोरोशो, ईई सतीश चंद्र नौटियाल, जिला सेवायोजन अधिकारी विक्रम, ईई केएस नेगी सहित दर्जनों मौजूद रहे।

विधानसभा के एक दिनी विशेष सत्र में 7 जनवरी को प्रश्नकाल और शून्यकाल भी होंगे

देहरादून। उत्तराखंड विधानसभा में सात जनवरी को होने वाले एक दिन के विशेष सत्र में प्रश्नकाल और शून्यकाल दोनों होंगे। विधानसभा सचिवालय में सत्र के आयोजन की तैयारियां शुरू हो गई हैं। सचिव विधानसभा जगदीश चंद का कहना है कि सचिवालय के पास पहले से ही तारांकित और आतारांकित प्रश्न शेष हैं, जिन्हें सत्र के दौरान रखा जाएगा। सत्र से आहूत करने से पहले स्पीकर कार्यमंत्रणा समिति और सर्वदलीय बैठक करेंगे।

अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति के आरक्षण को अगले 10 वर्ष तक बढ़ाने का प्रस्ताव पास करने के लिए विधानसभा का विशेष सत्र आहूत किया गया है। संविधान में आरक्षण की 10 साल की ही व्यवस्था है। हर 10 वर्ष के अंतराल में इसे अगले 10 साल के लिए बढ़ाया जा रहा है। 25 जनवरी 2020 को 10 साल की अवधि समाप्त हो रही है। इससे पूर्व सभी राज्यों की विधानसभाओं से आरक्षण की अवधि को अगले 10 साल तक बढ़ाए जाने को लेकर प्रस्ताव पास करने हैं। इसी उद्देश्य से उत्तराखंड विधानसभा का विशेष सत्र बुलाया गया है। लेकिन इस एक दिवसीय सत्र सामान्य तौर पर आहूत होने वाले सत्रों के समान ही होगा। सत्र के आरंभ में प्रश्नकाल होगा और उसके बाद शून्यकाल आहूत होगा। सत्र के दौरान सरकार की ओर से एससी एसटी के आरक्षण को 10 साल बढ़ाए जाने का एक प्रस्ताव सदन में रखा जाएगा। 

प्रदेश की राजधानी देहरादून नशा तस्करों की गिरफ्त में

देहरादून। उत्तराखण्ड की अस्थायी राजधानी दून अब नशे का गढ़ बन चुकी है। पुलिस ने अब तक करोड़ों के नशा सामग्री सहित कई तस्करों को सलाखों के पीछे भेजा है लेकिन फिर भी दून में नशा तस्करी थमने का नाम नहीं ले रही है। आये दिन पकड़े जाने वाले नशा तस्कर इसकी बानगी भर है।

राजधानी दून की मलिन बस्तियां और स्कूल कालेज नशा तस्करों के निशाने पर है। अवैध शराब से लेकर चरस, गांजा व स्मैक का कारोबार यहंा बडे़ पैमाने पर किया जा रहा है। नशे का सामान आसानी से उपलब्ध हो जाने के कारण नौजवान इस दलदल में धस चुके है। हालांकि पुलिस का दावा है कि पिछले चार माह के दौरान उन्होने 4 करोड़ 10 लाख 88 हजार रूपये के नशीले पदार्थ बरामद कर 458 तस्करों को सलाखों के पीछे भेजा है। इसके बावजूद पुलिस विभाग इस धंधे पर रोक लगाने में नाकाम ही साबित हुआ है। राजधानी दून में बढ़ती नशा तस्करी के चलते अन्य अपराधों में भी भारी बढ़ोत्तरी देखने को मिली है। पिछले दिनों चोरिया, झपटमारी व अन्य अपराधों में ऐसे युवा पकड़े गये है जो खुद नशे की गिरफ्त में है। कालेज में पढ़ने वाले छात्र छात्राएं भी इन नशा तस्करों के निशाने पर है। मलिन बस्तियों से संचालित होने वाले इस कारोबार पर पुलिस मिलीभगत के आरोप भी लगते रहे है। पिछले दिनों जब रिस्पना मलिन बस्ती में पुलिस द्वारा छापेमारी की गयी तो वहंा कई बच्चे भी नशा बेचते हुए पाये गये। देखना होगा कि पुलिस इस कारोबार में पूरी तरह लगाम लगा पाती है या फिर यह कारोबार बदस्तूर जारी रहेगा।

वर्ष 2019 पुलिस के लिए रहा चुनौती पूर्ण, बढ़ा अपराधों का ग्राफ

देहरादून। उत्तराखण्ड पुलिस के लिए वर्ष 2019 चुनौतियों भरा रहा है। इस साल जहंा अपराधों में खासी बढोत्तरी दर्ज की गयी वहीं इस वर्ष चुनावी अथवा अन्य कारणों से हुए वीआईपी मूवमेंट में भी तेजी देखी गयी। जिनकी सुरक्षा के साथ ही शांतिपूर्ण लोकसभा व पंचायत चुनाव करवाना भी पुलिस के लिए एक चुनौती पूर्ण कार्य रहा है। जबकि नशा कारोबार पर लगाम कसना पुलिस के लिए सिरदर्द ही बना रहा।

यू तो उत्तराखण्ड प्रदेश अपराधों के मामलों में अन्य प्रदेशों से काफी शांत माना जाता रहा है। लेकिन यह वर्ष बढ़ते अपराधों की दृष्टि से भी पुलिस के लिए काफी चुनौतियों भरा रहा। बढ़ते अपराधों ने जहंा जनता का चैन तो छीना ही साथ ही मित्र पुलिस की कार्यशैली पर भी सवाल उठाये। हालांकि पुलिस ने राज्य भर में हुए अपराधों का तकरीबन खुलासा कर दिया और अपराधियों को सलाखों के पीछे भेजा। लेकिन फिर भी इस वर्ष अपराधों का ग्राफ अन्य वर्षो की तुलना मेें ज्यादा रहा।

उत्तराखण्ड प्रदेश में इस साल लूट के 122, हत्या के 175, महिला अपहरण के 273 व चोरी के 838 मामले दर्ज किये गये है। जबकि देखा जाये तो पिछले वर्षो की तुलना में महिलाओं से जुड़े अपराधों में भी तेजी ही दिखायी दी। जिनमें दहेज हत्या के 52 मामले व दुष्कर्म के 499 मामले सामने आये है। साइबर अपराधों के ग्राफ में भी इस बार तेजी देखी गयी है जिनमेें 228 मुकदमें दर्ज किये गये है। वहीं राज्य भर में नशे कारोबार के बढ़ते नेटवर्क को भी पुलिस पूरी तरह तोड़ने मे नाकाम रही है। इस मामले में डीजी ला एण्ड आर्डर अशोक कुमार का कहना है कि राज्य पुलिसिंग के लिए बेहतर प्रयास किये जा रहे है। जिनसे बढ़ते अपराधों पर लगाम कसी जा सकेगी

कामरेड ओमप्रकाश चैधरी नहीं रहे, सम्मान में लाल झण्डा झुकाया

देहरादून,। वयोवृद्ध कम्युनिस्ट व माकपा नेता कामरेड ओमप्रकाश चैधरी नहीं रहे। उन्होंने आज कैलाश हास्पिटल में अन्तिम सास ली। वे 90 वर्ष के थे। उनके सम्मान में दो मिनट का मौन रखा गया। उनके सम्मान में पार्टी ने झण्डा झुकाया। पार्टी नेताओं ने कहा है कि कम्युनिस्ट आन्दोलन व समाज के लिए दिये गये उनके योगदान को सदैव याद किया जाएगा। वे आजीवन मजदूरों, किसानों, मेहनतकश वर्ग के लिए संघर्ष करते रहे। कामरेड चैधरी कम्युनिस्ट आन्दोलन से आजीवन जुड़े रहे। वे 90 के दशक मे सीपीएम से जुड़े। उत्तराखण्ड आन्दोलन के दौरान उन्होंने अपने पुत्र खोया। शोक सभा में कामरेड सुरेंद्र सिह सजवाण, राजेन्द्र पुरोहित, बच्चीराम कौंसवाल, अनन्त आकाश, लेखराज, कमरूद्दीन, शिवप्रसाद देवली, माला गुरूग, सुधा देवली, शेरसिंह, याकूब अली, जानकी चैहान, सुन्दर थापा, रविन्द्र नौडियाल, महावीर शर्मा, एसएस नेगी, रविन्द्र नौडियाल आदि शामिल हुए ।

घर से लापता युवक का शव पेड़ पर लटका मिला

देहरादून। थाना प्रेमनगर क्षेत्र अंतर्गत झोलचैकी के बाहर जंगल में पेड़ पर एक युवक का शव लटका हुआ मिला। पुलिस द्वारा शव का पंचनामा भर शव को अग्रिम कार्रवाई हेतु मोर्चरी में रखा गया है। मृतक की पहचान अकाश पुत्र मनोज कुमार निवासी ग्राम-झोलचैकी, थाना प्रेमनगर उम्र 24 वर्ष के रूप में हुई है। 28 दिसंबर को किसी बात को लेकर आकाश का अपने परिजनों से विवाद हो गया था। परिजनों द्वारा डांटने पर वह घर से चला गया था, जिसके संबंध में परिजनों द्वारा थाना प्रेमनगर में गुमशुदगी दर्ज कराई गई थी। 

मजार में चोरी के बाद तोड़-फोड़, कुरान शरीफ की पन्ने भी जलाए, तनाव


 

देहरादून। डोईवाला कोतवाली के अंतर्गत एक मजार में चोरी के बाद तोड़फोड़ की गई। इतना ही कुरान शरीफ के पन्ने भी जला दिए गए। इस घटना के बाद से क्षेत्र में तनाव का माहौल है।

मिली जानकारी के अनुसार डोईवाला कोतवाली के मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्र तेलीवाला में खेतों के बीचोंबीच स्थित एक मजार में चोरी के बाद तोड़फोड़ कर दी गई है। समुदाय विशेष के लोगों का कहना है कि कुरान शरीफ के पन्ने भी जलाए गए हैं। मौके पर भारी पुलिस बल मौजूद है। घटना की जांच पड़ताल की जा रही है। ग्रामीणों का कहना है कि कुछ असामाजिक तत्वों ने डोईवाला में माहौल बिगाड़ने की कोशिश की है। उन्होंने ऐसे असमाजिक तत्वों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की मांग की है। वहीं एसपी देहात प्रमेंद्र डोभाल सीओ, एसडीएम लक्ष्मीराज चैहान के अलावा तमाम चैकियों की पुलिस मौके पर तैनात है।

नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में मुस्लिम समुदाय के लोगों ने किया धरना-प्रदर्शन


 

-जिला प्रशासन के माध्यम से राष्ट्रपति को प्रेषित किया ज्ञापन 

 

देहरादून। मुस्लिम समुदाय द्वारा परेड ग्रांउड धरना स्थल पर धरना देकर जिलाधिकारी के माध्यम से राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन प्रेषित किया गया। संस्था के केन्द्रीय अध्यक्ष लताफत हुसैन के नेतृत्व में दिये गये ज्ञापन के माध्यम से मुस्लिम आवाम ने कहा है कि आप अपने विवेक और अधिकार का प्रयोग करते हुए नागरिकता संशोधन कानून एंव एनआरसी और अब एनपीआर को देश हित में तुरन्त वापस लेने व सरकार द्वारा पुलिस के बल पर किये गये अत्याचार को तुरन्त रोकने के लिए निर्देशित करने की कृपा करें।

 कहा कि उक्त नागरिकता कानून मुस्लिम समाज को दोहरा नागरिक बनाने, लोगों को बांटने, धर्मवाद को बढ़ावा देने तथा देश में असुरक्षा का माहौल पैदा करने का प्रयास है। कहा है कि यह कैसा कानून है कि बाहर के कुछ लोगों को नागरिकता देने के लिए देशवासियों को इस बात का प्रमाण देना पड़े कि मै भारतीय हू। उनका कहना है कि उक्त कानून भारतीय संविधान के अनुच्छेद 14, 15 व 25 का उल्लंघन है जो देश की एकता, भाईचारा व अखण्डता को तोड़ने का एक घातक प्रयास है। इसे तुरन्त वापस लिया जाये। उन्होंने कहा कि उक्त कानून को हटाये जाने के लिए देश का आम नागरिक जिसमेें मुस्लिम समाज भी सम्मलित है संघर्ष कर रहा है जिसे सरकार पुलिस के बल पर दबाना चाहती है और लोगों को जगह जगह गिरफ्तार कर उन पर अत्याचार किया जा रहा है इस पूरे प्रकरण की उच्च स्तरीय जांच करानी चाहिए। धरना देने वालों में नसीम, रिहान, सादिक, यूसुफ, शहजाद सहित भारी संख्या में लोग मौजूद रहे।

बस खरीद मामले की हो सीबीआई जांचः राजकुमार


 

देहरादून। उत्तराखण्ड परिवहन निगम और निगम के कर्मचारियों की समस्याओं को लेकर कांग्रेस के एक प्रतिनिधिमंडल ने मुख्य सचिव से मुलाकात कर उन्हे एक ज्ञापन सौंपा और समस्याओं के समाधान की मांग की। पूर्व विधायक राजकुमार के नेतृत्व में इस प्रतिनिधिमंडल द्वारा जो ज्ञापन मुख्य सचिव को सौंपा गया है उसमें कहा गया है कि निगम द्वारा जो 150 बसें खरीदी गयी थी उनमें खराबी आने और बदले जाने के मामले की सीबीआई से जांच करायी जानी चाहिए।

उनका कहना है कि गाड़ी खरीदने से पूर्व निगम के अधिकारियों की देख रेख में इन बसोें को तैयार कराने की बात कही गयी थी जिसके लिए निगम के अधिकारी दो माह गोवा में रहे। फिर भी खराब बसें कैसे खरीदी गयी यह एक गम्भीर मामला है। उन्हांेने अपने ज्ञापन में हरिद्वार रोड निगम की कार्यशाला के स्थानान्तरण पर भी सवाल उठाते हुए कहा गया है कि यह कार्यशाला निगम की जमीन पर बनी है। सरकार अगर इसे अधिगृहित कर रही है तो वह निगम की कार्यशाला बना कर दे लेकिन सरकार बिना कार्यशाला बनाकर दिये ही निगम बेदखल करने पर उतारू है। उनका कहना है कि सरकार निगम को भवन का मुआवजा दे। उनका कहना है कि निगम की हालत पहले से ही खराब है। कर्मचारियों को वेतन नहीं मिल पा रहा है और वह इसे लेकर आंदोलन कर रहे है। उन्होने निगम व उसके कर्मचारियों की समस्याओं के तत्काल समाधान की मांग की है। प्रतिनिधि मडंल में महानगर अध्यक्ष लालचंद शर्मा, पार्षद अर्जुन सोनकर, मनमोहन शर्मा, नागेश रतूड़ी, सौरव सचदेवा आदि लोग शामिल थे।

अनादि फाउंडेशन के सदस्य और विश्वास प्रतिनिधिमंडल ने परमार्थ गंगा आरती में किया सहभाग


ऋषिकेश। परमार्थ निकेतन में अनादि फाउंडेशन तमिलनाडु के सदस्य और विश्वास प्रतिनिधिमंडल पधारा। उन्होंने परमार्थ निकेतन के परमाध्यक्ष और जीवा की अन्तर्राष्ट्रीय महासचिव साध्वी भगवती सरस्वती जी ने भेंटवार्ता की। परमार्थ निकेतन में एक दिवसीय मूल्यपरक शिक्षा विषय पर आयोजित 'विकास नेतृत्व कार्यक्रम' अनादि फाउंडेशन और विजन इंडिया फाउंडेशन के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित किया गया। यह प्रतिनिधिमंडल परमार्थ गंगा आरती और स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी महाराज के विचारों से प्रेरित होकर प्रतिवर्ष परमार्थ निकेतन आते है। विकास नेतृत्व कार्यक्रम के अन्तर्गत मूल्यपरक शिक्षा, शिक्षा प्रणाली को वर्तमान परिप्रेक्ष्य के आधार पर विकसित करना शिक्षण पाठ्यक्रम में पर्यावरण संरक्षण को जोड़ना जैसे विषयों पर चर्चा हुई। अनादि फाउंडेशन के अध्यक्षश्री ने स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी महाराज से निवेदन किया की वे इस पाठ्यक्रम को राष्ट्रीय स्तर पर लागू करने के विषय में मानव संसाधन विकास मंत्री भारत सरकार से चर्चा करे तो बेहतर होगा।

अनादि फाउंडेशन और विश्वास प्रतिनिधिमंडल के सदस्यों ने स्वामी जी महाराज को मानव मूल्यों पर आधारित पाठ्यक्रम का एक शिक्षा किट भेंट किया। स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी ने कहा कि यह केवल एक पाठ्यक्रम किट नहीं है बल्कि इसमें मानव मूल्यों पर आधारित वर्तमान समय की जरूरतों से युक्त शिक्षण पद्धति समाहित है। स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी ने कहा कि 'सच्ची शिक्षा न केवल हमें ज्ञान देती है बल्कि सभी प्राणियों के साथ सामंजस्यपूर्ण जीवन की सीख भी देती है'। श्री रबीन्द्र नाथ टैगोर जी के इस कथन का आशय है कि शिक्षा हमें साक्षर बनाने के साथ चरित्र निर्माण, शान्ति व सद्भाव युक्त जीवन जीने का संदेश देती है। शिक्षा, जीवन के लिये उसी प्रकार आवश्यक है जिस प्रकार जीवित रहने के लिये जल, वायु और भोजन की आवश्यकता होती है। स्वामी जी ने कहा कि  शिक्षक वही जो शिक्षा के साथ दीक्षा भी प्रदान करता है। ऐसी दीक्षा जो छात्रों के जीवन को एक नई दिशा प्रदान करे और उनके जीवन की दशा को बदल दें। शिक्षक वह है जो छात्रों को सिर्फ जीविका ही नहीं प्रदान करता बल्कि उनके जीवन का मार्ग भी प्रशस्त करता है।

  अनादि फाउंडेशन की स्वास्थय पहल निदेशक वरलक्ष्मी जी ने कहा कि परमार्थ निकेतन माँ गंगा के तट और पूज्य स्वामी के दर्शन कर अपार शान्ति का अनुभव होता है। उन्होने बताया कि हमने पूज्य स्वामी जी को एक मूल्यपरक शिक्षण सामग्री किट भंेट किया है हमारा निवेदन है कि इस पाठ्यक्रम को राष्ट्रीय स्तर पर लागू कराया जाये। अभी इस पाठ्यक्रम के आधार पर सत्य साई बाबा के स्कूल में प्रशिक्षण दिया जा रहा है। अनादि फाउंडेशन के संस्थापक आदिनारायण, स्मृति रेखा है। इस फाउंडेशन के अन्तर्गत विकास युवा नेतृत्व कार्यक्रम संचालित किये जाते है। स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी महाराज के पावन सान्निध्य में अनादि फाउंडेशन और विश्वास प्रतिनिधिमंडल ने विश्व स्तर पर स्वच्छ जल की आपूर्ति हेतु वाॅटर ब्लेसिंग सेरेमनी सम्पन्न की।

हैंडलूम एक्सपो में दूनवासियों को खूब भा रहे हैंडलूम उत्पाद


 

देहरादून। परेड ग्राउंड में आयोजित नेशनल हैंडलूम एक्सपो में दूनवासियों को हैंडलूम उत्पाद खासा लुभा रहे हैं। एक्सपो में अलग अलग राज्यों से आये हुए लोगों ने अपने अपने राज्यों के फेमस हैंडलूम का स्टॉल लगाये हैं और इसमें से उत्तर प्रदेश के उत्पाद जोकि वाराणसी से उपलब्ध है और इस राज्य की साड़ी वैसे ही दुनिया भर में प्रसिद्ध है। इस वाराणसी के स्टाल को बाबू बनारसी ने लगाया है और इसके अलावा भी अनेक वाराणसी के स्टॉल है जहाँ बनारसी साड़ी के केटेगरी कुछ इस प्रकार है।

 जामदारी, जामावार तन्छुई सिल्क, तन्छुई बुटीक, तन्छुई पटोला, हैंड बैग ब्रोकेट सब कुछ उपलब्ध है और चीजों के दाम भी ठीक ठाक है। साड़ी के दाम 1000 से लेकर 5000 तक की है, जिसके वजह से खरीदारों की भीड़ देखने को मिल रही हैं। उत्तर प्रदेश के स्टॉल पर इसके अलावा कर्नाटक के बैंगलोर से जयनगर के रहने वाले विजयलक्ष्मी और इमरान ने भी अपना स्टॉल लगाया है। वह पिछले 6 साल से यहाँ अपना स्टॉल लगा रहे है। इनके स्टॉल में कांजीवरम के साथ साथ अनेक साड़ी उपलब्ध है जो लोगों को बहुत ही आकर्षित कर रही है। महिलाओं की भीड़ भारी मात्रा में देखने को मिल रही है और इमरान ने बताया है कि उनके स्टॉल पर कांजीवरम जिसकी कीमत 5000 से 1 लाख तक की है, उपड़ा साड़ी की कीमत 12000 तक है, मैसूर सिल्क की कीमत 5000 से 15000 तक की है, वेडिंग कलेक्शन की साड़ियां 20,000 से 2 लाख तक, प्योर जॉर्जट 1500 से 4000, प्योर क्रेप यह सारी केटेगरी की साड़ियां उपलब्ध है। सबसे कीमती साड़ी जो इनके यहाँ उपलब्ध है वह है सोने से जड़ी हुई साड़ी जिसकी कीमत 3 लाख तक है। इमरान का गणपति सिल्क नाम का अपना मैन्युफैक्चरिंग फैक्ट्री है जो 20 साल से चलता आ रहा है। इनके स्टाल पर बहुत ही आकर्षित साड़ियां उपलब्ध है और जो लोग खरीदारी के लिए नहीं जा पाते उनके लिए बहुत ही आकर्षक मौका है इस मेले के जरिये खरीदारी करने का। मेला बहुत ही अच्छे तरीके से आयोजित किया जा रहा है। उप निदेशक उद्योग शैली डबराल और मेला अधिकारी के.सी चमोली ने एक्सपो में लगे स्टाॅलों का निरीक्षण किया। 

हैंडलूम एक्सपो में दूनवासियों को खूब भा रहे हैंडलूम उत्पाद


 

देहरादून। परेड ग्राउंड में आयोजित नेशनल हैंडलूम एक्सपो में दूनवासियों को हैंडलूम उत्पाद खासा लुभा रहे हैं। एक्सपो में अलग अलग राज्यों से आये हुए लोगों ने अपने अपने राज्यों के फेमस हैंडलूम का स्टॉल लगाये हैं और इसमें से उत्तर प्रदेश के उत्पाद जोकि वाराणसी से उपलब्ध है और इस राज्य की साड़ी वैसे ही दुनिया भर में प्रसिद्ध है। इस वाराणसी के स्टाल को बाबू बनारसी ने लगाया है और इसके अलावा भी अनेक वाराणसी के स्टॉल है जहाँ बनारसी साड़ी के केटेगरी कुछ इस प्रकार है।

 जामदारी, जामावार तन्छुई सिल्क, तन्छुई बुटीक, तन्छुई पटोला, हैंड बैग ब्रोकेट सब कुछ उपलब्ध है और चीजों के दाम भी ठीक ठाक है। साड़ी के दाम 1000 से लेकर 5000 तक की है, जिसके वजह से खरीदारों की भीड़ देखने को मिल रही हैं। उत्तर प्रदेश के स्टॉल पर इसके अलावा कर्नाटक के बैंगलोर से जयनगर के रहने वाले विजयलक्ष्मी और इमरान ने भी अपना स्टॉल लगाया है। वह पिछले 6 साल से यहाँ अपना स्टॉल लगा रहे है। इनके स्टॉल में कांजीवरम के साथ साथ अनेक साड़ी उपलब्ध है जो लोगों को बहुत ही आकर्षित कर रही है। महिलाओं की भीड़ भारी मात्रा में देखने को मिल रही है और इमरान ने बताया है कि उनके स्टॉल पर कांजीवरम जिसकी कीमत 5000 से 1 लाख तक की है, उपड़ा साड़ी की कीमत 12000 तक है, मैसूर सिल्क की कीमत 5000 से 15000 तक की है, वेडिंग कलेक्शन की साड़ियां 20,000 से 2 लाख तक, प्योर जॉर्जट 1500 से 4000, प्योर क्रेप यह सारी केटेगरी की साड़ियां उपलब्ध है। सबसे कीमती साड़ी जो इनके यहाँ उपलब्ध है वह है सोने से जड़ी हुई साड़ी जिसकी कीमत 3 लाख तक है। इमरान का गणपति सिल्क नाम का अपना मैन्युफैक्चरिंग फैक्ट्री है जो 20 साल से चलता आ रहा है। इनके स्टाल पर बहुत ही आकर्षित साड़ियां उपलब्ध है और जो लोग खरीदारी के लिए नहीं जा पाते उनके लिए बहुत ही आकर्षक मौका है इस मेले के जरिये खरीदारी करने का। मेला बहुत ही अच्छे तरीके से आयोजित किया जा रहा है। उप निदेशक उद्योग शैली डबराल और मेला अधिकारी के.सी चमोली ने एक्सपो में लगे स्टाॅलों का निरीक्षण किया। 

वायु प्रदूषण को नियंत्रित करने के लिए ठोस कार्ययोजना बनाने के दिए निर्देश  

देहरादून। मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह की अध्यक्षता में बढ़ते वायु प्रदूषण को नियंत्रित किये जाने से सम्बन्धित कार्ययोजना बनाये जाने से सम्बन्धित बैठक आयोजित हुई। बैठक में मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह ने परिवहन, नगर निगम, उद्योग, निर्माण कार्य से जुड़े विभागों को निर्देश दिए कि दूषित वायु से आम जन को निजात दिलाने के लिए वे अपने-अपने विभागों की कार्य योजना के साथ आगामी बैठक में आए। उन्होंने विभागों द्वारा वायु प्रदूषण नियंत्रण के मध्यनजर अब तक किए गए प्रयासों की अद्यतन प्रगति के साथ बैठक में उपस्थित होने के निर्देश दिए। मुख्य सचिव द्वारा देहरादून, ऋषिकेश तथा काशीपुर में वायु प्रदूषण को रोकने के लिए अपनाए जाने वाले उपायों को शामिल करते हुए सम्बन्धित विभागों को आगामी बैठक में ठोस कार्ययोजना सहित प्रतिभाग करने के निर्देश दिए।

इस क्रम में मुख्य सचिव द्वारा प्रबंध निदेशक परिवहन निगम को निर्देश दिए गए कि 15 वर्ष पुराने डीजल चलित वाणिज्यिक वाहनों को फेज ऑउट करने के सम्बन्ध में अन्य राज्यों के अनुभवों का भी अध्ययन किया जाए। उन्होंने वाणिज्यिक वाहनों हेतु सी0एन0जी0 एवं एल0पी0जी0 लागू करने, शत-प्रतिशत पी0यू0सी0 सार्टिफिकेट जारी करने, वाणिज्यिक वाहनों की निरंतर फिटनैस चेक करने आदि को भी भावी कार्ययोजना में शामिल करने के निर्देश एम.डी. परिवहन निगम तथा परिवहन आयुक्त को दिए। सड़क से उठने वाले धूल के नियंत्रण के संबंध में मुख्य सचिव द्वारा नगर निगम को सड़कों की निरंतर सफाई एवं जल छिड़काव करने, पैदलपथ पक्का करने, सड़क के किनारे वृक्षारोपण करने तथा शहर के खुले स्थानों व स्कूलों में सघन पौधारोपण के कार्यों को कार्ययोजना में सम्मिलित करने के निर्देश दिए। उन्होंने निर्माण सम्बन्धी गतिविधियों के संबंध में कार्यदायी संस्थाओं को निर्माण साईडस को कवर कराने, सामग्री का भंडारण खुले में न करने, सड़क किनारे निर्माण सामग्री को एकत्र करने पर सख्ती से अंकुश लगाने के निर्देश दिए तथा तदनुसार कार्ययोजना बनाने के निर्देश निर्माण कार्य से जुड़े विभागों को दिए। औद्योगिक ईकाइयों के सम्बन्ध में उद्योगों में क्लीन फ्यूल इस्तेमाल कराने, नये स्थापित उद्योगों में ठोस ईंधन को प्रतिबंधित कराने को भी कार्ययोजना में शामिल करने के निर्देश उद्योग एवं सम्बन्धित विभाग को दिए। इसी क्रम में देहरादून शहर में वायु प्रदूषण की निरंतर मॉनीटिरिंग करने के लिए 03 स्थानों पर मॉनीटिरिंग स्टेशन स्थापना एवं काशीपुर एवं ऋषिकेश में भी 01-01 मॉनीटिरिंग स्टेशन स्थापना के निर्देश मुख्य सचिव द्वारा दिए गए।

मुख्य सचिव ने बैठक में तीनों शहरों में वायु प्रदूषण के स्त्रोत एवं वायु प्रदूषण में इनके योगदान के सम्बन्ध में लोगों को जागरूक करने के निर्देश दिए। मुख्य सचिव ने वायु प्रदूषण के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए स्कूलों एवं विभिन्न प्राधिकारियों के सहयोग से जन जागरूकता कार्यक्रम चलाने के भी निर्देश दिए। साथ ही वायु प्रदूषण से संबंधित शिकायत एवं इनके निदान के लिए निर्देश दिए। बैठक का संचालन करते हुए सदस्य सचिव प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड एस.पी. सुबुद्धि ने बताया कि एन.जी.टी द्वारा दिए गए निर्देशों के क्रम में वायु प्रदूषण में मुख्य रूप से देहरादून, ऋषिकेश व काशीपुर के संबंध में अवगत कराया गया है कि इन तीनों शहरों में वायु प्रदूषण की मात्रा निरंतर मानकों से अधिक आ रही हैं। बैठक में प्रमुख सचिव वन आनन्द वर्द्धन, सचिव वित्त अमित सिंह नेगी, सचिव वन एवं पेयजल अरविन्द सिंह ह्यांकी, सचिव पर्यटन दिलीप जावलकर, सचिव चीनी हरबंस सिंह चुघ, सचिव कृषि आर.मीनाक्षी सुन्दरम तथा पर्यावरण विशेषज्ञ डॉ अंकुर सहित सम्बन्धित विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

शिवसेना उत्तराखण्ड में तीसरी शक्ति के रूप में उभरेगीः गौरव कुमार


 

देहरादून। शिवसेना महानगर द्वारा एक बैठक का आयोजन शिव सेना मुख्यालय, गोविन्दगढ़ में किया गया। बैठक की अध्यक्षता शिवसेना की वरिष्ठ नेता शामेन्द्र मल्ल ने की मुख्य अतिथि के रूप में शिवसेना उत्तराखण्ड, प्रमुख गौरव कुमार ने आए हुए सभी शिव सैनिकों का आभार व्यक्त किया।

गौरव कुमार ने कहा शिवसेना आज समाज सेवा का दूसरा नाम बन चुकी है, जो जनता की सभी प्रकार की समस्या का समाधन अपने समिति संसाधन से करती आयी है बालासाहेब द्वारा स्थापित शिवसेना के संविधान में 80 प्रतिशत समाज सेवा एवं 20 प्रतिशत राजनीति शामिल की गई। आज सभी जगह शिव सैनिक समाज सेवा की मिसाल बन चुकी है, परन्तु अब शिवसेना को राजनीतिक पहचान दिलाने का भी लक्ष्य रखा गया है। आगामी वर्ष 2020 में शिवसेना उत्तराखण्ड ईकाई राज्य में तीसरी शक्ति के रूप में स्थापित होने का प्रयास करेगी। सभी शिव सैनिकों ने इस निर्णय का स्वागत किया गया है एवं संकल्प भी लिया। गौरव कुमार ने कहा कि आज देहरादून महानगर की सभी ईकाइयों को तत्काल प्रभाव से भंग किया जाता है, अतिशीघ्र नई महानगर कार्यकारणी को घोषणा की जायेगी। इसके लिए 07 सदस्यीय कमेटी का गठन किया गया, जिसका अध्यक्ष मनोज सरीन को बनाया गया। अपने अध्यक्षीय सम्बोधन में शामेन्द्र मल्ल ने सभी शिवसैनिकों का आभार व्यक्त किया एवं सभी शिवसैनिकों को एकजुट होकर उत्तराखण्ड राज्य के शिवसेना को स्थापित करने को कहा। इस बैठक में शिवसेना के वेनीराम उनियाल, अरविन्द्र शर्मा, राज नेगी, अजेयन्द्र, पिंकी गौतम, अमित कर्णवाल शिव नारायण, अभिषेक साहनी, विकास सिंह, वासु परविंदा, मनीष राणा, विकास राजपूत, मनोज सरीन, ऋषभ ठाकुर, विजय गुलाटी, आशीष मित्तल, शुभम जैनेनी, हर्ष सिंघल, रोहित बेदी, नितीन शर्मा, मनोज वोहरा, अमन आहूजा आदि मौजूद थे।

अपर मेलाधिकारी कुम्भ ने किया निर्माण कार्यों का निरीक्षण   


 

-पुल की कार्य गति धीमी होने पर सम्बन्धित सहायक अभियंता को दी चेतावनी  

 

हरिद्वार। अपर मेलाधिकारी कुम्भ डॉ ललित नारायण मिश्र द्वारा पीडब्ल्यूडी द्वारा बनाये जा रहे 04 पुलों का निरीक्षण किया गया । बस्तीराम पाठशाला के निकट बन रहे पुल के आयरन  सैम्पल वेरिटास कम्पनी को लेने को कहा। श्मशान घाट के बगल बन रहे पुल की कार्य गति धीमी होने पर सम्बन्धित सहायक अभियंता को चेतावनी दी गई।

 विश्व कल्याण आश्रम के पास बन रहे पुल के कार्य पर गति ठीक पाई गई किन्तु लैब जल्द से जल्द स्थापित करने को कहा गया। सहायक अभियंता  संजीव सैनी ने आश्वासन दिया कि यथाशीघ्र लैब बन जाएगी तथा कार्य की गुणवत्ता से समझौता नही किया जाएगा। मातृ सदन के पास बन रहे पुल पर साइट का काम होता पाया गया वेल फाउंडेशन के काम अंतिम चरण में है। वहां पर काम का बोर्ड न होने पर अप्रसन्नता व्यक्त की गई। वहां पर श्रमिकों के टूटे हेलमेट पर साइट इंजीनियर शर्मा को कड़ी फटकार लगाई गई तथा श्रमिकों के वेलफेयर को भी मानक के अनुसार सुनिश्चित करने को कहा गया। निरीक्षण के समय मेला तकनीकी सेल के अधीक्षण अभियंता हरीश पांगती ने भी तकनीकी निर्देश निर्गत किये। पीडब्ल्यूडी के सहायक अभियंता अनिता भण्डारी व पुरोहित सहित ऐजेंसी के ठेकेदार भी मौजूद रहे।

शिविर आयोजित कर सरकार की योजनाओं की जानकारी दी गई


 

हरिद्वार। अल्पसंख्यक कल्याण विभाग हरिद्वार द्वारा सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं के प्रचार प्रसार के लिए ग्राम सिकरोढा विकासखण्ड भगवानपुर में एक शिविर का आयोजन किया गया, जिसमें मुख्य अतिथि विधायक विधानसभा क्षेत्र भगवानपुर ममता राकेश उपस्थित रही। सहायक अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी, हरिद्वार गुलशेर अली द्वारा उक्त शिविर में विभागीय योजनाओं जैसे मुख्यमंत्री हुनर योजना, उच्च शिक्षा हेतु मौलाना आजाद ब्याज मुक्त ऋण योजना, कब्रिस्तान की चाहर दीवारी, अल्पसंख्यक बाहुल्य क्षेत्रों में निर्माण कार्य योजना, अल्पसंख्यक विकास निधि, मुख्यमंत्री अल्पसंख्यक मेघावी बालिका प्रोत्साहन योजना तथा मुख्यमंत्री अल्पसंख्यक प्रोत्साहन योजना के विषय में लोगों को जानकारी दी गई है।

मुख्य अतिथि विधायक ममता राकेश ने ग्राम सिकरोढा में कब्रिस्तान की चाहरदीवारी का निर्माण कार्य, अल्पसंख्यकों के कल्याणार्थ ग्राम पंचायत सिकरोढा में 50 हैण्डपम्पों की स्थापना, ग्राम के सरकारी विद्यालयों में कम्प्यूटर कक्षों के निर्माण हेतु कहा गया। इसके साथ ही  विधायक द्वारा अपने क्षेत्र में प्रधानमंत्री जन विकास कार्यक्रम के अन्तर्गत सम्पादित कार्यों के विषय में शिविर में उपस्थित लोगों को बताया गया। कार्यक्रम में जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी डाॅ0 बी0सी0 कर्नाटक, नसीम अहमद ग्राम प्रधान सिकरोढा विशिष्ट अतिथि के रूप तथा सुभान पूर्व प्रधान, मजाहिर हसन, अजीम मिर्जा, मुजम्मिल एवं कार्यालय जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी हरिद्वार के कार्मिक आदि भी उपस्थित रहे। कार्यक्रम में लगभग 344 व्यक्तियों द्वारा प्रतिभाग किया गया।  

कोहरा बढ़ा रहा लोगों की टेंशन, विजिबिलिटी हुई कम


 

हरिद्वार। उत्तराखण्ड में मौसम पल-पल करवट बदल रहा है। जहां कड़ाके की ठंड और कोहरे ने लोगों की टेंशन बढ़ा दी है। साथ ही लोग ठंड से बचने के लिए घरों में कैद हैं। पूरे प्रदेश में कमोवेश एक जैसी स्थिति बनी है। पर्वतीय क्षेत्रों में बर्फबारी से ठंड में इजाफा हो गया है। वहीं लोग ठंड से बचने के लिए अलाव का सहारा लेते दिखाई दे रहे हैं। जबकि मैदानी इलाको में भी कमोबेश यही स्थिति बानी हुई। शहर में एचआरडीए उपाध्यक्ष दीपक रावत के आदेश पर ठण्ड के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए अलग-अलग चैराहों पर अलाव जलने की व्यवस्था की गई है। एचआरडीए सचिव सरदार हरवीर सिंह के नेतृत्व में रेलवे स्टेशन ,नगर निगम चैक ,डामकोठी सहित कई स्थानों पर लकड़ियाँ उपलब्ध कराकर अलाव जलने की व्यवस्था की गई। 

भीषण सर्दी को देखते हुए स्कूलों में छुट्टी करने की डीएम से की मांग 


 

हरिद्वार। महानगर व्यापार मंडल के जिलाध्यक्ष सामाजिक कार्यकर्ता सुनील सेठी ने हरिद्वार के जिलाधिकारी से मांग की है कि लगातार बढ़ती भीषण सर्दी में भी स्कूलों का खुला रहना बच्चों के लिए नुकसानदायक है। कुछ स्कूलों ने वीकेंड की छुट्टियां जारी की है। जबकि अधिकतर स्कूल भीषण सर्दी में लगातार खुल रहे है । ठंड के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए बच्चो की सुरक्षा दृष्टिकोण सभी स्कूलों को तत्काल बन्द करने के आदेश पारित करें, जिसका सख्ती से पालन करवाया जाए। बहुत से स्कूल छुट्टी के आदेश होने पर भी अपनी मनमानी करते हुए स्कूल खुले रखते है, उन पर भी कड़ी कार्यवाही की जाए। सुनील सेठी ने जिलाधिकारी से मांग की है कि सर्दियों की छुट्टियां सर्दी पड़ने पर करवाये जाने के निर्देश स्कूलों को दे, जिस समय पूरे देश में सर्दी का प्रकोप जारी है। उस समय भी स्कूल प्रबंधक स्कूलों को खोलकर  मनमानी कर रहे है । ठंड खत्म होने पर छुट्टियों का कोई फायदा नही होगा इसलिए जिलाधिकारी जल्द से जल्द सभी स्कूलों को स्कूलों की छुट्टियों के निर्देश जारी करे। क्योकि अभी आने वाले दिनों में मौसम विभाग के अनुसार  बारिश और ठंड बढ़ने की भविष्यवाणी भी की गई है जिसको लेकर छुट्टियां घोषित करनी आवाश्यक है।

शांतिकुंज ने लक्सर व खानपुर तहसील के दस गाँवों में बाँटा कम्बल


 

हरिद्वार। इन दिनों पूरा उत्तर भारत ठंड की ठिठुरन की चपेट है। पहाड़ के साथ मैदानी क्षेत्र में भी पिछले कई वर्षों से अधिक पारा गिरा हुआ दर्ज हो रहा है। इस कारण लोगों को अत्यधिक ठंड का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे में पीड़ित मानवता के प्रति हृदय की गहराई से अपनी सहानुभूति रखनी वाली शांतिकुंज की अधिष्ठात्री शैलदीदी ने गरीबों के बीच ठंड से बचाव हेतु कंबल वितरित करने का निर्णय लिया।

शांतिकुंज अधिष्ठात्री शैलदीदी ने कहा कि गायत्री परिवार अपने आराध्य पूज्य पं. श्रीराम शर्मा आचार्यजी द्वारा बताये गये सूत्र-पीड़ित मानवता की निःस्वार्थ भाव से की सेवा-सहयोग ईश्वर आराधना समान है। इसमें अपनी क्षमता के अनुरूप कार्य करते रहना चाहिए। शांतिकुंज इस दिशा में अपनी स्थापना काल से ही पीड़ितों व जरूरतमंदों की सेवा-सुश्रुषा करता आ रहा है। मौसम विभाग के अनुसार आगामी चार-पाँच दिन और अधिक ठंड पड़ने के आसार है। इसे देखते हुए गायत्री परिवार प्रमुखद्वय श्रद्धेय डॉ. प्रणव पण्ड्या व श्रद्धेया शैलदीदी ने गरीबों व जरूरतमंदों के बीच कंबल बाँटने हेतु शांतिकुंज आपदा प्रबंधन विभाग को निर्देश दिया। तत्क्षण आपदा प्रबंधन टीम द्वारा सर्वे कर लक्सर व खानपुर ब्लॉक में कंबल वितरित की गई। लक्सर ब्लॉक के गंगदासपुर, कुड़ीभगवानपुर, डूमनपुरी, डेरियो व महराजगंज खादर तथा खानपुर ब्लॉक के मोहनावाला, शेरपुरा बेला, दाबकी खेड़ा, जोगावाला तथा दल्लावाला के 600 से अधिक लोगों में कंबल बाँटे। शांतिकुंज आपदा प्रबंधन टीम में श्री राकेश जायसवाल, पद्माकर लाँजेवार, पुन्नुराम, मनोज मुखर्जी, वेदपाल, महीपाल आदि शामिल रहे।

अपने दिल में छुपी अलौकिक शक्ति को पहचानने के लिये अपने भीतर ध्यान देंः कमलेश डी. पटेल

 

 

देहरादून। राज योग मेडिटेशन के सहज मार्ग सिस्टम में चैथे आध्यात्मिक मार्गदर्शक कमलेश डी. पटेल का कहना है कि जिन चीजों का अधिक उपयोग किया जाता है, वे बीतते समय के साथ फीकी पड़ जाती हैं। उदाहरण के लिये, हमें खुशी पसंद है। दुख कौन चाहता है? क्या हम दुख को आमंत्रित करते हैं? कोई नहीं करता। हम हर समय खुशी ही चाहते हैं, इसलिये अपनी इंद्रियों का अत्यधिक उपयोग करते हैं- शारीरिक और भावनात्मक-खुद को खुशी से भरने के लिये। खुद को खुश रखने के लिये हमें भीतर और बाहर अधिक से अधिक प्रोत्साहन चाहिये। यह इंद्रियों का अत्यधिक उपयोग है, भीतरी और शारीरिक।

दर्द, दुर्गति और उदासी में क्या होता है? इन्हें कोई नहीं चाहता। यदि फिर भी यह हमारे रास्ते में आएं, तो हम इन पर ध्यान नहीं देते हैं- मानो ध्यान नहीं देने से वे चले जाएंगे! चूंकि हम इन्हें नहीं चाहते हैं, इसलिये थोड़ी दुर्गति भी हमारे लिये बड़ी होती है। अत्यधिक उपयोग से खुशी फीकी पड़ जाती है, जबकि उदासी पर ध्यान न देने से वह विकट होती जाती है। यह आपको रेजर की तरह काटती है। आप उससे जितना बचते हैं, वह उतना ही आपको परेशान करती है। अपेक्षाएं भी ऐसी ही होती हैं, यदि हम अपने परिजनों से बहुत ज्यादा अपेक्षा करते हैं, तो वह भी भावनात्मक स्तर पर फीकी होती जाती है। ऐसा नहीं है कि मैं आपसे दुख को अपनाने के लिये कह रहा हूँ, लेकिन यदि वह आपके रास्ते में आता है, तो उसे छोटा मत समझिये। जब आपकी इंद्रियाँ दुख, आदि को झेलें, तब उससे गुजरिये और भगवान को धन्यवाद दीजिये। सुख और दुख हमेशा के लिये नहीं होता है। क्या आप हवा को अपनी मुट्ठी में रख सकते हैं? नहीं। यह क्षणिक है। भावनात्मक उतार-चढावों पर भी यही लागू होता है। इसलिये अपने भीतर छुपे भगवान पर ध्यान देना ठीक रहता है, जोकि आपके दिल में मौजूद अलौकिक शक्ति है। चाहे आप भगवान को न मानें, फिर भी यह ठीक है। इस प्रकार ध्यान लगाएं कि आपके मस्तिष्क का संतुलन बना रहे। संतुलित अवस्था में ही आप जीवन का आनंद ले सकते हैं।

उमेश अग्रवाल फाउण्डेशन की वेबसाइट लाँच की, बच्चों को स्कूल बैग व ड्रेस वितरित की



 

देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने सोमवार को महन्त इन्द्रेश हॉस्पिटल, के निकट स्थानीय फार्म हाउस में भाजपा के पूर्व महानगर अध्यक्ष स्व. उमेश अग्रवाल की 60वीं जयंती के अवसर पर आयोजित सेवा दिवस कार्यक्रम में प्रतिभाग किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने उमेश अग्रवाल फाउण्डेशन की वेबसाइट लाँच कर फाउण्डेशन के पोस्टर का भी विमोचन किया, मुख्यमंत्री ने फाउण्डेशन की ओर से स्कूली छात्र-छात्राओं को स्कूल बैग एवं ड्रेस भी वितरित किये।  

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि स्व. उमेश अग्रवाल जनता से जुड़े जन नेता थे, विभिन्न सामाजिक गतिविधियों में उनका योगदान रहा। अब उनके पुत्र समाज सेवा की दिशा में आगे बढ़ कर स्व. उमेश अग्रवाल के कार्यों को आगे बढ़ाने का कार्य कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि उमेश अग्रवाल के नाम पर उनके परिवार द्वारा फाउण्डेशन बनाकर स्कूली छात्रों एवं गरीबों की मदद करने का प्रयास सराहनीय है। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि समाज सेवा के लिए उनके परिवारजनों को इसी तरह प्रेरणा मिलती रहे। मुख्यमंत्री ने कहा कि समाज सेवा के लिए सभी को आगे आने की जरूरत है। इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचन्द अग्रवाल, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष एवं सांसद अजय भट्ट, मेयर सुनील उनियाल गामा, विधायक गणेश जोशी, खजान दास, पुष्कर धामी, उमेश शर्मा काऊ, भाजपा महानगर अध्यक्ष सीताराम भट्ट, भाजपा नेता  अनिल गोयल, राजेन्द्र भण्डारी, उमेश अग्रवाल के पुत्र सिद्धार्थ अग्रवाल आदि उपस्थित रहे।


 

देहरादून, आजखबर। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने सोमवार को महन्त इन्द्रेश हॉस्पिटल, के निकट स्थानीय फार्म हाउस में भाजपा के पूर्व महानगर अध्यक्ष स्व. उमेश अग्रवाल की 60वीं जयंती के अवसर पर आयोजित सेवा दिवस कार्यक्रम में प्रतिभाग किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने उमेश अग्रवाल फाउण्डेशन की वेबसाइट लाँच कर फाउण्डेशन के पोस्टर का भी विमोचन किया, मुख्यमंत्री ने फाउण्डेशन की ओर से स्कूली छात्र-छात्राओं को स्कूल बैग एवं ड्रेस भी वितरित किये।  

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि स्व. उमेश अग्रवाल जनता से जुड़े जन नेता थे, विभिन्न सामाजिक गतिविधियों में उनका योगदान रहा। अब उनके पुत्र समाज सेवा की दिशा में आगे बढ़ कर स्व. उमेश अग्रवाल के कार्यों को आगे बढ़ाने का कार्य कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि उमेश अग्रवाल के नाम पर उनके परिवार द्वारा फाउण्डेशन बनाकर स्कूली छात्रों एवं गरीबों की मदद करने का प्रयास सराहनीय है। उन्होंने विश्वास व्यक्त किया कि समाज सेवा के लिए उनके परिवारजनों को इसी तरह प्रेरणा मिलती रहे। मुख्यमंत्री ने कहा कि समाज सेवा के लिए सभी को आगे आने की जरूरत है। इस अवसर पर विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचन्द अग्रवाल, प्रदेश भाजपा अध्यक्ष एवं सांसद अजय भट्ट, मेयर सुनील उनियाल गामा, विधायक गणेश जोशी, खजान दास, पुष्कर धामी, उमेश शर्मा काऊ, भाजपा महानगर अध्यक्ष सीताराम भट्ट, भाजपा नेता  अनिल गोयल, राजेन्द्र भण्डारी, उमेश अग्रवाल के पुत्र सिद्धार्थ अग्रवाल आदि उपस्थित रहे।

द्रोण वाटिका कॉलोनी वासियांे ने विधायक व मेयर से की मुलाकात


 

देहरादून। सहस्त्रधारा रोड स्थित द्रोण वाटिका कॉलोनी के पदाधिकारियों ने नववर्ष के अवसर पर देहरादून के मेयर सुनील उनियाल गामा एवं क्षेत्रीय विधायक उमेश शर्मा काऊ को मिलकर शुभकामनाएं एवं नववर्ष की बधाई दी। द्रोण वाटिका कॉलोनी के अध्यक्ष प्रेम सिंह चैहान ने कहा कि नव वर्ष के इस मौके पर द्रोण वाटिका कॉलोनी के सभी पदाधिकारी एवं सदस्यों ने देहरादून के महापौर सुनील उनियाल गामा एवं विधायक उमेश शर्मा को शुभकामनाएं एवं आगामी नव वर्ष 2020 की अग्रिम शुभकामनाएं प्रेषित करते हुए प्रभु से यह कामना की गई कि आने वाला साल उत्तराखंड के लिए देशवासियों के लिए एवं द्रोण वाटिका वासियों के लिए सुख में एवं समृद्धि भरा हो।

विधायक एवं महापौर से मुलाकात करते हुए द्रोण वाटिका कॉलोनी के सचिव आर डी यादव ने महापौर से निवेदन किया है कि आने वाला वर्ष प्रदेशवासियों के लिए सुखमय हो एवं ड्रोन वाटिका कॉलोनी से संबंधित कार्यो पर भी ध्यान आकृष्ट कराते हुए बताया कि कॉलोनी के अंदर नगर निगम द्वारा साफ सफाई का अभियान लगातार चलाया जा रहा है। कॉलोनी में स्ट्रीट लाइट की बहुत अच्छी व्यवस्था है एवं निगम द्वारा एवं स्थानीय वार्ड पार्षद जनप्रतिनिधि द्वारा भी समय-समय पर नगर निगम उसे सहयोग लेकर कार्य कराया जा रहा है। इन सभी सहयोग के लिए द्रोण वाटिका कॉलोनी वासीयो ने शहर के मेयर एवं क्षेत्रीय विधायक उमेश शर्मा का हार्दिक धन्यवाद प्रेषित किया हैं। कॉलोनी वासियों की तरफ से ड्रोन वाटिका के कोर्स अध्यक्ष बलराज कृष्ण दीक्षित ने विधायक एवं मेयर को हार्दिक शुभकामनाएं एवं अच्छे स्वास्थ्य की कामना की। इस अवसर पर कॉलोनी के संजीव बिष्ट, बलराज कृष्ण दीक्षित, आरडी यादव, चंदन कुमार, जबर सिंह, बिकाश कुमार, बिपिन कुमार सहित कई सोसाइटी वासी मौजूद रहे।

मिसेज टूरिज्म अम्बेसडर यूनिवर्स मलेशिया के लिए दून की नीति सक्सेना का हुआ चयन 


 

देहरादून। मिसेज टुरिज्म अम्बेसडर यूनिवर्स 2020 मलेशिया में होने जा रहा है। जो कि एक इंटरनेशनल ब्यूटी पेजेंट है यह कोटा किना बालु सावन व  मलेशिया में आयोजित किया जाएगा। विजेता को मलेशिया टूरिज्म एंड मिस्टर यूनिवर्स इंडिया 2020 बनाया जाएगा। वर्ग ग्लोबल सॉल्यूशन प्राइवेट लिमिटेड के सीईओ व  फाउंडर सिद्धार्थ प्रताप सिंह जो कि मिसेज टूरिज्म मिस्टर यूनिवर्स 2020 के नेशनल डायरेक्टर भी हैं जिन्हें भारत में ऑडिशन कराने की जिमेदारी दी गयी थी उन्होंने भारत के हर स्टेट में ऑडिशन लेने में बाद उत्तराखंड के देहरादून से नीति सक्सेना को सलेक्ट किया है।

 आपको बता दें कि निति सक्सेना कई बार ब्यूटी पेजेंट का हिस्सा रह चुकी है। एक हाउसवाइफ होने के बावजूद भी नीति सक्सेना ने सिनमिट कम्युनिकेशन द्वारा आयोजित 2015 में मिसेज टैलेंट का खिताब जीता था। साथ ही हिमाचल फिल्म सिटी द्वारा आयोजित मिसेज इंडिया उत्तराखंड 2018 का किताब भी अपनी झोली में डाला है। यही नहीं वह छोटे पर्दे पर आने वाले शो डांस इंडिया डांस सुपर मॉम सीजन 2 का हिस्सा भी रही है और अब वह मैसेज टूरिज्म एंड मिस्टर यूनिवर्स 2020 में पार्टिसिपेट करने मलेशिया जा रही हैं। जहां वो इंडिया की ओर से प्रतिभाग करेंगी। मलेसिया में उनका और 28 देशों से चुनकर आई महिलाओं से कड़ा मुकाबला रहेगा। आपको बता दें कि अगर नीति सक्सेना इस ब्यूटी पीजेंट को जीती है तो उन्हें मिसेज इंडिया टूरिज्म अम्बेसडर 2020 बनाया जाएगा जोकि भारत के साथ-साथ हमारे उत्तराखंड के लिए भी एक गौरव की बात हो।

इको ग्रुप केवल विहार चित्रकारी कर रंगों की अभिव्यक्ति से दिया पर्यावरण संरक्षण का संदेश


 

देहरादून। यह सर्वविदित है कि दीवार पर अंकित कलाकृति समाज को प्रेरित और बदलने का कार्य बखूबी करती हैं। इसी उद्देश्य से 'इको ग्रुप, केवल विहार' ने कॉलोनी के बच्चों को संगठित करके  कुछ दीवारों पर चित्रकारी कर रंगो की अभिव्यक्ति से पर्यावरण को सुरक्षित करने और प्लास्टिक के दुरुप्रयोग को रोकने के प्रति जागरूकता बढ़ाने का काम किया।

इस मुहिम में केवल विहार ओर इसके समीप डी एस नेगी कॉलोनी के बच्चों ने मिलकर केवल विहार के मुख्य प्रवेश द्वार पर करीब दो दिन एक जुट होकर वॉल पेंटिग बनाकर अपनी अभिव्यक्ति व्यक्ति की और इस कार्यक्रम को सफल बनाने में इको ग्रुप एवं अस्तित्व कला संस्था से राहुल खंडूरी ओर उनकी टीम ने वेस्ट वॉरियर्स के सहयोग से कॉलोनी के करीब 35 बच्चों और महिलाओं एवं नागरिकों ने भाग लिया, यह पहला मौका था जब  केवल विहार जो कि देहरादून की स्वच्छ कॉलोनी नंबर  1 है, डीएस नेगी कॉलोनी (मलिन बस्ती) के बच्चों ने मिलकर कई पेंटिग बनाई। पेंटिग बनाने में मुख्य सहयोग नीमा जोशी, नीलिमा भारद्वाज, सीमा उपाध्याय इत्यादि बच्चों में विकास, पल्लवी, शेयोशी, उत्कर्ष इत्यादि का रहा। इस कार्यक्रम को संचालित इको ग्रुप केवल विहार से, अमित जैन, राकेश भारद्वाज, संजय भार्गव, आशीष गर्ग,  सुनील गुप्ता, दिनेश त्यागी, अनिल मेहता इत्यादि सहयोग से किया गया

द ओलंपस हाईस्कूल में जूनियर एक्टिविटी शो आयोजित


देहरादून। द ओलंपस हाई ने आज अपने स्कूल परिसर में जूनियर एक्टिविटी शो का आयोजन किया। कार्यक्रम की शुरुवात प्लेग्रुप से पांचवी कक्षा तक के छात्रों द्वारा विभिन्न प्रस्तुतियों के साथ हुई। छात्रों ने मंत्रमुग्ध कर देने वाले कई गीत प्रस्तुत किए, जिसमें दुर्गा स्तुति और क्रिसमस केरल जैसे अन्य गीत शामिल रहे।

कार्यक्रम के दौरान छात्रों ने कई नृत्यों का प्रदर्शन भी किया जिसके माध्यम उन्होंने भारत की विविधता और समृद्ध विरासत को दर्शाया। कार्यक्रम का मुख्य आकर्षण छात्रों द्वारा एक नृत्य प्रदर्शन रहा, जिसे द ओलम्पस हाई के नृत्य शिक्षक मोंटी कुमार द्वारा कोरियोग्राफ किया गया था।बाद में छात्रों ने एक नाटकीय प्रदर्शन दिया जो कि मटिल्डा जैसी कहानियों पर आधारित रहा। कार्यक्रम का समापन प्रिंसिपल द ओलंपस हाई अनुराधा मल्ला के प्रेरक भाषण के साथ हुआ जिसके बाद पूर्व-प्राथमिक समन्वयक शैलेजा हजारिका द्वारा धन्यवाद प्रस्ताव भी दिया गया।

द ओलंपस हाईस्कूल में जूनियर एक्टिविटी शो आयोजित


देहरादून। द ओलंपस हाई ने आज अपने स्कूल परिसर में जूनियर एक्टिविटी शो का आयोजन किया। कार्यक्रम की शुरुवात प्लेग्रुप से पांचवी कक्षा तक के छात्रों द्वारा विभिन्न प्रस्तुतियों के साथ हुई। छात्रों ने मंत्रमुग्ध कर देने वाले कई गीत प्रस्तुत किए, जिसमें दुर्गा स्तुति और क्रिसमस केरल जैसे अन्य गीत शामिल रहे।

कार्यक्रम के दौरान छात्रों ने कई नृत्यों का प्रदर्शन भी किया जिसके माध्यम उन्होंने भारत की विविधता और समृद्ध विरासत को दर्शाया। कार्यक्रम का मुख्य आकर्षण छात्रों द्वारा एक नृत्य प्रदर्शन रहा, जिसे द ओलम्पस हाई के नृत्य शिक्षक मोंटी कुमार द्वारा कोरियोग्राफ किया गया था।बाद में छात्रों ने एक नाटकीय प्रदर्शन दिया जो कि मटिल्डा जैसी कहानियों पर आधारित रहा। कार्यक्रम का समापन प्रिंसिपल द ओलंपस हाई अनुराधा मल्ला के प्रेरक भाषण के साथ हुआ जिसके बाद पूर्व-प्राथमिक समन्वयक शैलेजा हजारिका द्वारा धन्यवाद प्रस्ताव भी दिया गया।

नरेन्द्र उनियाल के कहानी संग्रह ‘‘ननु नरेन्द्र की पहली किताब’’ का किया विमोचन 


 

देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने रविवार को मुख्यमंत्री आवास में नरेन्द्र उनियाल के कहानी संग्रह ''ननु नरेन्द्र की पहली किताब'' का विमोचन किया। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि इस कहानी संग्रह में लेखक द्वारा अपनी कहानियों के माध्यम से समाज के हर पहलुओं को छूने का सराहनीय प्रयास किया है। आज के व्यस्ततम समय को ध्यान में रखते हुए छोटी एवं रोचक कहानियों का संग्रह समाहित किया गया। साथ ही व्यंग्यात्मक शैली का प्रयोग किया गया है।मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि श्री नरेन्द्र उनियाल ने इस कहानी संग्रह में सामाजिक गतिविधियों, पलायन, सामाजिक कुरीतियों एवं समाज से जुड़ी अनेक गतिविधियों का संग्रह किया है।

इस अवसर पर उच्च शिक्षा मंत्री डा. धन सिंह रावत, विधायक दलीप रावत, मुकेश कोली, गोपाल रावत, पुस्तक के लेखक नरेन्द्र उनियाल, वरिष्ठ पत्रकार राजीव उनियाल, वीरेन्द्र डंगवाल पार्थ, रामेश्वरी नादान, विश्वेश्वरी बहुगुणा आदि उपस्थित थे।

प्रियंका गांधी के साथ अभद्रता पर फूटा कांग्रेसियों का गुस्सा, मोदी, योगी का पुतला फूंका


 

देहरादून। उत्तरप्रदेश की राजधानी लखनऊ में कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी के साथ उत्तर प्रदेश पुलिस द्वारा की गई अभद्रता के खिलाफ आज उत्तराखंड के कांग्रेसियों का गुस्सा सातवें आसमान पर था, कांग्रेसियों ने राजधानी देहरादून में प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह के नेतृत्व में जबरदस्त प्रदर्शन कर पीएम मोदी व यूपी के मुख्यमंत्री योगी का पुतला दहन किया। लखनऊ में कल प्रियंका गांधी के साथ हुई अभद्रता के खिलाफ आज देहरादून में कांग्रेस मुख्यालय में बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता एकत्रित हुए जहां उन्हें संबोधित करते हुए प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री व उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री देश में हिंसा फैलाना चाहते हैं इसलिए ये दोनों नेता अपने भाषणों और वक्तव्यों में जहर उगलने का काम करते हैं।

 उन्होंने कहा कि जब एक प्रधानमंत्री अपने भाषणों में यह कह सकते हैं कि दंगा और हिंसा करने वालों को उनकी वेष भूषा से पहचान सकते हैं व एक मुख्यमंत्री अपने भाषण में बदला लेने की बात कर सकता है तो इससे ज्यादा अराजकता फैलाने वाली क्या बात हो सकती है। प्रीतम सिंह ने कहा कि देश की सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी की नेता के ऊपर अगर मोदी योगी के इशारे पर पुलिस अभद्रता कर सकती है तो इससे अंदाज लगाया जा सकता है कि देश की राजनीति को बीजेपी किस ओर ले जाना चाहती है। प्रदेश कांग्रेस के पूर्व वरिष्ठ उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना ने कहा कि कांग्रेस ने अंग्रेजों की तोपों संगीनों के सामने घुटने नहीं टेके तो मोदी योगी के दमन के आगे क्या झुकेंगे , उन्होंने कहा कि कांग्रेस मोक्सी योगी की विदाई भी गांधीवादी तरीके से संघर्ष के माध्यम से करेगी। संबोधन के बाद प्रीतम सिंह के नेतृत्व में सैकड़ों कार्यकर्ता मोदी योगी सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते हुए कांग्रेस मुख्यालय से एश्ले हाल पहुंचे जहां जबरदस्त प्रदर्शन करते हुए मोदी योगी के पुतले को आग के हवाले कर दिया गया। प्रदर्शन में सूर्यकांत धस्माना, मातबर सिंह कंडारी, विजय सारस्वत, राजकुमार,सरिता आर्य, लाल चंद शर्मा, राजीव महऋषि,महेश जोस्राही, जगदीश धीमान,संजय काला,जेश चमोली, अमित भंडारी,अर्जुन सोनकर,उर्मिला थाप,डॉक्टर बृजेन्द्र पाल, ताहिर, विकास नेगी, आशीष रतूड़ी, आशीष काण्डपाल, उदयवीर मल्ल, राजेश चैधरी, जगदीश धीमान, कैलाश अग्रवाल, भसीन, जाकिर, नन्दू, आनन्द त्यागी, अनुज काम्बोज, अनमोल चैहान, राजीव पुंज, गुरू कौशल, विनोद कुमार, आनन्द जगूड़ी, विरेन्द्र सिंह नेगी, अरूण पासी, आशीश अग्रवाल आदि शामिल रहे। 

विभिन्न देशों से आये योग जिज्ञासुओं ने योग के साथ पृथ्वी को प्रदूषण मुक्त करने का लिया संकल्प


 

-परमार्थ निकेतन में आयोजित फाउंडेेशन योग कोर्स का समापन

 

ऋषिकेश। परमार्थ निकेतन में आयोजित फाउंडेशन योग कोर्स का समापन हुआ। फाउंडेशन योग कोर्स में भारत, अमेरिका, जर्मनी, ब्राजील, कनाडा, लंदन सहित विश्व के कई देशों से आये योग जिज्ञासुओं परमार्थ निकेतन के परमाध्यक्ष स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी और जीवा की अन्तर्राष्ट्रीय महासचिव साध्वी भगवती सरस्वती से आशीर्वाद लेकर विदा हुये। योग जिज्ञासुओं ने स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी के पावन सान्निध्य में विश्व स्तर पर स्वच्छ जल की आपूर्ति हेतु विश्व ग्लोब का जलाभिषेक किया।परमार्थ निकेतन में आकर योग जिज्ञासु ने योग, ध्यान की विभिन्न विधायें एवं आध्यात्मिक सत्संग का लाभ लिया।

 स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी महाराज ने कहा कि योग, सार्वभौमिक है और भारत तो योग का जन्मदाता है। योग, आत्मा से परमात्मा का मिलन कराता हैय साथ ही दुनिया की विभिन्न संस्कृति का मिलन कराता है तथा विश्व एक परिवार है कि शिक्षा देता है।''योग, केवल एक अभ्यास ही नहीं बल्कि जीवन जीने का विज्ञान है। जीवन एक यात्रा है और यह यात्रा सतत चलती रहती है बाहर भी चलती है और भीतर भी बाहर की यात्रा में वातावरण की स्वच्छता का ध्यान रखे तथा भीतर की यात्रा में विचारों की स्वच्छता का ध्यान रखे। स्वामी जी ने कहा कि योग के माध्यम से जीवन में एकत्व और सद्भाव आता है। हम सभी एक-दूसरे के सहयोगी बने, उपयोगी बने और योगी बने यही योग हमें संदेश देता है। साध्वी भगवती सरस्वती ने कहा कि योग, हमें सम्यक् भाव से पूरी दुनिया से जुड़ना और जोडना सीखाता है। योग और ध्यान में वह पावर है जो तनाव मुक्त जीवन जीने का मार्ग प्रशस्त करता है। उन्होने कहा कि माँ गंगा के पावन तट पर योग करे और जीवन को स्वस्थ बनायें। साध्वी जी ने कहा कि परमार्थ निकेतन आश्रम ने भारत की संस्कृति को विश्व के मानचित्र पर स्थापित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभायी है। फाउंडेशन योग कोर्स में अमेरिका से योग जिज्ञासु एलिस, क्रिस्टिनी मेवार्ड, मौरिन ली ओहरा, कारेन माइकल, डोमेनिक डिमारो, जाॅन माइकेन, डेनिश लिली, रोस मिल्स, जील सराजोय, रोबिन नलानी, डायना प्लेटिका, कारिन मोन्टो मेरी, अन्ड्री सी बर्क, केली एन बेल्जिक, ब्रिटनी नोसील, लेरी एलिजाबेथ मेरिली जेन, जे डेरिन, पमेला एलिजाबेथ, सारा ग्रिन्डील, हेल्मेट वार्नर और अन्य योग जिज्ञासुओं ने विश्व ग्लोब का जलाभिषेक कर जल संरक्षण का संकल्प लिया।

विभिन्न देशों से आये योग जिज्ञासुओं ने योग के साथ पृथ्वी को प्रदूषण मुक्त करने का लिया संकल्प


 

-परमार्थ निकेतन में आयोजित फाउंडेेशन योग कोर्स का समापन

 

ऋषिकेश। परमार्थ निकेतन में आयोजित फाउंडेशन योग कोर्स का समापन हुआ। फाउंडेशन योग कोर्स में भारत, अमेरिका, जर्मनी, ब्राजील, कनाडा, लंदन सहित विश्व के कई देशों से आये योग जिज्ञासुओं परमार्थ निकेतन के परमाध्यक्ष स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी और जीवा की अन्तर्राष्ट्रीय महासचिव साध्वी भगवती सरस्वती से आशीर्वाद लेकर विदा हुये। योग जिज्ञासुओं ने स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी के पावन सान्निध्य में विश्व स्तर पर स्वच्छ जल की आपूर्ति हेतु विश्व ग्लोब का जलाभिषेक किया।परमार्थ निकेतन में आकर योग जिज्ञासु ने योग, ध्यान की विभिन्न विधायें एवं आध्यात्मिक सत्संग का लाभ लिया।

 स्वामी चिदानन्द सरस्वती जी महाराज ने कहा कि योग, सार्वभौमिक है और भारत तो योग का जन्मदाता है। योग, आत्मा से परमात्मा का मिलन कराता हैय साथ ही दुनिया की विभिन्न संस्कृति का मिलन कराता है तथा विश्व एक परिवार है कि शिक्षा देता है।''योग, केवल एक अभ्यास ही नहीं बल्कि जीवन जीने का विज्ञान है। जीवन एक यात्रा है और यह यात्रा सतत चलती रहती है बाहर भी चलती है और भीतर भी बाहर की यात्रा में वातावरण की स्वच्छता का ध्यान रखे तथा भीतर की यात्रा में विचारों की स्वच्छता का ध्यान रखे। स्वामी जी ने कहा कि योग के माध्यम से जीवन में एकत्व और सद्भाव आता है। हम सभी एक-दूसरे के सहयोगी बने, उपयोगी बने और योगी बने यही योग हमें संदेश देता है। साध्वी भगवती सरस्वती ने कहा कि योग, हमें सम्यक् भाव से पूरी दुनिया से जुड़ना और जोडना सीखाता है। योग और ध्यान में वह पावर है जो तनाव मुक्त जीवन जीने का मार्ग प्रशस्त करता है। उन्होने कहा कि माँ गंगा के पावन तट पर योग करे और जीवन को स्वस्थ बनायें। साध्वी जी ने कहा कि परमार्थ निकेतन आश्रम ने भारत की संस्कृति को विश्व के मानचित्र पर स्थापित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभायी है। फाउंडेशन योग कोर्स में अमेरिका से योग जिज्ञासु एलिस, क्रिस्टिनी मेवार्ड, मौरिन ली ओहरा, कारेन माइकल, डोमेनिक डिमारो, जाॅन माइकेन, डेनिश लिली, रोस मिल्स, जील सराजोय, रोबिन नलानी, डायना प्लेटिका, कारिन मोन्टो मेरी, अन्ड्री सी बर्क, केली एन बेल्जिक, ब्रिटनी नोसील, लेरी एलिजाबेथ मेरिली जेन, जे डेरिन, पमेला एलिजाबेथ, सारा ग्रिन्डील, हेल्मेट वार्नर और अन्य योग जिज्ञासुओं ने विश्व ग्लोब का जलाभिषेक कर जल संरक्षण का संकल्प लिया।

अहंकारी व्यक्ति दूसरों पर आतंक करताः ब्रह्मकुमारी मंजू बहन


 

देहरादून। प्रजापिता ब्रह्मकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय के स्थानीय सेवाकेन्द्र सुभाषनगर में सत्संग में प्रवचन करते हुए राजयोगिनी ब्रह्मकुमारी मंजू बहन ने अहंकार के भिन्न-भिन्न रूपों पर प्रकाश डाला। उन्होंने कहा कि अहंकारी व्यक्ति दूसरों पर आतंक करता है, उन्हें अपने से घटिया मानकर उनसे दुव्र्यवहार करता हंै अपने रोब तले दबाए रखता है व अपमानित करता है। 

वह मिथ्या अभिमान में मानसिक संतुलन खो बैठता है, जिव्हा का दुरुपयोग करता है और एक दिन पर्वत से गिरने के समान अपने जीवन में चोट अनुभव करता है। तब उसे अपना सिर नीचा करना पड़ता है। अतः अहंकार अनेक झगड़ों की जड़ है। उन्होंने कहा कि अहंकार के नशे में मनुष्य यह भूल जाता है कि देह नश्वर है, धन और सत्ता सदा साथ नहीं रहते और यौवन तथा शक्ति भी अस्थिर हैं। अहंकार का एक रूप ज़िद्द है। मान-अपमान की इस मिथ्या धारणा के कारण ही मनुष्य अपना सबकुछ गँवा देता है परन्तु अपनी ज़िद्द नहीं छोड़ता। अहंकार का एक रूप अपनी महिमा सुनने कर चाव है। अहंकारी व्यक्ति अपनी सही आलोचना भी बर्दाश्त नहीं कर सकता। उसे अपनी खुशामद और चापलूसी सुनने की आदत पड़ जाती है। और जो कोई भी उसकी बात पर प्रश्न उठाता है वह उसे अपनी आँख का शहतीर मानता है। अपनी बुराई छिपाने के लिए वह दम्भ को अपनाने लगता है और दिनोंदिन गिरावट की ओर बढ़ता है। अतः अहंकार के इस अशुद्ध रूप  को छोड़ कर इसे शुद्ध करने में ही मनुष्य का भला है। राजयोग द्वारा मनुष्य अहंकार मिटाकर निर्माण हो जाता है। कार्यक्रम में रामकुमार, शकुन्तला, कविता, प्रीति, ममता, टीटूराम, विजयलक्ष्मी, उमा रावत, कविता गुरुंग, जयपाल, यशोदा, सीता, रघुवीर आदि उपस्थित रहे।

Featured Post

कोरोना काल के पश्चात राफ्टिंग का प्रारंभ होना बेहद सुखदः महाराज

ऋषिकेश। पर्यटन व्यवसाय से जुड़े 15 हजार लोगों को पर्यटन विभाग की ओर से अब तक 7 करोड़ की धनराशि वितरित की जा चुकी है। उक्त बात गंगा नदी राफ...